वन बंधु राष्ट्रीय महिला समिति की ऋषि केश में होगी दो दिवसीय सेमिनार


 योग नगरी ऋषिकेश में वन बंधु राष्ट्रीय महिला समिति की होगी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक 

ऋषिकेश 28 फरवरी देशभर में वनवासियों को शिक्षित करने के लिए देश भर में एक लाख से अधिक स्कूल चलाने वाली वन बंधु  राष्ट्रीय महिला समिति  की वार्षिक बैठक  योग नगरी ऋषिकेश में 3 और 4 मार्च को होने जा रही है । जिसमें  देशभर के वनवासी क्षेत्रों में  आदिवासी लोगों की  समस्याओं ,शिक्षा चिकित्सा ,स्वास्थ्य  आदि को लेकर  चिंतन बैठक का आयोजन किया जाएगा  उपरोक्त जानकारी इस आयोजन की संयोजिका शांता सारडा ,विमला दम्मानी ने देते हुए बताया कि हमारी यह संस्था वन बंधु राष्ट्रीय महिला समिति के तत्वाधान में पूरे देश में रहने वाले आदिवासियों ,गिरी वासियों के उत्थान के लिए कार्य करती है अब तक हमारी संस्था देश के आदिवासी क्षेत्रों में एक लाख से अधिक विद्यालय खोलकर उनका जीवन स्तर ऊंचा करने का प्रयास कर रही है। भविष्य में अपनी योजनाओं को गति प्रदान करने के लिए ऋषिकेश के वानप्रस्थ आश्रम में राष्ट्रीय कार्यसमिति कीसाधारण सभा कीबैठक होने जा रही है। जिसमेंआदिवासियों  के उत्थान   को  लेकर चिंतन मनन किया जाएगा  साथ ही  उनके उन्नयन के लिए योजनाओं को  मूर्त रूप देने के लिए विचार विमर्श किया जाएगा ।उन्होंने बताया कि 3 मार्च को कार्यक्रम का शुभारंभ ऋषिकेश के वानप्रस्थ आश्रम में देवी साध्वी भगवती सरस्वती करेंगी ।उन्होंने बताया कि इस कार्यसमिति में देश की 33 समितियां भाग लेंगी।जिसमे कयी प्रस्तावों पर चर्चा की जाऐगी।

वासुदेव लाल मैथिल सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज रुड़की मे हुआ विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

 !!छात्रों में अविष्कारक सोच और  कौशलात्मक 

         गतिविधियां होना हैं आवश्यक :-युद्ध वीर जी


जवान,किसान और विज्ञान राष्ट्र के विकास प्रथम आधारशिला हैं। सीमाओं पर राष्ट्र की सुरक्षा हेतु जवान,खाद्यान की पर्याप्त उपलब्धता के लिए किसान और अनुसंधान एवं प्रौद्योगिकी दृष्टिकोण से विज्ञान देश के लिए बहुत अहम् हैं, इसलिए हम कह सकते हैं कि विज्ञान ही हमारे राष्ट्र के विकास की प्रमुख आधारशिला है।......






रूडकी  28 फरवरी  (कमल किशोर डुकलान रूडकी)   छात्रों में वर्तमान परिवेश तथा भविष्य में आने वाली प्रत्येक ज्वलंत समस्याओं के समाधान एवं उनमें वैज्ञानिक अविष्कार की सोच विकसित करने के उद्देश्य से वासुदेव लाल मैथिल सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज ब्रह्मपुर रुड़की में विज्ञान प्रदर्शनी एवं कौशलात्मक गतिविधियों का आयोजन किया है। विज्ञान दिवस के अवसर पर छात्रों द्वारा निर्मित विज्ञान मॉडल एवं कौशलात्मक  क्रियाओं का उद्घाटन श्रीमान युद्धवीर जी आदरणीय प्रांत प्रचारक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ उत्तराखंड ने मां शारदा के चित्र पर दीप प्रज्जवलित कर किया।

 विज्ञान प्रदर्शनी एवं कलात्मक गतिविधि प्रदर्श के अवसर पर विद्यालयी छात्रों एवं गणमान्य जन समूह को सम्बोधित करते हुए प्रांत प्रचारक श्रीमान युद्धवीर जी ने कहा कि वर्तमान समय में वैज्ञानिक नित्य नूतन अनुसंधान से ही वर्तमान समय में प्रत्येक ज्वलंत समस्या का समाधान संभव है।विद्यालयी छात्रों द्वारा निर्मित विज्ञान मॉडल एवं कलात्मक गतिविधियों से जहां विद्यालयी छात्रों में क्षमता का विकास और प्रतिस्पद्र्धा की भावना बढ़ती वहीं विज्ञान विषय के प्रति छात्रों में अभिरूचि भी पैदा होती है। इसीलिए विद्यालय द्वारा ऐसे आयोजनों से छात्रों को न केवल अधिक से अधिक संख्या में भाग लेना चाहिए,बल्कि अभिभावकों को भी छात्रों को  प्रोत्साहित करना चाहिए। 

कार्यक्रम में विज्ञान प्रदर्शनी की प्रस्तावना रखते हुए संयोजक श्री कमल किशोर डुकलान ने कहां कि छात्रों के द्वारा तैयार विज्ञान मॉडल तथा कौशलात्मक गतिविधियों द्वारा अपने वैज्ञानिक विचारों से कक्षा शिक्षण को प्रोत्साहित करना। छात्रों में विज्ञान प्रदर्शनी एवं कौशलात्मक गतिविधियों द्वारा विद्यालय के शिक्षकों के माध्यम से विज्ञान संबंधी आकर्षण पैदा करना तथा प्रतिभाशाली छात्रों को उचित मंच प्रदान करना है।विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन जहां छात्रों के मानसिक एवं बौद्धिक विकास में मदद करता है। वहीं छात्रों में वैज्ञानिक अविष्कारक की सोच भी विकसित करता है। विद्यालय पिछले तीन-चार वर्षों से विद्यालय के द्वारा विज्ञान मॉडल एवं कौशलात्मक गतिविधियों के माध्यम से छात्रों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। पिछले कोरोना प्रतिबंधों में छात्रों द्वारा विज्ञान मॉडल एवं कलात्मक गतिविधियां अॉनलाइन प्रदर्शित की गई जिन्हें काफी मात्रा में सराह गया।

श्रीमती सुनीता सिंह ने विज्ञान दिवस पर डाक्टर चन्द्रशेखर वैंकटरमण के बारे में विस्तार पूर्वक प्रकाश डाला। समारोह में माननीय विभाग संघचालक श्रीमान रामेश्वर कुलश्रेष्ठ जी द्वारा छात्रों की हस्तलिखित पत्रिका"अक्षत" का विमोचन किया गया। विद्यालय की आचार्या श्रीमती नेहा गुप्ता के संचालन में चले कार्यक्रम में विद्यालय के व्यवस्थापक श्रीमान प्रदीप सचदेव जी ने सभी आगंतुक अतिथियों का स्वागत एवं अभिनन्दन किया। प्रधानाचार्य श्री वीरपाल सिंह यादव ने कार्यक्रम में आये अतिथि एवं अभ्यागतों का धन्यवाद ज्ञापित किया।कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय का समस्त आचार्य स्टाफ एवं कर्मचारियों सहित बड़ी संख्या में अभिभावक मौजूद थे।

एस एम जै एन पीजी कॉलेज में भाषण प्रतियोगिता


सतत् विकास के लिए धरा का भूगोल रहे सुरक्षित: श्री महन्त रविन्द्र पुरी

‘राष्ट्रीय विज्ञान’ दिवस के अवसर  पर आन्तरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ, एस.एम.जे.एन. काॅलेज तथा उत्तराखण्ड विज्ञान शिक्षा एवं शोध केन्द्र, देहरादून द्वारा  किया गया भाषण प्रतियोगिता का आयोजन 

हरिद्वार 28 फरवरी  (आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा) एस.एम.जे.एन. पी.जी. काॅलेज में 


काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्रीमहन्त रविन्द्र पुरी जी महाराज की अध्यक्षता में आई.क्यू.ए.सी. के तहत ‘राष्ट्रीय विज्ञान’ दिवस के अवसर पर विज्ञान प्रशिक्षण तथा भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। 

भाषण प्रतियोगिता में विशाल बंसल ने प्रथम, अर्शिका ने द्वितीय व कृतिका ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। 

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व अध्यक्षता करते हुए काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्री महन्त रविन्द्र पुरी महाराज ने विजयी प्रतिभागियों  को ग्लोब का माॅडल देकर पुरस्कृत किया गया । 

श्री महन्त रविन्द्र पुरी ने कहा कि जिस प्रकार आज यूक्रेन व रुस के बीच युद्ध के कारण जो हालात उत्पन्न हो रहे हैं उससे न केवल प्राकृतिक संसाधनों पर एक संकट मंडरा रहा है, अपितु मानवीय संसाधन भी खतरे की कगार पर है। उन्होंने कहा कि सभी को मिल-जुलकर सतत् विकास के लिए धरा के भूगोल को सुरक्षित रखने की आवश्यकता है। 

  काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने सभी प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को शुभकमनायें देते हुए कहा कि वैज्ञानिकों द्वारा देश-विदेश में किये जा रहे अनुसंधान के विषय में जानकारी दी। उन्होंने कार्यक्रम के आयोजन के लिए उत्तराखण्ड साईंस एजुकेशन एण्ड रिसर्च सैंटर, देहरादून का आभार व्यक्त किया। डाॅ. बत्रा ने आह्वान किया कि विज्ञान का समुचित प्रयोग करके संसाधनों को आने वाली पीढ़ीयों के लिए संजोकर रखना होगा, जिससे कि सतत् भविष्य व विकास की प्रक्रिया सुचारु रुप से चल सके। डाॅ. बत्रा ने कहा कि विज्ञान से होने वाले लाभों के प्रति समाज में जागरुकता लाने और सोच पैदा करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद द्वारा प्रत्येक वर्ष 28 फरवरी को भारत में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया जाता हैै।  

कार्यक्रम में विज्ञान विभाग के विनीत सक्सेना, डाॅ. विजय शर्मा, डाॅ. प्रज्ञा जोशी, डाॅ. पूर्णिमा सुन्दरियाल ने छात्र-छात्राओं को जल की गुणवत्ता, पी.एच. मीटर, टरबीडिटी मीटर, सैन्ट्रीफ्यूज, डी.ओ. मीटर की कार्यविधि का भी प्रशिक्षण दिया गया। 

इस अवसर पर मदरहुड विश्वविद्यालय द्वारा विज्ञान संकाय के डाॅ. विजय शर्मा को एनवायरमेंटिलिस्ट आफ द ईयर अवाॅर्ड मिलने पर काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्री महन्त रविन्द्र पुरी महाराज व प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा द्वारा सम्मानित किया गया। भाषण प्रतियोगिता में विवेक भट्ट, विशाल बंसल, कृतिका तोमर, कलावती, प्रियांशी रावत, आयुष, हर्षित, झलक, खुशी, सोनाली, साक्षी जैन, दीपा, अर्शिका, मयंक, प्रेरणा मदान सहित अनेक छात्रों ने प्रतिभाग किया।  

