भारतीय समाज सुधार संस्था ने छात्राओ को दी आर्थिक मदद

 समाज का गौरव हैं बेटियां-डा.विशाल गर्ग

हरिद्वार, 31 जुलाई। भारतीय समाज सुधार संस्था के संरक्षक डा.विशाल गर्ग व राष्ट्रीय महासचिव रामदेव मौर्य ने ग्राम अहमदपुर की आर्थिक रूप से कमजोर परिवार की दो छात्राओं को स्कूल ड्रैस के लिए आर्थिक सहयोग प्रदान किया और छात्राओं के अनुरोध पर संस्था की और से उनकी पढ़ाई का पूरा खर्च उठाने का भरोसा दिलाया। विवेक विहार स्थित कार्यालय पर छात्राओं को आर्थिक सहयोग प्रदान करने के दौरान डा.विशाल गर्ग ने बताया कि छात्राओं के पिता राजपाल ने संस्था से उनकी बेटियों की पढ़ाई में सहयोग करने का अनुरोध किया था। अनुरोध को स्वीकार करते हुए संस्था की और से दोनों बेटियों की शिक्षा का खर्च उठाया गया। संस्था के सहयोग से बड़ी बेटी अंशिका के 12वीं करने के बाद उसे नर्सिंग में प्रवेश दिलाया गया। जबकि छोटी बेटी वंशिका 11वीं की छात्रा है। दोनों बेटियों की आगे की शिक्षा का खर्च भी संस्था वहन करेगी। डा.विशाल गर्ग ने कहा कि बेटियां समाज का गौरव हैं। बेटियां पढ़ेंगी और आगे बढ़ेंगी तो समाज आगे बढ़ेगा। सभी को बेटियों के संरक्षण संवर्द्धन के साथ उन्हें पढ़ने और आगे बढ़ने के समान अवसर प्रदान करने चाहिए। राष्ट्रीय महासचिव रामदेव मौर्य ने कहा कि बेटियों को भी शिक्षा के अवसर समान रूप से मिलने चाहिए। संस्था आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की बेटियों के उत्थान में लगातार सहयोग कर रही है। इस अवसर पर मनोज गौतम, विक्रम नाचीज, छात्राएं अंशिका व वंशिका मौजूद रही।


श्रीराम शाखा ने किया गुरु दक्षिणा कार्यक्रम का आयोजन

 संघ की श्रीराम शाखा ने किया गुरु पूजन 

हरिद्वार 30 जुलाई राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हरिद्वार कि श्रीराम शाखा जमालपुर कला ने गुरु दक्षिणा कार्यक्रम का आयोजन जमालपुर कला के सोशल एनक्लेव स्थित गोगा मढी मंदिर में किया जिसमें श्रीराम शाखा जमालपुर कला के स्वयंसेवकों ने उत्साह के साथ भाग लिया और गुरु स्वरूप भगवे ध्वज को प्रणाम कर अपने श्रद्धा सुमन समर्पण निधि अर्पित की डॉ प्रदीप कुमार के संयोजन में आयोजित गुरु दक्षिणा कार्यक्रम में संघ के पदाधिकारी एवं स्वयंसेवक उपस्थित रहे।


आदेश त्यागी अध्यक्ष और शिवा अग्रवाल महामंत्री चुने गए


 आदेश त्यागी एनयूजे के अध्यक्ष और शिवा अग्रवाल महासचिव चुने गए

हरिद्वार 30 जुलाई  ( संजय वर्मा )  पत्रकारों की प्रमुख संस्था एन यू जे  की हरिद्वार जिला इकाई की आमसभा में रविवार को आर्य नगर स्थित एक होटल में संपन्न हुई। आम सभा में सर्वसम्मति से वरिष्ठ पत्रकार और प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष आदेश त्यागी को यूनियन का नया जिला अध्यक्ष तथा शिवा अग्रवाल को महासचिव चुना गया । दोनों नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने सभी साथियों को साथ लेकर चलने और पत्रकार हितों के लिए काम करने का संकल्प दोहराया।

 यूनियन के संरक्षक प्रोफ़ेसर पीएस चौहान की देखरेख में संपन्न हुई आम सभा की बैठक में निवर्तमान अध्यक्ष राहुल वर्मा और महासचिव संदीप रावत ने अपने कार्यकाल का ब्यौरा प्रस्तुत किया । 

सभी वक्ताओं में राहुल वर्मा और संदीप रावत के कार्यकाल को उत्कृष्ट बताते हुए दोनों की मुक्त कंठ से सराहना की और उम्मीद जताई कि नए पदाधिकारी भी उनकी ही तर्ज पर संगठन की मजबूती के लिए काम करते रहेंगे। नए जिलाध्यक्ष आदेश त्यागी और महासचिव शिवा अग्रवाल ने कहा कि संगठन की मजबूती के लिए हर संभव प्रयास करेंगे । पत्रकारों की समस्याओं को जिला प्रशासन और सरकार के समक्ष मजबूती से उठाया जाएगा। यूनियन और प्रेस क्लब के बीच समन्वय और बेहतर करते हुए पत्रकार हितों के लिए अपेक्षित कार्यक्रम किए जाएंगे ।

इस दौरान प्रोफ़ेसर पीएस चौहान, सुनील दत्त पांडे, प्रेस क्लब अध्यक्ष रामचंद्र कनौजिया, पूर्व अध्यक्ष राजेश शर्मा, राजेन्द्र नाथ गोस्वामी, पूर्व महामंत्री धर्मेंद्र चौधरी, यूनियन के पूर्व जिला अध्यक्ष जयपाल सिंह, बालकृष्ण शास्त्री, अमित शर्मा सहित कई अन्य वक्ताओं ने विचार रखे।

 इस दौरान देवेंद्र शर्मा, सुनील पाल, डॉक्टर योगेश योगी, राव रियासत पुंडीर, प्रतिभा वर्मा, शैलेंद्र ठाकुर, गौरव कश्यप, शमशेर बहादुर बम, आनंद गोस्वामी, वीरेंद्र कुमार, काशीराम सैनी,  गणेश वैद्य, एमएस नवाज, मुदित अग्रवाल, प्रदीप गर्ग, सुनील कुमार, पुलकित शुक्ला, दीपक मौर्य, संतोष कुमार, सुरेंद्र कुमार शर्मा, सुमित यसकल्याण, राधेश्याम विद्याकुल, राहुल चौहान, संदीप शर्मा, अश्विनी बिश्नोई, सचिन कुमार,प्रवीण पेंगवाल, स्वरूप पुरी, सचिन सैनी, शिवकुमार शर्मा, अनूप कुमार, पुष्पराज धीमान, महावीर नेगी, विकास चौहान आदि समेत बड़ी संख्या में पत्रकार शामिल रहे।

सक्षम दिव्यांग सेवा केंद्र जमालपुर कला में प्रबुद्ध जनों ने सुनी मन की बात

 सक्षम दिव्यांग सेवा केंद्र जमालपुर कलां हरिद्वार पर प्रबुद्ध जनों ने सुनी मन की बात 


भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिला अध्यक्ष डॉ प्रदीप कुमार  बूथ नंबर 47 पर अपनी कार्यकारिणी के साथ रहे उपस्थित 


हरिद्वार 30 जुलाई ( संजय वर्मा ) सक्षम दिव्यांग सेवा केंद्र जमालपुर कला के तत्वाधान में बूथ नंबर 47पर  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात के 103  वे एपिसोड को प्रबुद्ध जनों ने  सक्षम दिव्यांग सेवा केंद्र जमालपुर कला में  सुना,  इस अवसर पर भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिला अध्यक्ष  डॉ प्रदीप कुमार , मंडल  अध्यक्ष  मिथुन कुमार  अपनी कार्यकारिणी के लोगों के साथ  सक्षम  दिव्यांग  सेवा केंद्र पर उपस्थित रहे ।इस अवसर पर प्रबुद्ध जनों ने जहां मोदी जी के मन की बात सुनी वही सक्षम द्वारा संचालित दिव्यांग सेवा केंद्र  की स्थापना और संचालन पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि  सक्षम ने जनपद हरिद्वार के ग्रामीण क्षेत्र जमालपुर कला में दिव्यांग सेवा केंद्र स्थापित कर दिव्यांग जनों की सहायता के लिए एक प्रशंसनीय कार्य किया है  इस अवसर पर  दिव्यांग सेवा केंद्र की प्रबंधिका  अनीता वर्मा ने  उपस्थित जनों को  सक्षम दिव्यांग सेवा केंद्र द्वारा  जनहित में किए जा रहे सेवाओं कार्यों  एवं इस केंद्र की उपयोगिता के विषय में जानकारी प्रदान की  मन की बात सुनने वालों में ओबीसी मोर्चा के जिला अध्यक्ष डॉ प्रदीप कुमार, मंडल अध्यक्ष  मिथुन कुमार , कार्यकारिणी के सदस्य तिलक राम सैनी ,समाजसेवी पत्रकार संजय वर्मा  ,शिक्षाविद  संजीव कुमार ,समाजसेवी  एवं दयाल एंक्लेव सोसाइटी के अध्यक्ष एवं ओबीसी मोर्चा के मंडल मंत्री महक सिंह, सुधीर कुमार, विशेष कुमार  ,ज्योति सिंह  , चंद्र मोहन शुक्ला ,





दीपांकर जाना, आकांक्षा  पुंडीर एडवोकेट, शिक्षाविद पलक वर्मा , गजराज सिंह यादव , धीरुभाई  ,प्रवीण कश्यप  आदि प्रबुद्ध जन उपस्थित रहे ।

खटका क्षेत्र के ग्रामीणों ने कैबिनेट मंत्री को सौंपा ज्ञापन

 भाजपाइयों ने  कैबिनेट मंत्रीे सौरव बहुगुणा को दिया ज्ञापन 

रुड़की 28 जुलाई  (संजय सैनी संवाददाता गोविंद कृपा रुड़की ) बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों  का दौरा करने पहुंचे कैबिनेट मंत्री सौरव बहुगुणा को ग्राम खटका टोडा कल्याणपुर के लोगों ने वहां की समस्याओं को लेकर एक ज्ञापन दिया ।भाजपा मंडल के पदाधिकारियों के साथ जहां सौरव बहुगुणा का ग्राम खटका पहुंचने पर स्वागत किया गया वहीं उनसे सोलानी नदी पर पैचिंग बनवाने  के लिए आग्रह भी किया गया । ग्राम खटका में गन्ना मंत्री सौरभ बहुगुणा को सोलानी नदी से किसानों की जमीन कटाव के कारण हुई फसलों की बर्बादी के विषय में जानकारी दी गई तथा रू



ड़की हाईवे से बाईपास तक सोलानी नदी पर पैचिग बनाने का आग्रह भी किया गया। इस अवसर पर पूर्व भाजपा मंडल उपाध्यक्ष संजय सैनी सुबोध शर्मा आदि ने सौरव बहुगुणा का स्वागत किया।

मास्टर रजनीश सैनी को मनोनीत किया प्रदेश अध्यक्ष

 भगवानपुर 28 जुलाई ( संजय सैनी संवाददाता गोविंद कृपा )


