एस एम जै एन पीजी कॉलेज में भाषण प्रतियोगिता


सतत् विकास के लिए धरा का भूगोल रहे सुरक्षित: श्री महन्त रविन्द्र पुरी

‘राष्ट्रीय विज्ञान’ दिवस के अवसर  पर आन्तरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ, एस.एम.जे.एन. काॅलेज तथा उत्तराखण्ड विज्ञान शिक्षा एवं शोध केन्द्र, देहरादून द्वारा  किया गया भाषण प्रतियोगिता का आयोजन 

हरिद्वार 28 फरवरी  (आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा) एस.एम.जे.एन. पी.जी. काॅलेज में 


काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्रीमहन्त रविन्द्र पुरी जी महाराज की अध्यक्षता में आई.क्यू.ए.सी. के तहत ‘राष्ट्रीय विज्ञान’ दिवस के अवसर पर विज्ञान प्रशिक्षण तथा भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। 

भाषण प्रतियोगिता में विशाल बंसल ने प्रथम, अर्शिका ने द्वितीय व कृतिका ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। 

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व अध्यक्षता करते हुए काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्री महन्त रविन्द्र पुरी महाराज ने विजयी प्रतिभागियों  को ग्लोब का माॅडल देकर पुरस्कृत किया गया । 

श्री महन्त रविन्द्र पुरी ने कहा कि जिस प्रकार आज यूक्रेन व रुस के बीच युद्ध के कारण जो हालात उत्पन्न हो रहे हैं उससे न केवल प्राकृतिक संसाधनों पर एक संकट मंडरा रहा है, अपितु मानवीय संसाधन भी खतरे की कगार पर है। उन्होंने कहा कि सभी को मिल-जुलकर सतत् विकास के लिए धरा के भूगोल को सुरक्षित रखने की आवश्यकता है। 

  काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने सभी प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को शुभकमनायें देते हुए कहा कि वैज्ञानिकों द्वारा देश-विदेश में किये जा रहे अनुसंधान के विषय में जानकारी दी। उन्होंने कार्यक्रम के आयोजन के लिए उत्तराखण्ड साईंस एजुकेशन एण्ड रिसर्च सैंटर, देहरादून का आभार व्यक्त किया। डाॅ. बत्रा ने आह्वान किया कि विज्ञान का समुचित प्रयोग करके संसाधनों को आने वाली पीढ़ीयों के लिए संजोकर रखना होगा, जिससे कि सतत् भविष्य व विकास की प्रक्रिया सुचारु रुप से चल सके। डाॅ. बत्रा ने कहा कि विज्ञान से होने वाले लाभों के प्रति समाज में जागरुकता लाने और सोच पैदा करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद द्वारा प्रत्येक वर्ष 28 फरवरी को भारत में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया जाता हैै।  

कार्यक्रम में विज्ञान विभाग के विनीत सक्सेना, डाॅ. विजय शर्मा, डाॅ. प्रज्ञा जोशी, डाॅ. पूर्णिमा सुन्दरियाल ने छात्र-छात्राओं को जल की गुणवत्ता, पी.एच. मीटर, टरबीडिटी मीटर, सैन्ट्रीफ्यूज, डी.ओ. मीटर की कार्यविधि का भी प्रशिक्षण दिया गया। 

इस अवसर पर मदरहुड विश्वविद्यालय द्वारा विज्ञान संकाय के डाॅ. विजय शर्मा को एनवायरमेंटिलिस्ट आफ द ईयर अवाॅर्ड मिलने पर काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्री महन्त रविन्द्र पुरी महाराज व प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा द्वारा सम्मानित किया गया। भाषण प्रतियोगिता में विवेक भट्ट, विशाल बंसल, कृतिका तोमर, कलावती, प्रियांशी रावत, आयुष, हर्षित, झलक, खुशी, सोनाली, साक्षी जैन, दीपा, अर्शिका, मयंक, प्रेरणा मदान सहित अनेक छात्रों ने प्रतिभाग किया।  

कार्यक्रम का सफल संचालन डाॅ. पदमावती तनेजा द्वारा किया गया। इस अवसर पर मुख्य रूप से अनिल कुमार शर्मा, पुनीत सोबती, डाॅ. मन मोहन गुप्ता, डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी, विनय थपलियाल, वैभव बत्रा, श्रीमती रिंकल गोयल, डाॅ. निविन्धया शर्मा, श्रीमती रिचा मनोचा, डाॅ. आशा शर्मा, डाॅ. रीना मिश्रा, डाॅ. लता शर्मा, दिव्यांश शर्मा, डाॅ. पुनीता शर्मा, प्रिंस श्रोत्रिय, दीपिका आनन्द, प्रियंका प्रजापति, महिमा नागयान, मोहन चन्द्र पाण्डेय सहित काॅलेज के शिक्षक, शिक्षणेत्तर कर्मचारी व छात्र-छात्रा उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

भारत विकास परिषद पंचपुरी शाखा ने फलदार पौधे किये रोपित

 * भारत विकास परिषद की पंचपुरी शाखा ने पर्यावरण संरक्षण का संकल्प लिया*    हरिद्वार 23 जुलाई भारत विकास परिषद की पंचपुरी शाखा ने हरेला पर्व ...