कार्यक्रम का सफल संचालन डाॅ. पदमावती तनेजा द्वारा किया गया। इस अवसर पर मुख्य रूप से अनिल कुमार शर्मा, पुनीत सोबती, डाॅ. मन मोहन गुप्ता, डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी, विनय थपलियाल, वैभव बत्रा, श्रीमती रिंकल गोयल, डाॅ. निविन्धया शर्मा, श्रीमती रिचा मनोचा, डाॅ. आशा शर्मा, डाॅ. रीना मिश्रा, डाॅ. लता शर्मा, दिव्यांश शर्मा, डाॅ. पुनीता शर्मा, प्रिंस श्रोत्रिय, दीपिका आनन्द, प्रियंका प्रजापति, महिमा नागयान, मोहन चन्द्र पाण्डेय सहित काॅलेज के शिक्षक, शिक्षणेत्तर कर्मचारी व छात्र-छात्रा उपस्थित थे।

स्थानीय कलाकारों ने बनाई स्वच्छता को लेकर लघु फिल्म

 हरिद्वार के कलाकारों ने लघु फिल्म के जरिए दिया स्वच्छता का संदेश  

हरिद्वार, 27 फरवरी। हरिद्वार के समाजसेवियों ने


शहर को साफ, सुंदर और स्वच्छ बनाने के लिए शॉर्ट फिल्म बनाकर लोगों को दो डस्टबीन का प्रयोग कर साफ-सफाई में सहयोग के लिए जागरुक किया। आम लोगों को स्वच्छता का संदेश देने के लिए बाबा दीप सिंह इनफोटेक के बैनर तले बनायी गयी लघु फिल्म में मुख्य भूमिका वरिष्ठ समाजसेवी डा.विशाल गर्ग ने निभाई है। डा.विशाल गर्ग ने ही फिल्म का निर्देशन भी किया। जबकि फिल्म का कांस्पेट सुयोग्य एकेडमी के संचालक शिक्षाविद भावेश पाठक ने तैयार किया। फिल्म की पटकथा वरिष्ठ समाजसेवी और पंजाबी महासभा के प्रदेश महामंत्री सुनील अरोड़ा ने लिखी। फिल्म का उद्धाटन होटल जगत इन में एडीएम पीएल शाह ने किया। पत्रकारों से बात करते हुए एडीएम पीएल शाह ने कहा कि कचरा आज वैश्विक समस्या बन गया है। हरिद्वार तीर्थ नगरी है। जहां प्रतिवर्ष लाखों लोग आते हैं। ऐसे में हरिद्वार की सफाई व्यवस्था के लिए सभी को पहल करना जरुरी है। फिल्म के जरिए दो डस्टबीन क्यों है जरुरी का संदेश बहुत ही अच्छे तरीके से दिया गया है। इससे लोगों को घरों में दो डस्टबीन रखने की प्रेरणा मिलेगी।

फिल्म के निर्देशक डा.विशाल गर्ग ने बताया कि हरिद्वार नगर निगम शहर को साफ, स्वच्छ और सुंदर बनाने में कामयाब नहीं हो पा रहा है। ऐसे में हम शहरवासियों की जिम्मेदारी है कि हम खुद ही पहल करे। शॉर्ट फिल्म लोगों को जागरुक करने का सबसे अच्छा तरीका है। इसलिए ये फिल्म बनाई गयी है, ताकि शहर को स्वच्छ बनाया जा सके।

फिल्म की पटकथा और डायलॉग लिखने वाले समाजसेवी सुनील अरोड़ा ने बताया कि हरिद्वार  हमारा अपना शहर है और इसको साफ रखने की जिम्मेदारी भी हमारी है। इसलिए सभी को इसमें भागीदारी करनी होगी। उन्होंने कहा कि दो डस्टबीन घर में रखकर गीला और सूखा कूडा अलग-अलग रखना बहुत जरुरी है। वहीं फिल्म का कांस्पेट तैयार करने वाले शिक्षाविद भावेश पाठक ने बताया कि डोमेस्टिक वेस्ट की समस्या से तभी निपटा जा सकता है जब इसकी शुरुआत घर से हो। अगर हम अभी तैयार नहीं होंगे तो कल सराय में दिल्ली से भी बडा कचरे का पहाड खडा हो जाएगा, जो स्वास्थ्य के लिए भी बडी मुसीबत होगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए हमें वैज्ञानिक तरीके से कचरे का निस्तारण करना होगा और इसके लिए सोर्स सेगरीगेशन जरुरी है। इसमें घरों से निकलने वाले कचरे को सूखा और गीला अलग-अलग डस्टबीन में डालना होगा। तभी हम कचरे की महासमस्या से निपटकर अपने हरिद्वार को साफ स्वच्छ बना सकते हैं।

फिल्म में विवेक शर्मा, श्रद्धा शर्मा, गुंजन दुबे, निशा वर्मा, पूजा, योगिता शुक्ला, मनोज गौतम, उमरहयात, विक्रम सिंह, नंदू आदि ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

शांतिकुंज द्वारा आयोजित किया गया निशुल्क चिकित्सा कैंप



 आत्मिक शांति चाहिए तो करें पीड़ितों की सेवा ः शैलदीदी

निःशुल्क चिकित्सा शिविर में चार सौ से अधिक का हुआ इलाज, बाँटी दवाइयाँ


हरिद्वार २७ फरवरी ( अमर शदाणी  संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) श्रीराम शर्मा आचार्य जन्मशताब्दी चिकित्सालय शांतिकुंज द्वारा आयोजित निःशुल्क चिकित्सा शिविर में चार सौ से अधिक मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण करनिःशुल्क दवाइयाँ दी गयी। वहीं मेडिकल कॉलेज मुजफ्फरनगर के डीन डॉ. मनीष अग्रवाल ने बेसिक लाइफ सपोर्ट पर सैद्धांतिक एवं व्यावहारिक जानकारी दी। उन्होंने बताया कि समय पर इलाज मिलने से कइयों की जान बचाई जा सकती है। 

कैम्प से पूर्व चिकित्सकों की टीम ने संस्था की अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैलदीदी से भेंट की। इस अवसर पर संस्था की अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैलदीदी ने कहा कि पीड़ितों की सेवा करने से आत्मिक शांति मिलती है। चिकित्सा एक ऐसा क्षेत्र है, जहाँ केवल मरीज व जरूरत मंद ही आते हैं। व्यवस्थापक श्री महेन्द्र शर्मा ने बताया कि श्रीराम शर्मा आचार्य जन्मशताब्दी चिकित्सालय में आगे भी समय-समय पर निःशुल्क चिकित्सा शिविर लगाये जायेंगे।

निकटवर्ती क्षेत्रों से आए हुए कई मरीजों ने बताया कि कई महीने से भी ज्यादा समय से वह शरीर में विभिन्न रोग के कारण परेशानियों से जूझ रहे थे, लेकिन वे इलाज नहीं करा पा रहे थे। शांतिकुंज में एक साथ डॉक्टरों की टीम द्वारा इलाज व दवाई मिलने से हमारे जैसे अनेकों का भला हुआ है। हम  शांतिकुंज परिवार का शुक्रगुजार हैं।


इन्होंने दी सेवाएँ-

डॉ. युवराज शर्मा (अस्थिरोग), डॉ. अजय गोयल (त्वचा रोग), डॉ. शिखा गोयल, डॉ. आशीष अग्रवाल (हृदय रोग), डॉ. विदुषी शर्मा (स्त्रीरोग), डॉ. वीबी जिन्दल (हृदय रोग), डॉ. आंसूतोष रावत, डॉ. छवि अरोरा (स्त्रीरोग), डॉ. महेश सिसोदिया (मेडीसिन), डॉ. सूर्यांशु ओझा (मेडीसिन) , डॉ. आरसी गुप्ता (हृदय रोग), डॉ. बिन्दु अग्रवाल (रेडियोलॉजिस्ट) डॉ. सौरभ सिंह (नेत्र रोग), डॉ. मनीष अग्रवाल (बाल रोग), डॉ. अंकित रंजन, डॉ. प्रीति शर्मा आदि चिकित्सकों ने मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। ये चिकित्सक गाजियाबाद, नोएडा, दिल्ली, मुजफ्फरनगर से अपनी सेवाएँ देने आए थे। कैम्प के दौरान चिकित्सकों की टीम की ओर से स्वस्थ जीवन जीने की कला एवं विभिन्न रोगों से लड़ने के टिप्स भी दिए।

कृपाल शिक्षण संस्थान के सहयोग से आयोजित किया गया रक्तदान शिविर

हरिद्वार शिवालिक नगर 27 फरवरी(



आर एस  मान संवाददाता गोविंद कृपा रानीपुर) राजाराम हॉस्पिटल मेटरनिटी एवं ट्रामा सेंटर शिवालिक नगर हरिद्वार एवं कृपाल शिक्षण संस्थान के सहयोग से एक रक्तदान शिविर का आयोजन राजाराम हॉस्पिटल में किया गया। ब्लड बैंक हरिद्वार की टीम द्वारा रक्त दाताओं का रक्त जांच उपरांत लिया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ राजाराम हॉस्पिटल के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉक्टर आदित्य मणि गुप्ता ने रक्तदान कर किया।

राजाराम हॉस्पिटल के स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर रुचि गुप्ता डॉक्टर आदित्य मणि गुप्ता हॉस्पिटल का स्टाफ, कृपाल शिक्षण संस्थान के सचिव श्री दिनेश शर्मा श्रीमती रंजना शर्मा एलाइंस इंटरनेशनल के श्री वीके सक्सेना श्रीमती अर्चना सक्सेना, सभासद श्री अशोक मेहता ने कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण सहयोग किया।

यूक्रेन के पास ऐश्वर्या वैभव तो है लेकिन देश भक्ति नहीं

 यूरोपियन देश #यूक्रेन में बड़ी बड़ी शानदार बिल्डिंगें है.. चमचमाती हुई सड़कें और लंबी लक्जरी कार गाडियां हैं सड़कों पर साइकिल तो क्या दोपहिया वाहन भी दिखाई नहीं देते क्योंकि सबके पास महंगी लक्जरी गाडियां जो है अच्छे मेडिकल कॉलेज भी है...


