गायत्री विद्यापीठ के वार्षिकोत्सव में छात्र-छात्राओं ने बिखेरे संस्कृति के रंग

 गायत्री विद्यापीठ का वार्षिकोत्सव का समापन

सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से विद्यार्थयों ने दिया जागरूकता का सन्देश

उत्सव पर हुई विभिन्न खेल प्रतियोगिताएँ, विजयी बच्चे हुए पुरस्कृत


हरिद्वार 30 नवंबर( अमरेश दूबे संवाददाता गोविंद कृपा ऋषि केश क्षेत्र) 



गायत्री विद्यापीठ शांतिकुंज का दो दिवसीय 42वाँ वार्षिकोत्सव का मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ समापन हो गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम के मुख्य अतिथि गायत्री विद्यापीठ के अभिभावक एवं अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख श्रद्धेय डॉ.प्रणव पण्ड्या ने बच्चों के उत्साहवर्धन किया। साथ ही उन्होंने वार्षिकोत्सव में भागीदारी कर रहे सभी बच्चों की उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए संस्कारवान श्रेष्ठ नागरिक बनने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर विद्यापीठ परिवार को दिये अपने संदेश में संस्था की अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैलदीदी ने कहा कि बाल्यावस्था जीवन को गढ़ने और सँवारने का सर्वोत्तम समय है। इस दौरान परिवार ही नहीं, समाज और राष्ट्र के नवनिर्माण की भी नींव रखी जाती है।

सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान कु. स्तुति, एकता एवं सृष्टि की ग्रुप द्वारा प्रस्तुत बासुरी कृष्ण की बाजे प्रेम से राधा नाचे रे गीत के माध्यम से हरिद्वार में वृन्दावन का दर्शन कराते हुए श्रीकृष्ण लीला की सुन्दर प्रस्तुति दी, जिसे उपस्थित लोगों ने तालियों की गड़गड़ाहट के साथ विद्यार्थियों के उत्साह को बढ़ाया। देवभूमि की  गढ़वाली समूह नृत्य में योगेश्वरी, सहज एवं आशा की टीम ने सभी को देवभूमि की संस्कृति से रूबरू कराया। स्वच्छ भारत विषय पर एकांकी प्रस्तुत करते हुए कृपा एवं संस्कार की टीम ने विकसित व सभ्य भारत बनने की दिशा में स्वच्छता पर विशेष जोर दिया। तो वहीं सिद्धार्थ, उद्भव, आदित्य की अगुवाई में बच्चों ने जल बचाने के विविध उपायों पर लघुनाटिका का मंचन किया। इस दौरान नन्हें-मुन्ने बच्चों की मनमोहक नृत्य ने उपस्थित लोगों को झूमने को मजबूर कर दिया। कार्यक्रम के समापन अवसर पर विद्यापीठ प्रबंध मण्डल की प्रमुख श्रीमती शेफाली पण्ड्या ने सभी आभार प्रकट किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम का संचालन शेव्या, हरवंश, अंशिका ने किया।

प्रधानाचार्य श्री सीताराम सिन्हा ने बताया कि खेल महोत्सव में नींबू दौड़, स्कूल के लिए तैयार होना, बोतल में पानी भरना, बतख दौड़, मेढ़क दौड़, रिले दौड़, गायत्री मंत्र लेखन, भारत का नक्शा पहचाना आदि प्रतियोगिताओं में बच्चों ने अपना कौशल दिखाया। बच्चे गिरते रहे, पर जोश में कमी आने नहीं दी और उन्होंने अपने लक्ष्य तक पहुँचकर ही दम लिया। विभिन्न खेलों के विजयी बच्चों को विद्यापीठ व्यवस्था मण्डल की प्रमुख श्रीमती शेफाली पण्ड्या, प्रधानाचार्य श्री सीताराम सिन्हा आदि ने पुरस्कृत किया। समापन अवसर पर विद्यापीठ के समस्त शिक्षक व कर्मचारी एवं शांतिकुंज, हरिपुर कलॉ, हरिद्वार, भोपतवाला के छात्र-छात्राओं के अभिभावक उपस्थित थे।

विभिन्न खेलों में अव्वल रहे ये विद्यार्थी-

रुद्र, पीयूष, प्रभाती, सिया, सर्वेश, प्रसन्नजित, सरगम, अर्पिता, वंदित, सर्वज्ञ, रुचि, वैश्नवी, देवांश, सहज, प्रतिभा, कृष्णा, मनोज, भावना, अंत्र, विपुल, नितिश, अनुज, जिज्ञासा, तानिया, राजविन्दर, सागर, अविनाश, प्रियंका, रोहित, विक्की, भारती, अवनित, सत्यजीत, रिया, रणवीर, मेघा, अरूण, दिवस, साहिल, अभय, राशि, निमिश, वंश, कुमुद, नमन, सुमित, कशिश आदि ने अपने-अपने खेलों में प्रथम स्थान प्राप्त किया।

होम्योपैथी एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा का लगाया गया कैम्प

हरिद्वार 30 नवंबर ( संजय वर्मा ) मंगलवार को सचिव आयुष के



आदेशानुसार तथा निदेशक होम्योपैथिक वआयुर्वेदिक उत्तराखंड के दिशा निर्देशन में जिला चिकित्साधिकारी होम्योपैथिक विकास ठाकुर व जिला चिकित्साधिकारी आयुर्वेद की अगवाई में संयुक्त फ्री दवाई वितरण कैंप का आयोजन किया गया जिसमें होम्योपैथिक विभाग द्वारा कुल 307 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण और आयुर्वेदिक विभाग द्वारा 155 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण कर फ्री दवाई वितरित की गई शिविर में रोगियों का एचबी एवं शुगर परीक्षण भी किए गया इसमें  डॉ ओपी नौटियाल डा भगत सिंह डा मनीषा डा विजेंद्र डॉ आरती तथा फार्मासिस्ट पुष्कर सिंह आलोक सिंह शशि कला आदि सहयोगी रहे शिविर में मुख्य रूप से

 सरदार कोमल सिंह  अध्यक्ष अलौकिक व्यापार मंडल व समिति रजि ब्रह्मपुरी रावली महदूद तथा  मनोज कुमार पाल अध्यक्ष बहुउदय लोक सेवा संस्थान रावली महदूद का विशेष सहयोग रहा जिसमें प्रचार प्रसार कर लोगों  को कैंप की जानकारी तथा आयुर्वेदिक और होम्योपैथी के लिए इस क्षेत्र में जागरूकता अभियान  लोगों को जागरुक किया

संपूर्ण विश्व में स्फीहा स्वास्थ्य, पर्यावरण ,पारिस्थितिकी क्षेत्र में कर रही है उत्कृष्ट कार्य




आगरा 30 नवंबर स्फीहा स्वस्थ पर्यावरण , पारिस्थितिकी और आगरा की विरासत (एक गैर-सरकारी पंजीकृत सोसाइटी) के रूप में आगरा के संरक्षण के लिए सन् 2006 में बनाई गई थी। अब ये सोसाइटी न केवल आगरा, बल्कि संपूर्ण भारतवर्ष और वास्तव में पूरे विश्व के महाद्वीपों के देशों (जैसे यूरोप और ऑस्ट्रेलेशिया) में भी पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य कर रही है। 


स्फीहा मध्य प्रदेश राज्य में स्थित दस आदिवासी गाँवों के समूह राजा बरारी प्रदेश के आदिवासियों व जनजातियों  के उत्थान के लिए भी सेवा कार्य  कर रही है। यह कार्य राधास्वामी सत्संग सभा, दयालबाग, आगरा- 282005, यू.पी. मुख्यालय। (मुरार घोषणा 13.06.2010) के सहयोग व निर्देश से ही संभव हो पा रहा है। (जिनमें से राधास्वामी सत्संग सभा को केवल वानिकी प्राकृतिक संसाधनों के भीतर पड़ी लकड़ी को काटने का अधिकार अब दिनांक 09.11.2022 से वापस मध्य प्रदेश सरकार को सौंप दिया गया है। हालांकि, हरदा जिले की आबादी/आवास और कृषि भूमि का स्वामित्व और प्रबंधन राधास्वामी सत्संग सभा, दयालबाग, आगरा- 282005, यू.पी. मुख्यालय के पास सन् 1919 से निरंतर है।  तब यानी 1919 से राधास्वामी सत्संग सभा, दयालबाग, आगरा  लगातार यहाँ मानव जाति की सेवा की भावना के साथ, धर्मार्थ (निगमित) संगठन के रूप में, न केवल भारत के संप्रभु गणराज्य के भीतर बल्कि इंग्लैंड और वेल्स (सिंगापुर घोषणा 1971) में भी आदिवासियों को देश की मुख्यधारा के साथ मिलाने के उद्देश्य से कार्य कर रही है। 


