जिला अधिकारी एवं एस एस पी हरिद्वार पहुंचे मातृ सदन

जिला अधिकारी हरिद्वार



के अनुरोध पर ब्रह्मचारी आत्मबोधानंद  किया, शहद लेना शुरू


हरिद्वार 30 सितंबर (वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )डीएम विनय शंकर पांडे के आश्वासन पर ब्रह्मचारी आत्मबोधानंद ने गुरुवार से शहद लेना शुरू कर दिया है। डीएम ने आश्वासन दिया है कि जल्द ही मातृ सदन की मांगों को लेकर उत्तराखंड सरकार को पत्र लिखेंगे और अनशन को समाप्त करने की कोशिश करेंगे।

 गौरतलब है कि मातृ सदन के ब्रह्मचारी आत्मबोधानंद मातृ सदन की मांगों पर कार्रवाई की मांग को लेकर अनशन कर रहे है। नमक, शहद और नींबू जल के साथ सेवन कर रहे थे।‌‌शासन की बेरुखी से आहत होकर उन्होंने शहद लेना छोड़ दिया था।   गुरुवार को अनशन के 44वें दिन अनशन को समाप्त कराने हरिद्वार के डीएम विनय शंकर पांडेय और एसएसपी योगेंद्र रावत मातृ सदन पहुंचे। उन्होंने अनशन को समाप्त कराने के लिए संस्थापक स्वामी शिवानंद से लंबी वार्ता की और अनशन को समाप्त कराने का अनुरोध किया। लेकिन स्वामी शिवानंद ने मांगों पर कार्रवाई से पूर्व अनशन समाप्त करने से इंकार कर दिया। इसके बाद डीएम ने मांगों को लेकर उत्तराखंड सरकार को पत्र भेजकर कारवाई का आश्वासन दिया। डीएम के आश्वासन पर स्वामी शिवानंद के निर्देश पर ब्रह्मचारी आत्मबोधानंद ने शहद ग्रहण करना शुरू कर दिया है। हालांकि अनशन जारी है। डीएम साहब ने कहा मातृ सदन के स्वामी शिवानंद से सभी मांगों पर चर्चा की गई है गुरुवार से उनके अनुरोध आत्माबोधानंद ने  शहद लेना शुरू कर दिया है। मातृ सदन की मांगों को लेकर शासन को पत्र भेजकर अवगत कराया जाएगा। जल्दी उनका अनशन भी समाप्त करा दिया जाएगा। वही स्वामी शिवानंद का कहना है कि डीएम साहब ने मांगों को लेकर सरकार को पत्र भेजकर अवगत कराने का आश्वासन दिया है। इसके साथ ही उन्होंने  पद्मावती की चिकित्सा के लिए फिजियोथैरेपिस्ट में उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा मांगे पूरी होने तक अनशन जारी रहेगा।

स्वामी परमानंद आश्रम पर कब्जे को लेकर बड़ा अखाड़ा उदासीन और नवनियुक्त महंत हंसराम उदासीन ने की पत्रकार वार्ता

 परमानंद आश्रम  पर कब्जे को लेकर बड़ा अखाड़ा उदासीन और आश्रम के  ट्रस्टियों में विवाद

असली नकली ट्रस्ट डीड का अब कोर्ट ही करेगा फैसला 


हरिद्वार 30 सितंबर (वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) स्वामी परमानंद उदासीन आश्रम , हरिद्वार की महंताई को लेकर ट्रस्ट और अखाड़े के सन्यासी आमने-सामने है। एक ओर जहां ट्रस्टियों ने स्वामी हंसा राम को महंत मानने से इनकार कर दिया है। वहीं श्री पंचायती बड़ा अखाड़ा उदासीन के संतो ने ट्रस्ट के अधिकार को गैरकानूनी बताते हुए कोर्ट में जाने की धमकी दी है।


गौरतलब है कि श्री पंचायती बड़ा अखाड़ा उदासीन की ओर से  सोमवार को हरिसेवा उदासीन आश्रम भीलवाड़ा राजस्थान के महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन को हरिद्वार स्थित स्वामी परमानंद उदासीन आश्रम , मायापु


र , श्रवणनाथ नगर हरिद्वार उत्तराखंड का महंत नियुक्त किया था। अखाड़े के गणमान्य संत महंतों की मौजूदगी में उन्हें महंताई की चादर सौंपी गई।

इसके अगले दिन आश्रम के ट्रस्टी ने महंताई को अवैध बताते हुए समाचार पत्रों में खंडन प्रकाशित करवाया । इसको संज्ञान में लेते हुए श्री पंचायती बड़ा अखाड़ा उदासीन के संत महंतों ने गुरुवार को हरेराम आश्रम में पत्रकार वार्ता आयोजित की।

हरे राम आश्रम कनखल में आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के प्रवक्ता महामंडलेश्वर स्वामी कपिल मुनि,  कोठारी महंत दामोदर दास, व महंत गंगा दास ने एक स्वर में घटना की निंदा की।  महामंडलेश्वर स्वामी कपिल मुनि महाराज ने कहा कि स्वामी परमानंद ट्रस्ट के संस्थापक स्वामी परमानंद ने ट्रस्ट नियमावली संख्या 6 में स्पष्ट लिखा है कि उनके ब्रह्मलीन होने के बाद ट्रस्ट के अध्यक्ष व मंत्री उदासीन साधु को ही बनाना होगा। जिसमें उनके बाद स्वामी योगेंद्र आनंद महाराज को उनके समान अधिकार प्राप्त होंगे। ट्रस्ट सदस्यों की रिक्त स्थान की पूर्ति साधुओं के स्थान पर योग्य उदासीन साधु,  गृहस्थी के स्थान पर उपयुक्त गृहस्थी भक्त, जिसमें 6 गृहस्थी और 3 संत होंगे और उत्तराधिकारी परम्पराओं से नियुक्त करते रहेंगे। लेकिन ट्रस्ट का अध्यक्ष और मंत्री किसी योग्य विद्वान व सदाचारी बड़े अखाड़े के साधुओं को ही बनाया जाएगा।

 लेकिन इस डीड का तत्कालीन ट्रस्ट के समिति सदस्यों ने पालन नहीं किय । फर्जी तरीके से अपने सदस्यों में से मंत्री,  अध्यक्ष घोषित किया है। जो असंवैधानिक है। इसके बाद मजबूरन पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन भेष भगवान षड दर्शन साधु समाज की सर्वसम्मति से स्वामी परमानंद ट्रस्ट समिति का अध्यक्ष महंत महामंडलेश्वर हंसाराम शिष्य बाबा गंगाराम महाराज  को तिलक चादर देकर आश्रम का महंत बनाया गया। इसके विरोध में दैनिक समाचार पत्र में एडवोकेट गुरप्रीत सिंह ने ब्राह्मण समाचार प्रकाशित करवाया की उदासीन संप्रदाय का अखाड़े से कोई संबंध नहीं है इसका पंचायती बड़ा अखाड़ा उदासीन पुरजोर विरोध करता है और एडवोकेट साहब को सलाह देता है कि स्वामी परमानंद द्वारा निष्पादित ट्रस्ट डीड के अनुसार उदासीन साधु ही मंत्री और अध्यक्ष रह सकते हैं। ऐसा नहीं होने  विरुद्ध कानूनी कार्यवाही की तैयारी कर रहा है। बाबा हठयोगी ने कहा ट्रस्टियों का काम आश्रम की सेवा करना है । उस पर कब्जा करना नहीं। इस मौके पर महामंडलेश्वर स्वामी संतोषानंद देव महाराज, रविदेव शास्त्री, सहित अन्य गणमान्य संत मौजूद रहे।

डॉ नरेश चौधरी के संयोजन में हर की पौड़ी और रेलवे स्टेशन पर बड़े स्तर पर किया गया वैक्सीनेशन

 हरिद्वार 30 सितंबर वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार



*ऋषिकुल जम्बो कोविड-19 वैक्सीनेशन सेन्टर के अन्तर्गत हरकी पैडी एवं रेलवे स्टेशन पर भी सभी आयु वर्ग के लाभार्थियों को वैक्सीन डोज लगातार लगाई जा रही है जिसके लिये रेडक्रॉस सचिव डा0 नरेश चौधरी की वैक्सीनेशन की व्यवस्थाओं के लिये विशेष सराहना की जा रही है।*

जिलाधिकारी विनय शंकर पांडेय के निर्देशन, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एस0के0झा0 के मुख्य संयोजन एवं वैक्सीनेशन सेन्टर के नोडल अधिकारी/रेडक्रॉस सचिव डा0 नरेश चौधरी के संयोजन में जनपद हरिद्वार में कोविड-19 वैक्सीन लाभार्थियों को वैक्सीन लगाने का विशेष अभियान जोर शोर से चल रहा है । ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय में कोविड-19 वैक्सीन सेन्टर पर लाभार्थियों को वैक्सीन डोस देने से पहले रेडक्रॉस सचिव डा0 नरेश चौधरी द्वारा कोविड-19 गाइडलाइन पालन के लिये शपथ लेकर संकल्प दिलाया जाता है कि डोज लेने के बाद भी कोविड-19 गाइडलाइन पालन करने के लिये जन समाज को भी  विशेष  रूप से जाग्रत करते रहना है । ऋषिकुल सेन्टर पर सभी आयु वर्ग के लाभार्थियों की अभी भी सेंटर पर उत्कृष्ट व्यवस्थाओं को देखते हुए वैक्सीन लगवाने के लिये विशेष उत्सुकता बनी हुई है एवं सेन्टर पर बिना लाइन पर लगे हुए, पंजीकरण एवं प्रमाणित करने के उपरान्त कोविड-19 वैक्सीन (कोविसील्ड की प्रथम एवं द्वितीय डोज तथा को-वैक्सीन की द्वितीय डोज) लगाई जा रही है, जिससे सभी आयु वर्ग के लाभार्थियों में ऋषिकुल वैक्सीन सेन्टर पर वैक्सीन लगवाने के लिये विशेष उत्साह रहता है और उत्कृष्ठ व्यवस्था के लिए सभी लाभार्थी रेड क्रास स्वयंसेवकों की दिल से प्रशंसा करते हुए नहीं थकते हैं। ऋषिकुल सेंटर पर डा0 नरेश चौधरी के नेतृत्व में आज भी 636 लाभार्थियों को कोविड-19 वैक्सीन की प्रथम एवं द्वितीय डोज ऋषिकुल जम्बो वैक्सीन सेन्टर पर लगाई गई साथ ही साथ ऋषिकुल जम्बो वैक्सीन साइट के अन्तर्गत ही रेडक्रॉस स्वयंसेवकों द्वारा महाटीकाकरण अभियान से लगातार हरकी पैड़ी एवं रेलवे स्टेशन पर भी वैक्सीनेशन साइट चलाकर वैक्सीन की प्रथम एवं द्वितीय डोज लगाई  जा रही है जिससे श्रद्धालुओं एवं यात्रियों को विशेष लाभ मिल रहा है। सभी यात्री खुश होकर रेड क्रॉस टीम की समर्पण भावना से की जा रही जनमानस की सेवा के लिए सराहना कर रहे हैं । वैक्सीनेशन सेन्टर पर वरिष्ठ नागरिकों को, दिव्यांगों, चलने फिरने में असमर्थ लाभार्थियों, बच्चों के साथ आई हुई महिला लाभार्थियों को  विशेष रूप से अलग कक्षो में पंजीकरण एवं सत्यापन के उपरान्त वैक्सीन की डोज रोजाना लगाई जा रही है जिससे लाभार्थियों में विशेष खुशी देखी जा सकती है और सभी लाभार्थी प्रसन्न होकर ऋषिकुल सेन्टर की व्यवस्थाओं की जगह जगह प्रशंसा कर रहे हैं जिससे प्रत्येक लाभार्थी में ऋषिकुल जम्बो सेन्टर पर ही वैक्सीन लगवाने के लिये विशेष जिज्ञासा रहती है। वैक्सीनेशन सेन्टर का अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एच0डी0 शाक्य ने भ्रमण कर निरीक्षण किया तथा सेन्टर पर नोडल अधिकारी डा0 नरेश चौधरी एवं रेडक्रास स्वयं सेवकों की विशेष सराहना करते हुए हौसला अफजाई करते हुए कहा कि आज भी जनपद हरिद्वार में देखा जाये तो सबसे ज्यादा वैक्सीन लगाने एवं जन समाज को वैक्सीन के प्रति जागरूक करने का कार्य रेडक्रॉस टीम द्वारा ही किया जा रहा है जिसके लिये स्वास्थ्य विभाग रेडक्रास की भूरी भूरी प्रशंसा करता है। वैक्सीनेशन सेन्टर पर सहयोग करने वाले रेड क्रॉस स्वयं सेवकों में विकास देसवाल, डा0 भावना जोशी, छा0डा0 विपिन नौटियाल, डा0 दीक्षा चौहान, डा0 रोहित ,डा0 आराधना, डा0 उर्मिला पाण्डेय, पूनम, डा0 मनीष बर्त्वाल, डा0 अंजली, डा0 स्वप्निल मिश्रा, डा0 वैशाली, डा0 गणेश, विशाखा, सुषमा, श्रुति, प्रशान्त, नेहा, विवेक, अनुश्री, प्रियंका, श्वेता सिंह ,सतेन्द्र सिंह नेगी की सराहनीय भूमिका रही ।