युनिवर्सिटी है तभी तो मेडिकल शिक्षा के लिए भारत के हजारों छात्र यूक्रेन में पढ़ाई कर रहें हैं यानि यूक्रेन में चारों तरफ संपन्नता है अगर नहीं है तो सामरिक शक्ति, मजबूत सेना, अत्याधुनिक हथियार और वहां की जनता में राष्ट्रवादी भावना यही कारण है कि मात्र दो घंटे में रुस ने यूक्रेन को घुटनों पर लाकर खड़ा कर दिया यूक्रेन के

सेनिक भाग खड़े हुए हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति आम लोगों से युद्ध लड़ने की अपील कर रहें हैं..

इसके लिए सारी पाबंदियां भी हटा दी गई है... यूक्रेन आम नागरिकों को युद्ध लड़ने के लिए हथियार देने की बात भी कह रहा है पर मजाल यूक्रेन का एक भी नागरिक युद्ध लड़ने को तैयार हुआ हो, क्योंकि यूक्रेन के नागरिकों में इजराइल के नागरिकों की तरह राष्ट्रवाद की भावना ही नहीं है।


वह तो एशो आराम की जिन्दगी जीने के आदी हो चुके हैं। यूक्रेन के स्कूल कालेज, युनिवर्सिटी, बाजार, दुकान,आफिस सब बन्द कर दिये गये हैं। सब कारोबार चौपट हो गया है। कारखाने फैक्ट्री सब बन्द हो गये

सब कारोबार चौपट हो गया है कारखाने फैक्ट्री बंद हो गई लोग रोजगार तो क्या अपनी जान बचाने के लिए सिमित संख्या में मौजूद बंकरों में छुप रहें हैं अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों में शरण ले रहें हैं। यानि सब कुछ होते हुए भी यूक्रेन आज जिंदगी की भीख मांग रहा है।


ये लेख भारत के उन लोगों को समर्पित है जो राष्ट्रवाद और राष्ट्रवादियों को गाहे बगाहे गालियां देते रहते हैं तथा सिर्फ महंगाई, बेरोजगारी और आलू प्याज टमाटर तथा मुफ्त की योजनाओं को ही देश के विकास का पैमाना मान बैठे हैं। यह लेख राहुल गांधी के उस मूर्खतापूर्ण बयान को भी आइना दिखाता है जिसमें अभी कुछ ही दिनों पहले  राहुल गांधी ने कहा था कि सेना की मजबूती अत्याधुनिक हथियारों के जखीरे इकट्ठा करने से देश का विकास नहीं होता राहुल गांधी जैसे मंदबुद्धि को रुस यूक्रेन युद्ध से शाय़द थोड़ी अक्ल आ जाये हम ईश्वर से यही प्रार्थना करते हैं और उन मुफ्तखोरों को भी समझ आ जायेगी, क्योंकि किसी भी देश के विकास का रास्ता उसकी सैनिक ताकत, सीमाओं की मजबूत सुरक्षा और अत्याधिक हथियारों से होकर निकलता है।



एस एम जे एन पीजी कॉलेज में यूक्रेन संकट पर हुआ गोष्ठी का आयोजन

 यूक्रेन संकट का शीघ्र समाधान विश्व में स्थिरता हेेतु आवश्यक

यूक्रेन संकट पर आन्तरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित की गयी विचार गोष्ठी

हरिद्वार 26 फरवरी, 2022 ( आकांक्षा वर्मा संवाददाता  गोविंद कृपा हरिद्वार)   


 यूक्रेन संकट पर एस.एम.जे.एन. (पी.जी.) काॅलेज में आन्तरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित की गयी विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया 

काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने अपने सम्बोधन में कहा कि यूक्रेन संकट का शीघ्र समाधान नहीं होने से भारत के मूलभूत राष्ट्रीय हितों को प्रभावित करेगा एवं शीघ्र ही इसका समाधान किया जाना आवश्यक है। इस विषय  विशेषज्ञों द्वारा विभिन्न बौद्धिक अथवा आर्थिक संगठनों के विचार अत्यन्त महत्वपूर्ण हैं। डाॅ. बत्रा ने भारत सरकार से आग्रह किया कि  अपने राष्ट्रहितों को ध्यान में रखते हुए आवश्यक तैयारियों को अंजाम दें। डॉ बत्रा ने आगे कहा कि रूस दुनिया में कच्चे तेल एवं गैस का प्रमुख निर्यातक है अगर पश्चिमी देश रूसी निर्यात पर कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाते हैं, तो इससे ईंधन की कीमतों में भारी वृद्धि हो सकती है विश्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार, ईंधन आधारित वस्तुओं के रूसी निर्यात में 50 फीसदी से अधिक निर्भरता है

  रूस-यूक्रेन संकट के कारण ना केवल ईंधन की कीमतें बढ़ेंगी बल्कि इसका असर दूसरे कई अन्य उत्पादों पर भी पड़ेगा

 रूस दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण गेहूं उत्पादक देशों में से भी एक है युद्ध के कारण  खाद्य पदार्थ  भी महंगे हो जाएगें

अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. संजय माहेश्वरी ने द्वितीय विश्व युद्ध के बाद उत्पन्न हुई शीत युद्ध की राजनीति और सोवियत संघ के विघटन की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डालते कहा कि ऐतिहासिक अन्याय को पुनः आधार बनाकर रुस के द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण किया गया है और यह स्थिति अत्यन्त विचारणीय है जिससे भारत के मूलभूत राष्ट्रहितों को नुकसान पहुंच सकता है। उन्होंने कहा कि यह युद्ध स्थानीय से अन्तर्राष्ट्रीय न बने इसके लिए प्रयास किया जाना चाहिए। 

राजनीति विज्ञान के विभाग अध्यक्ष विनय थपलियाल ने कहा कि रुसी लोगों के राष्ट्रीय चरित्र के बारे में कहा जाता है कि वे राष्ट्रीय अपमान आसानी से भूलते नहीं और 1991 के बाद नाटो के पूर्व में प्रसार को रोकने का जो आश्वासन अमेरिका द्वारा दिया गया था उसके उल्लंघन होने के कारण पुतिन ने इस प्रकार की प्रतिक्रिया दी है। यद्यपि युद्ध को न्याय संगत नहीं ठहराया जा सकता तथा दोनों पक्षों को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर आपसी वार्ता के आधार पर विवाद का समाधान करना चाहिए।

समाजशास्त्र विभाग के अध्यक्ष डाॅ. जगदीश चन्द्र आर्य ने अपने सम्बोधन में कहा कि लगभग 20000 छात्र-छात्राओं के यूक्रेन में फंसे होने के कारण भारत के राष्ट्रीय हितों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है तथा भारत सरकार को इनके यूक्रेन से सुरक्षित निकासी की प्रक्रिया सुनिश्चित करनी चाहिए। इसके अतिरिक्त आर्थिक प्रतिबन्धों का रुसी समाज पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा जोकि रुस को अधिक से अधिक अन्तर्राष्ट्रीय व्यवस्था में अलग थलग कर सकता है। 

वैभव बत्रा और दिव्यांश शर्मा ने संयुक्त रुप से कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय विवाद का समाधान युद्ध के बजाए बातचीत की प्रक्रिया से निकाला जाना चाहिए एवं यही अन्तर्राष्ट्रीय शान्ति को बनाये रखने का मूलभूत सिद्धान्त है। 

विचार गोष्ठी में मुख्य रुप से डाॅ. मन मोहन गुप्ता, डाॅ. सुषमा नयाल, डाॅ. अमिता श्रीवास्तव, श्रीमती रिंकल गोयल, डाॅ. सरोज शर्मा, डाॅ. आशा शर्मा, डाॅ. विनीता चैहान, डाॅ. मोना शर्मा, डाॅ. रेनू सिंह, अन्तिमा त्यागी, मोहन चन्द्र पाण्डेय सहित शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारी उपस्थित रहें

भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए देव परिवार का विस्तार है आवश्यक :- डा0 प्रणव पंड्या

 देव विस्तार परिवार के लिए कार्य करना लक्ष्य :-


डॉ पण्ड्या

घर-घर अलख जगायेंगे के संकल्प के साथ शांतिकुंज से टोली रवाना


हरिद्वार २६ फरवरी (अमर शदाणी संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार) कोरोना महामारी के बाद उपजे परिस्थिति में सबसे महत्त्वपूर्ण कार्य है लोगों में आत्मीयता का विस्तार। जिस परिवार, समाज में अपनापन के साथ आपसी सामंजस्य होगा, वह उत्तरोत्तर प्रगति करेगा। इन्हीं भावों के साथ अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुखद्वय श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या एवं श्रद्धेया शैलदीदी ने शांतिकुंज टोली को विदाई दी।

अपने संदेश में गायत्री परिवार के अभिभावक श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि भारत को विश्व गुरु की ओर आगे बढ़ते देखना चाहते हैं, तो देव परिवार का विस्तार आवश्यक है। देव परिवार यानि संस्कृति एवं राष्ट्र के प्रति श्रद्धावान-निष्ठावान परिवार। इन दिनों मानवता संकट में है और इससे उबरने के लिए सामूहिक प्रयास आवश्यक है। श्रद्धेय डॉ. पण्ड्या ने पर्यावरण एवं जल संरक्षण की दिशा में सार्थक पहल करने के लिए जनमानस को प्रेरित करने की बात कही। श्रद्धेया शैलदीदी ने कहा कि आस्था संकट के इस दौर में आस्था और विश्वास जगाना आवश्यक हैं। युवाओं में भारतीय संस्कृति एवं देश के प्रति निष्ठा जगाने पर उन्होंने बल दिया। इस अवसर पर प्रमुखद्वय ने क्षेत्रों की परिस्थिति का ऑकलन कर कार्य करने के लिए प्रेरित किया।

कार्यक्रम विभाग के समन्वयक श्री श्याम बिहारी दुबे बताया कि  पन्द्रह टोली रवाना हुई। प्रत्येक टोली में पाँच-पाँच कायर्कर्त्ता शामिल हैं। ये टोली उत्तराखण्ड, उप्र, मप्र, पंजाब, जम्मू, दिल्ली, बिहार, झारखण्ड, गुजरात, राजस्थान, तमिलनाडू, आंध्रप्रदेश आदि सहित देश के २२ राज्यों में शृंखलाबद्ध कार्यक्रम का संचालन करेगी। टोली १५ जून तक परिव्रज्या पर रहेगी। संदीप पाण्डेय, शशिकांत सिंह, परमेश्वर साहू, राजकुमार, बालरूप शर्मा, योगेश पटेल, विनय केसरी आदि के नेतृत्व में टोली रवाना हुई। टोली को वरिष्ठ कार्यकर्त्ता श्री शिवप्रसाद मिश्र ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

विश्व शांति के लिए शांतिकुंज परिवार ने किया हवन

शांतिकुंज परिवार ने युक्रेन और रसिया युद्ध के बीच विश्व शांति के लिए आध्यात्मिक साधना में जुट गया है। यह साधना विश्व भर में शांति बनाये रखने के लिए किया जा रहा है। साथ ही २४ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ में याजकों द्वारा विशेष आहुतियाँ भी प्रदान की जा रही हैं।