स्फीहा आजकल डी ई आई डीम्ड यूनिवर्सिटी और राजबरारी एस्टेट के साथ साझेदारी, में एक 10 दिवसीय शिविर आयोजित कर रहा है, जिसमें आदिवासी कल्याण कार्यक्रमों की एक श्रृंखला में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहें हैं, जैसे मेडिकल कैम्प, ड्रोन से प्रशिक्षण सहित अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी शिविर, शैक्षिक कार्यशालाएँ, लड़कियों  के लिए आत्मरक्षा, युवाओं के लिए रोजगार सहायता, वायु और जल गुणवत्ता स्तर और वृक्षारोपण शामिल होंगे। 


इन गतिविधियों के लिए विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों को यहाँ भेजा गया है। सैकड़ों आदिवासी इन  शिविरो  से लाभान्वित हो रहे हैं। एक एलोपैथिक, होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक चिकित्सक की टीम नि:शुल्क परामर्श और दवाइयाँ दे रही हैं। आज तक स्थानीय आबादी के पांचवें हिस्से को इन मेडिकल सुविधाओं का लाभ मिल चुका है। 


अल्पसंख्यकों के लिए खेलों में भाग लेना, सामाजिक उत्थान की तरफ गतिशीलता के तीव्र आवाहन जैसा है। इसलिए नवोदित खिलाड़ियों को  विभिन्न खेलों में प्रशिक्षण और प्रोत्साहन प्रदान किया जा रहा है, ताकि दिसंबर में होने वाले आगामी मुख्यमंत्री कप में वे उत्साह से भाग ले सकें। इस दस दिवसीय शिविर के दौरान एक वॉलीबॉल टूर्नामेंट "सहयोग, संगठन, सफलता कप " के नाम से इस क्षेत्र के आदिवासी गाँव में किया  जाएगा। इसमें३६ विभिन्न टीमों के बीच संचालन किया गया है।  इन खेल गतिविधियों में लगभग 1200 छात्रों ने भाग लिया है। 


यहाँ लड़कियों के लिए आत्मरक्षा और युवा छात्रों के लिए न केवल प्रशिक्षण ही दिया जा रहा है बल्कि भारत के सैन्य रक्षा बलों में प्रयोग में ली जाने वाली जुझारू भूमिकाओं के लिए भी, उनके आत्मविश्वास में सुधार के लिए, विशेषज्ञों की एक टीम द्वारा समानांतर रूप से कैंप आयोजित किया जा रहा है, जिससे उनकी शारीरिक दृढ़ता और और मानसिक फिटनेस में सुधार होगा। 



डी  ई आई(डीम्ड यूनिवर्सिटी)  के प्रोफेसर, अत्याधुनिक तकनीकों जैसे ड्रोन और कंप्यूटर के उपयोग सहित प्रौद्योगिकियां से इन कार्यशालाओं का आयोजन कर रहे हैं।  वे नियमित स्थानीय हवा और पानी की गुणवत्ता की मॉनिटरिंग भी कर रहे हैं। स्फीहा के स्वयंसेवक बायो डाटा लेखन और साक्षात्कार की कार्यशालाओं का आयोजित भी कर रहे हैं। कौशल कार्यशालाओं द्वारा योग्य युवाओं के लिए प्लेसमेंट सहायता भी आयोजित की गयीं हैं। भर्ती के लिए कंपनियों को  भी।आमंत्रित किया जा रहा है।  


इस अवसर पर बोलते हुए, स्फीहा के अध्यक्ष श्री एम ए पठान ने कहा, "मानवता की सबसे बड़ी सेवा लोगों के विकास और उत्थान के लिए उनकी सेवा करना है। टिकाऊ प्रबंधन के हमारे लक्ष्य को आगे बढ़ाने के लिए इस शिविर को आयोजित किया गया है। स्फीहा के उद्देश्य-

सांस्कृतिक के लिए भौतिक पर्यावरण की रक्षा और संरक्षण के लिए जीवन समर्थन पारिस्थितिक तंत्र, सभी समुदायों की भावनात्मक और आध्यात्मिक भलाई- को आगे बढ़ाने में यह कैम्प सहायक होगा। और यही सरकार के उद्देश्य - विकास  की दृष्टि के अनुरूप भी है। हम चाहते हैं कि हमारे आदिवासी समुदाय हर मामले में आत्मनिर्भर हों। स्फीहा राजबरारी में सक्रिय रूप से विभिन्न सामाजिक-आर्थिक और रोजगार के अवसरों का समर्थन और प्रायोजन कर रहा है, जिससे अद्वितीय 'ग्रामीण आर्थिक क्षेत्र' को बनाए रखने में मदद मिल रही है।”

गायत्री विद्यापीठ का वार्षिक उत्सव हुआ प्रारंभ

 गायत्री विद्यापीठ में दो दिवसीय वार्षिकोत्सव का आरंभ

विभिन्न प्रतियोगिताओं में बच्चों ने दिखाया कौशल


हरिद्वार 29 नवंबर (  अमरेश दुबे संवादाता गोविंद कृपा ऋषिकेश क्षेत्र)


गायत्री विद्यापीठ शांतिकुंज में दो दिवसीय 42 वाँ वार्षिकोत्सव का वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच ध्वज आरोहण के साथ शुभारंभ हुआ। मुख्य अतिथि गायत्री विद्यापीठ प्रबंध मण्डल की प्रमुख श्रीमती शेफाली पण्ड्या ने ध्वज का पूजन कर शुभारंभ किया।

इस अवसर पर गायत्री विद्यापीठ प्रबंध मण्डल प्रमुख श्रीमती शेफाली पण्ड्या ने कहा कि बच्चे गीली मिट्टी की तरह हैं, उसे जिस रूप में जैसा बनाना चाहें, उसी तरह उसका पालन पोषण कर बनाया जा सकता है। गायत्री विद्यापीठ में बच्चों को शिक्षण के साथ संस्कार देने का क्रम चलाया जा रहा है। उन्होंने पढ़ाई के साथ-साथ विभिन्न कार्यक्रमों में भागीदारी कर आंतरिक गुणों को विकसित करते रहने हेतु नौनिहालों को प्रेरित किया।  श्रीमती पण्ड्या ने खेलों के अनुशासनों की शपथ दिलाई।

दो दिन तक चलने वाले इस वार्षिकोत्सव का कलर थीम दौरान तिरंगे से प्रेरित रंग में सजा सम्पूर्ण परिसर सभी को सहज ही आकर्षित कर रहा था। नन्हें नन्हें बच्चों द्वारा प्रस्तुत मनमोहक समूह नृत्य ने उपस्थित लोगों की खूब तालियाँ बटोरी, तो वहीं नौनिहालों ने सूर्य नमस्कार सहित विभिन्न योगासनों का बखूबी प्रदर्शन किया।

विद्यापीठ के प्रधानाचार्य श्री सीताराम सिन्हा ने बताया कि विद्यापीठ के कक्षा-1 से 12 तक छात्र-छात्राओं ने विभिन्न खेलों में प्रतिभाग किया। उन्होंने बताया कि विभिन्न खेलों के विजेता खिलाड़ियों को शांतिकुंज व  देसंविवि के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने सम्मानित किया।