शांतिकुंज में श्रद्धालुओं ने अपने पितरों का किया तर्पण

 शांतिकुंज में मातृ नवमी पर सामूहिक श्राद्ध संस्कार का आयोजन 


हरिद्वार ३० सितंबर( अमर शदाणी संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार)


गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में मातृ नवमी के अवसर पर सामूहिक श्राद्ध संस्कार का आयोजन हुआ। श्राद्ध संस्कार कुल पांच पारी में सम्पन्न हुआ, जिसमें सैकड़ों लोगों ने अपने-अपने पितरों, शहीदों व प्राकृतिक आपदाओं में दिवंगत हुए लोगों को भी सामूहिक श्रद्धांजलि दी गयीं। श्राद्ध संस्कार  का वैदिक कर्मकाण्ड संस्कार प्रकोष्ठ के आचार्यों ने सम्पन्न कराया।

अपने संदेश में अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि मनुष्य के मृत्यु के बाद उसकी आत्मा मरती नहीं है। उसका अपना अस्तित्व बना रहता है। आत्मा अमर, अजर, सत्य और शाश्वत है। जिस प्रकार पुराने, जीर्ण वस्त्र त्याग करके मनुष्य नये वस्त्र धारण करता है, उसी प्रकार आत्मा जीर्ण शरीर का त्याग करके नया शरीर धारण करती है। कहा कि जब जीवात्मा एक जन्म पूरा करके अपने दूसरे जीवन की ओर उन्मुख होती है, तब जीव की उस स्थिति को भी एक विशेष संस्कार के माध्यम से बाँधा जाता है, जिसे मरणोत्तर संस्कार या श्राद्ध कर्म कहा जाता है। संस्कार विभाग के आचार्यों ने कहा कि पितृपक्ष के प्रत्येक दिन अपने पितरों के अलावा महापुरुषों, संतों, शहीदों, प्राकृतिक आपदाओं में असमय काल कवलित हुई मृतात्माओं की सद्गति एवं कन्या भ्रुण हत्या में जो शिशु आत्माएँ दिवंगत होती हैं, उनके निमित्त विशेष वैदिक कर्मकाण्ड के साथ जलांजलि दी गयी। इस अवसर पर श्रद्धालुओं ने अपने-अपने पितरों की याद में एक-एक पौधा रोपने का संकल्प लिया।

फिल्म तीसरी कसम और शलेंद्र





 सजन रे झूठ मत बोलो खुदा के पास जाना है नहाती है ना घोड़ा है वहां पैदल ही जाना है 

याद आया आपको यह गीत क्या आध्यात्मिकता से जुड़ा गीत जिंदगी की सच्चाई को पेश करता हुआ  था । महान गीतकार शैलेंद्र की  लेखनी से निकाला था यह अमर गीत जो आज भी जीवन की क्षण भंगुरता को निरूपित करता हुआ जीवन में सच्चाई धर्म-कर्म और प्रेम की शिक्षा देता हुआ दिखाई देता है आज बात करते हैं1966 में बनी अमर फिल्म "तीसरी कसम "की यूं तो हम शैलेंद्र को गीतकार के रूप में ही जानते हैंलेकिन उन्होंने अपनी जिंदगी में एक मात्र फिल्म तीसरी कसम का निर्माण भी किया था जो उनके जिंदगी की पहली और आखिरी फिल्म  बन कर रह गई उन्होंने अपनी जिंदगी भर की पूंजी इस फिल्म में लगादी  थी जो बाद में उनकी अकाल मृत्यु का कारण बनी  फिल्म अपने समय की सुपर डुपर हिट फिल्म थी।  इस के गाने आज भी लोगों की जुबान से सुने जा सकते हैं राज कपूर, वहीदा रहमान पर फिल्माई गई फिल्म तीसरी कसम का  सुंदर पिक्चराइजेशन शैलेंद्र ने किया था जिसमें ग्रामीण परिवेश का बड़ा ही सजीव फिल्मांकन किया गया था वह फिल्म की सफलता का आधार बना उस पर मुकेश की आवाज में दर्द भरे गीत आज भी श्रोताओं को भाव विभोर कर देते हैं भारत सरकार ने 2013 शैलेंद्र की स्मृति में डाक टिकट जारी कर उन्हें श्रद्धांजलि दी थी ।  शैलेंद्र वास्तव में तो एक गीतकार थे ,जिन्हें राज कपूर फिल्मी दुनिया में लेकर आए थे लेकिन उन्होंने कम समय में इस फिल्म इंडस्ट्री को एक से एक गीत देकर अपना वह मुकाम बना लिया था जो आज तक शायद किसी को नहीं मिला उस समय राज कपूर की फिल्म और शैलेंद्र के गीत फिल्म की सफलता की गारंटी हुआ करते थे राज कपूर की अधिकतर फिल्मों के गीत शैलेंद्र ने  हीं लिखे थे लेकिन यहां यह भी बताते चलें कि शैलेंद्र की विफलता में राज कपूर का ही बड़ा हाथ था।    यह बात उन दिनों की है जब शैलेंद्र फिल्म तीसरी कसम बना रहे थे सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन जो फिल्म 1 साल में पूरी होनी थी उस फिल्म को बनने में 5 साल लग गए जिससे फिल्म का बजट बढ़ता चला गया और शैलेंद्र कर्ज के गर्त में डूबते चले गए  , आखिर इस कर्ज के बोझ के तले दबे हुए शैलेंद्र 45 साल की उम्र में इस निष्ठुर दुनिया से विदा हो गये जो सिर्फ अपने मतलब के लिए लोगों का इस्तेमाल करती है और मतलब निकल जाने के बाद पीछे मुड़कर देखती भी नहीं है। इसका उदाहरण शैलेंद्र की जिंदगी में राज कपूर से बड़ा कोई नहीं हो सकता । शैलेंद्र को बर्बाद करने  का कारण राज कपूर ही थे वह राज कपूर जिसकी फिल्म हिट करवाने में शैलेंद्र के गीत आधार हुआ करते थे ।शैलेंद्र को फिल्म तीसरी कसम मे राज कपूर ने डेट देने मे इतना तंग किया की फिल्म अधूरी रह गई और  बड़ी कोशिशों के बाद फिल्म पूरी हुई 5 साल का समय लग गया इस तीसरी कसम फिल्म को बनने में  फिल्म का बजट बेतहाशा बढ़ चुका था राज कपूर की तंगदिली  के कारण इस फिल्म का बनना मुश्किल हो गया था ।यह शैलेंद्र के जीवन की  पहली और आखरी गलती  थी और इसके बाद उन्होंने फिल्म इंडस्ट्रीज को अलविदा कह दिया।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानीयो की संस्थाओं ने गांधी जयंती स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्मृति स्तंभ पर ही मनाने की घोषणा की


 2अक्टूबर को महात्मा गांधी की जयंती मनाने के लिए स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं उत्तराधिकारी कल्याण समिति और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी उत्तराधिकारी समिति एक साथ दोनों संस्थाएं मिलकर कोतवाली के सामने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्मृति स्तंभ पर ही मनाएंगे गांधी जयंती स्वतंत्रता सेनानियों की संस्थाओं ने टाउन हॉल में मनाए जा रहे कार्यक्रम को बताया छलावा

हरिद्वार 30 सितंबर (शिव प्रकाश वरिष्ठ पत्रकार)*स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं उत्तराधिकारी कल्याण समिति(पंजीकृत) एवं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी उत्तराधिकारी समिति हरिद्वार के द्वारा संयुक्त रूप से आजादी के महानायक राष्ट्र पिता महात्मा गांधी जी की जयन्ती का आयोजन पूर्व की भांति स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्मृति स्तम्भ, शहीद पार्क हरिद्वार कोतवाली के सामने दिनांक 2 अक्तूबर को प्रातः9:30बजे किया जाना है।*

किन्तु कुछ षडयंत्रकारी लोगों द्वारा भम्र फैला कर हमारी एकता तोडने का प्रयास किया जा रहा है।

टाउनहॉल में हमारे पूर्वजों के चित्रों की दुर्गति कर अपमान किया गया है जिसपर आज घडियाली आंसू बहाकर लीपापोती की जा रही है और उत्तराधिकारियों को जलपान करवाने का लालच दिखाया जा रहा है।ऐसे छद्म आवरण में लिपटे ठगों और षडयंत्रकारी लोगों से सभी उत्तराधिकारी बन्धु सतर्क रहें और उनके झूठे प्रलोभन में न फसें।अपने पूर्वजों की गरिमा को बचाने के लिए ऐसे लोगों का साथ न देंते हुए बहिष्कार किया जाना चाहिए।

भगवानपुर की जनता ने सुबोध राकेश को विधायक बनाने का बनाया मन




*विधानसभा भगवानपुर सिकरोड़ा गांव में पूर्व राज्य मंत्री उत्तराखंड सरकार सुबोध राकेश को लगातार मिल रहा है मुस्लिम समाज का समर्थन,बुजुर्गों ने पूर्व राज्य मंत्री उत्तराखंड सुबोध राकेश को दिया आशीर्वाद, सर्व समाज चाह रहे हैं भगवानपुर विधानसभा सीट का हो परिवर्तन*


*भगवानपुर! 30 सितंबर(


कमल वर्मा नामदेव संवाददाता भगवानपुर गोविंद कृपा )विधानसभा भगवानपुर क्षेत्र के गांव सिकरोड़ा गांव में पूर्व राज्य मंत्री उत्तराखंड सरकार सुबोध राकेश का जोरदार स्वागत किया गया। इस दौरान मुस्लिम समाज के हजारों लोगों ने पूर्व राज्य मंत्री उत्तराखंड सरकार सुबोध राकेश का समर्थन किया। कहा कि भगवानपुर विधानसभा में इस बार परिवर्तन हो सभी यही चाह रहे हैं। विधानसभा में कोई विकास कार्य खास नहीं हुए हैं कहने के बावजूद भी विकास नहीं हो पाया। इस दौरान पूर्व राज्य मंत्री उत्तराखंड सरकार  सुबोध राकेश ने कहा कि विकास करना ही मेरी प्राथमिकता रही है सुबोध राकेश ने कहा हर वर्ग को साथ लेकर विकास की डोर से जोड़ा जाएगा इस शुभ अवसर पर राव अली अहमद खाँ,राव जुनैद खाँ,राव अली बहादुर,राव सदाकत खाँ,राव फारुख खाँ,वसीम कुरेशी,मुस्ता कुरेशी,राव सउद खाँ, राव इकबाल,राव आतिफ,राव नोशेर खाँ,सैय्यद गय्यूर शाह,राव सब्बू,राव सईद,राव नबाब,राव सऊद,फिरोज,राव राशिद नम्बरदार,इरफान ठेकेदार,अय्युब ठेकेदार,रागीब अली,राव शाहाबाज राणा,राव जीशान,सय्यद,मुकीम शाह,मुनेश कुमार,रिकू पाल,मेनपाल सिंह,शिवा,और समस्त ग्रामवासी उपस्थित रहे

पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं हरिद्वार के सांसद निशंक ने की वर्चुअल बैठक