शांतिकुंज में निःशुल्क चिकित्सा २७ फरवरी को

श्रीराम शर्मा आचार्य जन्म शताब्दी चिकित्सालय, शांतिकुज में २७ फरवरी को निःशुल्क चिकित्सा शिविर लगाया जायेगा। इस शिविर में गाजियाबाद, दिल्ली एवं नोएडा के प्रख्यात चिकित्सकों टीम प्रातः आठ बजे से उपलब्ध रहेगी। शिविर में सर्जन, फिजिशियन सहित १८ से अधिक उच्च प्रशिक्षित चिकित्सक मौजूद रहेंगे। रोगियों को निःशुल्क दवाइयाँ भी दी जायेंगी। उक्त जानकारी शांतिकुंज व्यवस्थापक श्री महेन्द्र शर्मा ने दी।

वोट लेने के लिए आदेश चौहान ने जनता को छला

 सड़क का निर्माण कार्य  अटका, स्थानीय लोगों में विधायक के  खिलाफ पनपा आक्रोश 

- सड़क निर्माण कार्य शुरू नही होने पर दी आंदोलन की चेतावनी 


हरिद्वार 26 फरवरी (रजत अरोडा संवाददाता गोविंद कृपा ज्वाला पुर)    चुनावी आचार संहिता के बीच सड़क का निर्माण शुरू होने और अचानक बजट का अभाव बताते हुए निर्माण कार्य को रोकने लोगों में स्थानीय विधायक और ठेकेदार के खिलाफ भारी आक्रोश है। लोगों ने जल्द ही सड़क का निर्माण शुरू नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। 

बताते चले कि नगर निगम के वार्ड नंबर 59, गली नं 6, गणेश विहार कॉलोनी, सीतापुर, ज्वालापुर में विधानसभा चुनाव की आचार संहिता मे मतदान दिवास से दो दिन पूर्व विधायक निधि से सड़क निर्माण का कार्य शुरू किया गया। जिसका स्थानीय निवासियों ने विरोध किया। लेकिन लोगों को बताया गया कि इस सड़क का बजट आचार संहिता लगने के पूर्व में ही पास हो चुका है और जल्द ही निर्माण को पूरा भी कर दिया जायेगा। इसके बाद स्थानीय लोगों ने सड़क निर्माण की अनुमति दी। ठेकेदार ने सड़क बनाने के लिए लोगों के घरों के बाहर बने रैंप के साथ नालियों को भी तोड़ दिया और मलबे के साथ नालियों की टूटी ईटों, रैंप का सरिया भी ट्रेक्टर में लादकर ले गया। लेकिन जैसे ही मतदान का कार्य संपन्न हुआ। सड़क निर्माण कार्य बंद कर दिया गया। लोगों के पूछने पर बताया गया कि बजट के अभाव में सड़क का कार्य बंद किया गया है और अब अगली सरकार के गठन के बाद ही नया बजट मिलने पर कार्य शुरू कराया जायेगा। ठेकेदार का जवाब सुनते ही लोगों के होश उड़ गये। स्थानीय निवासी विकास त्रिपाठी ने बताया कि घरों के बाहर बने रैंप को तोड़ने के चलते लोगों को घर से बाहर निकलने में भी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। नालियों के अभाव में सड़कों पर बहता पानी मुसीबत का सबब बना हुआ है। वहीं अपने वाहनों को भी पड़ोसियों के यहां खड़ा करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है, जबकि बराबर वाली विधानसभा हरिद्वार ग्रामीण के विधायक ने रमा विहार ,दयाल एन्कलेव में आचार  संहिता के दौरान ही निर्माणाधीन नाले का कार्य पूरा करवा दिया है वही हमारे विधायक ने वोट लेने के लिए जनता को छला है ।


पंकज शर्मा ने कहा कि दो फरवरी को शिवरात्रि के उलक्ष्य में भंडारे का आयोजन पर भी संकट गहरा गया है। स्थानीय विधायक चुनाव प्रचार के चलते बाहर गये है। ऐसे में लोगों की फरियाद  कौन सुनेगा। लोगों को चिंता है कि चुनाव के उपरांत सरकार बदल गयी तो फिर उनके सड़क का निर्माण कैसे होगा। राजनीति की भेंट कालोनी की सड़क और निवासी न बन जाये।

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (इंडिया) में हुआ दूसरे गुट का विलय

 नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) उत्तराखंड का ट्रेड यूनियन में रजिस्ट्रेशन, दूसरे गुट का भी हुआ विलय


हरिद्वार 26 फरवरी (वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )देश में पत्रकारों की सबसे बड़ी संस्था नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (इंडिया) उत्तराखंड में भी पत्रकारों की सबसे बड़ी इकाई के रूप में स्थापित हो चुकी है। कुछ वर्ष पूर्व संस्था से अलग होने वाले सदस्यों ने भी दोबारा यूनियन में विश्वास जताते हुए विलय करने का निर्णय लिया। इतना ही नहीं उत्तराखंड में भी संस्था का ट्रेड यूनियन में रजिस्ट्रेशन हो चुका है। इसके पूर्व उत्तराखंड इकाई  राष्ट्रीय इकाई के सर्टिफिकेशन के साथ कार्य कर रही थी।


 नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया)उत्तराखंड का ट्रेड यूनियन में रजिस्ट्रेशन हो चुका है जिसमें करीब 300 पत्रकार सदस्य शामिल हैं। ‌ इसके साथ ही उत्तराखंड में दो फाड़ हो चुकी यूनियन की इकाई भी एक हो चुकी है। ‌ हरिद्वार के रानीपुर मोड़ स्थित होटल जगत इन में आयोजित नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) उत्तराखंड प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में प्रदेश अध्यक्ष कैलाश जोशी ने जानकारी देते हुए बताया कि विगत दिसंबर माह में यूनियन का ट्रेड यूनियन में रजिस्ट्रेशन हो चुका है। जिसके लिए काफी समय से प्रयास किया जा रहा था। उन्होंने कहा कि इस बात की खुशी है कि यूनियन का रजिस्ट्रेशन होने के उपरांत अलग हो चुके सदस्यों ने भी यूनियन में ही अपनी आस्था जताते हुए विलय करने का निर्णय किया। उन्होंने कहा कि यूनियन की ओर से सभी सदस्यों का स्वागत किया जाता है और आशा की जाती है कि भविष्य में भी वह यूनियन की मजबूती के लिए बढ़ चढ़कर कार्य करेंगे। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामचंद्र कनौजिया ने बताया कि पिछले काफी समय से अलग हो चुके दोनों गुटों को एक करने का प्रयास किया जा रहा था। जिसमें सफलता मिल गई है। आप सभी सदस्य मिलकर यूनियन को मजबूती के साथ  आगे ले जाने का प्रयास करेंगे। प्रांतीय संरक्षक ब्रह्मदत्त शर्मा ने कहा कि एनयूजे (आई) सदैव पत्रकारों के हित में संघर्ष करती चली आ रही है। इसके चलते पत्रकारों का एनयूजे (आई) में विश्वास कायम है। उन्होंने कहा कि पूर्व में कुछ सदस्यों में मतभेद हो गए थे जिसे दूर कर लिया गया है। इसके पूर्व जिला इकाई द्वारा प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्यों का स्वागत किया गया। इस मौके पर वरिष्ठ उपाध्यक्ष वीरेंद्र भारद्वाज, काशीराम सैनी , कोषाध्यक्ष विकास कुमार झा, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य दिनेश जोशी, डॉक्टर जफर सैफी, मनोज लोहिनी प्रमोद बामेठा, मुदित अग्रवाल अश्वनी अरोड़ा, अमित कुमार शर्मा, प्रशांत शर्मा, उल्लेख न्यूज के मुख्य संपादक निशांत चौधरी, संतोष कुमार शामिल रहें। वहीं सुनील दत्त पांडे, विजेंद्र हर्ष, रविंद्र नाथ कौशिक, राजेंद्र नाथ गोस्वामी, धर्मेंद्र चौधरी, गुलशन नैय्यर, सुभाष शर्मा, राजेश शर्मा,राहुल वर्मा, सुनील पाल सहित अन्य सदस्यों का यूनियन में शामिल होने पर फूल माला पहनाकर स्वागत किया गया।


कार्यक्रम का संचालन प्रदेश महासचिव सुशील कुमार त्यागी ने किया।

शांतिकुंज में पुनर्बोधन शिविर का हुआ समापन

 युवा पीढ़ी को भारतीय संस्कृति से जोड़ें :- श्री महेन्द्र शर्मा

शांतिकुंज में पांच दिवसीय पुनर्बोधन शिविर का समापन, ११ राज्यों की रही भागीदारी




हरिद्वार २५ फरवरी। (अमर शदाणी संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार) 

शांतिकुंज ने कोरोना महामारी के बाद जन सामान्य में उत्साह बढ़ाने के उद्देश्य से शृंखलाबद्ध यज्ञीय आयोजन की रूपरेखा की तैयारी की है। इस निमित्त शांतिकुंज एवं विभिन्न राज्यों के चयनित प्रतिभागियों का पांच दिवसीय पुनर्बोधन शिविर का आयोजन हुआ। इस शिविर में मप्र, उत्तराखण्ड, राजस्थान, उप्र, गुजरात सहित ११ राज्यों के प्रतिनिधि शामिल रहे। शिविर में कुल १४ सत्र हुए, जिसमें विषय विशेषज्ञों ने विस्तृत जानकारी दी।

शिविर के समापन सत्र को संबोधित करते हुए शांतिकुंज व्यवस्थापक श्री महेन्द्र शर्मा ने कहा कि किसी भी राज्य व देश के कर्णधार संस्कृतिनिष्ठ, संवेदनशील युवा होते हैं। ऐसे युवाओं को समय-समय पर मार्गदर्शन की आवश्यकता पड़ती है, जिससे वे अपने कार्यों को और अधिक गति दे सकें। इन दिनों इसी अभियान गायत्री परिवार में जुटा है। श्री शर्मा ने कहा कि कोरोनाकाल के बाद युवाओं के साथ-साथ सभी आयु वर्ग के मन को और अधिक सुदृढ़ बनाये रखने के लिए प्रेरित प्रोत्साहित करने होंगे। इसी उद्देश्य से देश के विभिन्न राज्यों में शृंखलाबद्ध यज्ञीय व विभिन्न रचनात्मक आयोजन किये जा रहे हैं। शांतिकुंज की केन्द्रीय टोली गाँव-गाँव, घर-घर जायेगी और लोगों में धर्म और संस्कृति से जोड़ने का कार्य करेगी। व्यवस्थापक श्री शर्मा ने कहा कि धर्म और संस्कृति से जुड़कर समय की पाबंदी के साथ बड़े से बड़ा कार्य को सुगमतापूर्वक किया जा सकता है और भारतीय संस्कृति को पुनः विश्व संस्कृति बनाने की दिशा में अपना योगदान दे सकते हैं। उन्होंने पौधारोपण, जल संरक्षण जैसे विभिन्न रचनात्मक कार्यों में युवा पीढ़ी को जुड़ने का आवाहन किया।