इन बच्चों के खेल को मिली खूब सराहना -

आद्या, अनुकृति, आकांक्षा, शुभ्रा, अंजलि, अथर्व, अदित्री, सार्थक, , हर्षित,  शशांक, सौरभ, रुचि, आरती, साधना, एकता, शैलजा, यश, भूमिका, कुश, प्राजंल, कृष्णा, प्रभाती, वेदिका, देवस, ओजस, इशिका, श्रेष्ठ,  जागृति, आदर्श, सृष्टि, मयंक, सार्थक, अंशिका, भावेश, स्वधा के खेल भावना एवं कौशल को खूब सराहना मिली।

एस एम जे एन पीजी कॉलेज ने प्राप्त किया श्रेष्ठ महाविद्यालय का खिताब

एस एम जे एन पी जी कॉलेज, हरिद्वार वाणिज्य शिक्षा का बना प्रदेश का सर्वश्रेष्ठ शिक्षण संस्थान  : श्रीमहंत  रविन्द्र पुरी

 हरिद्वार 28 नवंबर (आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) एस एम जे एन पी जी कॉलेज ने प्रदेश में वाणिज्य के  सर्वश्रेष्ठ शिक्षण संस्थान का पुरस्कार पाकर जिले का नाम रोशन कर किया हैं। यह जानकारी कालेज प्रबन्धन समिति के अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री महंत रविन्द्र पुरी ने देते हुए बताया कि विज्ञान धाम देहरादून में आयोजित तीसरे अंतरराष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी महोत्सव में वाणिज्य शिक्षा के क्षेत्र में प्रदेश का सर्वश्रेष्ठ शिक्षण संस्थान एस एम जे एन 


कालेज को घोषित  किया गया। यह पुरस्कार कॉलेज को बेहतर शिक्षा प्रणाली तथा प्रबंधन हेतु दिया गया। इस पुरस्कार के लिए प्रदेश के सभी शिक्षण संस्थानों से आवेदन मांगे गए थे। जिसमें विभिन्न आयामों जैसे शिक्षण हेतु परिसर में उपलब्ध परंपरागत एवम आधुनिक क्लास रूम की व्यवस्था, विद्यार्थियों के पठन पाठन हेतु पुस्तकालय में उपलब्ध पुस्तके और शोध पत्रिकाओं का संसाधन, छात्र छात्राओं का परीक्षा फल,  रोजगार सृजन, खेलकूद की व्यवस्था, गत वर्षो में कॉलेज द्वारा आयोजित सेमिनार और कार्यशालाओं का विवरण, प्रयोगशालाओं की उपलब्धता, परिसर में स्वच्छता की स्थिति, पर्यावरण संरक्षण में महाविद्यालय के योगदान आदि की जानकारी मांगी गई थी। इसके साथ साथ महाविद्यालय में इन सभी आयामों को संयोजित करती एक वीडियो भी मांगी गई थी। कॉलेज प्रशासन ने इन सभी आयामों से जुड़ी जानकारी का ब्योरा तथा वीडियो उपलब्ध कराया गया था इस आधार पर  पुरस्कार हेतु गठन की गई स्क्रीनिंग समिति ने प्रदेश भर के शिक्षण संस्थानों में से एस एम जे एन पी जी कॉलेज हरिद्वार को सर्वश्रेष्ठ  वाणिज्य शिक्षण संस्थान के रूप में  चुना गया। 

विज्ञान धाम देहरादून में एन. रविशंकर पूर्व सचिव, प्रो. दुर्गेश पंत, (डी. जी.) उत्तराखंड काउंसिल ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ,  डॉ आर पी गुप्ता, प्रो डॉ अमित अग्रवाल, कुंवर राज अष्ठाना  डा डी पी उनियालउनियाल एवं डा नैना द्वारा कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार बत्रा को इस पुरस्कार से  कल देहरादून में सम्मानित किया गया। इस उपलब्धि पर पूरा कॉलेज परिवार अपने को  गौरवान्वित महसूस कर रहा हैं। श्री महंत रविन्द्र पुरी ने इस हेतु  कालेज के प्राचार्य डा सुनील बत्रा, कालेज के समस्त प्राध्यापकों, शिक्षणेतर कर्मचारियों, छात्र छात्राओं को बहुत बहुत बधाई दी तथा उन्होंने कहा कि कालेज निरन्तर इसी प्रकार उन्नति के नये शिखर स्थापित करेंगा  .  कालेज प्रबन्धन समिति के सचिव श्रीमहंत राम रतन गिरी महाराज ने भी कालेज की इस उपलब्धि पर प्रसन्नता व्यक्त की  उन्होंने कहा कि वाणिज्य शिक्षण में एस एम जे एन कालेज से छात्र छात्राओं ने पारम्परिक डिग्री के साथ साथ पेशेवर सी ए आदि की उपाधि भी प्राप्त की है

ढंढेरा मे आयोजित की गई बाक्सिंग प्रतियोगिता

रूडकी  27 नवंबर (अनिल लोहानी) रुड़की के ढंडेरा ग्राम में उत्तराखंड बॉक्सिंग एसोसिएशन के माध्यम से एक चैंपियनशिप का आयोजन किया गया। इसमें रुड़की नगर निगम के मेयर श्री




गौरव गोयल, जिला क्रीड़ा अधिकारी श्री आर एस धामी जी, हरिद्वार मुक्केबाजी संघ के अध्यक्ष डॉ विशाल गर्ग, सचिव श्री नवीन चौहान, क्षेत्र के पूर्व जिला पंचायत सदस्य वीरेंद्र राणा जी ,श्री सुधीर जोशी , पुष्कर काला जी, राजेंद्र रावत जी विजय पवार जी, सतीश नेगी जी अनिल लोहानी एवं क्षेत्र के गणमान्य नागरिकों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। कार्यक्रम का आयोजन माननीय श्री किशन सिंह मेहर द्वारा क्षेत्र के लोगों के सहयोग से बड़ी धूमधाम से किया गया । इसमें हरिद्वार जिले के सभी मुक्केबाजों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। क्षेत्र के लोगों में मुक्केबाजी के प्रति काफी उत्साह नजर आया बच्चों के माता-पिता व स्थानीय लोगों ने इस प्रतियोगिता का पूरा लुफ्त उठाया।

इस प्रकार की प्रतियोगिता का आयोजन ढंडेरा जैसे स्थान पर पहली बार किया गया ।जिससे यहां के लोगों ने राज्य की सरकार के प्रति आभार व्यक्त किया और भविष्य में इस प्रकार के कार्यक्रम का आयोजन होता रहे उसके लिए आग्रह किया।प्रतियोगिता के अंत में उपस्थित गणमान्य लोगों द्वारा मुक्केबाजों के उत्साहवर्धन हेतु इनाम वितरित किया गया। यदि यह आयोजन बहुत छोटे स्तर पर था परंतु लोगों में उत्साह परम सीमा पर था।।

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं ने किया रक्तदान


 देसंविवि के रक्तदान शिविर में युवाओं ने बढ़चढ़कर लिया भाग

मां गंगे ब्लड सेंटर में 254 युनिट ब्लड जमा कराये


हरिद्वार 27 नवंबर ( अमरेश दुबे संवाददाता गोविंद कृपा ऋषिकेश क्षेत्र ) देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में मां गंगे ब्लड सेंटर हरिद्वार के संयुक्त तत्त्वावधान में 74वाँ एनसीसी (नेशनल कैडेड कॉर्प) दिवस के अवसर पर रक्तदान शिविर का आयोजन हुआ। इस दौरान 254 युनिट रक्त एकत्रित हुए। जिसे माँ गंगे ब्लड सेंटर ने जरूरतमंदों के सहायतार्थ सुरक्षित रख लिया है। उल्लेखनीय है कि एनसीसी दिवस के अवसर पर रक्तदान करने वालों में छात्रों एवं बहिनों की संख्या भाइयों से अधिक थी। इससे पूर्व देसंविवि कुलपति श्री शरद पारधी एवं मां गंगे ब्लड सेंटर के निदेशक श्री नरेन्द्र नेगी ने संयुक्त रूप से वैदिक मंत्रोच्चार के बीच दीप प्रज्वलन कर रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया।