हरिद्वार 30 सितंबर वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार



सांसद हरिद्वार एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री भारत सरकार डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के द्वारा हरिद्वार भाजपा के जिला पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल संवाद किया गया अपने उद्बोधन में उन्होंने जिला हरिद्वार के सभी भाजपा कार्यकर्ताओं एवं हरिद्वार वासियों का हृदय से आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आप सभी की शुभकामनाओं से मैं कोरोना महामारी से लड़ते हुए धीरे-धीरे स्वस्थ हो रहा हूं एवं निकट समय में आप सबके बीच रहकर लोकसभा क्षेत्रवासियों तथा संगठन के लिए कार्य करने के लिए उपलब्ध रहूंगा हरिद्वार लोकसभा क्षेत्र के ऐसे सभी कार्यकर्ताओं एवं आम जनमानस के ऐसे लोग जो कोरोना महामारी के कारण आज हमारे बीच नहीं है ऐसे सभी परिवारजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं इस गंभीर महामारी के बीच जिस तरह से प्रदेश एवं केंद्र की सरकार ने आम जनमानस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी रही यह अत्यंत ही सराहनीय है जिस प्रकार देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 80 करोड़ से अधिक लोगों की चिंता करते हुए प्रधानमंत्री गरीब अन्न कल्याण योजना के माध्यम से जरूरतमंदों को मुफ्त राशन देने का कार्य किया हो एवं जिस प्रकार पूरे देश में सभी के लिए मुफ्त टीकाकरण अभियान चलाया हो जिसमें एक दिन में दो करोड़ से भी अधिक टीका लगने का रिकॉर्ड बना हो अथवा राष्ट्रीय स्तर से बूथ स्तर तक लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय स्वास्थ्य स्वयंसेवक अभियान के अंतर्गत पूरे देश में अपने कार्यकर्ताओं को स्वास्थ्य वालंटियर के रूप में प्रशिक्षित कर लोगों के स्वास्थ्य की चिंता करने का काम किया हो एवं प्रदेश की पुष्कर धामी सरकार के द्वारा आम जनमानस एवं प्रदेश के हित में अभूतपूर्व निर्णय लिए जा रहे हैं वह अपने आप में एक ऐतिहासिक कदम है आगामी विधानसभा चुनाव 2022 की चुनौती से पार पाने के लिए हम सभी कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर काम करना है केंद्र एवं प्रदेश सरकार की लोक हितकारी योजनाओं एवं विकास योजनाओं को आम जनमानस तक ले जाने का काम करना है ताकि 2022 विधानसभा चुनाव के लक्ष्य इस बार 60 पार को हासिल किया जा सके कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना के संक्रमण से लड़ते हुए डॉ निशंक भी जिस प्रकार से अपने कार्यकर्ताओं एवं आमजन की चिंता करते रहे एवं चिकित्सकीय देखभाल में रहने के बावजूद भी उत्तराखंड और हरिद्वार की चिंता करते रहे लंबे समय अंतराल के बाद आज उनका भावपूर्ण सारगर्भित उद्बोधन हम सबको प्राप्त हुआ इसके लिए हम सभी कार्यकर्ता डॉ निशंक का हृदय की गहराइयों से स्वागत और सम्मान करते हैं एवं मां गंगा से प्रार्थना करते हैं कि डॉ निशंक पूर्ण रूप से स्वस्थ होकर हम सबके बीच आए इस अवसर पर जिला उपाध्यक्ष अनिल अरोड़ा, संदीप गोयल, देशपाल रोड ,जिला महामंत्री आदेश सैनी, प्रदेश सह मीडिया प्रभारी सुनील सैनी, जिला मंत्री आशु चौधरी, मनोज कुमार ,प्रवेश प्रिया, योगेश चौधरी, जिला कार्यालय प्रभारी लव शर्मा ,आईटी प्रभारी सुशील रावत ,सोशल मीडिया प्रभारी मोहित वर्मा, अनुसूचित मोर्चा अध्यक्ष तेलूराम प्रधान, किसान मोर्चा अध्यक्ष नीपेंद्र चौधरी, ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष प्रदीप पाल, राजेश कुंवर ,देवेंद्र चावला, राजन खन्ना, संजय कुमार, रजनीश सहगल आदि उपस्थित रहे। 

लेखक ,चिंतक ,विचारक और पत्रकार भी थे सरदार भगत सिंह

 भारत के सबसे महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी शहीद भगत सिंह ने अपने लेखों में कई तरह से पूंजीपतियों को अपना शत्रु बताया है। उन्होंने लिखा कि किसान-मजदूरों का शोषण करने वाला चाहें एक भारतीय ही क्यों न हो, वह उनका शत्रु है ।

उस समय अंग्रेज सरकार दिल्ली की असेम्बली में ‘पब्लिक सेफ़्टी बिल’ और ‘ट्रेड डिस्प्यूट बिल’ पास करवाने जा रही थी।ये दो बिल ऐसे थे जो भारतीयों पर अंग्रेजों का दबाव और भी बढ़ा देते।फ़ायदा सिर्फ़ अंग्रेजों को ही होना था इससे क्रांति की आवाज़ को दबाना भी काफ़ी हद तक मुमकिन हो जाता।अंग्रेज सरकार इन दो बिलों को पास करवाने की जी-तोड़ कोशिश कर रही थी।वो इसे जल्द से जल्द लागू करना चाहते थे।

उन्हें ऐसा करने से रोकने के लिए भगत सिंह ने असेम्बली में बम फेंकने का बीड़ा उठाया। इस बम विस्फ़ोट का उद्देश्य किसी को भी चोट पहुंचाना नहीं था, भगत सिंह ने तो जान बूझकर उस जगह बम फेंका जहां सबसे कम लोग मौजूद थे।विस्फ़ोट से कोई भी मारा नहीं, बम फोड़ने के बाद भगत सिंह और बटुकेश्वर दत्त वहां से भागे नहीं बल्कि खुद को गिरफ़्तार करवाया।उनका प्लान ही ये था कि बम फेंकने और गिरफ्तार होने के बीच उन्होंने वहां पर्चे बांटे,पर्चे पर लिखा था – “बहरों को सुनाने के लिए बहुत ऊंचे शब्द की आवश्यकता होती है।”

 28 सितंबर, 1907 को अविभाजित भारत में लायलपुर जिले के बंगा में भगत सिंह का जन्म हुआ था।“शहीद भगत सिंह साहसी होने के साथ-साथ विद्वान भी थे, चिंतक थे। अपनी जिंदगी के बारे में परवाह किये बगैर भगत सिंह ने ऐसे पराक्रमिक कार्यों को अंजाम दिया, जिनका देश की आजादी में सबसे बड़ा योगदान रहा।


सरदार भगत सिंह का नाम अमर शहीदों में सबसे प्रमुख रूप में लिया जाता है। उनका पैतृक गांव खट्कड़ कलाँ है जो पंजाब, भारत में है। उनके पिता का नाम सरदार किशन सिंह सन्धू और माता का नाम श्रीमती विद्यावती जी था।

शहीद भगत सिंह हिंदुस्तान देश की महान ताकत है जिन्होंने हमें अपने देश पर मर मिटने की ताकत दी है और देश प्रेम क्या है ये बताया है।


भगत सिंह के चाचा अजीत सिंह और श्‍वान सिंह भारत की आजादी में अपना सहयोग दे रहे थे। ये दोनों करतार सिंह सराभा द्वारा संचालित गदर पाटी के सदस्‍य थे। भगत जी के चाचा जी के नाम 22 केस दर्ज थे। जिस दिन भगतसिंह का जन्म हुआ, उसी दिन उनके पिता सरदार किशनसिंह और चाचा अजीतसिंह की जेल से रिहाई हुई थी। इस पर उनकी दादी जय कौर के मुँह से निकला 'ए मुंडा ते बड़ा भागाँवाला ए' (यह लड़का तो बड़ा सौभाग्‍यशाली है)।

भगत सिंह पर इन दोनों का गहरा प्रभाव पड़ा था। इसलिए ये बचपन से ही अंग्रेजों से घृणा करने लगे थे।


सरदार भगत सिंह के चाचा अजीत सिंह एक ऐसी शख्सियत थे जिन्होंने अपनी पूरी जिंदगी किसानों के हित के लिए ब्रिटिश हुकूमत से लड़ने में गुजार दी,40 साल का हुआ था देश निकाला।उन्होंने ‘पगड़ी संभाल जट्टा’ आंदोलन चलाया था।


भगत सिंह के चाचा अजीतसिंह के बारे में बाल गंगाधर तिलक ने कहा था ये स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपति बनने योग्य हैं । भगत सिंह करतार सिंह सराभा को अपना गुरु मानते थे।

16 नवंबर 1915 को करतार सिंह सराभा को मात्र 19 वर्ष की आयु में फाँसी हुई थी। पर करतार सिंह सराभा की इस क्रांति को शहीद-ऐ-आज़म भगत सिंह ने जीवित रखा।वे करतार सिंह सराभा की तस्वीर हमेशा अपनी जेब में रखते थे।


भगत सिंह पहले महात्‍मा गांधी द्वारा चलाए जा रहे आंदोलन और भारतीय नेशनल कॉन्फ्रेंस के सदस्‍य थे। 1921 में जब चौरा-चौरा हत्‍याकांड के बाद गांधीजी ने किसानों का साथ नहीं दिया तो भगत सिंह पर उसका गहरा प्रभाव पड़ा। उसके बाद गदर दल का हिस्‍सा बन गए।


भगत सिंह क्रांतिकारी देशभक्त ही नहीं बल्कि एक अध्ययनशीरल विचारक, कलम के धनी, दार्शनिक, चिंतक, लेखक, पत्रकार और महान मनुष्य थे। उन्होंने 23 वर्ष की छोटी-सी आयु में फ्रांस, आयरलैंड और रूस की क्रांति का विषद अध्ययन किया था।


1 साल और 350 दिनों में जेल में रहने के बावजूद, भगत सिंह का वजन बढ़ गया था।उन्हें खुशी इस बात की कि अपने देश के लिए कुर्बान होने जा रहे थे,लेकिन जब इन्हें फांसी देना तय किया गया था, जेल के सारे कैदी रो रहे थे।इसी दिन भगत सिंह के साथ ही राजगुरु और सुखदेव की फांसी भी तय थी,पूरे देश में प्रदर्शन हो रहे थे,लाहौर में भारी भीड़ इकठ्ठा होने लगी थी।अंग्रेजों को इस बात का अंदेशा हो गया कि कहीं कुछ बवाल न हो जाए,इस कारण उन्हें तय दिन से एक दिन पहले ही फांसी पर लटका दिया। भारत मां के वीर सपूत सरदार भगत सिंह को शत शत नमन




श्री महंत नरेंद्र गिरी की मौत की जांच करने सीबीआई पहुंची हरिद्वार





हरिद्वार 29 सितंबर (सुदीप बनर्जी संवाददाता गोविंद कृपा श्यामपुर कांगड़ी )अखिल भारतीय अखाडा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी की मौत के बाद मामले की जांच कर रही सीबीआई टीम आरोपी आनंद गिरी को लेकर हरिद्वार से लगे श्यामपुर क्षेत्र में उसके निर्माणाधीन आश्रम तक ले गई जहां पर पुलिस मौत से संबंधित साक्ष्यो को इकट्ठा करने में लगी हुई है वैसे यहां यह भी बताते चलें कि चले की आनंद गिरी के इसी ही निर्माणाधीन आश्रम में जिसे हरिद्वार विकास प्राधिकरण ने सील कर दिया था कल रात चोरी भी हो गई थी यह तो पुलिस ही बताएगी के चोर के पास से क्या मिला वैसे यह भी संदेह होना लाजमी है की आनंद गिरी के आश्रम में पहुंचने से पहले ही कहीं सबूतों के साथ छेड़छाड़ और चोरी कर उन्हें गायब करने का प्रयास तो नहीं किया गया है यूपी के प्रयागराज से सीबीआई टीम आनंद गिरी के लेकर जॉलीग्राट हवाई अड्डे पर उतरी। जिसके बाद वहां से सुरक्षा के बीच देर शाम सीधे गाजीवाला श्यामपुर स्थित आश्रम पहुंची। ज्ञात हो कि प्रयागराज स्थित बागंबरी मठ में महंत नरेन्द्र गिरी का शव पंखे से लटका मिला था। उनके गले में रस्सी बंधी थी और एक सूसाइड नोट भी पुलिस को मिला था जिसमें उन्होंने अपनी मौत का कारण अपने शिष्य आनंद गिरी द्वारा ब्लैकमेलिंग लिखा था। घटना के बाद आनंद गिरी को पुलिस ने श्यामपुर स्थित आश्रम से गिरफ्तार किया था और अपने साथ यूपी ले गई थी।अब  पुणे इस मामले की जांच सीबीआई के पास पहुंचने के बाद सीबीआई आनंद गिरी से उनके लैपटॉप, मोबाइल आदि की जानकारी ले रही जिसके बाद मामले की गुत्थी सुलझने में मदद मिलेगी। सीबीआई टीम अश्लील वीडियो की जानकारी लेना चाहती है जिसका जिक्र महंत नरेन्द्र गिरी ने अपने सुसाइड नोट में किया था। टीम ने आनंद गिरी से आश्रम में पूछताछ की और जानकारी ली। वैसे श्री महंत नरेंद्र गिरी की हत्या या आत्महत्या का मामला उलझने के साथ विवादित भी होता जा रहा है जहां उन पर करोड़ों रुपए की देनदारी की बातें भी सामने आ रही है वही उनकी गद्दी पर कौन बैठेगा यह भी अभी यक्ष प्रश्न है


भगवानपुर विधानसभा में सुबोध राकेश के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं ने जेपी नड्डा के साथ किया वर्चुअल संवाद



*भाजपा ही एक ऐसी पार्टी जिसका छोटा सा कार्यकर्ता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकता है: जेपी नड्डा, भगवानपुर सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल में पूर्व राज्य मंत्री उत्तराखंड सरकार सुबोध राकेश एवं कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के संबोधन को सुना*