भगवानपुर विधानसभा के ग्राम डाडा जलालपुर में देवभूमि जागृति मंच, उत्तराखंड की ओर से एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। सर्वप्रथम सर्व समाज के महापुरुषों के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए।कार्यक्रम में सर्व समाज के कई संगठनों के प्रतिष्ठित व्यक्ति एवं वरिष्ठ समाजसेवी सम्मिलित हुए। संगठन के संरक्षको में पूर्व प्रधानाचार्य समय सिंह सैनी, राजकुमार सैनी सेवानिवृत्त इंटेलिजेंस ब्यूरो, मास्टर मलखान सैनी,मास्टर दिनेश सैनी के द्वारा सर्वसम्मति से कई संगठनों में समाज सेवा के रूप में सर्व समाज को जागरूक एवं संगठित करने का कार्य कई वर्षों से करते आ रहे। खेलकूद, समाज सेवा एवं शिक्षा के क्षेत्र में कई राष्ट्रीय और राज्य पुरस्कारो से सम्मानित वरिष्ठ समाज सेवी एवं शिक्षाविद मास्टर रजनीश सैनी को प्रदेश अध्यक्ष मनोनीत किया गया। मास्टर रजनीश सैनी कई वर्षों से सर्व समाज को निस्वार्थ भाव से लगन शीलता एवं व्यवहार कुशलता के साथ कई संगठनों से जुड़कर लोगों एवं नई पीढ़ी में निरक्षरता, रूढ़िवादिता के साथ-साथ नशे की लत को दूर करने में हर संभव प्रयास करते आ रहे हैं। वे सामाजिक एवं राजनीतिक व्यक्तियों से जुड़कर समाज हित में कार्यकर्ता के रूप में कार्य करते आ रहे हैं। देवभूमि जागृति मंच, उत्तराखंड के संरक्षको एवं कार्यक्रम में उपस्थित सर्व समाज के समाजसेवियों को विश्वास दिलाया। कि संगठन सर्व समाज के महापुरुषों के जन्मोत्सव एवं पुण्यतिथि को सर्व समाज के सभी व्यक्तियों को संगठित कर बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाने का कार्य करेगा। मास्टर रजनीश सैनी ने अपने संबोधन में बताया कि जल्दी ही प्रदेश के सर्व समाज के वरिष्ठ समाजसेवियों के साथ मिलकर संगठन की प्रदेश और जिला कार्यकारिणी का विस्तार किया जाएगा। कार्यकारिणी विस्तार करने के उपरांत सभी के सुझाव एवं सहयोग से विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रहे सर्व समाज के लोगों को सम्मानित कर एवं उनके मार्गदर्शन के द्वारा सर्व समाज की समस्याओं को दूर करने का प्रयास किया जाएगा।देवभूमि जागृति मंच, उत्तराखंड के प्रदेश अध्यक्ष मास्टर रजनीश सैनी ने कार्यक्रम में उपस्थित होने पर सभी का आभार एवं धन्यवाद व्यक्त किया। कार्यक्रम में भूपेंद्र सैनी ,हरिराम प्रजापति, सोमपाल धनगर, रवि कश्यप, डॉक्टर अक्षय सैनी देशराज बर्मन, वीरेंद्र चौहान,अंकित साध, मास्टर प्रवेश कश्यप ,शुभम बर्मन, अनुपम सैनी, ओम प्रकाश सैनी, दीपक प्रजापति, योगेंद्र सैनी,मास्टर संजय प्रजापति, सोमपाल सैनी, इंजीनियर शुभम सैनी,राजकुमार कांगड़ा आदि उपस्थित रहे।

सप्त सरोवर क्षेत्र की अनदेखी से लोगों में रोष

 सप्त सरोवर क्षेत्र की नगर निगम कर रहा है उपेक्षा :- शिवदास दुबे


 विगत 6 माह से अंधेरे में डूबा हुआ है सप्त ऋषि गीता कुटीर मार्ग 


सप्त सरोवर मार्ग का है बुरा हाल जलभराव बनी एक बड़ी समस्या 


हरिद्वार 28 जुलाई ( संजय वर्मा )


 उत्तरी हरिद्वार का संत बाहुल्य क्षेत्र सरोवर  नगर निगम एवं संबंधित विभागों की उदासीनता के कारण जलभराव ,खस्ताहाल सड़को जैसी समस्याओं से हमेशा घिरा रहता है , हरिद्वार के बड़े मंदिर और आश्रम उत्तरी हरिद्वार के सप्त सरोवर मार्ग पर स्थित है जहां पर आए दिन वी आई पी ,राजनेताओं का आना जाना लगा रहता है लेकिन फिर भी नगर निगम और  विकास से संबंधित  विभागों की उदासीनता के कारण सप्त ऋषि क्षेत्र को कठिनाई झेलनी पड़ रही है । गीता कुटीर के प्रबंधक शिवदास दुबे ने नगर निगम तथा सरकारी विभागों की उदासीनता पर रोष प्रकट करते हुए कहा कि नगर निगम की लापरवाही के कारण पिछले 6 महीनों से सप्त सरोवर मार्ग स्थित सप्त ऋषि आश्रम से गीता कुटीर तक जाने वाला मार्ग अंधेरे में डूबा हुआ है ।इस अंधेरे का लाभ उठाकर असामाजिक तत्व यहां पर सक्रिय हो जाते हैं जिसके चलते लूटपाट जैसी घटनाएं होना आम बात है , उन्होंने नगर निगम के साथ-साथ पेयजल ,गंगा प्रदूषण नियंत्रण जैसे विभागों पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी उदासीनता के कारण ही गंगा माता आई हॉस्पिटल से लेकर सप्त ऋषि आश्रम तक बरसात में जलभराव की समस्या से प्रतिवर्ष यहां के लोगों को दो-चार होना पड़ता है लेकिन न तो नगर निगम न ही लोक निर्माण विभाग, पेयजल निगम, गंगा प्रदूषण नियंत्रण विभाग इस और कोई ठोस कार्रवाई करता है जिसके चलते प्रतिवर्ष सप्त ऋषि आश्रम,अजर धाम आदि आश्रमों में जलभराव एक आम बात हो गई है उन्होंने कहा कि सप्त ऋषि आश्रम गीता कुटी मार्ग पर हमेशा सीवीर लाइन चौक रहती है जिसका कोई स्थाई समाधान अब तक नहीं हुआ है उन्होंने संबंधित विभागों, अधिकारियों ,राजनेताओं आदि से इस तरफ ध्यान देने का आग्रह करते हुए कहा कि सप्त सरोवर क्षेत्र हरिद्वार का मुख्य केंद्र है ।जिसकी देखभाल करना उन वीआईपी लोगों का कर्तव्य है जो यहां आकर संत जनों का आशीर्वाद तो लेते हैं लेकिन उनकी समस्याओं से हमेशा अनभिज्ञ बने रहते हैं शदाणी दरबार के मुख्य सेवक अमर सदानी, लाल माता मंदिर के संचालक भक्त दुर्गादास ,सप्त ऋषि आश्रम के प्रबंधक विनोद सैनी , समाजसेवी डॉ सीडी काला, राजपाल नेगी ,भूपेंद्र नेगी, अमित पांडे ,सुनीत रस्तोगी आ


दि ने भी सप्त सरोवर क्षेत्र की समस्याओं को  नगर निगम ,पेयजल निगम  ,गंगा प्रदूषण नियंत्रण विभाग ,लोक निर्माण विभाग आदि के द्वारा  गंभीरता से ना लेने का आरोप लगाते हुएअपना रोष प्रकट किया।

एसएम जे एन पीजी कॉलेज में मनाया गया कारगिल दिवस

 भारत की बढ़ती सामरिक क्षमता का प्रतीक है कारगिल विजय दिवस : प्रो. बत्रा

  शौर्य दीवार पर पुष्पाजंलि अर्पित कर किया गया वीर शहीदों को नमन 

हरिद्वार 26 जुलाई ( आकांक्षा वर्मा संवादाता गोविंद कृपा हरिद्वार )महाविद्यालय में आज कारगिल विजय दिवस पर भारतीय सेना एवं शहीदों के सम्मान में काॅलेज में निर्मित शौर्य दीवार पर देश के वीर शहीदों को नमन कर कालेज परिवार द्वारा पुष्पाजंलि अर्पित की गयी। 

प्राचार्य प्रो. सुनील कुमार बत्रा ने इस अवसर पर देश के वीर बहादुर सैनिकों को अपनी पुष्पाजंलि अर्पित करते हुए कहा कि कारगिल विजय दिवस भारतीय सेना की बढ़ती सामरिक  क्षमता का परिचायक है। आज का दिन सीमा सशस्त्र बलों के वीरतापूर्ण प्रयासों और बलिदानों को याद करने का दिन है। उन्होंने कहा कि कारगिल विजय दिवस भारत के शौर्य का प्रतीक है। यह दिन उन वीर सपूतों के लिए समर्पित है जिन्होंने अपना आज हमारे कल के लिए बलिदान कर दिया। प्रो. बत्रा ने कहा कि भारत वीर योद्धाओं की भूमि है, भारत ने हमेशा कड़ा संघर्ष कर देश की दुश्मनों से रक्षा की है, जिसका उदाहरण कारगिल युद्ध के रूप में देखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि कारगिल जैसी विषम भौगोलिक परिस्थिति में युद्ध लड़ना और जीतना निःसन्देह भारतीय सेना की शक्ति का परिचायक है। उन्होंने महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं से आग्रह किया कि वे अधिक से अधिक सेना में अपनी सेवायें देकर अपने और देश की तरक्की का मार्ग प्रशस्त करें। उन्होंने मंच से यह उदघोषणा की कारगिल युध्द का नेतृत्व करने वाले जनरल वी पी मलिक की कारगिल विजय पर लिखित पुस्तक की हिन्दी एवं अंग्रेजी भाषा में अलग अलग प्रतियां महाविद्यालय पुस्तकालय में छात्र छात्राओं के  पठन पाठन के लिए उपलब्ध करायी जाये। इस अवसर पर डॉ बत्रा ने माखनलाल चतुर्वेदी की कविता पुष्प की अभिलाषा भी सदन को सुनाई। 

अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी ने विजय दिवस की शुभकामनायें प्रेषित करते हुए कहा कि आज शौर्य दिवस है, जो कारगिल विजय की याद दिलाता है। उन्होंने कहा कि देश की सीमाओं की रक्षा हेतु उत्तराखण्ड ने सदैव अपना योगदान दिया है तथा देश की सम्प्रभुता, एकता व अखण्डता की सुरक्षा के लिए भारतीय सेना कभी भी अपने सर्वोच्च बलिदान देने से पीछे नहीं हटी। कारगिल विजय दिवस प्रकारान्तर से भारतीय सेना के इसी मनोबल को सम्पुष्ट करता है।  

राजनीति विज्ञान विभागाध्यक्ष विनय थपलियाल ने कारगिल युद्ध के इतिहास पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इतनी दुर्गम परिस्थितियों में भारतीय सेना द्वारा इस युद्ध का जीता जाना इस बात का प्रमाण है कि भारतीय सेना उच्च प्रशिक्षित एवं युद्ध कौशल में विश्व में सर्वश्रेष्ठ है तथा उन्होंने कारगिल युद्ध के बाद बनी सुब्रह्मण्यम समिति की सिफारिशों के महत्व को रेखांकित किया। कार्यक्रम का सफल संचालन डाॅ. अमिता मल्होत्रा द्वारा किया गया गया।   

इस अवसर पर डाॅ. मन मोहन गुप्ता, प्रो. तेजवीर सिंह तोमर, प्रो. जगदीश चन्द्र आर्य, डाॅ. सुषमा नयाल, वैभव बत्रा, डाॅ. विजय शर्मा, श्रीमती रिंकल गोयल, श्रीमती रिचा मिनोचा, डाॅ. आशा शर्मा, डाॅ. सरोज शर्मा, डाॅ. लता शर्मा, डाॅ. शिव कुमार चौहान, डाॅ. मोना शर्मा, डाॅ. रेणू सिंह, डाॅ. सुगन्धा वर्मा, डाॅ. पूर्णिमा सुन्दरियाल, विनीत सक्सेना, मोहन चन्द्र पाण्डेय,


श्रीमती हेमवती, राजकुमार, संजीत कुमार, कैलाश चन्द जोशी  आदि सहित काॅलेज के अनेक शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारी व काॅलेज के छात्र गौरव बंसल, रिया, आरती असवाल, आंचल, किरण, अदिति, सोनिया, पूजा आदि छात्र-छात्रा उपस्थित थे।

पुरोला के आपदा पीड़ितों को शांतिकुंज ने बांटी राहत सामग्री


 शांतिकुंज ने पुरोला में आपदा प्रभावितों में बाँटी राहत सामग्री


हरिद्वार 25 जुलाई (अमरेश दूबे संवाददाता गोविंद कृपा ऋषिकेश) शांतिकुंज की अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैलदीदी के निर्देश पर शांतिकुंज आपदा राहत टीम उत्तरकाशी के पुरोला तहसील पहुंची। यहाँ टीम ने भूस्खलन एवं बाढ़ प्रभावित परिवारों से मिलकर उन्हें ढंाढस बंधाया दी और उनमें राहत सामग्री बाँटी।