इस अवसर पर अपने संदेश में देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि रक्तदान जीवन बचाने वाला पुण्य कार्य है। रक्तदान से हार्ट अटैक, कोलेस्ट्रोल, एनीमिया जैसी अनेक रक्त संबंधी बीमारियों से बचा जा सकता है। रक्तदान से पेनक्रियाज और लीवर में सकारात्मक प्रभाव पड़ता है और नई रक्त कोशिकाओं का निर्माण भी होता है। इसलिए समय समय पर रक्तदान करते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक शोध के अनुसार साठ प्रतिशत महिलाओं को विभिन्न अवसरों पर रक्त की जरुरत पड़ती है, जबकि पहले 5 से 10 प्रतिशत महिलाएँ ही रक्तदान करती थी। अब भाइयों के साथ बहिनों में भी जागरुकता आ रही है।

माँ गंगे ब्लड सेंटर के निदेशक श्री नरेन्द्र नेगी ने बताया कि देसंविवि में आयोजित शिविर में एकत्रित किये गये कुल युनिट में से 65 प्रतिशत रक्त बहिनों की हैं। इस दौरान कुलसचिव श्री बलदाऊ देवांगन, उप कुलसचिव डॉ. उमाकांत इंदौलिया, लेफ्टीनेंट पवन राजौरिया (एएनओ) आदि ने रक्तदान करने के लिए लोगों को प्रेरित किया।

सहारनपुर एयरफोर्स स्टेशन के सीनियर इंजीनियर श्री मंजीत सिंह ने बताया कि श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी के संदेश के अनुसार आज गायत्री तीर्थ शांतिकुंज पहुंचा और यहाँ पहली बार ब्लड डोनेट किया है। मुझे खुशी है कि मेरा यह रक्त किसी जरूरतमंद लोगों के जीवन बचाने में काम आयेगा। इसी तरह के अनेक युवाओं ने अपना मंतव्य व्यक्त किया है। देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के एनसीसी एवं एनएसएस के युवा, विद्यार्थी, अधिकारी, कर्मचारी सहित शांतिकुंज के स्वयंसेवकों ने रक्तदान किया।

भल्ला कॉलेज के चर्चित प्रवक्ता को मिली कोर्ट से जमानत

 अधिवक्ता विजय उपाध्याय ने दिलाई भल्ला कॉलेज के वाणिज्य प्रवक्ता को कोर्ट से जमानत 

हरिद्वार



26 नवंबर ( वीरेंद्र शर्मा संवादाता गोविंद कृपा हरिद्वार) पन्ना लाल भल्ला इंटर कॉलेज के चर्चित वाणिज्य प्रवक्ता सुनील कुमार को आज एसीजेएम कोर्ट से छेड़छाड़ के मामले में जमानत मिल गई है सुनील कुमार के अधिवक्ता विजय कुमार उपाध्याय ने जानकारी देते हुए बताया कि भल्ला कॉलेज के वाणिज्य प्रवक्ता पर धारा 354a और 509 आईपीसी की धारा के अंतर्गत मामला चल रहा था जिसमें आज माननीय न्यायालय के समक्ष मामला रखा गया। जिस पर उनकी जमानत याचिका स्वीकार हो गई है।

ऋषि कुल आयुर्वेदिक चिकित्सालय के डॉक्टरो ने प्राइमरी स्कूल के बच्चों को दिये स्वास्थ्य रक्षा के टिप्स

 




प्राइमरी स्कूल जमालपुर कला के बच्चों को पौष्टिक आहार लेने के लिए ऋषि कुल के चिकित्सकों ने किया जागरूक 

हरिद्वार / जमालपुर कला 25 नवंबर ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज के चिकित्सक डॉ रीना दीक्षित डॉ प्रियंका शर्मा ने संतुलित एवं पौष्टिक आहार के प्रति जागरूकता अभियान के अंतर्गत जमालपुर कला के राजकीय प्राथमिक विद्यालय के बच्चों को पोस्टिक आहार एवं उसका स्वस्थ शरीर के लिए महत्व विषय पर समझाया, उन्होंने बताया कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क और मन दोनों निवास करते हैं इसलिए शरीर को संतुलित पौष्टिक आहार मिलना अनिवार्य है ।उन्होंने बच्चों को नियमित दिनचर्या अपनाते हुए हरी सब्जियां ,दालें ,दूध ,पनीर एवं सूखे मेवे ,चना ,गुड ,मूंगफली आदि खाद्य पदार्थ लेने के लिए प्रेरित किया । उन्होंने कहा कि बच्चों में खून की कमी एवं कुपोषण देखने को मिलता है जिस को दूर करने का एकमात्र तरीका संतुलित पौष्टिक आहार है इस अवसर पर स्कूल की शिक्षिका ने भी सहयोग प्रदान किया ।जागरूकता अभियान के अंतर्गत डॉक्टरों ने बच्चों को शरीर को स्वस्थ रखने के लिए योगा प्राणायाम आदि के विषय में भी बताया साथ ही भोजन में स्वच्छता हाथों को साफ रखने के लिए भी प्रेरित किया।

स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टीट्यूट मे आयोजित किए गए निशुल्क चिकित्सा कैंप का लोगों ने उठाया लाभ

 गोविंद कृपा सेवा समिति धर्मार्थ ट्रस्ट के निशुल्क चिकित्सा कैंप में ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज के चिकित्सकों ने की 100 से अधिक लोगों के स्वास्थ्य की जांच ,निशुल्क वितरित की दवाइयां

जमालपुर कला के दयाल एंक्लेव स्थित स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टिट्यूट में आयोजित किया गया निशुल्क नेत्र चिकित्सा एवं स्वास्थ्य परीक्षण शिविर


हरिद्वार 25 नवंबर ( संजय वर्मा ) गोविंद कृपा सेवा समिति धर्मार्थ ट्रस्ट के तत्वाधान में ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज के सौजन्य से जमालपुर कला स्थित स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टीट्यूट मैं निशुल्क स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया जिसमें महिलाओं बच्चों के स्वास्थ्य की जांच साथ ही नेत्र परीक्षण किया गया आने वाले मरीजों को ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज की ओर से निशुल्क दवाइयां भी वितरित की गई। मेडिकल कैंप का शुभारंभ मनु मंदिर हाई सेकेंडरी स्कूल के संस्थापक अध्यक्ष एवं प्रधानाचार्य डॉ अशोक मानवी , समाजसेवी डॉ विशाल गर्ग ,पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतिस्वरानंद के प्रतिनिधि एवं भाजपा ओबीसी मोर्चा के जिला महामंत्री प्रदीप कुमार और गोविंद कृपा सेवा समिति  की  अध्यक्ष  अनीता वर्मा ने किया  । मेडिकल कैंप में 100 से अधिक महिलाओं बच्चों के स्वास्थ्य की जांच  की गई एवं निशुल्क दवाइयां दी गई।






डॉक्टर टीम मैं- डॉ रीना दीक्षित, डॉ रमेश तिवारी, डॉ  शोभित कुमार वार्ष्णेय, डॉ  अंजलि  वर्मा, डॉ प्रियंका शर्मा,डॉ  अरुण कुमार।

डॉ  ज्ञान प्रकाश सिंह (योगाचार्य )

एम. डी. स्कॉलर  डॉ टीम -

 नीता, पूजा, प्रेरणा,रीना, कमल, नीतू, मोहर, कल्पना, वरुण, दीपक आदि ने सहयोग प्रदान किया। स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टीट्यूट की एमडी आकांक्षा पुंडीर एडवोकेट ,पलक वर्मा ने ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज चिकित्सालय एवं स्टाफ के प्रति आभार प्रकट किया।

स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टिट्यूट जमालपुर में शुक्रवार को लगेगा निशुल्क चिकित्सा कैंप

 ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज के सौजन्य से गोविंद कृपा  सेवा समिति धर्मार्थ ट्रस्ट जमालपुर में शुक्रवार को आयोजित करेगा निशुल्क चिकित्सा कैंप