भगवानपुर 29 सितंबर (कमल वर्मा नामदेव संवाददाता गोविंद कृपा भगवानपुर (



भगवानपुर नगर पंचायत सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल  में पूर्व राज्य मंत्री उत्तराखंड सरकार सुबोध राकेश एवं भारतीय जनता पार्टी के शक्ति केंद्र संयोजकों और प्रभारियों की वर्चुअल बैठक हुई। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शक्ति केंद्र संयोजक एवं प्रभारियों का मार्गदर्शन किया। राष्ट्रीय अध्यक्ष से पूर्व मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष ने भी पदाधिकारियों को संबोधित किया। जेपी नडडा ने कहा कि भाजपा ही एक ऐसी पार्टी जिसका छोटा सा कार्यकर्ता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकता है। भाजपा ने राज्य में विधान सभा चुनाव को लेकर तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में भारतीय जनता पार्टी ने संगठन स्तर पर चुनाव की तैयारी को शुरू कर दिया है। बुधवार को भाजपा ने राज्य के शक्तिकेंद्र संयोजकों एवं प्रभारियों की वर्चुअल बैठक की।राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि वह भाजपा में एक समय बूथ स्तर के कार्यकर्ता थे। लेकिन आज वह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। कहा कि भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जिसमें बूथ कार्यकर्ता अपनी मेहनत और लगन से पार्टी के सर्वोच्च पद तक जा सकता है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि जितनी घोषणाएं सरकार ने की वह सभी घोषणाएं सरकार पूरा करेगी। उन्होंने कहा कि यदि जिले स्तर पर होने वाला काम सचिवालय स्तर तक पहुंचता तो ऐसे अधिकारी को बख्शा नहीं जाएगा। इस मौके पर प्रभारी डॉक्टर राजेश सैनी,अनिल प्रधान, धर्मपाल प्रधान जी,पूर्व मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र सैनी,सुरेंद्र वर्मा, राकेश कुमार,संदीप रघुवंशी, संदीप सैनी,शाकिर अली,अशोक कश्यप,जगदीश सैनी,ओमपाल सिंह राणा,सुमित सैनी,मांगेराम सिंह,और समस्त कार्यकर्ता उपस्थित रहे

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने पोषण आहार यात्रा रथ को किया रवाना

 हरिद्वार 29 सितंबर (गोपाल रावत वरिष्ठ पत्रकार  )राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत बुद्ध वार  को बंधन पैलेस, ज्वालापुर, हरिद्वार में आयोजित कार्यक्रम में  कैबिनेट मंत्री श्रीमती रेखा आर्या  द्वारा पोषण यात्रा का शुभारंभ करते हुए कुमांऊ एवं गढ़वाल मंडल हेतु पोषण रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

उत्तराखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य



ने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि 01 से 30 सितंबर तक आयोजित होने वाले पोषण माह में आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से गर्भवती व धात्री महिलाओं की देखभाल एवं बच्चों के उचित लालन-पालन हेतु परामर्श दिया जा रहा है, देश को कुपोषण मुक्त रखने हेतु हमारा प्रयास हैं कि माँ बनने वाली गर्भवती महिलाओं की सही देखभाल के साथ ही सही पोषण दिया जाए, जिससे वह स्वास्थ बच्चे को जन्म दे। इसके लिए आवश्यक है कि अधिक से अधिक गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों का आंगनवाडी केन्द्रों पर पंजीकरण हो , जिसमें उन्हें पोषाहार के साथ ही समस्त विभागीय योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सकें।

राज्य के आंगनवाड़ी केंद्र कुपोषण को दूर करने में सक्षम है, जिनमें गर्भवती महिलाओं, धात्री महिलाओं बच्चों के लिए टेक होम राशन, आँचल अमृत योजना, बाल पालाश योजना, ऊर्जा आदि योजना संचालित है। इसके अतिरिक्त गर्भवती व धात्री महिलाओं के लिए जल्द ही एक नई योजना मुख्यमंत्री महिला पोषण योजना शुरू होने वाली हैं। मंत्री जी ने कार्यक्रम के दौरान महिलाओं एवं बच्चों को पोषण किट तथा नवजात बलिकाओं को महालक्ष्मी किट वितरित की।

इस मौके पर उपनिदेशक डा0 एस0 के0 सिंह, डीपीओ देव सिंह अन्य अधिकारी व पार्टी पदाधिकारीगण आदि उपस्थित रहे।

प्रादेशिक लोक सम्पर्क ब्यूरो ने डाकपत्थर के शिशु विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में किया आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन

 प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरो ने शिशु विद्या मंदिर इंटर कॉलेज डाकपत्थर में किया आजादी का अमृत महोत्सव का आयोजन 


डाकपत्थर /विकास नगर 29 सितंबर भारत सरकार के सूचना प्रसारण मंत्रालय की शाखा रीजनल आउटरीच ब्यूरो देहरादून ने आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत डाकपत्थर के शिशु विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में राष्ट्रीय पोषण मिशन, डेंगू से बचाव ,मुफ्त वैक्सीन ,जैसे विषयों पर गोष्ठी का आयोजन किया तथा स्कूल के बच्चों को आजादी के अमृत महोत्सव के विषय में गीत संगीत नाटक चित्रकला आदि के माध्यम से जानकारी दी लोक संपर्क विभाग देहरादून के क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी एनएस नयाल के संयोजन में इस कार्यक्रम में इस कार्यक्रम में धूमसू




.सांस्कृतिक मंच विकास नगर ने नृत्य नाटिका जौनसारी गीतों के माध्यम से छात्र छात्राओं को डेंगू से बचाव मुफ्त वैक्सीन प्रधानमंत्री मुफ्त अनाज योजना एवं बच्चों से संबंधित विषयों पर जानकारी दी कार्यक्रम के मुख्य अतिथि चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अमित कुमार अग्रवाल ,ग्राम प्रधान मंजू मोगा विद्यालय के प्रधानाचार्य शर्मिला राणा एवं शिक्षकों ने इस आयोजन में अपना सहयोग प्रदान किया प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरों  के क्षेत्रीय अधिकारी एनएस नयाल ने  विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले विजेता बच्चों को पुरस्कृत किया साथ ही अतिथियों एवं शिक्षकों का भी सम्मान शॉल उड़ाकर किया।

. जेपी नड्डा ने दिए भाजपा कार्यकर्ताओं को टिप्स




भाजपा में कार्यकर्ता है जीत का आधार : जेपी नड्डा


देहरादून, 29 सितंबर । भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नडढा ने कहा कि  भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है और वही पार्टी की जीत को सुनिश्चित करते हैं। पार्टी को अपने वायदो पर खरा उतरने के कारण ही जनता का आशिर्वाद मिलता रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने वर्चुअल रूप से बुधवार को आयोजित शक्ति केन्द्र संयोजकों, प्रभारियों तथा वरिष्ठ पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि कोरोना की लड़ाई में जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं ने अदभुद योगदान दिया है। 

  राष्ट्रीय अध्यक्ष के उध्बोधन को आईआरडीटी ऑडिटोरियम सर्वे चौक सहित पूरे प्रदेश में सभी 70 विधानसभाओं में वर्चुवली पदाधिकारियों तथा कार्यकर्ताओं द्वारा सुना गया। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता ही हमारे चुनाव जीतने का शस्त्र है। भारतीय जनता पार्टी देश की एकमात्र पार्टी है जो नेताओं के आधार पर नहीं वरन कार्यकर्ताओ के आधार पर चुनाव लड़ती है और जीतती है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने 2014, 2017 व 2019 के चुनावों में प्रदेश की जनता ने पारदर्शिता, सूशासन और सेवा के आधार पर पार्टी को मौका दिया। उन्होंने कहा पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी 2022 में जनता के आशीर्वाद से  पुन: प्रचंड बहुमत से सत्ता में आएगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा कोरोनाकाल में जनकल्याण के निर्णय लिए गए वंही कोविड को हराने के लिए ऑक्सीजन,कोविड उपकरण व टीकाकरण किया गया। दुनिया मे सबसे तेज गति का वेक्सीनेशन अभियान भारत मे चला जिस पर विपक्ष द्वारा जनता को गुमराह करने का प्रयास किया गया, लेकिन जनता ने उनकी बातों में न आकर रिकार्ड वेक्सीनेशन करवाया व आने वाले समय मे हम शत-प्रतिशत वेक्सीनेशन को पूर्ण कर लेंगे। उन्होंने कहा कि मोदी जी के जन्मदिन पर ढाई करोड़ वेक्सीन लगाई गई जो कि एक रिकॉर्ड है। देश मे मोदी जी व उत्तराखंड में धामी जी के नेतृत्व में डबल इंजन की सरकार विकास के नए आयाम स्थापित करेगी। विकास के आयामों को छूते हुए आलवेदर रोड बनने से उत्तराखंड पर्यटन में नई ऊंचाइयों को छुएगा। ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। विभिन्न योजनाएं संचालित हो रही है, सिटी गैस के तहत हरिद्वार देहरादून को पाइप लाइन से गैस मिलने वाली है। 

उन्होंने अंत्योदय योजना की भी चर्चा करते हुए कहा कि उत्तराखंड में 27 लाख जन-धन खाते खुलवाए गये है,वंही उजाला योजना में 56 लाख एलईडी बल्ब वितरित किये गये है।आयुष्मान भारत योजना में उत्तराखंड के लोगों को लाभ दिया जा रहा है। किसान सम्मान निधि के तहत उत्तराखंड के किसानों को 6 हजार रुपये प्रतिवर्ष मिल रहा है। 

किसानों के संदर्भ में चर्चा करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नड्डा ने कहा कि कांग्रेस किसानो को गुमराह करने का कार्य कर रही है, लेकिन उनके द्वारा यूपीए के 10 साल के कार्यकाल में किसानों के लिए कोई कार्य नही किया गया। हमारी सरकार ने एमएसपी में बढ़ोत्तरी कर किसानों को राहत दी है। मुख्यमंत्री रोजगार योजना से राज्य में 3 लाख लोग लाभान्वित हो रहे है। उत्तराखंड में पर्यटन की अपार संम्भावनाएं है,उत्तराखंड में फ़िल्म उधोग को बढ़ावा देने के लिए पॉलिसी बनाई गयी है। उत्तराखंड का निर्माण भी अटल सरकार में भाजपा ने ही किया है और राज्य को संवारने का कार्य  नरेंद्र मोदी सरकार कर रही है। सभी कार्यो पर चर्चा संम्भव नही है लेकिन डबल इंजन की सरकार ने इतना कार्य किया है जितना पहले कभी नही हुआ है। 

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कांग्रेस को चुनौती देते हुए कहा कि कांग्रेस अपनी सरकारों द्वारा किये गए कार्यो का हिसाब दें। हमारा एक-एक बूथ का कार्यकर्ता उनसे चर्चा करने के लिए तैयार है। इसके कारण हमारे द्वारा किए गए कार्य हैं।  भाजपा जनकल्याण की पार्टी है और सबका साथ सबका विकास व सबका विश्वास हमारा मूल मंत्र है। उन्होंने पदाधिकारियों से बूथ संरचना,शक्ति केंद्र प्रमुख आदि की समय-समय पर बैठक लेकर समीक्षा को कहा। क्योंकि 100 दिन के बाद तो चुनाव कैम्पेन शुरू हो जाएगा।  

      इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक ने कहा कि रामनगर की चिंतन शिविर में जो 2022 के  जीत के लिए नक्शा तैयार किया गया उस पर हमारे बूथ से लेकर प्रदेश तक सक्रिय होकर काम कर रहे हैं।  हमारे यहां मीडिया की कार्यशाला संपन्न हो चुकी है और हाल में राष्ट्रीय महिला मोर्चा की सफल कार्यसमिति संपन्न हुई है। हमारे यहां सभी बूथ समितियों का सत्यापन हो गया है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री निरंतर जनहित के लिए निर्णय ले रहे हैं और उनके नेतृत्व में उत्तराखंड विकास के नए आयाम गड रहा है। उन्होने कहा कि  2364 शक्ति केंद्र हैं यह सभी शक्ति केंद्र चुनाव का आधार है। अभी कुछ दिनों पहले ही बूथ पर हमारा हर पदाधिकारी और नेता प्रवास करके आया और आने वाले कार्यक्रमों को उनके साथ साझा किया। 