कार्यक्रम विभाग समन्वयक श्री श्याम बिहारी दुबे ने बताया कि उप्र, उत्तराखण्ड, बिहार, झारखण्ड, दिल्ली, जम्मू, महाराष्ट्र, गुजरात, हरियाणा आदि सहित कुल २२ राज्यों में १ मार्च से १५ जून तक देवपरिवार विस्तार कार्यक्रम के तहत विभिन्न आयोजन होंगे। इनके संचालन के लिए उच्च प्रशिक्षित केन्द्रीय टोलियाँ रवाना होंगी। उन्होंने बताया कि गायत्री परिवार के प्रमुखद्वय श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या एवं श्रद्धेया शैलदीदी टोली को विदाई देंगे। पांच दिन चले इस शिविर को डॉ. ओपी शर्मा, प्रो विश्वप्रकाश त्रिपाठी, श्री केदार प्रसाद दुबे, प्रो. प्रमोद भटनागर, श्री परमानन्द द्विवेदी, श्री कैलाश महाजन, श्री योगेन्द्र गिरी जी, श्री नमोनारायण पाण्डेय आदि ने संबोधित किया।

जूनागढ़ में शुरू हुआ भवनाथ भंडारी गिरी को मेला

 महाशिवरात्रि पर जूना अखाड़े के प्रसिद्व विश्व विख्यात भवनाथ भण्डारी गिरि कुम्भ मेला शुरू

पूर्ण विधि-विधान के साथ जलाभिषेक कर विश्वकल्याण की कामना करेगे-श्रीमहंत हरिगिरि

जूनागढ़ 25 फरवरी ( गोपाल रावत वरिष्ठ पत्रकार जूनागढ़ से विशेष रिपोर्ट) कोरोना महामारी की पाबंदियों में छूट के बाद सन्यासियों के सबसे बड़े अखाड़े श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़ा के देशभर में फेले आश्रमों,मठो,मन्दिरों में धूमधाम से महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जा रहा है। महाशिवरात्रि पर कुम्भ मेला की तर्ज पर पांच दिवसीय धार्मिक समारोह का आयोजन किया जा रहा है। मुख्य समारोह गुजरात के जूनागढ़ स्थित भवनाथ मन्दिर में किया जा रहा है,जहां लाखों की तादाद में साधु-सन्यासियों के अलावा श्रद्वालुगण शामिल हो रहे हैं ।  इस सम्बन्ध में जूना अखाड़े के अन्र्तराष्ट्रीय संरक्षक एवं अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने बताया  कि कुम्भ मेले की तर्ज पर भवनाथ मन्दिर में महाशिवरात्रि पर्व पर विशेष पूजा अर्चना की जा रही हैं।  इसके लिए शुक्रवार यानि 25फरवरी को पूरे नगर में शाही जूलुस निकाला गया । भवनाथ मन्दिर के परमाध्यक्ष श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने कहा कि दो साल बाद कोरोना काल के बाद सरकार की ओर नियमों में छूट के बाद भव्य आयोजन किया जा रहा है। महामारी के दौरान एक तरह से पाबंदियों में कैद आमजनों के अलावा साधु-संत भी काफी खुशी महसूस कर रह है।इसके लिए सरकार का आभार जताते हुए कहा कि देशभर के लाखों शिवालयों में जलाभिषेक होगा। उन्होने कहा कि गुजरात के इस गिरि पर्वत पर स्थापित भवनाथ महादेव मन्दिर पर विशेष रूप से अभिषेक किया जायेगा। उन्होने कहा कि गिरि कुम्भ मेला के नाम से विख्यात भवनाथ भण्डारी गिरि कुम्भ मेला के नाम से विख्यात इस मेला का विशेष आकर्षण है। इस मेला का दृश्य काफी आर्कषक एवं अद्भूत होता हैं। कहा जाता है कि इस मेले के दौरान स्वयं महादेव एवं माता पार्वती भिन्न रूप में पधारकर भक्तों को आर्शीवाद प्रदान करते है। उन्होने सभी सनातनप्रेमी धर्मालम्बियों से शामिल होने का आहवान किया। उन्होने कहा कि इस महाशिवरात्रि पर्व पर भोलेनाथ भावनाथ महादेव का विधि विधान के साथ पूजा अर्चना कर विश्व शांति की कामना करेगे। विश्व में मची उथल-पुथल की शांति के लिए प्रार्थना की जायेगी। उन्होने कहा कि कुम्भ मेला की तर्ज पर आयोजित होने वाले इस मेले में 50लाख से अधिक की तादाद में श्रद्वालुगण शामिल होंगे। मेले के आयोजन की अनुमति देने पर उन्होने सरकार का आभार जताया। साथ ही कहा कि फिर भी कोविड नियमों का पालन कराया जायेगा। बताया कि महाशिवरत्रि के मौके पर कुम्भ मेले की तर्ज पर शाही जुलूस निकाला जायेगा




,उससे पहले 25फरवरी को धर्मध्वजा की स्थापना की जायेगी। महाशिवरात्रि के मौके पर भव्य जलाभिषेक होगा। मेले की तैयारियों के लिए जूना अखाड़े के प्रमुख सांधु-संत पहुॅच चुके है। तैयारियों को अन्तिम रूप देने के लिए अखाड़े के अन्र्तराष्ट्रीय सभापति श्रीमहंत प्रेमगिरि महाराज,अन्र्तराष्ट्रीय सभापति उमाशंकर भारती, अन्र्तराष्ट्रीय सचिव श्रीमहंत महेशपुरी,श्रीमहंत शैलेन्द्र गिरि,सचिव श्रीमहंत मोहन भारती,महामण्डलेश्वर महेन्द्रानंद गिरि,निर्माण महंत शैलजा गिरि,हिमालयन योगी महामण्डलेश्वर वीरेन्द्रानंद गिरि,श्रीमहंत निरंजन भारती,श्रीमहंत दूज गिरि, श्रीमहंत रामचंन्द्र गिरि सहित कई अन्य अखाड़े के साधु-संत भवनाथ महादेव मन्दिर पहुच चुके है। 

पांच दिवसीय समारोह की शुरूआत धर्मध्वजा स्थापना से

श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने बताया कि 25फरवरी को जूना अखाड़ा,अग्नि अखाड़ा तथा आहवान अखाड़े में धर्मध्वजा स्थापित किया गया। इसके अलावा जूनागढ़ के विभिन्न मन्दिरों,प्रसिद्व आश्रमों के साथ साथ स्थानीय नगर निगम में भी धर्मध्वजा स्थापित किया गया। पांच दिवसीय समारोह के पहले दिन धर्म ध्वजा की स्थापना हुई। शनिवार को जूना अखाड़ा के आचार्य पीठाधीश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि जी महाराज पहुचेंगे और महादेव का पूर्ण अभिषेक करेंगे। मुख्य महाशिवरात्रि के दिन रात्रि को पूरे नगर में भव्य शाही जूलूस निकाली जायेगी। उन्होने बताया कि मेले की तैयारियों के सम्बन्ध में मेयर श्रीमती गीताबेन परमार,कमिश्नर राजेश पन्ना,जिलाधिकारी रूचित राज,एस.पी प्रदीप सिंह जाडेजा के अलावा अन्य अधिकारियों ने मौके पर पहुचकर व्यवस्थाओं को परखा।

आर ओ बी उत्तरकाशी के विभिन्न क्षेत्रों में चला रहा है कोविड-19 जन जागरूकता ,मिशन इंद्रधनुष को लेकर अभियान



  चिनियाली सोड 24 फरवरी  रीजनल आउटरीच ब्यूरो कल नागड़ी चिन्यालीसौड़ आयोजित करेगा कोविड-19 जागरूकता टीकाकरण उपलब्धि एवं मिशन इंद्रधनुष को लेकर कार्यक्रम आयोजित करेगा जिसके लिए मिनी आई कॉप  पूर्व प्रचार अभियान बाल विकास परियोजना कार्यालय नागड़ी चिनियालीसौड उत्तरकाशी में  गोष्ठी एवं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया ।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्रीमती भारती भंडारी बाल विकास अधिकारी एवं विभिन्न गांव से उपस्थित महिलाओं ने भाग लिया।

       राजकीय आदर्श इंटर कॉलेज चिन्यालीसौड़ में भी छात्र छात्राओं ने चित्रकला प्रतियोगिता में भाग लिया तथा बैनर विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर लगाकर एवं मौखिक संदेश द्वारा लोगों को कार्यक्रम के बारे में अवगत करवाया गया

मोदी राज में सशक्त व सुरक्षित हुआ राष्ट्र


यूक्रेन कमजोर था अंत तक अमेरिका का मुह देखता रहा !!


होंग कॉन्ग ने समृद्धि बहुत कमाई पर रक्षा तंत्र पर काम नही किया उस पर चीन ने कब्जा कर लिया !!

नेपाल कमजोर है चीन ने जबरन उसके गांवों पर कब्जा किया हुआ है !!

नेहरू जी कमजोर प्रधानमंत्री थे तिब्बत दे बैठे चीन को !!

एक राष्ट्र केवल व्यापार या संस्कृति नही होता राष्ट्र राष्ट्र तब बनता है जब उसकी सीमाएं सुरक्षित हो !!!

आज के हालात देख कर लगता है हो सकता है हमने पेट्रोल महंगा भराया हो जी एस टी से लोगो को तकलीफ हुई हो पर इस सरकार ने एक राष्ट्र के रूप में हमे बहुत सुरक्षित कर दिया है !!!

आज हमारे पास विश्व की जानी मानी सेना है जो घर मे घुस कर मारती है वो सेना है जिसकी आंखों से चीन भी घबराता है !!!

धन समृद्धि तो समय के साथ आ ही जायेगा पर ये जो राष्ट्र मोदी ने सुरक्षित किया है इसका कर्जदार तो हर राष्ट्र प्रेमी रहेगा !!!

जय माँ भारती !!