हरिद्वार 23 नवंबर ( आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार)  ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज चिकित्सालय के सौजन्य से शुक्रवार 25 नवंबर को जमालपुर कला के दयाल एंक्लेव कॉलोनी स्थित स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टिट्यूट में गोविंद कृपा सेवा  समिति धर्मार्थ ट्रस्ट निशुल्क चिकित्सा कैंप आयोजित करने जा रहा है । जिसमें ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज चिकित्सालय के चिकित्सक स्थानीय लोगों का निशुल्क इलाज करेंगे एवं दवाई भी वितरित की जाएगी उपरोक्त जानकारी गोविंद कृपा सेवा समिति धर्मार्थ ट्रस्ट की अध्यक्ष श्रीमती अनीता वर्मा ने प्रदान करते हुए बताया कि शुक्रवार को प्रातः 11:00 बजे से 2:00   बजे तक दयाल एंक्लेव जमालपुर कला स्थित स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टिट्यूट में ऋषि कुल  आयुर्वेदिक कॉलेज की ओर  से विशेषकर महिलाओं बच्चों के स्वास्थ्य की जांच महिला चिकित्सक करेगी  साथ ही आंख ,नाक ,कान ,गला से संबंधित बीमारियोंकी जांच एवं चिकित्सा के लिए निशुल्क कैंप आयोजित किया गया है। जिसमें ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज के सहयोग से निशुल्क दवाइयां भी वितरित की जाएगी ।यह कैंप प्रातः 11:00 बजे से प्रारंभ होकर 2:00 बजे तक चलेगा, उन्होंने स्थानीय लोगों से इस कैंप का लाभ उठाने का आह्वान किय।

राम जन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय जी का प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम हुआ आगमन



श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महामंत्री चंपत राय जी का प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम में हुआ आगमन


हरिद्वार 23 नवंबर  ( संजय वर्मा ) विश्व हिंदू परिषद के उपाध्यक्ष व श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महामंत्री माननीय चम्पत राय जी का हरिद्वार प्राचीन अवधूत मण्डल आश्रम मे आगमन हुआ  । प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रूपेन्द्र प्रकाश जी महाराज  ने उनका अभिनंदन किया। यहाँ आपको यह बताते चलें कि राम जन्मभूमि निर्माण का कार्य आपके दिशा निर्देश में तीव्र गति से चल रहा है।उनके साथ केंद्रीय धर्माचार्य सम्पर्क प्रमुख अशोक जी तिवारी सहित विहिप के पधाधिकारीगण रहे। माननीय चंपत राय जी के साथ भेंटवार्ता में प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रूपेन्द्र प्रकाश जी महाराज ने राम जन्मभूमि निर्माण की प्रगति सहित राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की चंपत राय जी के साथ विश्व हिंदू परिषद के पदाधिकारियों का भी प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम में आगमन हुआ।

श्री अयोध्या धाम के महंत राम कुमार दास जी महाराज हुए ब्रह्मलीन


श्री अयोध्या धाम के महंत रामकुमार दास जी महाराज हुए ब्रह्मलीन

संत समाज व गणमान्यजनों ने श्री अयोध्या धाम पहुंचकर वयोवृद्ध संत को दी भावभीनी श्रद्धाजंलि, कल होगा अन्तिम संस्कार

हरिद्वार, 21 नवम्बर। उत्तरी हरिद्वार की प्रख्यात धार्मिक संस्था श्री अयोध्या धाम के परमाध्यक्ष महंत रामकुमार दास जी महाराज का आज निधन हो गया। उनके निधन का समाचार प्राप्त होते ही तीर्थनगरी में शोक व्याप्त हो गया। संतजनों व गणमान्यजनों ने श्री अयोध्या धाम पहुंचकर ब्रह्मलीन संत को भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित की। 

महंत रामकुमार दास जी महाराज राम मंदिर आन्दोलन में अगुवाई करने वाले प्रमुख संत थे। उन्होंने हरिद्वार, अयोध्या, वृन्दावन, गुजरात, राजस्थान में आश्रमों व संस्कृत विद्यालयों की स्थापना की। उन्हांेने सत्संग व कथा व्यास रूप में देशभर में हिन्दू संस्कृति व सनातन धर्म का प्रचार-प्रसार किया। 

उनको श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि वह एक तपस्वी व सच्चे संत थे। उनके निधन से धार्मिक जगत में अपूरणीय क्षति हुई है। 

भाजपा पार्षद दल के उपनेता अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि महंत रामकुमार दास जी महाराज बाल्यवस्था से साधु के रूप में साकेतवासी शियाराम दास जी महाराज के शिष्य बने थे। आज उनके अनेक शिष्य बाल मुरारी बापू, स्वामी गंगेश्वरानन्द, दिव्य मुरारी बापू, चिन्मयानन्द बापू, रामनरेश दास, गोपाल दास, विद्यानन्द, अमरदास समूचे देश-दुनिया में कथा व्यास के रूप में भारतीय संस्कृति के प्रचार-प्रसार में जुटे हुए हैं। 

ब्रह्मलीन म.मं. महंत रामकुमार दास जी महाराज को प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रूपेंद्र प्रकाश जी महाराज ,


महंत रामदास, महंत रामलखन दास, महंत राजकुमार दास, ओमकार दास, नागादास, बाबा हठयोगी, अरूण दास, गणेश दास, रामानन्द, किशन दास, श्याम दास, ओमप्रकाश, गोपालदत्त जोशी, दिनेश शर्मा, प्रकाशवीर, राजेश्वर, संजय कौशिक, आदर्श, प्रशांत, आशीष, बिजेन्द्र कौशिक, रामअवध, गिरिश कौशिक, शैलेश, अरूण, हितेश गौड़, अनीश, गोपी सैनी, राघव ठाकुर, रामदत्त जोशी समेत अनेक संतों व श्रद्धालु भक्तों ने उनके पार्थिव देह पर पुष्पाजंलि अर्पित कर उन्हें भावभीनी अर्पित की।

विपक्षी दलों के लोगों ने थामा भाजपा का दामन

 हरिद्वार 21 नवंबर ( संजय वर्मा ) भारतीय जनता पार्टी हरिद्वार के जिला भाजपा कार्यालय पर पूर्व मुख्यमंत्री एवं लोक सभा सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक एवं भारतीय जनता पार्टी हरिद्वार जिला अध्यक्ष संदीप गोयल, संगठनात्मक जिले रुड़की के जिलाध्यक्ष शोभाराम प्रजापति एवं झबरेड़ा विधानसभा से