इन दिनों उत्तराखण्ड के कई जनपद बाढ़ से प्रभावित है और कई परिवारों का घर ढह गया है, तो वहीं अनेक परिवारघरों में पानी घुसने के कारण अन्यत्र स्थानों में रहने को मजबूर है। शांतिकुंज अधिष्ठात्री शैलदीदी ने उत्तरकाशी जनपद के पुरोला के बाढ़ प्रभावित परिवारों का संज्ञान लेते हुए शांतिकुंज आपदा राहत टीम को राहत सामग्री लेकर भेजी। शांतिकुंज टीम ने प्रभावित परिवारों का सर्वे की और चयनित 55 परिवारों में राहत सामग्री किट बाँटी। प्रत्येक किट में तिरपाल, कंबल, चटाई सहित आटा 10 किग्रा, चावल 10 किग्रा, दाल 3 किग्रा, खाद्य तेल 2 लीटर, नमक व गरम मसाले आदि शामिल थे। अपने संदेश में श्रद्धेया शैलदीदी ने कहा कि पीड़ित परिवारों की सेवा ईश्वर  आराधना समान है। उन्होंने बाढ़ व भूस्खलन से प्रभावित परिवारों के प्रति चिंता व्यक्त की।

शांतिकुंज अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैलदीदी के मार्गदर्शन एवं देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या के नेतृत्व में इन दिनों शांतिकुंज आपदा राहत टीम कठिन परिस्थितियों से सामना करते हुए निरंतर सेवा कार्य में जुटी है। उत्तराखण्ड के अलावा हिमाचल प्रदेश में भी बाढ़ प्रभावित परिवारों की सेवा, सहयोग में स्थानीय गायत्री परिवार की टीम लगी है। उन्हें भोजन व अन्य राहत सामग्री दी जा रही है। श्री मंगल गढ़वाल, श्री दिनेश मैखुरी के नेतृत्व में दस सदस्यीय शांतिकुंज आपदा राहत टीम उत्तरकाशी के पुरोला राहत सामग्री बाँटने गयी थी।

एस एम जे एन पीजी कॉलेज में श्रीदेव सुमन को किया गया स्मरण




महाविद्यालय में रा.से.यो. छात्रा इकाई द्वारा हरेला सप्ताह का किया गया शुभारम्भ

अमर शहीद श्री देव सुमन के योगदान का किया गया स्मरण 

हरिद्वार 25 जुलाई (आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा  हरिद्वार )

महाविद्यालय में आज राष्ट्रीय सेवा योजना छात्रा इकाई की स्वयंसेवियों ने प्राचार्य प्रो. सुनील कुमार बत्रा के निर्देशन में हरेला पखवाड़े का शुभारम्भ किया गया। मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम के अन्तर्गत हरेला सप्ताह मनाने के निर्देशानुसार स्वयंसेवियों ने विभिन्न प्रकार के फल, फूल एवं औषधीय पौधे रोपित किये गये। 

इस अवसर पर काॅलेज के प्राचार्य प्रो. सुनील कुमार बत्रा ने राष्ट्रीय सेवा योजना छात्रा इकाई की स्वयंसेविकाओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि छात्राओं द्वारा वृक्षारोपण करना प्रकृति संरक्षण में महत्वपूर्ण उत्तरदायित्व है, क्योंकि हमें प्राणवायु हेतु वृक्षों पर ही निर्भर होना पड़ता है। जीवन के विशेष उत्सवों पर प्रत्येक व्यक्ति को वृक्ष रोपित करके पर्यावरण संरक्षण में अपना योगदान देना चाहिए। 

डाॅ. सुषमा नयाल, राष्ट्रीय सेवा योजना अधिकारी ने वृ़क्षों का महत्व बताते हुए कहा कि  प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन में एक वृक्षरोपित एवं वृक्ष की देखभाल प्रकृति एवं मानवहित में करनी चाहिए। वृक्षारोपण कार्यक्रम में प्रो. तेजवीर सिंह तोमर, डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी, प्रो. जे.सी. आर्य, डाॅ. शिव कुमार चौहान, डाॅ. मनोज कुमार सोही, डाॅ. वन्दना सिंह, कु. योगेश्वरी द्वारा वृक्षारोपण किया गया तथा राष्ट्रीय सेवा योजना की स्वयंसेविका प्रीति, ममता रावत, श्वेता निषाद, दीपांशी बेदी, जाहन्वी रावत, प्रेरणा सिंह, किरण, ईशा केसरी, उमा, मनीषा अग्रवाल, नवीशा, आशना आदि द्वारा औषधीय एवं फलदार वृष रोपित कर हरेला पखवाड़े में अपना योगदान दिया गया। 

महाविद्यालय में आज  में अमर शहीद श्री देव सुमन की पुण्यतिथि पर उन्हें भावपूर्वक नमन् किया गया। प्राचार्य कक्ष में आयोजित एक बौद्धिक गोष्ठी में प्राचार्य प्रो. सुनील कुमार बत्रा ने कहा कि अमर शहीद श्री देव सुमन ने शोषणपूर्ण राजशाही के विरूद्ध जो गांधीवादी अहिसंक तरीकों से आन्दोलन किया, वह प्रत्येक उत्तराखण्डवासी के लिए प्रेरणादायक है। 

अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी ने युवाओं को श्री देव सुमन के पद्चिन्हों पर चलने का आह्वान किया। 

राजनीति विज्ञान विभागाध्यक्ष विनय थपलियाल ने अमर शहीद श्री देव सुमन के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उनका सम्पूर्ण व्यक्तित्व समानता और स्वतंत्रता के आदर्शों पर टिका हुआ है। 

इस अवसर पर समाजशास्त्र विभागाध्यक्ष प्रो. जे.सी. आर्य , वैभव बत्रा, वैभव शर्मा, डॉ विजय शर्मा  भी उपस्थित रहे।

संघ के विभाग प्रचारक ने किया पुस्तक का विमोचन



 *समाज को महापुरुषों का अनुसरण करना चाहिए : चिरंजीवी* 

हरिद्वार। 25 जुलाई ( संजय वर्मा ) राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ जिला हरिद्वार के तत्वाधान में सामाजिक सद्‌भाव विभाग द्वारा नगर व खण्ड के सद्‌भाव प्रमुखों एवं जिला टोली के सदस्यों का एक दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग सम्पन हुआ। 

इस मौके पर विभाग प्रचारक चिरजीव जी ने सामाजिक सद्भाव विषय की एक पुस्तक का विमोचन करते हुए कहा कि कोई भी महापुरुष केवल एक ही जति विरादरी की नही होता यदपि वह तो पूरे समाज का होता है। महापुरुषों का अनुसरण समाज को करना चाहिए। प्रान्त सह सामजिक सदभाव प्रमुख रमेश उपाध्याय ने कहा समाज के सभी वर्गों में आपसी सद्भाव ही देश की एकता,अखंडता,विभिन्नता में एकता का सूत्र देता है। आपसी सद्भाव बनाये रखने के लिए समाज की विघटना ताकतों को नष्ट करना होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला प्रमुख डॉ पवन सिंह जी व सञ्चालन सह जिला प्रमुख ललित जिंदल जी ने किया। इस अवसर पर डॉ. राजेश आधना, रमेश राजपूत, ओंकार त्यागी,राजेश सैनी,सचिन गुप्ता, आदि 24 कार्यकताओं ने प्रशिक्षण वर्ग में प्रतिभाग किया।

संघ कार्यालय पर आयोजित हुई अखिल भारतीय साहित्य परिषद की बैठक

अखिल भारतीय साहित्य परिषद उत्तराखंड नदी संस्कृति विषय पर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन सितंबर 2023 में करने के लिए कटिबद्ध* 

हरिद्वार 24 जुलाई ( संजय वर्मा )


राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यालय आर्य नगर ज्वालापुर हरिद्वार में अखिल भारतीय साहित्य परिषद उत्तराखंड के प्रांतीय अध्यक्ष डॉक्टर सुनील पाठक जी के तत्वावधान में आवश्यक विचार गोष्ठी आयोजित की गई। जिसमें सितंबर मास में प्रस्तावित 'नदी संस्कृति' विषय पर तथा नदी से संबंधित अनेक अन्य उप विषयों पर राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी के आयोजन से संबंधित अनेक बिंदुओं पर चर्चा की गई। प्रांतीय अध्यक्ष डॉ पाठक ने शोध संगोष्ठी के विषय में विस्तार से बताया।

बैठक का प्रारंभ विधिवत संगठन मंत्र के साथ करते हुए भारत माता, सर्वश्री हेडगेवार जी एवं श्री माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर जी चित्र के सामने श्रद्धा एवं समर्पण भाव रखकर किया। बैठक में अखिल भारतीय साहित्य परिषद हरिद्वार के जनपद अध्यक्ष श्री सचिन प्रधान ने संगोष्ठी से संबंधित विभिन्न गतिविधियों को बिंदुवार व्यवस्थित करने हेतु अपने विचार रखे। परिषद के उपाध्यक्ष श्रीमती सरिता सिंह ने संगोष्ठी को रोचक रुचिकर बनाने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन का प्रस्ताव रखा।

प्रांतीय अध्यक्ष डॉक्टर सुनील पाठक ने बताया कि संगोष्ठी मैं सभी प्रांतों से लगभग शताधिक विद्वानों का आना संभावित है जिनके मेधा पूर्ण विचारों से गंगा मां की महिमा का गुणगान व्याख्यान तथा आदर्श स्थापना की जा सकेगी। विद्वानों द्वारा प्रदत्त विचारों को शोधपत्रिका के रूप में प्रकाशित कर समाज को लाभान्वित किया जा सकेगा। मां गंगा से संबंधित लगभग 27 उप विषयों से संबंधित भ्रांतियों को अनावरित कर विषय संबंधित ज्ञान का प्रकाश होगा। उक्त शोध संगोष्ठी को सफल बनाने के लिए अखिल भारतीय साहित्य परिषद उत्तराखंड कटिबद्ध है।

उक्त बैठक में महामंत्री डॉ विजय कुमार त्यागी, सचिव अभिनंदन गुप्ता, श्री आशीष तिवारी शोधार्थी, श्री सौरभ पांडेय ने भी संगोष्ठी को सफल बनाने हेतु अपने अपने विचार रखें।

राष्ट्रीय संगोष्ठी से संबंधित बैठक का समापन कल्याण मंत्र एवं स्वयंसेवक संघ कार्यालय आर्य नगर द्वारा कराए गए सूक्ष्म जलपान के द्वारा किया गया।

भाजपा ओबीसी मोर्चा जिला अध्यक्ष ने बाढ़ पीड़ितों की हर संभव मदद करने को कहा


हरिद्वार 23 जुलाई ( संजय वर्मा ) वेद मंदिर में ओबीसी मोर्चा हरिद्वार की एक बैठक संपन्न हुई। बैठक में ओबीसी मोर्चा के जिला अध्यक्ष डॉ प्रदीप कुमार ने हरिद्वार जनपद के सभी पदाधिकारी एवम कार्यकर्ताओं को अगस्त माह में ओबीसी मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारियो के मंडल प्रवास के कार्यकम के विषय में बताया गया और सभी पदाधिकारियो को निर्देश दिया गया  सभी कार्यकर्ता आपदा क्षेत्र का निरीक्षण कर  समुचि
त सहायता प्रदान करें

जिला उपाध्यक्ष श्री संदीप अरोरा, श्री आदित्य गिरी, श्री प्रमोद पाल, जिला मंत्री श्री विपिन चौधरी, श्री नरेंद्र सिंह चंदेल, श्री रविन्द्र चौधरी, जिला महामंत्री श्री पवनदीप कुमार, जिला सोशल मीडिया प्रभारी श्री आशीष चौधरी, जिला कार्यकारणी सदस्य श्री आजादवीर, श्री सोनू कश्यप,श्री तिलकराम सैनी, श्री अजनेश, श्रीमती बबिता योगाचार्य, श्रीमती संगीता प्रजापति, एडवोकेट सतीश कुमार, मंडल अध्यक्ष श्री विवेक कश्यप,  श्री सर्वेश प्रजापति,मंडल उपाध्यक्ष बसंत सैनी  मंडल मंत्री श्री सुधीर ठाकुर आदि देवतुल्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के कुलसचिव ने किया औचक निरीक्षण