        इस मौके पर मुख्यमंत्री श्री  पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष का मार्गदर्शन हम सभी के लिए जनहित के कार्य करने के लिए प्रेरणा देता है।  उन्होंने कहा की उत्तराखंड सरकार जनहित के कार्यों को मध्य नजर रखते हुए कार्य कर रही है। करोना महामारी के कारण बहुत से छोटे-छोटे ऐसे व्यवसाय थे जिनकी आजीविका पर गहरा असर पड़ा। जिनमें प्रमुख रूप से पर्यटन, भेड़ पालन, बकरी पालन अन्य सभी तरह के व्यवसाय थे, उनके लिए हमारी सरकार ने 119 करोड़ का राहत पैकेज दिया। हमने एक सहयोगी के रूप में उनका साथ दिया। उन्होंने रोजगार पर सभी का ध्यान केंद्रित करते हुए कहा कि हमने रोजगार देने के लिए सभी स्तर पर सार्थक प्रयास किए हैं और यह निरंतर जारी रहेगा। स्वरोजगार के माध्यम से भी हमने रोजगार देने का बीड़ा उठाया है और अच्छी पहल साबित हो रही है। हमारी सरकार में ऋण लेना बहुत आसान हुआ है हमने आते ही सरलीकरण का मंत्र दिया था और वह आज लोगों की जुबान पर सुनाई भी दे रहा है। हमने अधिकारियों को शक्ति से निर्देश दिए हैं अपने स्तर पर हर कार्य की तुरंत सुनवाई करो।   इसी का नतीजा है कि आज उत्तराखंड में विकास के नए आयाम गढ़े जा रहे हैं 


     इस अवसर पर भाजपा प्रदेश  महामंत्री संगठन श्री अजेय ने कहा कि कोई भी चुनाव संगठन के आधार पर जीता जाता है और भाजपा के पास आज सबसे मजबूत संगठन है। उन्होंने कहा कि हमने विधानसभा प्रभारी व विधानसभा विस्तारक बना दिए हैं और साथ ही 2022 चुनाव के लिए चुनाव प्रबंधन समिति भी बना दी गई है। उन्होंने इस अवसर पर दो नारे दिये "मेरा घर भाजपा का घर" "मेरा परिवार भाजपा का परिवार" इसी धेय के साथ 2022 चुनाव में भाजपा प्रचंड जीत उत्तराखंड में हासिल करेगी। उन्होंने कहा सभी कार्यकर्ताओं का सभी के अनुरूप समावेश और उनकी रूचि के अनुसार उनको कार्य दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि गढ़वाल और कुमाऊं में बहुत बड़े स्तर पर पन्ना प्रमुखों का सम्मेलन किया जाएगा। 

 कार्यक्रम में राष्ट्रीय महामंत्री उत्तराखण्ड प्रभारी श्री दुष्यंत कुमार गौतम ने भी कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन करते हुए 2022 चुनाव में जुटने के लिए कहा। कार्यक्रम का संचालन प्रदेश महामंत्री श्री कुलदीप कुमार  ने किया। 

इस अवसर पर लोकसभा सांसद चुनाव प्रबंधन समिति के सयोंजक श्री अजय टम्टा, प्रदेश सरकार में मंत्री श्रीमती रेखा आर्य, महिला मोर्चा की राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमती दीप्ति रावत, मेयर सुनील उनियाल कौस्तुबा नंद जोशी प्रदेश मीडिया प्रभारी श्री मनवीर सिंह चौहान, प्रदेश सोशल मीडिया प्रभारी श्री शेखर वर्मा, प्रदेश आईटी संयोजक श्री हिमांशु, अजीत नेगी, प्रदेश आईटी सह संयोजक श्री प्रवीण लेखवार, भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी  उपस्थित रहे ।

रोटरी क्लब कनखल में आयोजित किया डायबिटीज चेकअप तथा वैक्सीनेशन कैंप


 डायबिटीज से बचाव के लिए अपनाएं संतुलित दिनचर्या-डा.विशाल गर्ग

हरिद्वार, 29 सितंबर। (


वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )रोटरी क्लब कनखल द्वारा डायबिटीज चेकअप व वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया गया। मध्य हरिद्वार स्थित विवेक विहार कालोनी में डा.विशाल गर्ग के संयोजन में आयोजित कैंप में केयर कालेज आफ नर्सिग के चिकित्सकों की टीम ने मरीजों की जांच कर परामर्श दिया व दवाएं वितरित की। डा.विशाल गर्ग कहा कि डायबिटीज एक गंभीर बीमारी का रूप ले चुकी है। डायबिटीज से प्रभावित मरीजों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। डायबिटीज से बचाव के लिए दिनचर्या में परिवर्तन करें। नियमित रूप से व्यायाम करने के साथ खानपान की आदतों मे सुधार करें। डा.विशाल गर्ग ने कहा कि डायबिटीज रोगियों को समय समय पर विशेषज्ञ चिक्तिसकों से सलाह लेनी चाहिए। क्लब के  अध्यक्ष चेतन घई व सचिव हरपाल सिंह ने कहा कि रोटरी क्लब कनखल लगातार सेवा के कार्यो में अपना योगदान देता चला आ रहा है। चिकित्सा शिविर के आयोजनों से काफी संख्या में लोगों को एक ही जगह पर स्वास्थ्य जांच का लाभ मिल जाता है। अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहना चाहिए। डा.विशाल गर्ग के संयोजन में लगातार वैक्सीनेशन के शिविर भी आयोजित किए जा रहे हैं। मधुसूदन अग्रवाल ने कहा कि चिकित्सा शिविर कैंप अधिक से अधिक लगाए जाने चाहिए। लोगों को डायबिटीज बीमारी के प्रति जागरूक रहने की आवश्यकता है। केयर कालेज आफ नर्सिंग से अकोना, रॉली, उपासना, दिग्विजय एवं वैक्सीन टीकाकरण करने वालों में पूजा बिष्ट ने सहयोग प्रदान किया। कैंप में सहयोग करने वालों में नरेश रानी गर्ग, आशीष सप्रा, अभिषेक अरोड़ा, अनिल केशवानी, राजीव अरोड़ा प्रदीप तोमर, मोहित अग्रवाल, आयुष अग्रवाल, मधुसूदन अग्रवाल, ब्रह्मप्रकाश कर्णवाल, शिवम बंधु, संदीप खन्ना, कमल अग्रवाल आदि शामिल रहे।

दूसरे स्मार्ट वेंडिंग जोन के निर्माण की प्रक्रिया भगत सिंह चौक से लेकर सेक्टर 2तक हुई प्रारंभ

 *हरिद्वार 29 (रजत अरोड़ा संवाददाता गोविंद कृपा ज्वालापुर )रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों को प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर योजना, रेडी पटरी राष्ट्रीय आजीविका मिशन, उत्तराखंड नगरीय फेरी नीति नियमावली को क्रियान्वित करते हुए नगर निगम प्रशासन द्वारा दूसरा स्मार्ट वेंडिंग जोन भगत सिंह चौक से सेक्टर- टू बेरियल तक 200 रेडी पटरी के स्ट्रीट वेंडर्स की क्षमता का स्मार्ट वेंडिंग जोन में रेडी पटरी के लघु व्यापारियों को समाहित करने के उद्देश्यों की पूर्ति के लिए सर्वे पंजीकरण का तीन दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया। लघु व्यापार एसो. के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा के सहयोग से प्रथम दिन लगभग 60 से 65 रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों का सर्वे व पंजीकरण किरण सॉफ्टवेयर सॉल्यूशन्स कंपनी द्वारा किया जा रहा है।


इस अवसर पर स्थानीय पार्षद अनुज सिंह चौधरी ने कहा भगत सिंह चौक से सेक्टर- टू बैरियल तक विकसित किए जा रहे हैं वेंडिंग जोन में स्थानीय रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों को प्राथमिकता के आधार पर व्यवस्थित व स्थापित किये जाने से नई व्यवस्था  का जन्म होगा और अब लघु व्यापारियों को पुलिसिया उत्पीड़न व शोषण से निजात मिलेगी,  रेडी पटरी के सभी लघु व्यापारी अपने परिवार का पालन पोषण जीविका का संचालन निर्विघ्न रुप से संचालित करते रहेंगे।


इस अवसर पर नगर निगम में उप नेता प्रतिपक्ष राजेश शर्मा ने कहा राज्य सरकार के संरक्षण में नगर निगम प्रशासन द्वारा शहरी समृद्धि के तहत स्वरोज़गार के संसाधनों के साथ सभी रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) लघु व्यापारियों को वेंडिंग जोन, हॉकिंग जोन के रूप में व्यवस्थित व स्थापित किए जाने की मांग वर्षो से उठ रही थी जिस पर सभी जनप्रतिनिधि पार्षदों ने एक मत बना कर धर्मनगरी के विकास के लिए जो कदम उठाया गया है वह आने वाले दिनों में एक ऐतिहासिक कार्य होगा, जिसमें सभी रेडी पटरी के स्ट्रीट वेंडर्स सम्मानजनक स्थिति में अपना कारोबार कर सकेंगे।


इस अवसर पर लघु व्यापार एसो. के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने राज्य सरकार में नगर निगम प्रशासन का आभार प्रकट करते हुए कहा यह दूसरा स्मार्ट वेंडिंग जोन का कार्य प्रारंभ होने के उपरांत रेडी पटरी के लघु व्यापारियों का एक विश्वास शासन व प्रशासन के साथ जुड़ा है रेडी पटरी के लघु व्यापारियों में आशा की किरण  उत्पन्न होकर लघु व्यापारियों में नई रक्त ऊर्जा का संचार हो रहा है। उन्होंने कहा कि इसके उपरांत तीसरा स्मार्ट वेंडिंग जोन पुल जटवाड़ा के निकट  मूलभूत सुविधाओं के साथ विकसित किए जाने की कार्रवाई प्रचलन में है।


तीन दिवसीय दूसरे स्मार्ट वेंडिंग जोन के पंजीकरण, सर्वे शिविर के आयोजन में सम्मलित हुए नगर निगम प्रशासन की और से कर अधीक्षक सुनीता सक्सेना, लिपिक वेदपाल सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता ओमकार जैन, किरण सॉफ्टवेयर के उप प्रबंधक शैलेंद्र पांडेय, गोविंद सिंह, मनोज मंडल, राजेंद्र पाल, यामीन अंसारी, चुन्नू चौधरी, मुकेश दीवान, अमित कुमार, नेपाल सिंह, आजम अंसारी, सुरेश कुमार, अनूप सिंह, ललित कुमार, रवि अरोड़ा, देवेंद्र पाल, नम्रता सरकार आदि प्रमुख रूप से शामिल हुए।



. उत्तराखंड भाजपा ने की चुनाव प्रबंधन समिति की घोषणा


भाजपा ने की चुनाव प्रबन्धन समिति के विभागों की घोषणा


देहरादून 28 सितंबर, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जेपी नड्डा , प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक व प्रदेश महामंत्री संग़ठन के निर्देशानुसार आगामी 2022  विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रबंधन समिति के विभागों की घोषणा की गई है। 

   प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने जानकारी देते हुए बताया कि 2022  चुनाव को लेकर भाजपा  तैयारियों में जुट गई है। इसके अन्तर्गत प्रबंधन समिति के 33 अलग अलग विभागों में पदाधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। जिसमें तीरथ सिंह रावत अजय टम्टा बलराज पासी अनिल बलूनी सुशील त्यागी श्यामवीर सैनी


आदि को दी गई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी

नृत्यांगना रूपा रविंद्रन ने परमार्थ घाट पर प्रस्तुत किया कथक नृत्य




🛑 *नृत्यांगना रूपा रवींद्रन पहुंची परमार्थ निकेतन*


🟢 *पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज से लिये आशीर्वाद*


💫 *परमार्थ गंगा तट पर कथक नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति*


💥 *नृत्य साधना अर्थात् आत्मिक सौंदर्य से साक्षात्कार- पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज*


*ऋषिकेशए 28 सितम्बर  (अमरीश दुबे संवाददाता गोविंद कृपा ऋषिकेश )परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज से सुश्री रूपा रवींद्रन; नृत्यंगनाए एक्ट्रेसए कोरियोग्राफरए फाउंडर और डायरेक्टर अर्थ एलिमेंट्स ऑफ आर्ट एंड हेरिटेज एकेडमीए डिग्री कॉलेज ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट्सए बैंगलोरद्ध ने भेंट कर आशीर्वाद लिया।

परमार्थ निकेतन गंगा तट पर सुश्री रूपा रवींद्रन ने कथक नृत्य की प्रस्तुति माँ गंगा जी को समर्पित कीए जिसे देखकर उपस्थित सभी श्रद्धालुओं मंत्रमुग्ध हो गये।

पूज्य स्वामी जी ने आज भारत रत्न से सम्मानित सुप्रसिद्ध गायिका लता मंगेशकर को आज उनके 93वें जन्मदिन पर शुभकामनायें देते हुये कहा कि आप स्वस्थ रहेंए मस्त रहेंए आप दीर्घायु होंए दिव्यायु हों। आपने संगीत के क्षेत्र में अद्भुत योगदान दिया आने वाली पीढ़ियाँ आपको सदियों तक याद रखेगी।

पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने कहा कि आज का युवा प्रतिभासंपन्न हैए जरूरत है तो उन्हें एक मंच प्रदान करने कीए जहां पर वे अपने आप को साबित कर सकें।  उन्होंने कहा कि भारत एक विविध संस्कृति वाला राष्ट्र है और भारतीय संस्कृति व जीवनशैली में विविध संस्कृतियों और कलाओं का समन्वय है। हमारी सभ्यता और संस्कृति की विशालता और महत्ता इसलिये भी है क्योंकि हम वसुधैव कुटुंबकम की पवित्र भावना में विश्वास करते हैं।

पूज्य स्वामी जी ने कहा कि हमारी गौरवशाली संस्कृति हमारे  देश और देशवासियों की आत्मा में समाहित हैए हमारी संस्कृति से ही हमारे श्रेष्ठ संस्कारों का बोध होता है जिनके आधार पर हम अपने आदर्शों और मूल्यों को निर्धारण करते है। हमारी दिव्य संस्कृति में कलाए विज्ञानए संगीतए नृत्य और मानव जीवन की उच्चतम उपलब्धियाँ सम्मिलित है। भारतीय संस्कृति समस्त मानव जाति का कल्याण चाहती है। भारतीय संस्कृति में  प्राचीन गौरवशाली संस्कारों एवं परंपराओं के साथ ही नवीनता का समावेश भी दिखाई देता है। भारतीय संस्कृति विभिन्न सांस्कृतिक धाराओं का महासंगम है। आज हम उसे जाग्रत रूप में प्यारी रूपा रवींद्रन के कथक नृत्य के माध्यम से देख रहे हैं।

भारतीय संस्कृति में मानव और प्रकृति का भी अद्भुत समन्वय है। हमारी संस्कृति मानवए प्रकृति और पर्यावरण के अटूट संबंधों पर आधारित है। भारतीय उपनिषदों में ईशावास्यमिइंद सर्वम् अर्थात् जगत् के कण-कण में ईश्वर की व्याप्तता को स्वीकार किया गया है इसलिये जीवन की सभी साधनायें  कण-कण में व्याप्त ईश्वर को समर्पित है और नृत्य साधना तो हमें अपने आत्मिक सौंदर्य से परिचित कराती हैं। इस अवसर पर पूज्य स्वामी जी ने प्रकृति और पर्यावरण संरक्षण का संकल्प कराया।

देहरादून में आप के कार्यकर्ताओं ने ली भाजपा की सदस्यता

 देश विरोधियों को आगे बढ़ाती रही है कांग्रेस: दुष्यंत


देहरादून 28 सितंबर, (


जेके रस्तोगी संवाददाता गोविंद कृपा देहरादून) भाजपा के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम ने कहा कि कांग्रेस हमेशा से ही देश के विरोधियों को आगे बढ़ाने का कार्य करती रही है और पंजाब के घटनाक्रम को इस तौर पर देखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू की छवि इस तरह की रही है और कांग्रेस इसका फायदा उठाना चाहती थी और खुद कांग्रेस के सोनिया गाँधी,राहुल गाँधी और प्रियंका सिद्धू की पक्षधर रही है,लेकिन जनता के आगे किसी की नहीं चलती और यही हुआ है। उन्होंने कहा कि पंजाब के पूर्व  मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह सैन्य पृष्ठभूमि के है और सीमावर्ती राज्य के सीएम होने से हर समस्या से अवगत हैं। सिद्धू तमाम तरह के विरोध के बावजूद पाकिस्तान गये और यह सब साजिश का हिस्सा था। उन्होंने कहा कि यह समय राष्ट्रवादी लोगों का राष्ट्र विरोधियो के खिलाफ खड़े होने का है और उन परिस्थितियों में जब हमारी सीमाओ पर भारत के दुश्मन नजरें गढाये खड़े है तो देश की मजबूती के लिए सतर्क और खड़े होने की जरुरत है।

आम आदमी पार्टी छोड़कर 75 लोगों ने ली भाजपा की सदस्यता



सैकड़ो आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने 'आप' को छोड़ भाजपा मुख्यालय में  भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली।

 यह कार्यकर्ता हरिद्वार और ऋषिकेश जिले से हैं। प्रदेश भाजपा कार्यालय में उत्तराखण्ड प्रभारी श्री दुष्यंत कुमार गौतम, प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक, महामंत्री (संगठन) श्री अजेय एवं प्रदेश महामंत्री श्री कुलदीप कुमार की उपस्थिति में आम आदमी पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने बीजेपी का दामन थामा।

       इस मौके पर श्री दुष्यंत कुमार गौतम ने कहा कि आम आदमी पार्टी से जो लोग भाजपा में आए हैं वो हमारे परिवार के सदस्य और उनका सम्मान पार्टी में सुरक्षित रहेगा। उनके पार्टी में शामिल होने से भाजपा प्रत्याशियों  की जीत का अंतर बढ़ेगा।


     प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने ने कहा कि जो आज आम आदमी पार्टी के गठन से आम आदमी पार्टी को सेवा देरहे पदाधिकारी व कार्यकर्ता अब प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की और उत्तराखंड में भाजपा सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित होकर आज भाजपा का दामन थाम रहे हैं उनका फैसला सुखद और प्रदेश हित में है।  उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य की योजनाओं को गरीबों तक पहुंचाने में प्रयास करेंगे ऐसी उन सभी से अपेक्षा है।

भाजपा की सदस्यता लेने वालों में मुख्य रूप से आप के प्रदेश संयुक्त सचिव मनोज द्विवेदी, मीडिया प्रभारी हरिद्वार नवीन सिंघल, विधानसभा प्रभारी हरिद्वार संजीव तोमर, अरविंद मिश्रा, आदित्य मिश्रा, पंकज अवस्थी, राजीव तिवारी, विपुल कुमार, सूरज कुमार, राजेंद्र सती, बृजेश शर्मा, देवेश वशिष्ठ, देवेंद्र शर्मा, अनिल शर्मा, दीपक कौशिक, राजेश गौतम, गोविंद शर्मा, रामवीर सिंह, हरिओम त्यागी, सूरज मिश्रा,  अर्जुन नेगी, यश मिश्रा, राजीव महेश्वरी, विकास सतपाल, धर्मराज, दयानंद गौतम, रेखा सहित 75 लोगों ने  आप छोड़कर  भाजपा में शामिल हुए ।

हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा में पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का हुआ भव्य स्वागत

हरिद्वार /शाहपुर 28 सितंबर (दिनेश कश्यप संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ग्रामीण )हरिद्वार ग्रामीण क्षेत्र के ग्राम शाहपुर शीतलाखेड़ा के निकट रूबराज पैलेस में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत स्वयंसहाय।ता समूह का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें माननीय मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी जी का भाजपा कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कार्यक्रम में  स्वयंसहायता समूहों को कुल 84 करोड़ रुपये से अधिक की सहायता राशि देने की घोषणा की और इससे सम्बन्धित चेक भी वितरित किये। कोरोना काल में समूहों द्वारा बैंकों से लिए गए कर्ज का ब्याज (24 करोड़ रुपये से अधिक) सरकार दे रही है। साथ ही, प्रत्येक समूह को छह महीने तक दो हज़ार रुपये कुल दो किश्तों में दिए जा रहे हैं और प्रत्येक क्लस्टर को पाँच लाख रुपये की एकमुश्त सहायता राशि भी चेक के माध्यम से बाँटी जा रही है ताकि ग्रामीण स्तर पर पूँजी निर्माण का यह मिशन कोरोना काल में हुई आर्थिक हानि का सामना कर सकें और हमारी माताएं बहनें गाँव की आर्थिक तरक्की में बढ़ चढ़ कर भागेदारी करती रहें। समारोह में पहुंचे मुख्यमंत्री का स्वागत विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन, सुरेश राठोर , संजय संजय ,गुप्ता प्रदीप बत्रा ,देशराज  कर्णवाल, भाजपा जिला अध्यक्ष डॉक्टर जयपाल सिंह जिला भाजपा के पदाधिकारियों एवं मोड़ चुके अध्यक्षों सहित भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया जिए कैबिनेट मंत्री एवं हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा के विधायक स्वामी यतिश्वरानंद मुख्यमंत्री एवं कार्यक्रम को सफल बनाने वाले कार्यकर्ताओं के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।







महामंडलेश्वर स्वामी शांतानंद शास्त्री जी महाराज को संत समाज ने किया स्मरण

 सनातन संस्कृति के सच्चे संवाहक थे स्वामी शांतानन्द शास्त्री : हरिचेतनानन्द महाराज 

स्वामी योगेन्द्रानन्द शास्त्री के संयोजन व म.मं. स्वामी अनन्तानन्द महाराज की अध्यक्षता में श्री जगदीश आश्रम में आयोजित हुआ पंचम पुण्यतिथि समारोह  

हरिद्वार, 28 सितम्बर( वीरेंद्र शर्मा संवादाता गोविंद कृपा  हरिद्वार )




उत्तरी हरिद्वार की प्रख्यात धार्मिक संस्था श्री जगदीश आश्रम में ब्रह्मलीन स्वामी शांतानंद शास्त्री महाराज की पंचम पुण्यतिथि गरिमामयी रूप से सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए स्वामी योगेन्द्रानन्द शास्त्री के संयोजन व म.मं. स्वामी अनन्तानन्द महाराज की अध्यक्षता में समारोहपूर्वक आयोजित की गयी।

श्रद्धाजंलि समारोह को संबोधित करते हुए म.मं. स्वामी हरिचेतनान्द जी महाराज ने कहा कि ब्रह्मलीन स्वामी शांतानन्द शास्त्री जी महाराज सनातन संस्कृति के सच्चे संवाहक थे। उन्हांेने सदैव धर्म प्रचार व लोक कल्याण के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया। उन्होंने षड्दर्शन साधु समाज व गरीब दासीय महापरिषद की स्थापना कर संत समाज की मजबूती के लिए अद्भुत व अकल्पनीय कार्य किया। उन्होंने स्वामी शम्भूदेव संस्कृत महाविद्यालय की स्थापना कर संस्कृत उन्नयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।

स्वामी कमलदास जी महाराज ने कहा कि जब पंजाब आतंकवाद के दौर से गुजर रहा था तब हिन्दू व सिक्खों के मध्य आपसी भाईचारा को बढ़ाने में स्वामी शांतानंद शास्त्री महाराज ने ऐतिहासिक योगदान दिया। उन्होंने तीर्थनगरी हरिद्वार में प्रथम पारद शिवलिंग की स्थापना कर शिव की महिमा को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य किया।

श्री जगदीश आश्रम के परमाध्यक्ष स्वामी योगेन्द्रानन्द शास्त्री ने कहा कि ब्रह्मलीन स्वामी शांतानंद शास्त्री महाराज एक महान आत्मा थे। जिन्होंने अपने ज्ञान व तप के माध्यम से सनातन धर्म और भारतीय संस्कृति का परचम पूरे भारत में फहराकर सदैव समाज को एक नई दिशा प्रदान की। पूज्य गुरूदेव के पदचिन्हों पर चलकर संस्था सदैव लोक कल्याण व भारतीय संस्कृति की रक्षा को समर्पित रहेगी। स्वामी रविदेव शास्त्री व आचार्य हरिहरानन्द ने कहा कि धार्मिक संस्थाओं के संरक्षण व संवर्द्धन में स्वामी शांतानंद शास्त्री ने अभिभावक की भूमिका निर्वहन किया।

स्वामी केशवानन्द जी महाराज ने कहा कि महापुरूषों की जीवनशैली व उपदेश सदैव प्रेरणादायी होते हैं। ब्रह्मलीन स्वामी शांतानंद शास्त्री महाराज ने सदैव अपने जीवनकाल में गरीब असहाय लोगों की मदद कर राष्ट्र कल्याण में अपना अहम योगदन प्रदान किया। 

भाजपा पार्षद दल के उपनेता अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि संतों के दर्शन मात्र से पापों से निवृति व पुण्य की प्राप्ति होती हैं। संतों का जीवन सदैव परोपकार को समर्पित रहता है। उन्होंने कहा कि योग्य गुरू को ही सुयोग्य शिष्य की प्राप्ति होती है। स्वामी योगेन्द्रानन्द शास्त्री महाराज ने अपने गुरू के बताए मार्ग का अनुसरण कर संत समाज की सेवा करते हुए उनके अधूरे कार्यों को पूर्ण कर रहे हैं। इससे युवा संतों को प्रेरणा लेनी चाहिए। इस अवसर पर उपस्थित संतगण व भक्तों ने ब्रह्मलीन स्वामी शांतानन्द शास्त्री को भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित की।

इस मौके पर मुख्य रूप से म.मं. स्वामी ललितानन्द गिरि जी महाराज, स्वामी सच्चिदानन्द, स्वामी कमल दास, स्वामी सूर्यदेव, स्वामी कृष्णानन्द गिरि, महंत दिनेश दास, स्वामी विवेकानन्द, पार्षद अनिरूद्ध भाटी, विनित जौली, डॉ. डी.एन. बत्रा, राहुल बंसल आदि समेत अनेक संत-महंत व गणमान्यजन उपस्थित रहे।

एस एम जे एन पीजी कॉलेज में मनाई गई भगत सिंह जयंती


शहीद भगत सिंह जी का पराक्रम एवं कठोर त्याग आज के युवाओं के लिए है प्रेरणाप्रद : डाॅ. बत्रा

हरिद्वार 28 सितम्बर (आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा )



हरिद्वार स्थानीय एस.एम.जे.एन. पी.जी. काॅलेज में आज आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत  सरदार शहीद भगत सिंह  की जयन्ती को ‘शौर्य दिवस’ के रूप में मनाया गया। सर्वप्रथम काॅलेज में शौर्य दीवार पर  पुष्प अर्पित कर उनको तथा शहीदों को नमन किया गया। 

शौर्य दिवस की बधाई देते हुए काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने कहा  सरदार भगत सिंह का बलिदान आज प्रत्येक देशप्रेमी की जुबान पर है। डाॅ. बत्रा ने शहीद भगत सिंह जी के जीवन-यात्रा को छात्र-छात्राओं के लिए प्रेरणा के रूप में प्रस्तुत करते हुए बताया कि किस प्रकार शहीद सरदार भगत सिंह ने अंग्रेजी शासन के विरूद्ध स्वतंत्रता संग्राम   को एक नई दिशा प्रदान की। डाॅ. बत्रा ने कहा कि शहीद सरदार भगत सिंह का पराक्रम एवं कठोर त्याग आज के युवाओं के लिए बेहद ही प्रेरणा प्रद हैं। डा बत्रा ने बताया कि भगत सिंह ने एक अवसर पर कहा था कि जीवन तो अपने बूते जिया जाता है, दूसरों के बूते तो जनाजा ही निकलता है.