प्रत्याशी रहे राजपाल सिंह के द्वारा झबरेड़ा, मंगलोर, भगवानपुर कलियर एवं खानपुर विधानसभा से बसपा एवं कांग्रेस की प्रदेश एवं जिला स्तरीय पदाधिकारियों एवं अनुसूचित समाज एवं लगभग 30 ग्राम प्रधानों एवं अन्य दलों के सैकड़ों की संख्या में आए हुए पदाधिकारियों को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता दिलाई डॉ० निशंक ने सदस्यता ग्रहण करने वाले सभी कार्यकर्ताओं को पार्टी का पटका पहनाकर एवं फूल माला पहनाकर स्वागत किया और कहा कि यह राज्य हम सभी का है और मैं याद दिलाना चाहता हूं कि यह राज्य किन परिस्थितियों में बना है इस राज्य को बनाने में भाजपा का अहम योगदान रहा है अन्य कई राजनीतिक दल इस राज्य के गठन के विरोधी रहे हैं यह भाजपा सरकार की ही देन है कि आज केंद्र एवं प्रदेश की सरकारों के द्वारा हमारा राज्य देश के अग्रणीय राज्यों की लाइन में खड़ा  हो रहा है हमारे प्रदेश की सरकार के मुखिया मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने राज्य को 2025 तक देश के अन्य राज्यों में ले जाने का जो संकल्प लिया है वह आप और हम सबको मिलकर पूरा करना है आज आप भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर रहे हैं जो कि विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है मैं इसके लिए आप सभी को बधाई देता हूं मैं आप सभी से कहना चाहता हूं कि जिस प्रकार अन्य राजनीतिक दलों ने हमारे अनुसूचित समाज को केवल वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया है उसका जवाब हमें साथ मिलकर देना होगा प्रधान सेवक के रूप में मां भारती की सेवा के कर्तव्य पथ पर चलते हुए राष्ट्र को नई ऊंचाइयों पर ले जाना का अनवरत कार्य जिस प्रकार मेरे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के द्वारा किया जा रहा है वह सर्वविदित है आप देख रहे हैं जिस प्रकार मोदी की विदेश नीति एवं कूटनीति से पूरे विश्व में मां भारती का मस्तक ऊंचा उठा है वह हम सब उससे गौरवान्वित हो रहे हैं यह भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीबों को समर्पित सरकार है हमारी सरकार गांव, गरीब ,किसान ,पीड़ित ,शोषित, वंचितो को दिन-रात साथ लेकर चलने वाली सरकार है चाहे वे योजनाओं जैसे उजाला योजना, उज्जवला योजना, आयुष्मान योजना, जन धन योजना ,किसान सम्मान निधि योजना आदि सैकड़ों योजनाओं के माध्यम से अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति की चिंता करने वाली सरकार है मोदी के नेतृत्व में देश को विकास को नई ऊंचाइयों पर ले जाकर विश्व कीर्तिमान स्थापित कर रही है नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में विकास की गंगा बह रही है हम सभी को प्रदेश एवं केंद्र की सरकारों की लोक कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाकर उनके हाथों को मजबूत करना है हमें भारतीय जनता पार्टी के एक सच्चे सिपाही के रूप में सेवा करनी है हमारी पार्टी का सर्वप्रथम उद्देश्य केवल और केवल राष्ट्रवाद ही है हमारे लिए देश प्रथम है यहां परिवारवाद की कोई जगह नहीं है हम सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास के मूल मंत्र को चरितार्थ करते हुए ही आगे बढ़ने का काम कर रहे हैं यह पार्टी गरीबों की पार्टी है एक चाय बेचने वाला भारत का प्रधानमंत्री बनाया जाता है यह कम बड़ी बात नहीं है अन्य पार्टियों ने अभी तक अनुसूचित समाज को केवल गुमराह करने का काम किया है यह भारतीय जनता पार्टी की सरकार है कि जिन्होंने बाबा साहब को भारत रत्न देकर एवं पंचतीर्थ बनाकर बाबा साहब एवं अनुसूचित समाज के भाइयों का का सम्मान किया आज आपका इतनी भारी संख्या में भारतीय जनता पार्टी सदस्यता ग्रहण करना यह दर्शाता है कि आने वाले समय में किस प्रकार अन्य राजनीतिक दलों का सूपड़ा ही साफ होने वाला है और मैं भी आपको विश्वास दिलाता हूं कि पूरी भारतीय जनता पार्टी आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है हम सब मिलकर देश के प्रधानमंत्री को ताकत देंगे और आगे बढ़ने के लिए अपना योगदान देंगे सदस्यता लेने वालों में हर जोली जट से मेनपाल प्रधान मुंडेट से मनोज कुमार, कुड़ी से मांगेराम प्रधान, उदलहैड़ी से सुरेश कुमार पूर्व प्रधान, नारसन कला से सोनिया, नत्थू खेड़ी से बिट्टू, बसवाखेड़ी से सोनू प्रधान, कुस्लीपुर से सुदेश, धोई से सरिता देवी, बरहमपुर जट से सचिन प्रधान, कृष्णपाल प्रधान वेद भूषण प्रधान ,अशोक कुमार प्रधान, संजय कुमार प्रधान ,मोनू कुमार प्रधान, जगदेव सिंह प्रधान, कवर पाल प्रधान ,रविंद्र कुमार प्रधान आदि सैकड़ों लोगों ने सदस्यता ग्रहण की इस अवसर पर भाजपा के पूर्व विधायक संजय गुप्ता अनुसूचित मोर्चा के जिलाअध्यक्ष तेलूराम, दिनेश पवार ,अमीलाल बाल्मीकि, सुनील सैनी, अनिल अरोड़ा, निपेंद्र चौधरी, लव शर्मा, आशु चौधरी ,मोहित वर्मा ,विजय चौहान, संजय कुमार ,आदित्य राज सैनी ,अरविंद गौतम, लक्ष्मण नागर,अभिनंदन गुप्ता, प्रदीप वैध, सुबोध शर्मा, मनोज गौतम, धर्मेंद्र चौहान, अभिनव चौहान, आदि पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

भाजपाइयों से हरिद्वार में गणेश जोशी ने किया संवाद

हरिद्वार 18 नवंबर ( संजय वर्मा ) 


उत्तराखंड सरकार के वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने आज हरिद्वार भाजपा जिला कार्यालय पहुंचकर कार्यकर्ताओं से संवाद किया गणेश जोशी के आगमन पर जिला अध्यक्ष संदीप गोयल ने जिले के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ पुष्प देकर एवं अंग वस्त्र भेंट कर स्वागत किया मंत्री जी ने उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राज्य सरकार की योजनाओं से अवगत कराया और बताया कि सरकार किस तरह से निचले पायदान तक पर बैठे व्यक्ति को जनकल्याणकारी योजनाओ की जानकारी देकर उनका लाभ प्रदान करा रही है उन्होंने बताया कि जिस प्रकार केंद्र एवं प्रदेश सरकार की योजनाओं चाहे वह आयुष्मान योजना हो, जन धन योजना हो, उजाला हो ,उज्वला हो ,किसान सम्मान निधि हो, वन रैंक वन पेंशन हो आदि अन्य योजनाओं के माध्यम से आम आदमी तक विकास को पहुंचाने का काम कर रही है वह ऐतिहासिक है आज इस अवसर पर मैं आप सभी से अपील करता हूं कि आप सभी कार्यकर्ता केंद्र व प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों को घर-घर तक पहुंचाने का कार्य करें तत्पश्चात मंत्री जी ने वरिष्ठ कार्यकर्ता सुरेंद्र शर्मा के आवास पर पहुंचकर बूथ के कार्यकर्ताओं के साथ चाय पर संवाद किया एवं बूत के कार्यकर्ताओं को प्रदेश सरकार की नीतियों को जन जन तक पहुंचाने का आह्वान किया जिला कार्यालय पर कार्यक्रम का संचालन लव शर्मा ने किया इस अवसर पर रानीपुर विधानसभा के विधायक आदेश चौहान, नीपेंद्र चौधरी, रीता चमोली, तेलूराम प्रधान, मोहित वर्मा, आशु चौधरी, अनामिका शर्मा, नागेंद्र राणा, संजय कुमार, विपिन शर्मा, लोकेश पाल, विकास कुमार, मनोज प्ररलिया, सुबेसिंह, विनोद सैनी, वीरेंद्र बोरी, राजीव भट्ट, राजेश खन्ना ,मनोज चौहान, रोहित साहू, रेनू शर्मा, अभिषेक गौड़, विवेक कश्यप, पंकज सिंह, सुनील कुमार, आशीष गॉड, मनोज कुमार, सुरेश चौहान, बसंत सैनी, जुगल आदि पदाधिकारी में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रूपेंद्र प्रकाश जी महाराज ने किये भगवान बद्री विशाल के दर्शन

 प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रूपेन्द्र प्रकाश जी महाराज ने विश्व शांति के लिए की भगवान बद्रीनाथ से प्रार्थना 

हरिद्वार 18  नवंबर ( संजय वर्मा )  प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रुपेन्द्र प्रकाश जी महाराज ने भगवान बद्रीनाथ के दर्शन कर उनसे मानव मात्र के कल्याण एवं  विश्व शांति  के लिए भगवान बद्रीनाथ से प्रार्थना की महामंडलेश्वर स्वामी रूपेन्द्र प्रकाश जी महाराज इन दिनों बद्रीनाथ यात्रा पर श्रद्धालु भक्तों के साथ गए हुए हैं । उन्होंने कहा कि भगवान बद्री विशाल श्री हरि का इस धरा धाम  पर साक्षात स्वरूप है।  जो संपूर्ण विश्व का भरण पोषण करते हैं। संपूर्ण मानव जगत सुखी रहे समृद्ध रहे ऐसी भगवान श्री बद्री विशाल से प्रार्थना है।