 *एमएमजेएन कॉलेज में बीएड प्रवेश  परीक्षा*

 *श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के कुलसचिव के आर भट्ट ने किया औचक निरीक्षण*

 *सभी व्यवस्थाऐं मिली चाक चोबन्द*

हरिद्वार 23 जुलाई ( आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )


  
श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय उत्तराखंड के रजिस्ट्रार खेमराज भटट ने हरिद्वार के एसएमजेएन कॉलेज में बीएड की परीक्षा के दौरान औचक निरीक्षण किया । उन्होंने सभी परीक्षा भवनों में पहुंचकर परीक्षार्थियों की चेेकिंग की। परीक्षा केंद्र के भवनों में परी​क्षार्थियों और सुरक्षा व्यवस्थाओं का बड़ी बारीकी से निरीक्षण किया। अनुपस्थित परीक्षार्थियों की जानकारी ली। रजिस्ट्रार खेमराज भटट ने पाया कि परीक्षा केंद्रों में डयूटी दे रहे सभी शिक्षक—शिक्षिकाओं के मोबाइल को भी परीक्षा केंद्र से  बाहर परीक्षा प्रारम्भ होने से पूर्व  लांकर में रखवाया गया है। परीक्षार्थियों के मोबाइल, घड़ी, पर्स सहित तमाम अन्य सा​मान के लिए एक क्लाक रूम की व्यवस्था की गई है। परीक्षा केंद्र की तमाम व्यवस्थाओं को देखकर उन्होंने संतुष्टि जाहिर की और प्राचार्य डॉ सुनील बत्रा के कार्यो की सराहना की उन्होंने कहा कि डॉ बत्रा के परीक्षा में सुचिता स्थापित करने को नजीर बना कर अन्य सभी कालेजों में भी लागू किया जायेगा।  परीक्षा केंद्र में 42 छात्र छात्राओं ने परीक्षा नहीं दी। 

एसएमजेएन कॉलेज का निरीक्षण करने के बाद रजिस्ट्रार खेमराज भटट ने बताया कि श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय उत्तराखंड साल 2023—25 सत्र के लिए 21 सेंटरों पर बीएड की परीक्षाओं का आयोजन कर रहा है। नकल विहीन परीक्षा सकुशल संपन्न कराने के लिए विश्वविद्यालय के कुलपति एनके जोशी की ओर से सभी परीक्षा केंदों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए गए है। इसी क्रम में हरिद्वार के एसएमजेएन कॉलेज का निरीक्षण करने पहुंचे है। इस परीक्षा केंद्र में चाक चौबंद व्यवस्थाएं मिली। परीक्षार्थियों की सुरक्षा व्यवस्था के तमाम पुख्ता प्रबंध किए गए है। 21 परीक्षा केंद्रों पर 8396 परीक्षार्थी थे। जिसमें से 728 अनुपस्थित पाए गए। जबकि 7668 बच्चों ने परीक्षा दी है। सबसे बड़ी बात 90 फीसदी मातृ शक्ति परीक्षा दे रही है।   

एसएमजेएन कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुनील बत्रा ने बताया कि बीएड की परीक्षा शुरू हो चुकी है। कॉलेज सेंटर पर 428 बच्चे पंजीकृत थे। जिसमें 42 बच्चे अनुपस्थित रहे। 386 बच्चों ने परीक्षा में प्रतिभाग किया। परीक्षाओं की शुचिता के लिए क्लार्क रूम स्थापित किया गया। जिसमें सभी छात्र छात्राओं के मोबाइल व अन्य सामान जमा कराने के पश्चात ही परीक्षा कक्षों में प्रवेश की अनुमति दी गयी। परीक्षा केंद्र में डयूटी दे रहे सभी शिक्षकों के मोबाइल भी बाहर लांकर में  रखवा दिए गए। इसके पश्चात कुलसचिव महोदय ने कालेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्री मंहत रविन्द्र पुरी से भेंटकर आशीर्वाद प्राप्त किया एवं उतराखंड में उच्च शिक्षा के सन्दर्भ में विस्तृत वार्ता की। वार्ता के मध्य उत्तराखण्ड राज्य में उच्च शिक्षा के विस्तार, कौशल विकास, एवं पलायन रोकने को लेकर शीघ्र ही एक आलेख तैयार करने पर सहमति हुई। 

परीक्षा नियन्त्रक डॉ जेसी आर्य, उडनदस्ता संयोजक डॉ मनोज सोही एवं सदस्य वैभव बत्रा, डॉ विजय शर्मा, मोहन चन्द पांडे, आलोक शर्मा तैनात थे। विश्वविद्यालय की पयर्वेक्षक डॉ आराधना सक्सेना के सुपरविजन में परीक्षा हुई।

डॉ नरेश चौधरी को जिला स्वास्थ्य विभाग ने किया सम्मानित



*इण्डियन रेड क्रास सचिव /शारीर रचना विभागाध्यक्ष प्रोफेसर (डा0) नरेश चौधरी को सम्पूर्ण कांवड़ मेला अवधि में उत्कृष्ठ कार्यों के लिये स्वास्थय विभाग द्वारा किया गया सम्मानित।*

हरिद्वार 23 जुलाई ( वीरेंद्र शर्मा संवादाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) सम्पूर्ण कांवड  मेला अवधि 2023 में इण्डियन रेड क्रास सचिव/विभागाध्यक्ष शारीर रचना ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय प्रोफेसर (डा0) नरेश चौधरी द्वारा किये गये उत्कृष्ठ एवं सराहनीय कार्यों के लिये स्वास्थ्य विभाग की ओर से मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 मनीष दत्त ने विशेष रूप से सम्मानित किया। मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 मनीष दत्त ने सम्मान समारोह में कहा कि ’’कांवड मेले के दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्थाई चिकित्सालयों के साथ साथ अस्थाई चिकित्सा शिविरों को भी स्थापित किया गया था। जिसमें नगरीय क्षेत्र हरिद्वार के सभी अस्थाई चिकित्सा शिविरों के सेक्टर प्रभारी का दायित्व इण्डियन रेड क्रास  सचिव डॉ.नरेश चौधरी को दिया गया। सम्पूर्ण कांवड मेला अवधि में अस्थाई चिकित्सा शिविरों से 1,65,303 (एक लाख पेसठ हजार तीन  सौ तीन) शिवभक्त कांवडियों ने उपचार करवाकर चिकित्सा लाभ उठाया जिसमें नगरीय क्षेत्र हरिद्वार के अस्थाई चिकित्सा शिविरों में 80,610 (अस्सी हजार छ: सौ दस) शिवभक्त कांवड़ियों की चिकित्सा की गयी। नगरीय क्षेत्र हरिद्वार के सभी अस्थाई चिकित्सा शिविरों में चिकित्सीय मानव संसाधनों की व्यवस्था में भी डा0 नरेश चौधरी द्वारा स्वास्थ्य विभाग को भरपूर सहयोग किया गया। जिससे सभी अस्थाई चिकित्सा शिविरों में चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ की कोई कमी नहीं रही, जिससे 24x7 शिवभक्त कांवडियों का चिकित्सीय उपचार सम्भव हो सका।  मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 मनीष दत्त ने कहा कि डा0 नरेश चौधरी को जब भी स्वास्थय विभाग की और से कोई दायित्व दिया जाता है तो डा0 नरेश चौधरी द्वारा उनको बहुत ही कर्मठता और समर्पित भावना से पूर्ण किया जाता है। कोरोना काल मे भी डा0 नरेश चौधरी को कोराना रोगी भर्ती नोडल अधिकारी, चिकित्सीय मानव संसाधन व्यवस्था प्रभारी के साथ साथ वर्तमान में कोविड-19 वैक्सीनेशन का नोडल अधिकारी का दायित्व भी दिया गया है। जिनको उत्कृष्ठ रूप से निर्वहन करने के लिये डा0 नरेश चौधरी की स्वास्थ्य विभाग के साथ जिला प्रशासन एवं जनसमाज द्वारा भी सराहना की जा रही है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 मनीष दत्त ने कहा कि डा0 नरेश चौधरी के व्यक्तितव की पहचान समर्पित कार्यशैली है, जिनके लिये डा0 नरेश चौधरी संपूर्ण जनसमाज में प्रिय हैं। डा0 नरेश चौधरी को स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सम्मानित किया जाना एक विशेष गौरव है जो जनपद के स्वास्थ्य विभाग के विभागाध्यक्ष होने के कारण मुझे प्राप्त हुआ। डा0 नरेश चौधरी को सम्मानित करने से समाज में भी एक विशेष संदेश जाता है कि अपने मूल दायित्वों के साथ साथ यदि सामाजिक कार्य करने का सौभाग्य किसी को मिलता है तो उसे अग्रणी रहकर निर्वहन करना चाहिए जिससे समाज में अपनी अलग पहचान बनती है, जिसका सच्चा उदाहरण डा0 नरेश चौधरी है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से सम्मानित होने पर डा0 नरेश चौधरी ने कहा कि मेरे लिये सबसे बडा सम्मान सभी का दिया जाने वाला असीम प्रेम है जिससे मुझे सबसे बडी आत्मसंतुष्टि मिलती है और यही मेरे लिये और अधिक समर्पण भावना से कार्य करने के लिये उर्जा का काम करती है। सम्मान समारोह में मुख्य रूप से अपर मुख्य चिकित्साधिकारी नोडल अधिकारी  ,डा0 आर0के0सिंह, डा0 अनिल वर्मा,डा0अशोक तोमर, जिला चिकित्सालय के चिकित्सा अधीक्षक  डॉ.सी. पी. त्रिपाठी  , मेला चिकित्सालय अधीक्षक डा0 राजेश गुप्ता , डा0 तरूण, डा0 नलिन्द, डॉ. अभिनव ,डॉ. विनय सिंह, डॉ. दुष्यंत ,सहायक नोडल अधिकारी कावड़ मेला बी. के. गुप्ता, मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय से सुभाष , अनिता शर्मा ,कुलदीप ,सुमित , इब्राहिम,अखिलेश , अवनीश,सलीम ,अवधेश देवरा के साथ साथ अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने भी डा0 नरेश चौधरी को सम्मानित किये जाने के लिये विशेष रूप से बधाई दी।


भारतीय जागरूकता समिति ने एस एम जें एन पीजी कॉलेज में महिला सशक्तिकरण पर किया संगोष्ठी का आयोजन



 हरिद्वार 23 जुलाई ( संजय वर्मा ) भारतीय जागरूकता समिति एवं एस एम जे एन कॉलेज के तत्वाधान में कॉलेज के सभागार में महिला सशक्तिकरण पर एक विचार गोष्ठी आयोजित की गई जिसमे समाज ओर देश विदेश की हस्तियों के विचारो का समागम हुआ कार्यक्रम कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार बत्तरा की अध्यक्षता में हुआ ओर कार्यक्रम में मुख्य अतिथि  रूड़की विधायक प्रदीप बत्रा रहे वही मुख्या वक्ता में एसपी जीआरपी  सुश्री अरुणा भारती, सुप्रीम कोर्ट के विशाल  सक्सेना एवं हाई कोर्ट के अधिवक्ता एवं समिति के अध्यक्ष ललित मिगलानी रहे अतिथि में गंगा सभा के अध्यक्ष नितिन गौतम, विजेंदर पालीवाल, सी ओ ट्रैफिक राकेश रावत, सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता राकेश अग्रवाल एवं शिकागो से आये योगाचार्य डॉ विद्या अलंकार,                           रहेI 

कार्यक्रम का संचालन वूमेंस  विंग की अध्यक्ष शिवानी गौर एवं डॉ अर्पिता सक्सेना ,ने किया एवं  दीपाली शर्मा, अर्चना शर्मा, डाक्टर  कल्पना कुशवाहा, वर्षा श्रीवास्तव  का कार्यक्रम में सहयोग रहा। 

कार्यक्रम में समाज की कई महिला हस्तियों को सम्मानित किया गया जिन्होंने अपने जीवन काल में कई महत्वपूर्ण योगदान दिया हैI  

शिकागो से आये योगाचार्य डॉ विद्या अलंकार ने कार्यक्रम में आकर कार्यक्रम की शोभा बढाई ओर समिति के कार्यो की सरहाना करी I 