मुख्य अनुशासन अधिकारी डा सरस्वती पाठक ने छात्र-छात्राओं को अपने सम्बोधन में कहा कि सरदार भगत सिंह का प्रयास सदैव राष्ट्र हित व युवा हित में रहा तथा युवाओं को उनकी भावनाओं से जुड़ना चाहिए। 

अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी ने  कहा कि शहीद सरदार भगत सिंह जी एक व्यक्तित्व के रूप में बहु आयामी  के व्यकितत्व थे .

इस अवसर पर डाॅ. मन मोहन गुप्ता, डाॅ जे सी आर्य,डाॅ. मनोज कुमार सोही, डाॅ. शिव कुमार चौहान, वैभव बत्रा, अंकित अग्रवाल, डाॅ. सरोज शर्मा, डाॅ. पूर्णिमा सुन्दरियाल, आस्था आनन्द,  डॉ विजय शर्मा ,प्रिंस श्रोत्रिय, मोहन चन्द्र पाण्डेय आदि शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारी गण उपस्थित थे।

उत्तराखंड देवभूमि है इसे तीर्थाटन प्रदेश के रूप में किया जाए विकसित




🔴 *विश्व पर्यटन दिवस*


💥 *भारत केवल पर्यटन की नहीं बल्कि तीर्थाटन की भूमि-पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज*


*ऋषिकेश, 27 सितम्बर (अमरेश दुबे संवाददाता गोविंद कृपा ऋषिकेश) परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष पूज्य स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने आज विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर कहा कि भारत केवल पर्यटन की नहीं बल्कि तीर्थाटन की भूमि है। हमारा उत्तराखंड तो आध्यात्मिकता और नैसर्गिक सौन्दर्य; स्पिरिचुअल लैण्ड और स्विट्जरलैण्ड का अद्भुत संगम है, इसलिये जब भी उत्तराखंड आयें यहां के प्राकृतिक सौन्दर्य, योग, ध्यान, आध्यात्मिकता के साथ-साथ स्वादिष्ट व्यंजनों का भी आनंद ले। 

पूज्य स्वामी जी ने कहा कि भारत भूमि आनंद के साथ शान्ति प्रदान करने वाली धरती  है इसलिये यहां पर्यटन के साथ-साथ तीर्थाटन की भावना से आये। उत्तराखंड में पर्यटन का मुख्य केन्द्र माँ गंगा और हिमालय की वादियां हैं इसलिये यह केवल मनोरंजन का नहीं बल्कि आत्मिक उन्नति का केन्द्र है। यहां का तीर्थाटन आध्यात्मिकता, योग, ध्यान और दिव्यता से युक्त है। यहां पर प्राकृतिक सौन्दर्य; स्वच्छ जल और प्राणवायु ऑक्सीजन का अपार भण्डार है। यहां की नदियां जीवन और जीविका देने वाली हों; जंगल के रूप में धरती के फेफड़े यहां पर मौजूद हैं इसलिये इस दिव्य क्षेत्र में हरित तीर्थाटन और हरित पर्यटन हो। उत्तराखंड में सिंगल यूज प्लास्टिक पूर्ण रूप से बंद हो, पानी पीने के पश्चात बाॅटल्स को सड़कों पर न फेंके, यहां पर पर्यटन के समय जो कचरा हमारे द्वारा उत्पन्न किया जाता है उसका प्रबंधन भी हमारे द्वारा ही ठीक से किया जाये तभी हम इस दिव्य भूमि को प्रदूषण मुक्त रख सकते है।

पूज्य स्वामी जी ने कहा कि उत्तराखंड को आकर्षक, दिव्य और भव्य पर्यटन के रूप में विकसित करने के लिये; भव्य पर्यटन और दिव्य तीर्थाटन के रूप में विकसित करने के लिये हम सब का सहयोग जरूरी है। हम सब को मिलकर इसे सुरक्षित पर्यटन एवं तीर्थाटन को बढ़ावा देने के लिये कार्य करना होगा। हमें पर्यटन की दूरगामी नीतियों का अनुसरण करना होगा तथा हमें तीर्थाटन के साथ ही अपने राज्य के पर्यटन का आधारभूत ढांचा तैयार करना होगा। जिसके अतंर्गत आवागमन के संसाधनों की पर्याप्त सुविधायें हों, पर्यटकों के लिये विश्रामस्थल हों; कूड़ेदान की सुविधा हों; हैरिटेज होटल हों और सबसे महत्वपूर्ण यह है कि महिलाओं की सुरक्षा की दृष्टि से हमारा राज्य सुरक्षित हो। साथ ही उत्तराखंड के युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये स्थानीय उत्पादों, जड़ी बूटियों और यहां के भोजन को वैश्विक पहचान देने हेतु हम सभी को मिलकर प्रयास करना होगा। हमारा राज्य कई क्षेत्रों में रोजगार के अवसर सृजित कर सकता है बस जरूरत है बेहतर प्रबंधन की। आईये हम सब मिलकर स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिये स्वयं उनका उपयोग करें और इसके लिये दूसरों को भी प्रेरित किया जाये।

आज विश्व पर्यटन दिवस पर संकल्प लें कि हम सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करेंगे। गोवा हो या गंगा तट कहीं भी भारतीय संस्कृति की गरिमा को बनाये रखने हेतु योगदान प्रदान करेंगे।

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने महिला मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी को किया संबोधित

 मातृशक्ति को सामर्थ्यवान और सबल बनाना हमारा मंतव्य- जगत प्रकाश नड्डा 


निरपेक्ष भाव से संगठन के लिए कार्य करें:  बी एल संतोष 



देहरादून: 27 सितंबर ( जेके रस्तोगी संवादाता गोविंद कृपा देहरादून   )भारतीय जनता पार्टी इस देश की मातृशक्ति को सामर्थ्यवान और सबल बनाना चाहती है। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यसमिति जो उत्तराखंड में संपन्न हुई के समापन अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा जी ने विशेष व्यवस्था के लिए स्थानीय टीमों का आभार व्यक्त किया। 

     राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नड्डा कार्यसमिति को वर्चुअली संबोधित करते हुए कहा कि हमारा कार्यकर्ता इतना सामर्थ्यवान है कि उसे जो जिम्मेदारी सौंपी जाती है उसको कर्मठता से निभाता है। उन्होने कहा कि मातृशक्ति ने जितनी सेवा राष्ट्र की करी है उतनी अन्य लोगों द्वारा नहीं की गई होगी। कोरोना काल में  मास्क बनाने का काम तथा भोजन व अन्य उपयोगी वस्तुओं की व्यवस्था मातृशक्ति ने की। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अपने उद्बोधन में कहा कि हमारी मातृशक्ति का सम्मान सदैव आवश्यक है। हमारी संस्कृति में भी निरंतर चर्चा हुई है इसका वर्णन वेदों, उपनिषदों तथा अन्य धर्म ग्रंथों में भी मिलता है। हमारा इतिहास पुराण तथा अन्य प्रभावशाली ग्रंथ मातृशक्ति की विशिष्टता की चर्चा करते रहे हैं। देवी शकुंतला ने जंगलों में रहकर अपने पुत्र भरत को इतना मेधावी बनाया कि उन्होंने जैसा शासन किया है वह इतिहास का विषय बना है। जंगल में रह कर अपने पुत्र को सामर्थ्यवान शिक्षित बनाना, योद्धा बनाना तथा हर क्षेत्र में विशिष्ट बनाना यह मात्र मातृशक्ति की ही कृपा के कारण हो सका।  श्री नड्डा ने कहा कि आज हम सह शिक्षा की बात कर रहे हैं लेकिन हमारे पुराणों में इस बात का उल्लेख मिलता है कि मातृशक्ति तथा पुरुष साथ-साथ शिक्षा प्राप्त करते थे। गुरुकुल में मातृशक्ति विशेष स्थान दिया जाता था। एक नारे की चर्चा करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि हम आज "लेडीज़ फस्ट" की बात करते हैं लेकिन हमारे यहां गौरीशंकर, सीताराम, राधाकृष्ण जैसे शब्द वर्षों से प्रचलित है यह इस बात का प्रतीक है कि हमारे देश में मातृशक्ति विशेष सम्मानित रही हैं। देश की स्वतंत्रता संग्राम में रानी लक्ष्मीबाई ने युद्ध प्रारंभ किया था उसके बाद हजारों हजार मातृशक्ति ने इस संग्राम में भाग लिया। भारतीय इतिहास की इन महिलाओं के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। स्वतंत्र भारत में पहली बार हमारे प्रधानमंत्री ने उद्योग, चिकित्सा, शिक्षा, विज्ञान विदेश जैसे विभिन्न विभागों को मातृशक्ति को सौंपा था यह इस बात का प्रतीक है कि हमारे देश में मातृशक्ति पूरी तरह सामर्थ्यवान तथा कार्य कुशल है। खेलों में हमारी बेटियों ने जो श्रेष्ठता हासिल की है वह अपने आप में विलक्षण है पी वी सिंधु , साइना नेहवाल जैसे दर्जनों नाम खेल में अपनी विशिष्टता के कारण जाने जाते हैं। डॉक्टर आनंदी भोपाल की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय समाज की हजारों महिलाओं ने अपनी श्रेष्ठता विभिन्न क्षेत्रों में साबित की हैं। हम सब लोग मातृशक्ति का मन से नमन करते हैं और हमारी प्राथमिकता है कि मातृशक्ति सदैव आगे रहे। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने महिला मोर्चा के कार्यकर्ताओं को विशेष सेवाभावी होने के लिए बधाई दी। 


श्री नड्डा ने  आग्रह करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टीकाकरण महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में विशेष प्रयोग किया है उनके मन में हमेशा नए कार्यकर्ताओं के उत्थान और उनकी योग्यताओं का लाभ उठाने की परिकल्पना रहती है। सबका साथ सबका विकास सब का विश्वास सबका प्रयास इस मंतव्य के मूल में  राष्ट्रीय अध्यक्ष ने निर्मला सीतारमण, सुषमा स्वराज जैसी दर्जनों वरिष्ठ नेताओं को शक्ति की चर्चा करते हुए कहा कि शिक्षा स्वास्थ्य जैसे विभाग महिलाओं को दिए गए थे मंत्रिमंडल में अब तक सबसे अधिक महिलाओं की संख्या है जो स्वागत योग्य है। उन्होंने कहा कि हम सबको अपनी बौद्धिक क्षमता का सदुपयोग संगठन के लिए करना चाहिए इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नड्डा ने महिला समाज के लिए कई कल्याणकारी योजनाओं की भी जानकारी दी तथा कहा कि मातृशक्ति समाज के माध्यम से हमारी योजनाएं जनता तक पहुंचेगी और इनका लाभ आम आदमी को मिलेगा।