गजे सिंह सैनी नियुक्त किए गए भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन हरिद्वार के युवा शक्ति जिलाध्यक्ष

रुड़की 23 फरवरी (संजय सैनी संवाददाता गोविंद कृपा रुड़की ) भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन(BRSSS) हरिद्वार उत्तराखंड की एक महत्वपूर्ण बैठक जिला कोषाध्यक्ष मनीष सैनी के निवास पर आयोजित की गई। इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए. संगठन की तरफ से युवा शक्ति भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन हरिद्वार के जिला अध्यक्ष की जिम्मेदारी युवा और ऊर्जावान भाई गजे सिंह सैनी जी को देने का निर्णय लिया गया है। उपरोक्त जानकारी संगठन के संस्थापक अध्यक्ष अरुण सैनी ने देते हुए बताया कि


गजे सिंह सैनी  वर्तमान में जिला संगठन मंत्री की जिम्मेदारी निभा रहे हैं और इससे पहले गजे सिंह सैनी  हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा के विधानसभा अध्यक्ष की जिम्मेदारी भी निभा चुके हैं  गजे सिंह सैनी  को जिला अध्यक्ष युवा शक्ति भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन हरिद्वार जिम्मेदारी मिलने पर बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई हमें पूर्ण विश्वास है की भाई गजे सिंह जी के नेतृत्व में समाज के युवा संगठन से जुड़कर संगठन और समाज को एक नई दिशा देने का कार्य करेंगे ।

हरिद्वार के पूर्व विधायक स्वामी जगदीश मुनि को संत समाज एवं राजनेताओं ने किया स्मरण

 ब्रह्मलीन स्वामी जगदीश मुनि को संत समाज एवं राजनेताओं ने दी श्रद्धांजलि

 हरिद्वार 22 फरवरी ( संजय वर्मा ) हरिद्वार के पूर्व विधायक एवं संत मंडल आश्रम के परमाध्यक्ष ब्रह्मलीन आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी जगदीश मुनि को उनकी 11 वीं पुण्यतिथि के अवसर पर संत समाज एवं राजनेताओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की ,संत मंडल आश्रम में वर्तमान पीठाधीश्वर महंत राम मुनि के संयोजन में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में भाजपा से राज्यसभा सांसद नरेश बंसल ने भाजपा के पूर्व विधायक एवं राम जन्मभूमि आंदोलन के अग्रणी नेता और संत स्वामी जगदीश मुनि को स्मरण करते हुए कहा कि स्वामी जगदीश मुनि त्याग तपस्या और भाजपा के प्रति समर्पण भाव की प्रतिमूर्ति थे । उन्होंने राम जन्मभूमि आंदोलन में जो अपना योगदान दिया उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता  है। महामंडलेश्वर स्वामी हरि चेतनानंद, महामंडलेश्वर स्वामी प्रेमानंद, महामंडलेश्वर स्वामी कपिल मुनि सहित संत समाज ने स्वामी जगदीश मुनि को घीसा पंथ संप्रदाय का सिरमोर बताते हुए उनके योग्य शिष्य और उत्तराधिकारी वर्तमान संत मंडल आश्रम के पीठाधीश्वर स्वामी राम मुनि के प्रति मंगलकामनाएं प्रकट की । इस अवसर पर हरिद्वार भारतीय  जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान ,राज्यमंत्री अंकित आर्य, पूर्व राज्य मंत्री श्यामवीर सिंह सैनी,  पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्य ,जिला महामंत्री आदेश सैनी,





जिले के वरिष्ठ पदाधिकारी अनिल अरोड़ा ,लव शर्मा ,संदीप गोयल,भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अनीता वर्मा ,भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिला महामंत्री डॉ प्रदीप कुमार सहित भाजपा के नेताओं ने पूर्व विधायक जगदीश मुनि को श्रद्धा सुमन अर्पित किए ।इस अवसर पर आए हुए संत समाज एवं राजनेताओं के प्रतिआभार प्रकट करते हुए समारोह के संयोजक महंत राम मुनि ने कहा कि ब्रह्मलीन गुरुदेव सच्चे अर्थों में संत के साथ साथ राष्ट्रभक्त और राम भक्त  थे। जिन्होंने अपने 10 वर्षों के कार्यकाल में तीर्थ नगरी हरिद्वार के विकास के साथ-साथ भगवान राम के मंदिर निर्माण आंदोलन मेंअपना विशिष्ट योगदान दिया ,जिसके लिए वे सदैव याद किए जाते रहेंगे। श्रद्धांजलि समारोह का संचालन महंत रवि देव शास्त्री ने किया। ब्रह्मलीन स्वामी जगदीश मुनि को उनकी 11वीं पूरी पुण्यतिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालो मे भारत माता मंदिर के श्री महंत स्वामी  ललिता नंद गिरी ,निर्मल संत पुर आश्रम के महंत जगजीत सिंह ,महंत जागे राम शास्त्री ,महंत सूरज दास ,महंत शिव शंकर गिरी ,,महंत मोहनसिंह, महंत दिनेश दास ,संत खेम सिंह सहित भारतीय जनता पार्टी के मंडल अध्यक्ष विरेन्द्र तिवारी एवं मंडल के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

गुलशन सैनी भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन के विद्यार्थी शक्ति इकाई के बने जिला अध्यक्ष

रुड़की 21 फरवरी( संजय सैनी संवाददाता गोविंद कृपा रुड़की )भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन(BRSSS) हरिद्वार उत्तराखंड की एक महत्वपूर्ण बैठक जिला कोषाध्यक्ष मनीष सैनी जी के निवास पर रविवार 20 फरवरी को आयोजित की गई इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए संगठन की तरफ से विद्यार्थी शक्ति भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन हरिद्वार के जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी भाई गुलशन सैनी जी को देने का निर्णय लिया है भाई गुलशन सैनी जी वर्तमान में भगवानपुर विधानसभा के अध्यक्ष की



जिम्मेदारी निभा रहे हैं और कई वर्षों से संगठन को मजबूत करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं भाई गुलशन सैनी जी को जिला अध्यक्ष विद्यार्थी शक्ति भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन हरिद्वार की जिम्मेदारी मिलने पर बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनाएं वह बधाई .हमें पूर्ण विश्वास है की गुलशन जी के ने.तृत्व में विद्यार्थी हमारे संगठन से जुड़कर समाज और संगठन को एक नई दिशा प्रदान करेंगे और साथ ही साथ संगठन के मूल उद्देश्य को प्राप्त करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका भी निभाएंगे. 

पूज्य माता लाल देवी जी का मनाया गया जन्मदिन

 पूज्य माता लाल देवी का हर्षोल्लास के साथ मनाया गया पावन जन्मदिन

हरिद्वार 21 फरवरी ( 




संजय वर्मा  ) तीर्थ नगरी हरिद्वार में माता वैष्णो देवी गुफा वाले मंदिर की संस्थापिका    पूज्य माता लाल देवी जी का पावन जन्मोत्सव युगपुरुष स्वामी परमानंद जी महाराज के सानिध्य में हर्षोल्लास के साथ  मनाया गया । इस अवसर पर संत जनों ने पावन जन्मोत्सव में शामिल श्रद्धालुओं भक्तों कोआशीर्वाद दिया और उन्हें पूज्य माता लाल देवी जी के  जन्मदिन की बधाई दी । जूना अखाड़ा के पूर्व सचिव श्रीमहंत  देवानंद सरस्वती महाराज के संचालन में आयोजित संत सम्मेलन में युगपुरुष स्वामी परमानंद जी महाराज ने  आशीर्वचन देते हुए कहा कि पूज्य लाल माता देवी जी परम तपस्वनी   संत थी जिन्होंने तीर्थ नगरी हरिद्वार में  वैष्णो देवी मंदिर के प्रतिरूप  पूज्य माता लाल देवी गुफा वाला मंदिर बनवा कर तीर्थ यात्रियों को अनुपम सौगात दी ।महामंडलेश्वर स्वामी हरिचेतना नंद महाराज,  महामंडलेश्वर स्वामी प्रेमानंद महाराज ने कहा कि  लाल माता वैष्णो देवी गुफा वाला मंदिर तीर्थ नगरी हरिद्वार में धर्म और सेवा का केंद्र है । जिसके संचालन मे पूज्य माता लाल देवी जी के कृपा पात्र शिष्य  भक्त दुर्गादास निरंतर समर्पण भाव के साथ सेवक बनकर सेवा करते रहते हैं ।पतंजलि विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति प्रोफ़ेसर महावीर अग्रवाल ने कहा कि भारतीय संस्कृति में मां का स्थान सर्वोच्च है और पूज्य माता लाल देवी शक्ति स्वरूपा है जो भगवान श्री कृष्ण की परम भक्त होने के साथ-साथ हरिद्वा,  अमृतसर जैसे स्थानों पर वैष्णो माता के मंदिर बना कर शक्ति स्वरूपा मां भगवती की आराधना का माध्यम बनी । इस अवसर पर आए हुए संत जनों काआभार प्रकट करते हुए पूज्य माता लाल देवी मंदिर के संचालक भक्त दुर्गादास ने कहा कि माता जी का जन्मोत्सव हमारे लिए एक बड़ा पर्व होता है जिसे अमृतसर हरिद्वार में बड़े ही श्रद्धा भाव के साथ मनाया जाता है हरिद्वार के उत्सव में संत जनों का आगमन हमारी संस्था को संबल प्रदान करता है ।इस अवसर पर स्वामी ऋषिश्वरा नंद, महंत दुर्गादास ,   भारत माता मंदिर समन्वय सेवा ट्रस्ट के मुख्य प्रबंध न्यासी आई डी शर्मा शास्त्री महंत प्रेमानंद ,महंत जगजीत सिंह , महंत मोहन सिंह ,महंत सूरज दास ,महंत रवि देव शास्त्री, महंत दिनेश दास ,साध्वी रामा योगी ,सुधा योगी , साध्वी राधा गिरी, सहित संत महंत जन उपस्थित रहे ।इस अवसर पर नगर निगम के पार्षद दल के उप नेता अनिरूद्ध  भाट, पार्षद विनीत जौली, गंगा माता आई हॉस्पिटल के पूर्व सचिव ओपी बंसल , भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य  अनीता वर्मा,  समाजसेवी संजय वर्मा, शिवदास दुबे सहित रुड़की, हरिद्वार, दिल्ली ,अमृतसर से भक्तजन बडी संख्या में  उपस्थित रहे।

सक्षम ने गाजियाबाद में की कामकाजी बैठक



 *सक्षम जिला गाजियाबाद यूनिट की बैठक वसुंधरा में संपन्न*

 हरिद्वार 21 फरवरी  रविवार को कुटुम्ब सोसाइटी सेक्टर 12 वसुंधरा ,( गाजियाबाद) में सक्षम जिला यूनिट गाजियाबाद की एक बैठक संपन्न हुई *जिसमें मुख्य रुप से श्री ललित पंत सह प्रमुख उत्तर पश्चिमी क्षेत्र  व प्रांत अध्यक्ष उत्तराखंड* की अध्यक्षता में संपन्न इस मीटिंग में श्री ललित पंत जी ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि मेरठ प्रांत संगठनात्मक दृष्टि से अच्छा कार्य कर रहा है और बाकी जनपदों में जो संगठन की इकाइयां भी गठित नहीं हुई है उनमें भी जल्द से जल्द इकाई गठित करने पर विचार किया गया और संगठन में समस्त साथियों से आग्रह किया कि वह सेवा भाव के कार्य दिन प्रतिदिन बढ़ते रहे और दिव्यांगों की सेवा करते रहें इसके उपरांत *डॉक्टर  मुरली सिंह  प्रान्त सचिव* नेअपने संबोधन में कहा कि 2022 तक प्रत्येक जनपद में इकाई गठित कर दी जाएगी और सभी के सहयोग से जनपदों में दिव्यांगो के लिए सक्षम दिव्यांग जन सेवा केंद्र खोला जाएगा और सभी राष्ट्रीय स्तर से कार्य योजना के अनुरूप कार्य किया जाएगा रविवार  की मीटिंग में *श्री जयराम प्रजापति जिलाध्यक्ष, श्री राजीव सक्सेना जिला उपाध्यक्ष गाजियाबाद, श्री सुनील कुमार यादव जिला कार्यालय प्रमुख , श्री विनय कुमार जयंत श्रवण बाधित प्रकोष्ठ प्रमुख मेरठ प्रांत आदि उपस्थित रहे*