महाराज  श्री बद्रीनाथ में आयोजित धार्मिक अनुष्ठान में भी प्रतिभाग करेंगे ।

कबड्डी चैंपियनशिप में खिलाड़ियों ने दिखाया दमखम


 हरिद्वार 18 नवंबर ( वीरेंद्र शर्मा संवादाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) हरिद्वार के पंतद्वीप मैदान में वीरवार को उत्तराखंड कबड्डी एसोसिएशन के तत्वाधान में 48 वीं राष्ट्रीय जूनियर कबड्डी चैंपियनशिप का मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह द्वारा शुभारंभ किया गया था। जिसमें द्वितीय दिन भी खिलाड़ियों ने जमकर अपने खेल का प्रदर्शन किया और मैदान में खिलाड़ियों के जबरदस्त मूव देखने को मिले।

दूसरे दिन के खेल में सबसे पहले हरियाणा का मुकाबला गोवा से हुआ जिसमें हरियाणा ने गोवा को 38-19 के स्कोर से, झारखंड ने त्रिपुरा को 59-11, बिहार ने गुजरात को 49-25, राजस्थान ने छत्तीसगढ़ को 52-23, दिल्ली ने उड़ीसा को 47-20, वेस्ट बंगाल ने लद्दाख को 50-9, उत्तर प्रदेश ने जम्मू कश्मीर को 49-20, कर्नाटका ने केरल को 39-25, हरियाणा ने आसाम को दूसरे मैच में 38-9, गोवा ने उत्तराखंड को 51-36, चंडीगढ़ ने त्रिपुरा को 42-10, झारखंड ने पांडिचेरी को 45-40 और महाराष्ट्र में छत्तीसगढ़ को 56-12 से पराजित किया। आपको बता दें कि कबड्डी चैंपियनशिप में कुल 8 ग्रुप बनाए गए हैं, जिसमें हर ग्रुप में 4 टीम है, जो भी दो टीम लीग खेलने के बाद टॉप पर रहेगी वह दो टीमें अगले राउंड में प्रवेश करेंगी, जहां हर टीम के नॉकआउट मुकाबले होंगे। टूर्नामेंट में मंच का संचालन नरेंद्र सिंह रौथाण एवं कॉमेंट्री मोहम्मद इदरीश द्वारा किया जा रहा है।

आयोजन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बृजभूषण विद्यार्थी, मुख्य संयोजक डॉ जितेंद्र सिंह, महासचिव चेतन जोशी, समन्वयक महेश जोशी, कोच ऋषि पाल सिंह, कोच नितिन राठी, नरेंद्र सिंह, गिरीश अग्रवाल,  

कोषाध्यक्ष शलभ मित्तल, मनीष राठी, एवं तमाम खेल प्रेमी और विभिन्न राज्यों से आए हुए कोच और पदाधिकारी उपस्थित रहे।

पंडित हर प्रसाद पांडे को मोनी मंदिर में दी गई श्रद्धांजलि

 विद्वान व तपस्वी महापुरुष थे हरप्रसाद पाण्डेय : अनिरूद्ध भाटी

मौनी मंदिर के अधिष्ठाता पण्डित हरप्रसाद पाण्डेय को संत समाज व गणमान्यजनों ने आठवीं पुण्यतिथि पर दी भावभीनी श्रद्धाजंलि

हरिद्वार, 18 नवम्बर( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )


पण्डित हरप्रसाद पाण्डेय विद्वान व तपस्वी महापुरुष थे। उनका समूचा जीवन भगवान लक्ष्मी नारायण व बजरंग बली जी की आराधना एवं संस्कृत के उत्थान को समर्पित रहा। यह विचार भाजपा पार्षद दल के उपनेता अनिरूद्ध भाटी ने मौनी मंदिर के अधिष्ठाता पण्डित हरप्रसाद पाण्डेय की आठवीं पुण्यतिथि के अवसर पर व्यक्त किये।

अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि उन्होंने सदैव भारतीय सनातन संस्कृति की रक्षा व धार्मिक सामाजिक आयोजनों में अपना महत्वपूर्ण योगदान प्रदान किया। 

पार्षद विनित जौली व दीपांशु विद्यार्थी ने कहा कि पण्डित हरप्रसाद पाण्डेय संस्कृत के महान विद्वान होने के साथ-साथ वेद व ज्योतिष के भी ज्ञाता थे। उनकी परम्परा को उनके सुपुत्र बालगोविन्द पाण्डेय आगे बढ़ा रहे हैं।

पण्डित बालगोविन्द पाण्डेय ने कहा कि पूज्य बाबूजी के सेवा प्रकल्पों को निरन्तर संचालित किया जा रहा है। 

इस अवसर पर बालगोविन्द पाण्डेय, अभिषेक पाण्डेय, त्रिलोचन पाण्डेय, विनोद सक्सेना, दीपांशु विद्यार्थी, विनित सैनी समेत सैकड़ों संतजन व श्रद्धालु भक्तजनों ने ब्रह्मलीन पण्डित हरप्रसाद पाण्डेय को अपनी भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित की।

संपूर्ण गढ़वाल मंडल में होगा एन यू जे आई का विस्तार

 जल्द होगा, गढ़वाल मंडल के सातों जिलों में एनयूजे, आई उत्तराखंड की इकाई का गठन: निशांत चौधरी 



हरिद्वार 18 नवंबर ( संजय वर्मा ) नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) उत्तराखंड के तत्वावधान में गढ़वाल मंडल के सातों जिलों में इकाई के गठन की तैयारी शुरू होने जा रही है। गढ़वाल मंडल अध्यक्ष, महासचिव ने गढ़वाल मंडल के सातों जिलों में टीम खड़ी करने के प्रयास तेज कर दिए हैं। रविवार को होने वाली पदाधिकारियों की बैठक में रूपरेखा तैयार की जायेगी।


गढ़वाल मंडल महासचिव निशांत चौधरी ने बताया कि  गढ़वाल मंडल अध्यक्ष धर्मेंद्र चौधरी के साथ विचार विमर्श के उपरांत यूनियन के विस्तार का कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है। जल्द ही गढ़वाल मंडल के सभी जनपदों में उत्तरकाशी, पौड़ी, टिहरी, चमोली, रद्रप्रयाग में एनयूजे आई इकाई के गठन का कार्य शुरू किया जायेगा।‌ गौरतलब है कि रविवार, 15 मई 2022  गोविंद वल्लभ पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विवि पंतनगर , ऊधम सिंह नगर में आयोजित प्रांतीय सम्मेलन में राष्ट्रीय अध्यक्ष रासबिहारी, उपाध्यक्ष रामचंद्र कन्नोजिया  महासचिव प्रसन्ना मोहंती की मौजूदगी में प्रदेश अध्यक्ष कैलाश जोशी ने गढ़वाल मंडल  अध्यक्ष एवं महासचिव पद पर धर्मेंद्र चौधरी एवं निशांत चौधरी के नामों की घोषणा करते हुए उन्हें गढ़वाल मंडल में इकाई गठन करने की जिम्मेदारी सौंपी  थी। लेकिन अभी तक कार्रवाई शुरू नहीं हो सकी। विलंब की बात को स्वीकार करते हुए महसचिव निशांत चौधरी ने जल्द ही टीम के गठन की बात कही। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामचंद्र कन्नोजिया, मुख्य संरक्षक ब्रह्मदत्त शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष कैलाश जोशी, प्रदेश महासचिव सुशील कुमार त्यागी, प्रदेश कोषाध्यक्ष विकास कुमार झा, गढ़वाल मंडल अध्यक्ष धर्मेंद्र चौधरी, जिला अध्यक्ष राहुल शर्मा, महासचिव संदीप रावत के साथ मिलकर एक मजबूत इकाई का गठन किया जाएगा।‌ देश में सबसे बड़े संगठन के तौर पर कार्यरत एनयूजे,आई उत्तराखंड, प्रदेश में भी सबसे बड़ी इकाई के तौर पर सामने आएगी।