   उन्होंने राजमाता विजय राजे सिंधिया को विशेष रुप से याद किया तथा कहा कि उनके व्यक्तित्व और कृतित्व को भुलाया नहीं जा सकता। यह हमारी मातृशक्ति की की पहचान है। उन्होंने राष्ट्रीय महामंत्री संगठन श्री बी एल संतोष तथा राष्ट्रीय महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती वानाती श्रीनिवासन तथा अन्य पदाधिकारियों को भी इस आयोजन के लिए बधाई दी तथा कहा कि यह कार्यकारिणी कई मायनो में  विलक्षण साबित होगी। 

    इससे पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री संगठन श्री बी एल संतोष ने कार्यकर्ताओं से अपेक्षा कि वह संगठन में बिना किसी अपेक्षा के कार्य करें। निश्चित रुप से संगठन उनका मूल्यांकन करता है। उन्होंने कहा कि हम अपने तुलना किसी से ना करें, संगठन के पास हजारों हजारों कार्यकर्ता है किसी की कुछ विशिष्टता है और किसी की कुछ विशिष्टता है। हम भी वर्षों से पार्टी में आए हैं और दूसरे भी पार्टी में आए हैं लेकिन संगठन किसे कौन सा दायित्व सौंपता है यह उसके अपने प्रज्ञा की बात है इसलिए तुलना करना ठीक नहीं है हमें अपने काम को प्रभावी बनाना है। उन्होंने प्रश्न उत्तर के दौरान भाजपा महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं के प्रश्न उत्तर दिए तथा कहा कि हमें 33 परसेंट नहीं महिलाओं को 57% आरक्षण देना है लेकिन इसमें समय लगेगा। उन्होंने गठबंधन सरकारों के प्रश्न पर भी यथोचित जवाब दिया तथा कार्यकर्ताओं से आग्रह किया हम संगठन को यथोचित समय दें लेकिन यह भी ध्यान रखें हमारे कार्य से हमारा परिवार प्रभावित ना हो ताकि पार्टी ओर हमारे परिवार में सामंजस्य बना रहे। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि हम संगठन के लिए परिवार से मिलकर निरंतर कार्य करते रहें ताकि परिवार भी पलता रहे और संगठन भी चलता रहे। 


इस अवसर पर राष्ट्रीय महिला मोर्चा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती वानाती श्रीनिवासन , राष्ट्रीय महिला मोर्चा महामंत्री श्रीमती इंदु बाला गोस्वामी, श्रीमती दीप्ति रावत, श्रीमती सुखप्रीत कौर, महिला मोर्चा के राष्ट्रीय प्रभारी श्री दुष्यंत कुमार गौतम, राष्ट्रीय महामंत्री डी पुरंदेश्वरी प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक, महिला मोर्चा राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी श्रीमती नीतू दवास, महामंत्री (संगठन) श्री अजेय, प्रदेश महामंत्री श्री कुलदीप कुमार, श्री सुरेश भट्ट, श्री राजेन्द्र भंडारी उत्तराखंड सरकार में मंत्री डॉक्टर धन सिंह रावत, प्रदेश उपाध्यक्ष श्री अनिल गोयल मनवीर सिंह चौहान व राष्ट्रीय महिला मोर्चा की पदाधिकारी उपस्थित रहे

श्री पंचायती अखाड़ा उदासीन ने स्वामी हंसराम को किया परमानंद आश्रम का महंत नियुक्त

 भीलवाड़ा के महामंडलेश्वर  स्वामी हंसराम उदासीन को मिली, स्वामी परमानंद उदासीन आश्रम , हरिद्वार की महंतायी


हरिद्वार 27 सितंबर (वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार)


हरिसेवा उदासीन आश्रम भीलवाड़ा राजस्थान के महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम जी उदासीन को हरिद्वार स्थित स्वामी परमानंद उदासीन आश्रम , मायापर , श्रवणनाथ नगर हरिद्वार उत्तराखंड  का महंत नियुक्त किया गया । श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के सत पंच परमेश्वर व अनेक संतों ,महंतों , मुक़ामी , भक्तजनों की उपस्थिति में स्वामी परमानंद आश्रम के ब्रह्मलीन महंत परमानंद जी के रिक्त स्थान  पर महंत की नियुक्ति पर विचार विमर्श किया गया , तत्पश्चात् सर्व सम्मति से महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम जी को विधिवत तिलक चादर पहना कर स्वामी परमानंद उदासीन आश्रम का महंत नियुक्त किया गया । 

इस अवसर पर श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के श्री महंत महेश्वरदास जी , श्रीमान महंत रघुमुनि जी , श्रीमान  महंत दुर्गादास जी , महामंडलेश्वर स्वामी हरिचेतनानंद जी हरिद्वार , महामंडलेश्वर कपिल मुनि जी , महामंडलेश्वर रूपेन्द्र प्रकाश जी ,  मुक़ामी महंत दामोदरदास जी कोठारी , श्रीमहंत गंगादास जी शोकीदास आश्रम हरिद्वार , महंत प्रकाश मुनि - राम शंकर आश्रम हरिद्वार , महंत सुतीक्ष्ण मुनि की , महंत श्रवण मुनि , महंत दिव्यानंद जी , महंत अद्वेतमुनि जी वृंदावन , स्वामी निर्मलदास जी काशी , बाबा हठयोगी जी , महंत दिनेश दास जी , महंत रविदेव शास्त्री जी , अजमेर से - महंत स्वरूपदास जी , महंत हनुमान राम - पुष्करराज  अजमेर , उल्लासनगर नगर से महंत आसनदास जी , इंदौर से संत संतदास जी , हरिशेवा आश्रम के संत मयाराम उपस्थित थे ।

देश के अनेक शहरों से भक्त , भीलवाड़ा से हेमंत वच्छानी , हरीश गुरनानी , कन्हैयालाल मोरयानी , सूरत से सुरेश आहूजा , भोपाल से चंदर लालचंदानी , अहमदाबाद से जयराम अभिचंदानी , दिल्ली से संजय आहूजा , कोटा से राजू चावरानी , बड़ोदा से नितिन नोतानी , मुंबई से राहुल बालानी , अजमेर से लक्ष्मण दोलतानी , राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक एवं विश्व हिंदू परिषद के केंद्रिय मार्गदर्शक मंडल के सदस्य दिनेश चंद्र जी , रविंद्र जाजू , चाँदमल सोमानी , भगवान सिंह जी , अशोक मूँदडा ,आदि उपस्थित थे । 

कोरोना महामारी को देखते हुए सम्पूर्ण कार्यक्रम सूक्ष्म रूप में आयोजित किया गया एवं कार्यक्रम में उपस्थित सभी संतों व आमजन का भंडारा किया गया ।

भारत में बनी वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी है :-डॉ विशाल गर्ग

 युवा शंखनाथ ने किया जनता जागरूक, टीकाकरण अभियान बिल्कुल सुरक्षित है


आम जनता को आश्वासन दिया कि यह टीकाकरण अभियान बिल्कुल सुरक्षित है


हरिद्वार 27 सितंबर( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार)कोविड-19 संक्रमण की दूसरी लहर का प्रकोप भले ही कम हो गया, लेकिन कोरोना टीकाकरण की रफ्तार सुस्‍त नहीं पड़नी चाहिए। ऐसी ही सोच के साथ हरिद्वार शहर में लोगों को कोरोना संक्रमण बचाने के लिए विभिन्‍न सामाजिक संगठन जिला प्रशासन और स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के साथ कंधे से कंधे मिलाकर काम कर रहे हैं। इसके तहत शहर के लिए विभिन्न समाजिक संगठनों की ओर से जगह-जगह टीकाकरण शिविर भी आयोजित कराए जा रहे हैं। युवा शंखनाथ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. विशाल गर्ग के द्वारा विशाल ऑप्टिकल्स के पास स्थित कार्यालय पर पिछले एक सप्ताह से लगातार टीकाकरण शिविर आयोजित किया जा रहा है। संस्था के अध्यक्ष डॉ. विशाल गर्ग ने बताया कि बड़ी संख्या में लोग टीका लगवाने के लिए आ रहे है। करीब 450 से 500 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। शिविर में 10 से शाम 5 बजे तक टीकाकरण शिविर का आयोजन चल रहा है। इस दौरान गंगोत्री धाम के रावल शिवप्रकाश ने भी हरिद्वार पहुँच कर वेक्सिनेशन करवाया और डॉ. विशाल गर्ग के समाज के प्रति प्रेरणा को देख कर उनकी प्रशंसा की। युवा शंखनाथ संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. विशाल गर्ग के नेतृत्व में संस्था के कार्यकर्ताओं ने लोगों को कोविड-19 टीकाकरण के बारे में जागरूक किया। उन्होंने जिले के विभिन्न गांवों का दौरा कर एसओपी का पालन करते हुए जनता के बीच जाकर जागरूक करते हुए मास्क वितरित किया और टीका लगवाने का आग्रह किया। जिसके बाद कई लोगों ने प्रेरित होकर वेक्सीन की पहली दोस लगवाई। उन्होंने आम जनता को आश्वासन दिया कि यह टीकाकरण अभियान बिल्कुल सुरक्षित है। अफवाहों पर ध्यान न दें। वहीं, उन्होंने इस टीकाकरण अभियान में प्रशासन का सहयोग करने की अपील की। उन्होंने लोगों को जागरूक करते हुए शारीरिक दूरी बनाए रखने, मास्क पहनने और सरकार द्वारा जारी सुरक्षा उपायों का पालन करने की भी अपील की।



परमानंद आश्रम ट्रस्ट को हाईकोर्ट से मिला स्टे


 परमानंद आश्रम और बड़ा अखाड़ा उदासीन के विवाद में परमानंद आश्रम ट्रस्ट को उच्च न्यायालय से मिला स्टे ।

बडा अखाड़ा उदासीन ने राम शंकर आश्रम में हाई कोर्ट के स्टे को धत्ता बताते हुए परमानंद आश्रम के नए महंत के रूप में या संत का पट्टाभिषेक

हरिद्वार 27 सितंबर( संजय वर्मा) बड़ा अखाड़ा उदासीन और श्रवण नाथ नगर स्थित स्वामी परमानंद आश्रम ट्रस्ट के विवाद का मामला हाई कोर्ट नैनीताल तक पहुंच गया है जहां से परमानंद आश्रम ट्रस्ट को यथास्थिति बनाए रखने के आदेश के साथ कोर्ट के आदेश से सुरक्षा व्यवस्था भी मिल गई है स्वामी परमानंद आश्रम  के  प्रबंधक शंकर पांडे ने जानकारी देते हुए बताया कि बड़ा अखाड़ा उदासीन से संबंध एक संस्था हमारे आश्रम पर कब्जा करना चाहती है जिसके खिलाफ हमारा ट्रस्ट उच्च न्यायालय नैनीताल पहुंचा और वहां से यथास्थिति बनाए रखने का आदेश प्राप्त हो गया है साथ साथ ही आश्रम  पर कोई कब्जा ना करें इसके लिए पुलिस को भी आदेशित किया गया है यहां यह बताते चलें विगत 50 वर्षों से परमानंद आश्रम ट्रस्ट के द्वारा संचालित हो रहा है जिस पर अब बड़ा अखाड़ा उदासीन से संबद्ध कुछ संत कब्जा करना चाहते हैं जिसका  स्वामी परमानंद आश्रम  आश्रम ट्रस्ट के ट्रस्टयो एवं प्रबंधक ने विरोध किया बड़ा अखाड़ा उदासीन के  पंच परमेश्वर के  श्रीमहंत महेश्वर दासके  पासजाकर परमानंद आश्रम ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं सदस्यों नेअपना पक्ष रखा जिस पर वह सहमत भी हो गए लेकिन कुछ अन्य लोग स्वार्थवश  स्वामी परमानंद  आश्रम पर किसी और व्यक्ति को महंत  बनाकर बिठाने के लिए साजिश रच रहे हैं उन्होंने श्री महंत महेश्वर दास पर दबाव डालकर  स्वामी परमानंद आश्रम पर  कब्जा करने का प्रयास किया जिसे विफल कर दिया गया है।आश्रम की सुरक्षाके लिए उच्च न्यायालय नैनीताल की शरण ली गई और वहां  से यथास्थिति बनाए रखने का आदेश प्राप्त कर लिया है यहां यह बताते चलें कि हरिद्वार के 75 परसेंटआश्रमों का संचालन ट्रस्टों के द्वारा किया जा रहा है ,जहां के संस्थापक ब्रह्मलीन हो चुके हैं ऐसी स्थिति मेंशेष संस्थाओं का क्या होगा यह यक्ष प्रश्न है?  शंकर पांडेने कहा कि इस प्रकार तो  पूरे शहर मे  दूसरे लोग आकर संस्थाओ और आश्रमों पर  महतं  बनकर कब्जा कर लेंगे। यह बड़ी ही चिंता का विषय है बड़ा अखाड़ा उदासीन को अपने इस कृत्य पर विचार करना चाहिए और एक गलत परंपरा डालने की प्रयास से बचना चाहिए।

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...