शायरों की महफिल

 ग़ज़ल 


कोई सूरत नहीं निभाने की।

बात करते हो दिल दुखाने की।।


पास उनको वफा कहां कोई।


लग गई है हवा जमाने की।।


वस्ल की बात आज रहने दें।

रात है हिज्र को सजाने की।।


चैट करके तुम्हें फंसा देंगी।

लड़कियां हैं नये जमाने की।।


साफ कह दो अगर नहीं आना।

क्या जरूरत किसी बहाने की।।


दर्द गढ़वाली, देहरादून 

09455485094

जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र और सक्षम काशीपुर ने चलाया कुष्ठ रोगियों के लिए सेवा अभियान

 काशीपुर 19 फरवरी जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र और सक्षम के संयुक्त कार्यक्रम में काशीपुर स्थित कुष्ठ आश्रम में कुष्ठ रोगियों को मास्क और सैनिटाइजर का वितरण किया गया तथा कुष्ठ रोगियों के विभिन्न प्रमाण पत्र और सरकारी अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी दी गई। पुनर्वास केंद्र के नोडल अधिकारी सतीश चौहान ने बताया कि आवश्यक प्रमाण पत्र कुष्ठ आश्रम में बना दिए जायेंगे। जिससे कुष्ठ रोगियों को सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके और उन तक भी सरकार के द्वारा दी जा रही पेंशन चिकित्सा सहायता एवं पुनर्वास जैसी अन्य सुविधाएं उपलब्ध हो सके ।डॉ प्रशांत  सिंह ने कहा कि कुष्ठ रोग एक सामान्य बीमारी है जो किसी को भी हो सकती है कुष्ठ रोगियों को सामाजिक बहिष्कार से बचाने के लिए समाज को जागरूक करने का काम सक्षम कर रहा है जिससे वे लोग भी समाज की मुख्यधारा में शामिल हो सके इस अवसर पर वहा पर सक्षम से श्रीमती मीनाक्षी चौहान, काशीपुर कुष्ठ आश्रम के पदाधिकारी ,प्रशासनिक




अधिकारी एवं अन्य समाजसेवी आदि उपस्थित रहे।

जनपद हरिद्वार में ऐतिहासिक जीत दर्ज करेगी भाजपा :-डॉ0 जय पाल सिंह चौहान

हरिद्वार 19 फरवरी (वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार)


जिला भाजपा कार्यालय हरिद्वार पर जिला अध्यक्ष डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान की अध्यक्षता में चुनाव के पश्चात बैठक ली गई बैठक में जिले की सभी विधानसभाओं में हुए मतदान की समीक्षा की गई डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान ने कहा कि मंडल अध्यक्ष, विधानसभा प्रभारी, संयोजको व पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से फीडबैक लिया एवं इसी फीडबैक के आधार पर कहा जा सकता है कि भारतीय जनता पार्टी जिला हरिद्वार की सभी सीटों पर ऐतिहासिक जीत दर्ज करने जा रही है हमारे सभी कार्यकर्ताओं ने ईमानदारी व निष्ठा से पार्टी संगठन का काम किया उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कार्यकर्ता ही भाजपा की पूंजी है प्रदेश सरकार एवं केंद्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को मतदाताओं द्वारा सराहा गया जो कि भाजपा की जीत का बहुत बड़ा कारण होगा भाजपा की डबल इंजन सरकार ने मिलकर प्रदेश में ऐतिहासिक योजनाएं चलाकर अंतिम छोर में बैठे व्यक्ति तक विकास योजनाओं का लाभ पहुंचाने का काम किया है और सरकार के द्वारा चलाई गई इन्हीं महत्वकांक्षी योजनाओं के बल पर जिनके द्वारा हर व्यक्ति को इनका लाभ प्राप्त हुआ है जन जन तक पहुंची इन्हीं लाभकारी योजनाओं के द्वारा प्रदेश में पुनः भाजपा सरकार बनाने जा रही हैं इस अवसर पर जिला महामंत्री आदेश सैनी, विकास तिवारी संदीप गोयल , अमन त्यागी, अनामिका शर्मा, प्रवेश प्रिया, लव शर्मा, मनोज पवार, तेलू राम प्रधान, प्रदीप पाल, निपेंद्र चौधरी, नरेश प्रधान, राजेश सैनी, आशुतोष शर्मा ,योगेश चौहान, शोभाराम प्रजापति, संजय प्रजापति, मनोज नायक, रीमा गुप्ता, सोनू धीमान, विकासपाल ,डॉ सुभाष सैनी, राजबाला सैनी, विकास कुमार, जितेंद्र सैनी, सुबोध शर्मा, अनिमेष कुमार, दिनेश पांडे, पुष्पराज कुशवाहा आदि पदाधिकारी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

राष्ट्र देव की आराधना में समर्पित होगा वेद श्री तपोवन

 वेद श्री तपोवन बनेगा धर्म संस्कृति के संरक्षण का केंद्र हरिद्वार 19 फरवरी (संजय वर्मा) महर्षि वेदव्यास प्रतिष्ठान की महत्वकांक्षी योजना वेद श्री तपोवन परम पूज्य स्वामी गोविंद  देवगिरी जी महाराज का राष्ट्र को  समर्पित   एक प्रकल्प है । जो महाराष्ट्र में पुणे के निकट आलंदी में साकार हो रहा है। राष्ट्र देव की आराधना का माध्यम बनेगा यह संस्थान, देश में धर्म संस्कृति के



जागरण के साथ-साथ वेदों का अध्ययन वेदों का शिक्षण भी इस वेद श्री तपोवन में होगा । जहां से विश्व भर में वेदों का प्रचार प्रसार करने के लिए प्रचारक तैयार किए जाएंगे ।यह जानकारी परम पूज्य गोविंद गिरी देव जी के महाराज के शिष्य एवं उनके मीडिया प्रभारी एडवोकेट विजय उपाध्याय ने देते हुए बताया कि  गोविंद गिरी देव जी महाराज भारत माता मंदिर के संस्थापक ब्रह्मलीन स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी जी महाराज के परम शिष्य है  । जिन्होंने अपने गुरुदेव के मार्ग का अनुसरण करते हुए भारत को पुनः विश्वगुरु बनाने के उनके सपनों को साकार करने के लिए वेद श्री तपोवन का निर्माण कर रहे हैं।  और शीध्र ही यह प्रकल्प राष्ट्र को समर्पित करने जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि वेदों के प्रकांड विद्वान  पूज्य गोविंद गिरी देव जी महाराज धर्म संस्कृति के संरक्षक है उनका  यह प्रकल्प हमारी वैदिक संस्कृति के आधार वेदों को संरक्षित करते हुए उनके उन्नयन के लिए कार्य करेगा।

माधव राव सदाशिव राव गोलवलकर जी की जन्म जयंती पर शत शत नमन

 !!प्राध्यापक के रूप में श्री गुरु जी!!

  (जन्म जयंती पर शत् शत् नमन)


 माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के द्वितीय सरसंघचालक का जन्म 19फरवरी 1906 को हुआ था। वे एक महान विचारक थे।  गोलवलकर जी जब बनारस से नागपुर आये तो वहां आकर भी उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं रहा। इसके साथ ही उनके परिवार की आर्थिक स्थिति भी अत्यन्त खराब हो गयी थी। इसी बीच बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय से उन्हें निर्देशक पद पर सेवा करने का प्रस्ताव मिला। 16 अगस्त सन् 1931 को श्री गुरूजी ने बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के प्राणि-शास्त्र विभाग में निर्देशक का पद संभाल लिया। चूँकि यह अस्थायी नियुक्ति थी। इस कारण वे प्राय: चिन्तित भी रहतेथे अपने विद्यार्थी जीवन में भी माधव राव अपने मित्रों के अध्ययन में उनका मार्गदर्शन किया करते थे। और अब तो अध्यापन उनकी आजीविका का साधन ही बन गया था। उनके अध्यापन का विषय यद्यपि प्राणि-विज्ञान था,किन्तु विश्वविद्यालय प्रशासन ने उनकी प्रतिभा शक्ति को देखकर उन्हें बी.ए. की कक्षा के छात्रों को अंग्रेजी और राजनीति शास्त्र पढ़ाने का भी अवसर दिया। अध्यापक के नाते माधव राव अपनी विलक्षण प्रतिभा और योग्यता से छात्रों में इतने अधिक अत्यन्त लोकप्रिय हो गये कि उनके छात्र उनको गुरुजी के नाम से सम्बोधित करने लगे। इसी नाम से वे आगे चलकर जीवन भर जाने गये। माधव राव यद्यपि विज्ञान के परास्नातक थे, फिर भी आवश्यकता पड़ने पर अपने छात्रों तथा मित्रों को अंग्रेजी, अर्थशास्त्र, गणित तथा दर्शन जैसे अन्य विषय भी पढ़ाने को सदैव तत्पर रहते थे। यदि उन्हें पुस्तकालय में पुस्तकें नहीं मिलती थीं, तो वे उन्हें खरीद कर और पढ़कर जिज्ञासू छात्रों एवं मित्रों की सहायता करते रहते थे। वे अपने वेतन का अधिकांश अंश अपने होनहार छात्र-मित्रों की फीस भर देने अथवा उनकी पुस्तकें खरीद देने में ही व्यय कर देते थे।  116 वीं जयन्ती पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के द्वितीय सरसंघचालक श्री गुरु जी को शत शत नमन 


(कमल किशोर डुकलान रूडकी )


22 फरवरी को पूर्व विधायक ब्रह्मलीन स्वामी जगदीश मुनि को संत मंडल आश्रम में दी जाएगी श्रद्धांजलि

 राम जन्मभूमि आंदोलन के हरिद्वार से ध्वजवाहक विधायक जगदीश मुनि को 22 फरवरी को दी जाएगी श्रद्धांजलि 

हरिद्वार 18 फरवरी (वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार)