कार्यक्रम के मुख्या वक्ता ललित मिगलानी ने कहा की समाज में महिलाओ को कानून की जानकारी होना उतना ही आवश्यक है जितना उनको खाना बनाने के लिए मसालों का ज्ञान जैसे ज्यादा मसालों को मात्रा से खाना ख़राब हो जाता है वैसे अधिक कानून की जानकारी घर को बर्बाद कर देती हैI कानून समाज के हर वर्ग को जीने का, शिक्षा का ओर स्वतंत्र रहने का अधिकार देता है ओर जो इन अधिकारों का हनन करता है वो कानून की द्रष्टि में अपराधी हैI महिलाओं को कहाँ चुप रहना है ओर कहाँ कानून की सहायता से आवाज उठानी है अच्छी तरह से ज्ञान होना चाहिये ताकि समय पर सही तरीके से अपनी सुरक्षा कर सकेI मिगलानी ने महिलाओ को उनके सम्बंधित कानून की जानकारी भी दीI 

एस पी जी आर पी अरुणा भारती ने कहा की कानून महिलाओ को सुरक्षा हर प्रकार से देती है किसी भी शिकायत पर महिलाओ की पहचान को गुप्त रखा जाता ही ओर कार्यवाही अमल में ली जाती है उन्होंने 1090, गौरा शक्ति एप, घेरुलू हिंसा, FIR आदि की तमाम जानकारी साझा की भारती ने कहा की हर महिला ओर बच्चो को अपने नजदीक थाने के नंबर की जानकारी जरुर होनी चाहिये ओर हर महिला के फोन पर गौरा शक्ति एप डाउनलोड होनी चाहिये I 

मुख्या अतिथि प्रदीप बत्तरा  ने कहा की समाज में ऐसे कार्यक्रम समय समय पर होने चाहिये ताकि समाज में जागरूकता आ सके, महिला पहले भी शक्तिशाली थी आज भी है आगे भी रहेगी आज हरिद्वार में कई महत्वपूर्ण पद महिलाओ ने संभाल रखे है जो एक गर्व की बात है समिति की महिलाओ ने इस कार्यक्रम को इतना सुंदर आयोजित किया काबिले तारीफ़ है समिति के प्रयास सराहनीय है समिति के कार्यो में सरकार हर तरीके से मदद करेगी I 

कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार बत्तरा  ने कहा कॉलेज समय समय पर छात्रों को कानून की जानकारी देता रहता है समिति कार्यो में कॉलेज हमेशा योगदान देता है आज के कार्यक्रम के सम्मानित महिलाये को कॉलज बधाई देता है ओर समाज में आगे बढने ओर नये मुकाम हासिल करने की प्रार्थना करता हैI 

कार्यक्रम की इनका रहा योगदान विनीत चौधरी, अनिल शर्मा, सिद्धार्थ प्रधान विनायक गौर, प्रदीप धीमान, सुमित दरगन। 

*कार्यक्रम में इनका किया सम्मान* डॉक्टर लता शर्मा, डॉक्टर लता वर्मा, श्रीमती शोभना पालीवाल, डॉ रेनू सिंह,  सब इंस्पेक्टर अनीता शर्मा, सब इंस्पेक्टर रीना शर्मा, सब इंस्पेक्टर गीता, श्रीमती रत्नेश गौतम, श्रीमती सुधा तिवारी, श्रीमती किरण अग्रवाल, श्रीमती रूपम जोहरी, श्रीमती नरेश रानी गर्ग, अनन्या भटनागर, श्रीमती बीटा गर्ग, न्यूयॉर्क से आयीं डॉक्टर प्रेरणा विद्या अलंकार, डॉक्टर श्रीमती सरस्वती पाठक, डॉ सुगंधा वर्मा, सुनीता झा , हेमा भंडारी , विनीता गोनियाल. अंजू द्विवेदी , रुचि अरोरा, नेहा मालिक एवं अर्शिका वर्मा रहीं।  इस अवसर पर एस एम जे एन पी जी कालेज की भटनागर अनन्या  टीम ने एक नाट्य प्रस्तुति के माध्यम से महिला अधिकारों के बारे में रोचक जानकारी दी जिसकी उपस्थित अतिथियों द्वारा भूरि भूरि प्रशंसा की गयी। 

कार्यक्रम में ये लोग रहे शामिल अर्पिता सक्सेना,वर्षा श्रीवास्तव,रजनी सिंघल, डॉ आशा शर्मा,डॉ मोना शर्मा, पल्लवी, दीपाली शर्मा .कल्पना कुशवाहा, दीपांशु धीमान, आर्यन बक्शी, प्रियांशु झा, मुस्कान सिंह, नेहा कश्यप, राधिका शर्मा, ममता मौर्य, नेहा सिंह, प्रिया प्रजापति, अनन्या भटनागर आदि।

कांवड़ मेले मे बी ई जी आर्मी तैराक दल ने डूबने से बचाए 89 कांवड़िए



 हरिद्वार 22 जुलाई ( संजय वर्मा ) कांवड़ मेला 2023 की सम्पूर्ण कांवड़ अवधि में बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल के सभी सैनिकों द्वारा 89 शिवभक्त कांवड़ियों/श्रृद्धालुओं को गंगा में डूबने से बचाकर समर्पित भाव से उत्कृष्ठ कार्य कर जिला प्रशासन का सराहनीय सहयोग किया।

जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल के निर्देशन, अपर जिलाधिकारी बीर सिंह बुिदयाल, पी0एल0 शाह के मुख्य संयोजन एवं नोडल अधिकारी डा0 नरेश चौधरी के संयोजन में कांवड़ मेले के दौरान बी0ई0जी0आर्मी के तैराक दलों ने अपनी मोटरबोटों एवं सभी संसाधनों के साथ कांवडियों की सुरक्षा के लिये गंगा के विभिन्न घाटों पर तैनात होकर अपनी कर्मठता से सम्पूर्ण कांवड़ मेला अवधि में 89 शिवभक्त कांवड़ियों/श्रृद्धालुओं को डूबने से बचाकर समर्पित भाव से उत्कृष्ठ कार्य कर जिला प्रशासन का सहयोग किया। कांवड मेला 2023 में बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल के सैनिकों ने रूड़की सोलानी नदी के निकट एवं हर की पौडी के सभी आस-पास के घाटों पर 24 घण्टे तैनात होकर अपनी मोटर बोटों एवं सभी संसाधनों के साथ शिवभक्त कांवड़ियों/श्रृद्धालुओं की समर्पित सेवा की। जिसकी सभी शिवभक्त कांवड़ियों, जनसमाज एवं विशेष रूप से जिला प्रशासन द्वारा भी सराहना की गई। जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने कहा कि कांवड मेला 2023 चुनौतीपूर्ण था क्योंकि विगत वर्ष के मध्यनजर कांवड़ियों की संख्या प्रत्येक वर्ष बढ़ती जा रही है। इस वर्ष भी शिवभक्त कांवडियों की आस्था और उत्साह से शिवभक्त कांवडियों की संख्या 4 करोड़ से भी अधिक रही। कांवड मेला सम्पन्न होने पर सम्पूर्ण कांवड मेले में सभी अधिकारियों, कर्मचारियों, स्वयंसेवी संस्थाओं और सामाजिक संस्थाओं ने जो कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग किया वह अतुलनीय है जिलाधिकारी ने बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल के सभी सैनिकों की विशेष सराहना करते हुए कहा कि शिवभक्त कांवडियों की जान बचाकर जो पुण्य कार्य बी0ई0जी0 आर्मी के सैनिकों ने किया वह भी देश की सीमाओं पर सेना द्वारा रक्षा करने के समान ही हैं इसके लिये सेना के प्रत्येक सैनिक को जिला प्रशासन का सलाम है। बी0ई0जी0 आर्मी तैनात दल के नोडल अधिकारी/रेड क्रास सचिव डा0 नरेश चौधरी ने अवगत कराया कि बी0ई0जी0 आर्मी तैनात दल के सभी सैनिकों द्वारा सम्पूर्ण कांवड़ अवधि के 15 दिनों में शिवभक्त कांवड़ियों को गंगा में डूबने से बचाने का जो कार्य किया, वो वास्तव में सराहनीय एवं सच्ची समर्पित सेवा है। डा0 नरेश चौधरी ने कहा कि इस वर्ष जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल की विशेष पहल पर अत्यधिक भीड़ होने के उपरान्त रास्ता बन्द होने की स्थिति में घायलों को जरूरत पड़ने पर इंडियन रेडक्रास एवं बी0ई0जी0 आर्मी मोटर बोट द्वारा प्राथमिक उपचार उपरान्त विरला घाट तक पहुंचाया जा सके तथा विरला घाट से एम्बुलेंस द्वारा तुरन्त जिला चिकित्सालय पहुंचने की व्यवस्था की गई। परन्तु शिव भोले एवं गंगा मां के आशीर्वाद से इसकी आवश्यकता नहीं पड़ी। बी0ई0जी0 आर्मी के कमाण्डेण्ट राजेश सिंह (वि0से0मे0)के निर्देशन, डिप्टी कमाण्डेण्ट संजीव पठानिया, कर्नल दीपक बसकण्डी, लै0 कर्नल प्रतीक गुप्ता, लै0 कर्नल तपन सांगवान, मेजर एस0 चक्रवर्ति के नेतृत्व में नायाब सूबेदार वासुदेव, नायाब सूबेदार लखबीर सिंह, हवलदार गुरप्रीत, हवलदार अमनदीप, हवलदार अनील कुमार, लांस हवलदार अजय कुमार, हवलदार विजय सिंह, हवलदार सनातन सेठी, हवलदार प्रफुल बेहरा, हवलदार संजय सिंह, हवलदार संतोष कुमार, हवलदार धर्मेन्द्र सिंह, हवलदार सुखजिन्दर सिंह, हवलदार सी0 राज कुमार द्वारा सक्रिय सहभागिता की। कांवड़ मेला क्षेत्र के हरकी पैड़ी के आस पास के सभी घाट तथा रूड़की गंग नहर, गणेश पुल, सोलानी पुल, पिरान कलियर, धनौरी तक के सभी क्षेत्रों में बराबर चौकसी बरतते हुये जहां से भी देखने में आता है अथवा सूचना मिलती है कि कोई कांवडिया/श्रद्धालु गंगा में डूब रहा है तो तुरन्त आर्मी तैराक दल के सदस्य अपनी मोटर बोट लेकर मौके पर पहुंच थे और तुरन्त कांवड़ियों/श्रद्धालुओं की जान बचाकर उनको प्राथमिक उपचार देने के उपरान्त उनके साथियों को सुपुर्द कर देते थे। जिसके लिए कांवड़ियों के साथ-साथ जनसमाज द्वारा भी विशेष रूप से सराहना की गई।

शांतिकुंज ने आपदा पीड़ितों को बांटी राहत सामग्री

 शांतिकुंज अधिष्ठात्री शैलदीदी शाहपुर में बाँटी राहत सामग्री


हरिद्वार 20 जुलाई। ( संजय वर्मा ) शांतिकुंज अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैलदीदी हरिद्वार जनपद के बाढ़ प्रभावित गाँव शाहपुर  पहुंची। यहाँ उन्होंने बाढ़ प्रभावित परिवारों से मिली, उनका हालचाल जाना। उन्हें ढांढस बधाया और आश्वासन दिया कि शांतिकुंज परिवार इस विपरीत परिस्थिति में आपके साथ खड़ा है। इस दौरान श्रद्धेया शैलदीदी बाढ़ प्रभावित परिवारों में एक-एक राशन किट वितरित की। साथ ही निःशुल्क चिकित्सा शिविर लगाया, जिसमें सौ से अधिक लोगों ने चिकित्सा लाभ लिया।

       बताते चलें कि विगत कई दिनों से हरिद्वार के लक्सर तहसील के कई गाँवों में बाढ़ का पानी घुस गया है। जिससे शाहपुर, मंदारपुर, प्रह्लादपुर, मंडावेल्ला आदि गाँवों के परिवारों को काफी दिक्कतों से जूझना पड़ रहा है। इन गांवों के प्रभावित परिवारों के कष्ट के समय शांतिकुंज परिवार उनके साथ खड़ा है। शांतिकुंज अधिष्ठात्री के श्रद्धेया शैलदीदी निर्देश में प्रभावित परिवारों को जब उन्हें आवश्यकता थी, तब उन्हें भोजन उपलब्ध कराया।

                शांतिकुंज अधिष्ठात्री शैलदीदी बाढ़ प्रभावित गाँव शाहपुर में शांतिकुंज आपदा राहत टीम के साथ पहुंची। प्रभावित परिवारों से मिली। उनका हालचाल जाना और उन्हें एक परिवार के मुखिया की भाँति विपदा में इस समय साथ खड़े रहना का आश्वासन दिया। इसके साथ ही प्रथम चरण में श्रद्धेया शैलदीदी ने शाहपुर, मंदारपुर, प्रह्लादपुर, मंडावेल्ला के 120 परिवारों के बीच आपदा राहत किट वितरित की। प्रत्येक किट में तिरपाल, कंबल, चावल 5 किग्रा, आटा 5 किग्रा, दाल 1 किग्रा, चीनी 1 किग्रा सहित मसाले, नमक, चायपत्ती अन्य सामग्री थी। इस अवसर पर श्रीमती शैफाली पण्ड्या, शांतिकुंंज राहत टीम के साथ शाहपुर के प्रधान श्री रनवीर सिंह, प्रह्लादपुर-मंदारपुर के प्रधान श्री सोहनवीर आदि मौजूद रहे।


                इस अवसर पर देवसंस्कृति विवि के प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या ने कहा कि शांतिकुंज सरकार एवं स्थानीय प्रशासन के संपर्क में है। जब भी कोई सहयोग की आवश्यकता होगी, शांतिकुंज परिवार कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा रहेगा।

जैन समुदाय ने जिलाधिकारी को दिया ज्ञापन


जैन समुदाय ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन जैन मुनि की हत्या पर प्रकट किया रोष

  हरिद्वार 20 जुलाई सकल जैन समाज हरिद्वार के सम्भारन्त नागरिकों द्वारा एक शांति मार्च निकालकर एक ज्ञापन माननीय जिलाधिकारी धीराज सिंह गब्रयाल ,आई ए एस हरिद्वार को सौंपा । यह जानकारी देते हुए जैन समाज के इस कार्यक्रम के संयोजक संदीप जैन ने बताया की विगत दिनों  कर्नाटक राज्य के बेलगाम जिले में एक जैन संत आचार्य श्री काम कुमार नंदी जी महाराज की नृशंस हत्या कर दी गई थी। जैन संत जो किसी से भी ना राग रखते हैं ना द्वेष केवल अपनी साधना में ही लीन रहते हैं। उनके साथ ऐसा जघन्य कांड होना जैन समाज के लिए अत्यंत हृदय विदारक व चिंता का विषय है ऐसी घटना सदियों में भी सुनने में भी नहीं आई है। 

ज्ञापन के माध्यम से जैन समाज हरिद्वार ने इस ज्ञापन के माध्यम से केंद्र व कर्नाटक राज्य की सरकार से दोषियों को शीघ्र अति शीघ्र दंडित करने का आग्रह किया तथा साथ ही ऐसी घटना की पुनरावृत्ति ना हो इसे सुनिश्चित करने का भी आग्रह किया। इसके साथ ही जैन समाज के सम्भारन्त नागरिकों ने  प्रशासन से सामंजस्य स्थापित कर   इस विषय में एक प्रभावशाली कार्य योजना तैयार करनी चाहिए। ज्ञापन देने वालों में मुख्यतया सतीश जैन, बालेश जैन, अनुज सिंह पार्षद, विनय पौधार, सी ए अनिल जैन संदीप जैन संयोजक, गिरीश जैन, विजय जैन, अश्वनी गर्ग, संजय जैन, ओमकार जैन, नितीश जैन, आदेश जैन, रजत जैन, सिद्धार्थ जैन, केशव जैन, समर्थ जैन, ईश्वर जैन, महेश जैन, रूपाली जैन, अर्चना जैन अशोक जैन, श्रेयांस जैन,  जैन समाज की विदुषी महिलाऐ आदि सम्मलित रहीं।

ललता रो की शीघ्र की जाए सफाई

 जल भराव से मुक्ति हेतु ललता रौ की शीघ्र की जाये सफाई : अनिरूद्ध भाटी 

क्षेत्रीय पार्षद विनित जौली ने नगर आयुक्त व सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपकर की बिल्वकेश्वर कॉलोनी द्वार से बिरला घाट तक ललतारौ नदी की सफाई की मांग

हरिद्वार, 19 जुलाई ( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )


विगत एक माह से हो रही भारी बारिश के चलते ललतारौ (नदी) मलवा व कूड़े से पट गयी है जिसके चलते निकटवर्ती बस्तियों में अनेक बार जल भराव की स्थिति उत्पन्न हो गयी है। इस संदर्भ में भाजपा पार्षद दल के उपनेता अनिरूद्ध भाटी व क्षेत्रीय पार्षद विनित जौली ने ललतारौ का निरीक्षण कर उसकी शीघ्र सफाई की मांग को लेकर नगर आयुक्त व सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा।     

इस अवसर पर ज्ञापन सौंपते हुए भाजपा पार्षद दल के उपनेता अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि शिवालिक पर्वत मालाओं से निकलने वाले बरसाती नालों व ब्रह्मपुरी, बिल्वकेश्वर कॉलोनी, झलकारी बस्ती, बाल्मीकि बस्ती, निर्मला छावनी का समूचा बरसाती पानी ललतारौ नदी के माध्यम से गंगाजी में जाता है। विगत चार वर्षों से इसकी सफाई न होने के चलते ललतारौ नदी में मलवा, पत्थर, मिट्टी, जंगल की लकड़िया व कूड़ा जमा हो गया है, जिसके चलते इसका भूस्तर काफी ऊंचा हो गया है तथा यह मुख्य सड़क के लेवल तक आ गया है जिस कारण बरसाती पानी गंगाजी तक नहीं जा पा रहा है।

अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि वर्षाकाल में क्षेत्र में अनेक बार जल भराव हो चुका है यदि शीघ्र ही ललतारौ की सफाई नहीं हुई तो वर्तमान वर्षाकाल के दृष्टिगत बरसात का पानी ब्रह्मपुरी, बिल्वकेश्वर कॉलोनी, झलकारी बस्ती, बाल्मीकि बस्ती, निर्मला छावनी, ललतारौ पुल, श्रवणनाथ नगर के आबादी क्षेत्र में जान-माल का भारी नुकसान पहंुचा जा सकता है। 

पार्षद विनित जौली ने कहा कि वर्ष 2019 के पश्चात से ललतारौ से मलबा व कूड़ा-करकट नहीं हटा है जिस कारण बिल्वकेश्वर कॉलोनी द्वार से लेकर बिरला घाट तक 12 फीट गहरी ललतारौ नदी सड़क के लेवल तक आ गयी है। अब तक की हुई चार-पांच भारी बरसातों में ललतारौ के माध्यम से बरसाती पानी गंगाजी में समाहित हो गया था। मलबा व रेता के ऊंचे ढेर लगने से जल निकासी का मार्ग अवरूद्ध हो गया है ऐसे में इसकी युद्ध स्तर पर सफाई होना जनहित में अत्यन्त आवश्यक है।

व्यापारी नेता पार्षद कमल बृजवासी ने कहा कि शहर के मध्य स्थित ललतारौ का अवरूद्ध होना तबाही का सबब हो सकता है। जनहित में इसकी सफाई व मलबे की निकासी का होना बेहद आवश्यक है।

नगर आयुक्त दयानन्द सरस्वती ने कहा कि वह इस संदर्भ में जिला प्रशासन से समन्वय बनाकर शीघ्र सफाई की व्यवस्था करवायेंगे।

इस अवसर पर ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से पार्षद नागेन्द्र राणा, हितेश चौधरी, अनुज सिंह, प्रशान्त सैनी, व्यापारी नेता पार्षद कमल बृजवासी, सोनू हर्ष, नवीन सेंस, नवीन कोरी, जुगल किशोर, अनुज गौड़, बिरला ढींगरा, सोनू कश्यप, अभिषेक गौड़, दीपक शर्मा, गोपी सैनी, फूल सिंह, गुलशन अरोड़ा समेत अनेक क्षेत्रवासी उपस्थित रहे।

समस्त जैन समाज कल निकालेगा शांति मार्च


 हरिद्वार 19 जुलाई (  संजय वर्मा  )  वीरवार 20 जुलाई  को सकल जैन समाज हरिद्वार क्षेत्र में शांति मार्च निकालकर एक ज्ञापन माननीय जिलाधिकारी हरिद्वार महोदय को सौंपा जायेगा।  यह जानकारी देते हुए जैन समाज के प्रसिद्ध व्यवसाई एवं अग्रणी समाजसेवी सतीश जैन ने बताया कि विगत 5 जुलाई को कर्नाटक राज्य के बेलगाम जिले में एक जैन संत आचार्य श्री काम कुमार नंदी जी महाराज की नृशंस हत्या कर दी गई जैन संत जो किसी से भी ना राग रखते हैं ना द्वेष केवल अपनी साधना में ही लीन रहते हैं। उनके साथ ऐसा जघन्य कांड होना जैन समाज के लिए अत्यंत हृदय विदारक व चिंता का विषय है ऐसी घटना सदियों में भी सुनने में भी नहीं आई है। 

ज्ञापन के माध्यम से जैन समाज हरिद्वार क्षेत्र केंद्र व कर्नाटक राज्य की सरकार से दोषियों को शीघ्र अति शीघ्र दंडित करने का आग्रह करेगा साथ ही ऐसी घटना की पुनरावृत्ति ना हो इसे सुनिश्चित करने का भी आग्रह करेगा इसके साथ ही सुझाव भी देता है कि प्रशासन को जैन समाज के साथ बैठकर इस विषय में एक प्रभावशाली कार्य योजना तैयार करनी चाहिए। 


                          

सतपाल महाराज ने किया भीमगोड़ा बैराज का निरीक्षण



*भीमगौड़ा बैराज का गेट टूटने से किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं: महाराज* 


*मंत्री बोले भारी वर्षा के कारण बंद 274 में से 37 मार्ग खोल दिए गए हैं जबकि शेष 237 मार्गों को कल तक खोल दिया जायेगा* 


*मार्ग खोलने हेतु 213 जे0सी0बी0 मशीनें लगी हैं काम पर* 


हरिद्वार 18 जुलाई 


 प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, सिंचाई, लघु सिंचाई, पंचायतीराज, ग्रामीण निर्माण, संस्कृति, जलागम प्रबन्धन एवं भारत-नेपाल उत्तराखण्ड नदी परियोजना मंत्री एवं जनपद के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज ने कहा है कि भीमगौड़ा बैराज के गेट टूटने से किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है। बरसात होने के साथ-साथ पानी की निकासी लगातार हो रही है। गेट को ठीक करने के लिए मैंने उत्तर प्रदेश के जल शक्ति एवं बाढ़ नियंत्रण मंत्री स्वतंत्र देव सिंह से भी कहा है। उन्होने कहा कि मानसून अवधि में हो रही भारी वर्षा के कारण अभी तक 274 मार्ग बन्द थे जिसमें से 37 मार्ग खोले जा चुके हैं तथा शेष 237 मार्गों को खोलने हेतु 213 जे0सी0बी0 मशीनें लगाई गई हैं। अधिकत्तर मार्गों को कल तक खोल दिया जायेगा।


जनपद के प्रभारी मंत्री एवं प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, सिंचाई, लघु सिंचाई, पंचायतीराज, ग्रामीण निर्माण, संस्कृति, जलागम प्रबन्धन व भारत-नेपाल उत्तराखण्ड नदी परियोजना मंत्री सतपाल महाराज ने मंगलवार को भीमगौड़ा बैराज का स्थलीय निरीक्षण करने के साथ-साथ रोशनाबाद-बिहारीगढ़ मोटर मार्ग पर अनेकी के पास क्षतिग्रस्त सेतु का भी स्थलीय निरीक्षण किया।