राम जन्मभूमि आंदोलन मे बढ़ चढ़कर भाग लेने वाले पूर्व विधायक जगदीश मुनिकी 11 वीं पुण्यतिथि के अवसर पर तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन संत मंडल आश्रम में होगा उपरोक्त जानकारी संत मंडल आश्रम के महंत स्वामी राम मुनि ने देते हुए बताया कि ब्रह्मलीन गुरुदेव स्वामी जगदीश मुनि की11 वीं पुण्यतिथि 20 फरवरी से 22 फरवरी तक समारोह पूर्वक मनाई जाएगी ।इसके अंतर्गत घीसा संत की अमृतवाणी ग्रंथ का पाठ किया जाएगा  यज्ञ,हवन , श्रद्धांजलि सभा ,भंडारे का आयोजन किया जाएगा । महंत राम मुनि महाराज ने  बताया कि 90 के दशक में हरिद्वार से दो बार विधायक रहे स्वामी जगदीश मुनि जिनका राम जन्मभूमि आंदोलन में विशेष योगदान रहा और उनके नेतृत्व में हरिद्वार से कई बड़ी यात्राएं निकाली गई उनकी 11 वीं पुण्यतिथि के अवसर पर 20 फरवरी से 22 फरवरी तक उनकी स्मृति में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा । जिस मे हरियाण,  पंजाब, दिल्ली, राजस्थान,  हिमाचल आदि राज्यों से श्रद्धालु भक्तजन बड़ी संख्या में भाग लेंगे साथ ही भारतीय जनता पार्टी के और संगठन के वरिष्ठ नेता संत जन उपस्थित होकर उनको श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।

हरिद्वार मैं शुरू हो गया है कांवडियों का आगमन

 हरिद्वार में चुनाव बाद के सन्नाटे को तोड़ रहा है कांवडियों का आगमन

 हरिद्वार 18 फरवरी (वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )उत्तराखंड में चुनाव के बाद फैले सन्नाटे को तोड़ने का काम कावड़िए कर रहे हैं उनके आने से जहां व्यापारियों के चेहरे खेलने शुरू हो गए हैं वहीं दूरदराज से आए कावड़िए गंगाजल भरकर अपने गंतव्य के लिए प्रस्थान करने लगे हैं । माघ मास की पूर्णिमा के पश्चात हरिद्वार  मैं शिवरात्रि महोत्सव प्रारंभ हो गया है 28 फरवरी को यह मेला चरम पर होगा। शिवरात्रि कावड़ मेला हरिद्वार के व्यापारियों के लिए दीपावली के बाद की मंदी के खत्म होने का संदेश लेकर आता है और हरिद्वार वासियों को व्यापार के रूप में नई ऊर्जा प्रदान करके जाता है। माघ मास की पूर्णिमा पर दूर-दराज से आए कावडियो ने गंगा स्नान कर अपनी काँवड में गंगा जल भर के अपने गंतव्य के लिए प्रस्थान किया और यहीं से हरिद्वार में बम बम की गूंज सुनाई देने लगी । व्यापारी नेता संजीव नैयर, महेन्द्र अरोडा, राजू वधावन, अनूपम त्यागी,  नरसिंह भवन धर्मशाला के प्रबंधक राजेंद्र राय का कहना है कि फागुन मास में पडने वाली शिवरात्रि से ही हरिद्वार का व्यापार शुरू होता है,जो चार धाम यात्रा प्रारंभ होने तक धीमे -धीमे चलता रहता है ।चार धाम यात्रा प्रारंभ होने से जहां हरिद्वार का सीजन अपने चरम पर पहुंच जाता है वही शिवरात्रि पर्व पर आने वाले कावड़िए हरिद्वार के लिए समृद्धि का संदेश लेकर आते हैं। यहां यह बताते चलें कि इस कांवड़ मेले की सरकार और  जिला प्रशासन की ओर से कोई विशेष व्यवस्था नहीं की जाती है । स्थानीय प्रशासन ,पुलिस प्रशासन ,नगर निगम ही इन लोगों के लिए सुविधाएं प्रदान करने का काम करता है जबकि कावड़ मेला उत्तराखंड का एक बड़ा कांवड़ मेला है लबे समय से हरिद्वार वासी ,व्यापारी सामाजिक संगठन फागुन मास में पडने वाले शिवरात्रि कावड़ मिले को भी सावन मेले की भांति ही अधिसूचित करने की मांग कर रहे हैं। अब यह देखना है कि राज्य सरकार, जिला प्रशासन शिवरात्रि कांवड़ मेले में आने वाले लाखों शिव भक्तों को सुविधाएं प्रदान करने के लिए कावड़ मेले को कब मान्यता देगा ।


शिव भक्तों को उत्तराखंड सरकार कब सुविधाएं देगी यह तो वक्त ही बताएगा लेकिन शिवरात्रि कांवड़ मेले में आने वाले लाखों लाखों शिव भक्तों को सरकार की ओर से कोई भी सुविधा सुरक्षा इत्यादि ना मिलना शिव भक्तों के साथ सरासर अन्याय है।

उत्तराखंड सक्षम ने कुष्ठ जागरूकता पखवाड़े का किया समापन

 🚩🚩 *सक्षम उत्तराखंड के प्रांत सविता प्रकोष्ठ द्वारा कुष्ठ जागरूकता पखवाड़े  का मनाया गया समापन समारोह, कुष्ठ रोगियों को बांटी गई दवाइयां ,मास्क, सैनिटाइजर एवं जूते सैंडिल, कराया गया सूक्ष्म जलपान* 🚩🚩


 हल्द्वानी 15 फरवरी (भुवन गुणवंत संवाददाता गोविंद कृपा हल्द्वानी)




कुष्ठ जागरूकता पखवाड़े के *समापन समारोह* का शुभारंभ आज *सक्षम उत्तराखंड* के प्रांत पदाधिकारियों, *जिला नैनीताल* के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं द्वारा *दीप प्रज्वलित* कर एवं *संगठना सूत्र* पढ़कर *कुष्ट आश्रम लाल कुआं* में प्रांत प्रमुख सविता प्रकोष्ठ *श्रीमती जयश्री भंडारी* की अध्यक्षता में संपन्न कराया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के तौर उपस्थित *डॉ. के. सी. तिवारी जी* नेअपने उद्बोधन में  कुष्ठ रोग के कारणों एवं निवारण के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी उपस्थित कुष्ठ रोगियों एवं जनसमूह को दी। उन्होंने कहा कि आज के दौर में कुष्ठ रोग किसी भी प्रकार का *असाध्य एवं छुआछूत* की बीमारी नहीं रह गई है । उन्होंने बताया कि कुष्ठ रोग के  समूल नाश के लिए *स्वास्थ्य विभाग* समय-समय पर जागरूकता अभियान एवं विभिन्न प्रकार की दवाइयां उपलब्ध कराते रहता है । इस अवसर पर  सक्षम प्रांत उत्तराखंड के अध्यक्ष एवं राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य *श्री ललित पंत जी*  ने उपस्थित सभी पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं की सराहना करते हुए कहा कि जिस प्रकार सक्षम उत्तराखंड के सभी कार्यकर्ता दिव्यांगों के *हितार्थ* कार्य कर रहे हैं ,वह वास्तव में *प्रशंसनीय एवं अनुकरणीय* हैं। *श्री पंत जी* ने आश्वस्त किया कि भविष्य में भी वह इस प्रकार के कार्यक्रम संपन्न कराने में अपना सहयोग प्रदान करते रहेंगे । इस इस अवसर पर प्रांत प्रमुख सविता प्रकोष्ठ *श्रीमती जयश्री भंडारी* ने उपस्थित सभी पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हुए उनका आभार प्रकट किया । उन्होंने कहा कि विगत *2 फरवरी* को जो *खिचड़ी भोज* का कार्यक्रम कुष्ठ आश्रम *मोती नगर* में कराया गया एवं जो आज का समापन समारोह *कुष्टआश्रम लाल कुआं* में संपन्न हुआ,उसके लिये जिस प्रकार से सभी कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों ने जो कार्य किया वह वास्तव में हमारे समाज के लिए एक *मिसाल* है । इस प्रकार के कार्यक्रम हम भविष्य में भी करते रहेंगे , जिससे कि दिव्यांगों को समाज के मुख्यधारा में जोड़ा जा सके। आज के समारोह  में प्रांत सह सचिव *श्री भुवन चन्द्र गुणवंत जी* ने अपने उद्बोधन में आदरणीय पंत जी एवं डॉ. तिवारी जी के विचारों से प्रेरित होने और उनके मार्ग निर्देशन में आगे भी इस प्रकार के कार्यक्रम करने के लिए उपस्थित जनसमूह को *आश्वस्त* किया । इस अवसर पर प्रांत कार्यकारिणी सदस्य एवं पूर्व जिला अध्यक्ष *श्री सुरेश कपिल जी* ने अपने उद्बोधन में कहा कि आज सक्षम उत्तराखंड पूरे प्रांत में ही नही अपितु पूरे *राष्ट्र* में दिव्यांगों के  हितों के लिए जो कार्य कर रही है ,उनको और भी *वृहद स्तर* पर करने के लिए अपनी प्रतिबद्धता दोहराई। आज के इस समापन समारोह में सक्षम जिला नैनीताल की सचिव *श्रीमती लता पंत जोशी जी ,युवा प्रमुख श्री विपिन बहुगुणा जी ,कार्यालय प्रमुख श्रीमती नीरा तिवारी जी एवं रोजगार प्रमुख श्री अनिल धानिक जी* ने भी अपने अपने उद्बोधन में *दिव्यांग एवं असहाय* व्यक्तियों को *रोजगार* उपलब्ध कराने एवं अन्य सभी प्रकार की *सुविधाएं* उपलब्ध कराने की बातें कहीं, जिससे कि वह भी एक *उत्कृष्ट जीवन* जी सकें और समाज के साथ *कंधे से कंधा* मिलाकर चल सकें । आज के  समारोह  में उपस्थित सभी *कुष्ठ रोगियों एवं दिव्यांगों* को विभिन्न प्रकार की *दवाइयां, सैनिटाइजर , मास्क , जूते चप्पल एवं अंगवस्त्र* निशुल्क भेंट स्वरूप प्रदान किये गये।  सभी दिव्यांगो,कुष्ठ रोगियों एवं जनसमूह को *सूक्ष्म जलपान* भी कराया गया । एक *संगोष्ठी* के तहत उपस्थित कुष्ठ रोगियों ने अपनी समस्याओं से भी उपस्थित पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को अवगत कराया, जिसके निराकरण के लिए हर संभव प्रयास करने के लिए उन सभी को *आश्वस्त* किया गया। समारोह का समापन युवा प्रमुख *श्री विपिन बहुगुणा जी* द्वारा *कल्याण मंत्र* पढ़कर किया गया ।                            

                

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...