भीमगौड़ा बैराज (हरिद्वार) के स्थलीय निरीक्षण के दौरान उन्होने कहा कि भीमगौड़ा बैराज का गेट टूटने से किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है। बरसात होने के साथ-साथ पानी की निकासी लगातार हो रही है। गेट को ठीक करने के लिए श्री महाराज ने उत्तर प्रदेश के जल शक्ति एवं बाढ़ नियंत्रण मंत्री स्वतंत्र देव सिंह को  लिखे पत्र में कहा है कि 16 जुलाई को रात्रि में भीमगौड़ा बैराज का गेट नंबर 10 का रस्सा टूट गया है जिससे बैराज के परिचालन एवं संचालन में कठिनाई होने से गंग नहर में पानी डार्वट करने एवं बाढ़ नियंत्रण में भारी कठिनाई उत्पन्न हो रही है। इसलिए इसको यथाशीघ्र ठीक कराया जाना जरुरी है।


लोक निर्माण मंत्री श्री महाराज ने 13 जुलाई को हुई अतिवृष्टि के कारण रोशनाबाद-बिहारीगढ़ मार्ग  पर स्थिति अनेकी नामक स्थान पर धसे बाक्स सेतु का निरीक्षण करते हुए कहा कि सेतु को यातायात हेतु बन्द कर क्षतिग्रस्त भाग पर वैली ब्रिज लगाने हेतु कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। अगले तीन सप्ताह में हल्के वाहन हेतु सेतु को खोल दिया जायेगा। वर्तमान में अनेकी-पूरनपुर-पथरी मार्ग होते हुए बाहदराबाद जाया जा सकता है।


कैबिनेट मंत्री श्री महाराज ने कहा कि 13 जुलाई को कोटद्वार क्षेत्र में हुई अतिवृष्टि के कारण मालन नदी पर निर्मित सेतु के पियर न० 09 में झुकाव आने के कारण सेतु का एक पैनल क्षतिग्रस्त होने के कारण यातायात बन्द है। वैकल्पिक मार्ग के रूप में कर्णाश्रम-मवाकोट-डिग्री कॉलेज होते हुए हल्का वाहन हेतु मार्ग सुचारू है। सेतु के डाउन स्ट्रीम में पूर्व कन्डी मार्ग को भारी वाहन हेतु मालन नदी में हयूम पाईप डालकर मार्ग को तीन सप्ताह के अन्दर यातायात हेतु खोल दिया जायेगा। मालन नदी पर वैली ब्रिज लगाने हेतु कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है।

इस दौरान रानीपुर विधायक आदेश चौहान, भाजपा जिला अध्यक्ष संदीप गोयल, लव शर्मा  आशु चौधरी, आशुतोष शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष राजेंद्र चौधरी,सचिन शर्मा,पुनीत चौधरी,शुशांत पाल,सुनील कुमार, सीडीओ, एसडीएम, 

पीडब्ल्यूडी चीफ अशोक कुमार, सिंचाई विभाग के चीफ आदि उपस्थित थे।

ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज में मनाया गया हरेला पर्व

 हरिद्वार 18 जुलाई उत्तराखंड के लोकपर्व "हरेला"  के शुभ अवसर पर उत्तराखंड आयुर्वेद विश्व विद्यालय के निर्देश अनुपालन  पर ऋषिकुल परिसर  में 


पौधरोपण कार्यक्रम किया गया। इस हरेला पर्व के अयोजन में उत्तराखंड  आयुर्वेद  विश्वविद्यालय ऋषिकुल  परिसर के निदेशक एवं विभागाध्यक्ष द्रव्य गुण विज्ञान प्रो .डी. सी. सिंह, प्रो सुनील जोशी, प्रो अजय गुप्ता, प्रो रूबी रानी अग्रवाल,डॉ रमेश चन्द्र तिवारी आदि शिक्षक गण, स्नातकोत्तर छात्र - छात्राएं एवं कर्मचारी गण पौधरोपण कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।

श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय ने स्नातक द्वितीय ,,चतुरर्थ सेमेस्टर की प्रवेश तिथि बढ़ाई

 हरिद्वार 18 जुलाई श्री देव सुमन उत्तराखण्ड राज्य विश्वविद्यालय द्वारा स्नातक बीए/बी काम/बी एस सी दिव्तीय सैमैस्टर (एन ई पी) एवं स्नातकोत्तर द्वितीय एवं चतुर्थ सैमैस्टर परीक्षा फार्म भरने की तिथि विस्तारित करके 20 जुलाई कर दी गयी है 

पूर्व में विश्वविद्यालय द्वारा घोषित परीक्षा कार्यक्रम की तिथियाँ पूर्ववत् ही रहेगी उन में कोई परिवर्तन नहीं किया गया।

अखिल भारतीय साहित्य परिषद ने मनाया हरेला पर्व

 अखिल भारतीय साहित्य परिषद हरिद्वार ने गुरु महिमा तथा पौधारोपण के साथ मनाया उत्तराखंड का राज्य पर्व हरेला*         


   हरिद्वार 17जुलाई ( संजय वर्मा)  अखिल भारतीय साहित्य परिषद जिला हरिद्वार ईकाई के द्वारा रघुनाथ मंदिर गुघाल मार्ग ज्वालापुर में गुरु पूर्णिमा एवं उत्तराखण्ड के राज्यपर्व हरेला को उत्साह एवं श्रद्धा भाव से मनाया गया।

कार्यक्रम का विधिवत प्रारंभ डा. ऋतुध्वज, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, अखिल भारतीय साहित्य परिषद एवं अखिल भारतीय साहित्य परिषद हरिद्वार के जिला अध्यक्ष श्री सचिन प्रधान, महामंत्री डॉ विजय त्यागी, उपाध्यक्ष श्री सरिता, सचिव श्री अभिनंदन गुप्ता ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलन के साथ किया। कार्यक्रम का संचालन महामंत्री डा. विजय त्यागी जी ने किया। सभी आगंतुक बंधुओं एवं भगिनी के द्वारा ध्वजपूजन करने के पश्चात प्रार्थना करके ध्वजावतरण किया गया।

इस अवसर पर अखिल भारतीय साहित्य परिषद की हरिद्वार ईकाई के द्वारा उत्तराखंड के लोकपर्व हरेला को श्री रघुनाथ मंदिर मंदिर परिसर में फल, फूल एवं छायादार पौधों को लगा कर पौधारोपण करके  हर्षोल्लास से मनाया गया । पर्यावरण को समर्पित एवं उत्तराखंड संस्कृति का प्रतीक पर्व हरेला  प्रकृति वंदन का श्रेष्ठ माध्यम है और वर्तमान समय की प्रासंगिकता भी। जिला अध्यक्ष सचिन प्रधान ने कहा कि प्रकृति हमारी माता का स्वरूप होती है वह सदैव निश्छल भाव से हमारा पालन-पोषण करती है । हमारा भी कर्तव्य बनता है कि हम सभी वृक्षारोपण करके स्वयं की जिम्मेदारी का निर्वाह करें। डा. विजय ने कहा कि पेड भले ही एक लगाएं परन्तु उसका संरक्षण जरूरी है। महाभारत में कहा है कि 'दसपुत्र समो द्रुमः' अर्थात एक वृक्ष 10 पुत्रों के समान होता है, अतः हमें पेड़ों को अपनी संतान के समान संरक्षित करना चाहिए। इस अवसर पर अभिनंदन जी, डा सुशील कुमार त्यागी, श्री रजत बहुखंडी, मनोज जी, अरविंद  कुशवाहा जी, अश्विनी चौहान जी ,उमा सिंघल जी, अंशिका जी, बबीता जी, शीतल जी एवं  सरिता सिंह जी उपस्थित रहे। प्रसाद वितरण के साथ कार्यक्रम का  समापन हुआ।

एस एम जे एन पीजी कॉलेज के प्रांगण में पौधे किए गए रोपित

 आपदाओं को रोकने के लिए धरती पर वृक्षों का होना जरूरी-डा.विशाल गर्ग


हरिद्वार, 17 जुलाई। हरेला पर्व पर भाजपा नेता डा.विशाल गर्ग एवं एसएमजेएन कालेज के प्राचार्य डा.सुनील कुमार बत्रा के संयोजन में कालेज परिसर में पौधारोपण किया गया। डा.विशाल गर्ग ने कहा कि आपदाओं को रोकना है तो धरती पर पौधों का होना जरूरी है। पर्यावरण संतुलन बनाए रखने की जिम्मेदारी प्रत्येक नागरिक की है। उन्होंने कहा कि बढ़ते प्रदूषण को नियंत्रित करने का सबसे सशक्त माध्यम से पौधे हैं। स्कूल कालेजों के माध्यम से ही पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया जाना चाहिए। प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सजग रूप से प्रदेश को हराभरा बनाने के उद्देश्य से हरेला पर्व को भी पूरे प्रदेश में वृहद स्तर से मना रहे हैं। पर्यावरण संतुलन नितांत जरूरी है। प्राचार्य डा.सुनील कुमार बत्रा ने कहा कि मनुष्य का जीवन पेड़ों पर निर्भर है। पर्यावरण को स्वच्छ सुन्दर बनाए रखने के लिए धरती पर पौधें अधिक से अधिक लगाए जाएं। इस अवसर पर गौरव आहलूवालिया, विक्रम सिह नाचीज, सूर्यांश जैन, शोएब अंसारी, आसिफ, रियाज आदि ने भी पर्यावरण संरक्षण का संकल्प लिया।

भाजपा कार्यकर्ताओं ने हरेला पर्व पर पौधे किए वितरित



*भाजपा कार्यकर्ताओं ने रानीपुर विधानसभा में मनाया हरेला पर्व* 

हरिद्वार 17 जुलाई ( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) हरेला पर्व के अवसर पर रानीपुर विधानसभा के कार्यकर्ताओं द्वारा पौध वितरण व पौधा लगाने का एक कार्यक्रम शिव धाम कॉलोनी मैं मन्नू रावत जिला उपाध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी के निवास पर किया गया जिसमें प्रदेश मंत्री महिला मोर्चा रीता चमोली जी, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सन्दीप सिंहानिया, जिला महामंत्री ओबीसी मोर्चा पवनदीप कुमार जिला उपाध्यक्ष आदित्य गिरी व अन्य भाजपा कार्यकर्ताओं ने भाग लिया , इस अवसर पर रीता चमोली जी ने समाज मे पर्यावरण की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए मानवजीवन में पेड़ पौधों की आवश्यकता के बारे में बताया जिला महामंत्री पवनदीप कुमार ने कहा कि पेड़ पौधों की वजह से ही हमारे जीवन मे ऑक्सीजन की पूर्ति होती रहती हैं इसलिए हमें अधिक से अधिक पेड़ लगाने चाहिए ।

आर एस एस के स्वयंसेवकों ने किया पौधारोपण


 *भविष्य में प्राकृतिक आपदाओं से बचना है तो आवश्यक करें पौधरोपण : पदम् जी* 

-संकल्पबद्व होकर हरेला पर्व पर आरएसएस ने किया पौधरोपण


हरिद्वार। 17 जुलाई ( संजय वर्मा )



राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हरिद्वार नगर द्वारा हरेला पर्व के उपलक्ष्य बृहद रूप में नगर की विभिन्न्न शाखाओं के माध्यम से पौधारोपण किया गया। इस बार संघ ने प्रत्येक शाखा पर कम से कम 10 पौधारोपण का लक्ष्य रखा है। एक पौधा एक स्वयंसेवक की योजना से नगर में विभिन्न स्थानों पर पौधे लगाए गए। जिनके संरक्षण संवर्धन का भी जिम्मा वही स्वयंसेवक संकल्पित भाव से लेगा जिसके द्वारा पौधा लगाया गया है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के ) क्षेत्र प्रचार प्रमुख (पश्चिम उत्तर प्रदेश उत्तराखंड) पदम जी ने कहा कि यदि भविष्य में प्राकृतिक आपदाओं के संकट से बचना है तो पौधारोपण आवश्यक करें। तेजी से बदलते जलवायु परिवर्तन पर चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि प्रकृति ने हमें सब कुछ दिया है, इसे हरा-भरा रखना हम सबका दायित्व है। आज भौतिकवादी युग में जितनी तेजी से हरे-भरे जंगल नष्ट हो रहे हैं, इससे होने वाले नुकसान से बचाव के लिए यह जरूरी है कि हम अधिक से अधिक संख्या में पौधारोपण करें। उन्होंने कहा कि हरेला पर्व पौधारोपण करने की महज औपचारिकता का पर्व नहीं है,यह पर्व प्रकृतिक प्रेम के संकल्प का दिन है। उन्होंने हरिद्वार नगर की योजना की सराहना करते हुए कहा कि एक या एक से अधिक स्वयंसेवक जब संकल्पबद्ध तरीके से पौधे के संरक्षण संवर्धन करेंगे तो निश्चित तौर पर भविष्य में आज लगाया हुआ पौधा अपना वास्तविक आकार लेगा।

कार्यक्रम समन्वयक जिला व्यवस्था प्रमुख अनिल गुप्ता ने वताया की इस वर्ष बहुत अधिक पौधारोपण न कर एक निशिचित लक्ष्य लेकर जिम्मेदारी से पौधों के संरक्षण का संकल्प लिया गया है।

जिला सञ्चालक रोहिताश्व कुंवर के मार्ग दर्शन में दयानन्द शाखा, चाणक्य शाखा व मालवीय शाखा पर पौधारोपण किया गया। नगर सञ्चालक डॉ. यतींद्र नागयन के मार्गदर्शन में महादेव शाखा, सती शाखा,गणेश शाखा पर पौधरोपण किया गया। इस अभियान में विभाग प्रचारक चिरंजीवी जी, जिला प्रचारक जगदीप जी, नगर प्रचारक नरेश

जी,विद्यार्थी विस्तारक त्रिवेंद्र जी, नगर व्यवस्था प्रमुख देशराज शर्मा,सह नगर कार्यवाह बलदेव रावत,नगर शरीरिक प्रमुख अभिषेक, नगर बौद्धिक प्रमुख भूपेंद्र रावत, सह प्रमुख डॉक्टर रतनलाल, बाल विद्यार्थी प्रमुख मनोज पाल,नगर संपर्क प्रमुख अमित शर्मा,नगर सेवा प्रमुख संजय शर्मा, ज्वालापुर मंडल कार्यवाह विकास जैन व सह अनिल प्रजापति, मध्य हरिद्वार मंडल कार्यवाह उमेश मिश्रा व सह अमित त्यागी, कनखल मंडल कार्यवाह अर्पित अग्रवाल व सह सुशांत,मायापुर मंडल कर्यवाह मनीष सैनी व सह विशाल गोस्वामी, सप्तऋषि मंडल कार्यवाह आशीष व सह सुमित शर्मा के अलावा नगर के समस्त बस्ती प्रमुख, शाखा कार्यवाह,मुख्य शिक्षक सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने प्रतिभाग किया। वहीं दूसरी ओर पन्ना लाल भल्ला इंटर कॉलेज में प्रधानाचार्य ओपी गोनियाल जी के निर्देशन में छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों कर्मचारियों ने पौधे रोपित किये ।

सांसद डॉ निशंक ने की अधिकारियों के संग की बैठक



*पूर्व शिक्षा मंत्री सांसद हरिद्वार, डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने अधिकारियों की ली बैठक*


*बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों की ली विस्तृत जानकारी, दिया अधिकारियों को सख्त निर्देश*


*हर संभव की जाए प्रभावितों की मदत, कोताही नहीं होगी बर्दास्त*



हरिद्वार 16 जुलाई  ( संजय वर्मा )


पूर्व शिक्षा मंत्री सांसद हरिद्वार डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने हरिद्वार जिले के बाढ़ ग्रस्त इलाकों का निरीक्षण करने के बाद आज सीसीआर कंट्रोल रूम में प्रशासन के अधिकारियों के साथ में बैठक की और स्थिति का जायजा लिया। साथ ही साथ उन्होंने राहत सामग्री के वितरण और राहत कार्यों का जायजा भी लिया । बैठक के दौरान डॉ निशंक ने अधिकारियों से सख्त लहजे में निर्देशित करते हुए कहा कि किसी भी तरह से एक भी आम आदमी को परेशानी नहीं होनी चाहिए , इस आपदा की स्थिति में किसी भी तरह की कोई कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी । सांसद रमेश पोखरियाल निशंक लगातार पिछले कई दिनों से हरिद्वार के तमाम बाढ़ ग्रस्त इलाकों का निरीक्षण कर रहे हैं इसी कड़ी में वो आज चार बजे सीसीआर कंट्रोल रूम

पहुंचे जहां सांसद निशंक ने जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए बाढ़ से बचाव के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

सांसद डॉ निशंक ने बैठक में जनपद के सभी बाधित मार्गों के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करते हुए तत्काल क्षतिग्रस्त मार्गों को बहाल किये जाने हेतुअधिकारीयों को निर्देशित किया, इस दौरान डॉ निशंक ने पत्रकारों को बताया कि राहत कार्यों के लिए लो०नि०वि० की तीनों डिविजन को 80.00 लाख की धनराशि का भुगतान किया गया है जिससे की राहत कार्यों में कोई समस्या न आने पाए । साथ ही साथ अधिशासी अभियन्ता सिंचाई विभाग को कुल 40.00 लाख की धनराशि अग्रिम उपलब्ध करायी गयी। उन्होंने बताया जनपद हरिद्वार को कुल राज्य आपदा मोचन निधि द्वारा कुल 30 करोड़ तथा आपदा न्यूनीकरण मद के अन्तर्गत कुल 1 करोड, पेयजल योजनाओं की तात्कालिक मरम्मत/ पुनर्निर्माण हेतु 4 इस प्रकार जनपद को कुल 35 करोड़ की धनराशि उपलब्ध कराई गई है। साथ ही साथ राज्य आपदा मोचन निधि से जनहानि और पशुहानि के लिए अब तक 20.36 लाख की धनराशि भी  वितरित की गई है।

बैठक के दौरान डॉ निशंक ने अखिकारियों से बाढ़ प्रभावित व जलभराव वाले क्षेत्रों में संक्रमित बीमारियो से बचाव हेतु पर्याप्त मात्रा में स्टॉफ तैनात किये जाने व मेडिकल किट, दवाईयो आदि की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था तथा पशु चिकित्साधिकारी, हरिद्वार को पशुओं के लिए चारे की समुचित व्यवस्था किये जाने हेतु निर्देशित किया । इसके अतिरिक्त शहरी क्षेत्रों में स्थानीय निकायों तथा ग्रामीण क्षेत्रों में अपर मुख्य अधिकारी, जिला पंचायत हरिद्वार को साफ-सफाई, जल निकासी उपरान्त कीटनाशक दवाईयों के छिड़काव आदि हेतु निर्देशित किया । 

उन्होंने क्षेत्र की जानकारी देते हुए पत्रकारों को बताया तहसील लक्सर अन्तर्गत बाढ़ से प्रभावित 33 ग्रामों के कुल प्रभावित 81 परिवारों को अस्थायी राहत केन्द्रों यथा-बारातघर, पंचायत घर राधाकृण मन्दिर में शिफ्ट किया गया है तथा 2775 परिवार जो  प्रभावित हैं उनकी पूरी मदत की जा रही है । कुछ स्थानों पर विद्युत आपूर्ति बाधति है तथा विद्युत आपूर्ति बहाल किये जाने को लेकर उन्होंने अधिकारीयों से बात की है और जल्दी ही वहां स्थिति सामान्य हो जायेगी । उन्होंने बताया तहसील हरिद्वार अन्तर्गत 14 ग्राम बाढ़ से प्रभावित है जिनमे 141 परिवारों के 650 व्यक्तियों को राहत सामग्री पहुंचा दी गई है। तहसील रुड़की अन्तर्गत 22 ग्राम बाढ़ से प्रभावित हैं जिनके 750 परिवारों के लगभग 3200 व्यक्तियों को सहायता राशि वितरित की जा रही है। तहसील भगवानपुर अन्तर्गत 2 ग्राम बाढ़ से प्रभावित होने जिनके 90 परिवारों के लगभग 380 व्यक्तियों को राहत वितरण की जा रही हैं। उन्होंने बताया भारी वर्षा के कारण जनपद 5 भवन पूर्ण रुप से क्षतिग्रस्त हुए है तथा लगभग 205 भवन आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए है जिनकी पूरी मदत की जा रही है। इसके साथ ही साथ उन्होंने बताया की आपदा ग्रस्त क्षेत्रों में खाने की व्यवस्था से लेकर रहने की भी पूरी व्यवस्था की गई है।

सांसद डॉ निशंक ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि अगर किसी भी प्रकार की विषम परिस्थिति आती है तो हम उसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं.  स्वास्थ्य विभाग और राहत आयुक्त विभाग के साथ ही यहां जिला प्रशासन को संभावित बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों में नौकाओं के साथ साथ राहत सामग्रियों के बारे में तैयारियां पूरी हो चुकी हैं।

उन्होंने कहा कि अधिकारियो को निर्देशित कर दिया गया है कि राहत शिविर में किसी भी तरह से कोई समस्या नहीं होनी चाहिए ।

बैठक के दौरान डॉ निशंक ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि राहत शिविर में किसी भी तरह से कोई समस्या नहीं होनी चाहिए. बाढ़ प्रभावितों के रहन-सहन और खानपान की व्यवस्था सुनिश्चित होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि बाढ़ की स्थिति उत्पन्न होने पर मोबाइल चिकित्सा दल प्रभावित क्षेत्रों में पूरी तरह एक्टिव और राउंड पर रहे, साथ ही साथ राहत शिविरों में डॉक्टरों और मोबाइल मेडिकल टीम के पास हर हाल में एंटी वेनम, एंटी रेबीज और हर तरह के विषैले जानवरों के काटने से बचाने वाली दवाई पर्याप्त रूप से उपलब्ध होनी चाहिए। उन्होंने कहा राहत शिविरों में समुचित सफाई और लाइटिंग हो. साथ ही बाढ़ का पानी उतरने के बाद प्रभावित क्षेत्रों में युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर सफाई कराई जाए. जिससे इन क्षेत्रों में संक्रामक बीमारी फैलने न पाए. उन्होंने बाढ़ के कारण क्षतिग्रस्त होने वाले सड़कों और गलियों की भी शीघ्र मरम्मत कराए जाने का निर्देश दिया इस दौरान रानीपुर विधायक आदेश चौहान, जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्बयाल, एस एस पी अजय सिंह, एडीएम वीर सिंह बुधीयाल , नगर आयुक्त दयानंद सरस्वती सीएमओ मनीष दत्त, पीडब्ल्यूडी, पशुपालन, खाद्यान्न आपूर्ति सहित तमाम अधिकारी और स्थानीय जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

सांसद डा0 निशंक ने नेत्रहीन दिव्यांग बच्चों के साथ मनाया अपना जन्मदिन

 स्वामी अजरानंद अंध विद्यालय में सांसद निशंक ने मनाया अपना जन्मदिन 

हरिद्वार 16 जुलाई( संजय वर्मा)    उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं हरिद्वार के सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने नेत्रहीन दिव्यांग बच्चों के साथ स्वामी अजरानंद अंध विद्यालय में अपना जन्मदिन मनाया । स्वामी अजरानंद अंध विद्यालय अजरधा



म आश्रम के संचालक महंत स्वामी स्वयंमानंद महाराज ने बताया कि डॉ निशंक ने सादे समारोह में इस बार अपना जन्मदिन स्वामी अजरानंद महिला आश्रम ट्रस्ट के अंतर्गत संचालित स्वामी अजरा नंद अंध विद्यालय के नेत्रहीन बच्चों के साथ मनाया ।  उन्होंने इस अवसर पर बच्चों के साथ भोजन किया एवं बच्चों को उपहार भी वितरित किए डा0 निशंक के इस कार्यक्रम से जहां विद्यालय परिवार में प्रसन्नता व्याप्त है वही स्वामी अजरा नंद विद्यालय अजर धाम के संचालक अध्यक्ष महंत स्वामी स्वयंमानंद महाराज एवं विचित्रानंद महाराज ने डॉ निशंक को उनके जन्मदिवस पर बधाई एवं आशीर्वाद दिया और उनके इस कार्य की प्रशंसा करते हुए भविष्य में भी इसी प्रकार विद्यालय परिवार में आकर उत्साहवर्धन करते रहने का आग्रह भी किया ।

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...