वात्सल्य वाटिका में अशोक सिंघल को दी गई श्रद्धांजलि

  हरिद्वार 17 नवंबर ( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) पतित पावनी माँ गंगा के पावन तट पर स्थित वात्सल्य वाटिका बहादराबाद के प्रांगण में विश्व हिन्दु परिषद के संरक्षक, व श्री रामजन्मभूमि मन्दिर के महानायक श्रद्धेय श्री अशोक सिंहल जी की पुण्यतिथि श्रद्धांजली कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में के सभी अतिथियों का स्वागत वात्सल्य वाटिका के बालकों ने घोष बजाकर किया। तत्पश्चात कार्यक्रम का शुभारम्भ अतिथी महोदय ने माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन करके किया। इसके पश्चात सभी अतिथियों ने अशोक सिंहल को पुष्पांजली अर्पित की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री जेसी जैन - ट्रस्ट अध्यक्ष वात्सल्य वाटिका तथा महावीर अग्रवाल जी कुलपती, डायरेक्टर एकम्स ड्रग्स एण्ड फार्मास्यूटिकल्स 



हरिद्वार) पतंजली योगपीठ हरिद्वार कार्यक्रम अध्यक्ष म. म. डा. रामेश्वर दास जी महाराज (बड़ा हनुमान मन्दिर, ऋषिकेष), मुख्य वक्ता - सोहन सिंह जी सोलंकी (क्षेत्र संगठन मन्त्री वि. हि. प. मेरठ क्षेत्र) तथा विशिष्ठ अतिथि प. संत जसविन्दर शास्त्री जी महाराज (प्रदेश अध्यक्ष अखिल भारतीय संत समिति उत्तराखण्ड) प्रकल्प अध्यक्ष श्री रमेश भाई ठक्कर जी आदि  महान व्यक्तित्व मंच पर उपस्थित रहे। सभी मुख्य वक्ताओं ने अपने-अपने विचारों के साथ अपना आर्शीवाद वात्सल्य वाटिका के बच्चों को दिया। बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। कार्यक्रम के उपरान्त वात्सल्य वाटिका के मन्दिर प्रागंण में महाआरती का आयोजन किया गया जिसमें बालको ने सभी आरतियाँ प्रस्तुत की। कार्यक्रम की उपस्थित सभी के आगन्तुकों का प्रकल्प प्रबन्धक श्री प्रदीप मिश्रा ने धन्यवाद किया।

कार्यक्रम के अवसर पर श्री अजय जी, श्री एल आर गुप्ता जी, श्री बसन्त चौहान जी, श्री रामविलास यादव जी, मानव जी श्रीमती मानसी मिश्रा, श्रीमती बिमलेश गौड़ जी, श्री शरद जयस्वाल जी, राजेश कुमार जी, सहित समस्त स्टाफ एवं कार्यकारिणी सदस्यगण उपस्थित रहे । कार्यक्रम का संचालन अ.श्री सोमवीर जी ने किया '

एन वाई के हरिद्वार ने दी स्वर्ग महेंद्र सिंह जी को श्रद्धांजलि


 एन वाई के हरिद्वार ने दी स्वर्गीय महेंद्र सिंह रावत जी को श्रद्धांजलि 

 हरिद्वार 17 नवंबर( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) नेहरू युवा केंद्र हरिद्वार एवं उधम सिंह नगर के लेखा अधिकारी एवं कार्यक्रम अधिकारी धर्म सिंह रावत जी के पिता स्वर्गीय महेंद्र सिंह रावत जी के निधन पर शोक प्रकट करते हुए नेहरू युवा केंद्र हरिद्वार के कर्मचारियों, नेहरू युवा मंडल के पदाधिकारियो ंने स्वर्गीय महेंद्र सिंह जी के निधन पर शोक प्रकट करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की , हरिद्वार एवं उधम सिंह नगर नेहरू युवा केंद्र के लेखाधिकारी श्री धर्म सिंह रावत जी के पिता का निधन 13 नवंबर को हो गया था । जिनके निमित्तआज नेहरू युवा केंद्र हरिद्वार के कार्यालय में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई एवं शोक संतप्त परिवार के प्रति सांत्वना प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई । इस अवसर पर नेहरू युवा मंडल अजीतपुर के पूर्व अध्यक्ष दिनेश कश्यप ,प्रखर कश्यप, गोविंद कृपा सेवा समिति के संरक्षक संजय वर्मा, नेहरू युवा केंद्र कार्यालय के कर्मचारी तनुज बुटोला सहित धर्म सिंह रावत जी के शुभचिंतक एवं मित्र उपस्थित रहे। उधम सिंह नगर नेहरू युवा केंद्र के जिला युवा कार्यक्रम अधिकारी रविंद्र कुमार ने भी धर्म सिंह रावत जी को सांत्वना देते हुए शोक प्रकट किया।

भाजपाइयों ने नवनियुक्त जिला अध्यक्ष का किया भव्य स्वागत

  हरिद्वार 17 नवंबर ( संजय वर्मा )भाजपा जिला हरिद्वार के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष संदीप गोयल का जिला भाजपा कार्यालय हरिद्वार पर ढोल नगाड़ों ,आतिशबाजी वं फूल मालाओं के द्वारा कार्यकर्ताओं ने उत्साहित होकर अपने जिला अध्यक्ष का स्वागत किया तत्पश्चात हर की पौड़ी पहुंचकर गंगा पूजन कर गंगा आरती में प्रतिभाग किया । इस अवसर पर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री लोकसभा के सांसद रमेश पोखरियाल निशंक, रुड़की के जिलाध्यक्ष शोभाराम प्रजापति, रानीपुर के विधायक आदेश चौहान, पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यति



स्वरानंद, पूर्व जिलाअध्यक्ष जयपाल सिंह चौहान, पूर्व विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन, पूर्व विधायक संजय गुप्ता, पूर्व विधायक सुरेश राठौर, प्रदेश उपाध्यक्ष देशराज करणवाल,लक्सर नगर पालिका अध्यक्ष अमरीश गर्ग, अनु कक्कड़, ओमप्रकाश जमदग्नि, आदेश सैनी, आशु चौधरी, लव शर्मा, रीता चमोली ,नीपेंद्र चौधरी, तेलू राम, जिला पंचायत उपाध्यक्ष अमित चौहान, दर्शना सिंह, सुनील सैनी, विजय चौहान, नागेंद्र राणा ,चंदन चौहान, अनामिका शर्मा ,वीरेंद्र तिवारी, राजकुमार अरोड़ा, मोहित वर्मा, सुनील गुड्डू, राजेश शर्मा, अमरीश शर्मा, मन्नू रावत, राजीव भट्ट, रजनी वर्मा, नितिन चौहान, विक्रम भुल्लर ,अभिनव चौहान ,विपिन चौहान, राव जमीर, आशीष झा आदि सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी उपस्थित रहे।

जूना अखाड़ा मे श्रद्धा भाव के साथ मनाई जा रही है भैरव जयंती

 हरिद्वार 16 नवंबर ( गोपाल रावत वरिष्ठ


पत्रकार) श्री पंच दशनाम जूना अखाड़े में आज भगवान काल भैरव जन्मोत्सवसमारोह दूसरे दिन बड़े धूमधाम से मनाया गया। अखाड़े के अंतरराष्ट्रीय सभापति श्री महंत प्रेम गिरि महाराज, राष्ट्रीय सचिव श्री महंत महेश पुरी तथा श्री महंत शैलेंद्र गिरी, पुजारी महंत वशिष्ठ गिरी के संयोजन में सवेरे से ही विशिष्ट अनुष्ठान पूजा अर्चना प्रारंभ की गई। बुधवार की प्रात सभापति श्री महंत प्रेम गिरी महाराज ने नागा सन्यासियों व श्रद्धालु भक्तों के साथ भगवान काल भरव का विशेष अनुष्ठान प्रारंभ किया। इस अनुष्ठान को सम्पन्न कराने के लिए महाकाल की नगरी उज्जैन से आचार्य नारायण व्यास ,आचार्य अचल व्यास ,पंडित मोहित शर्मा ,पंडित आदर्श शर्मा, पंडित आयुष शर्मा विशेष रूप से आमंत्रित किए गए थे। इनके पौरोहित्य में मध्यान्ह में विश्व शांति के लिए विशिष्ट शांति पाठ किया गया जिसमें नागा सन्यासियों ने राष्ट्र की उन्नति, प्रगति, विकास तथा सर्वे भवंतू सुखिना की कामना के साथ आहुतियां डाली ।श्री आनंद भैरव के मुख्य पुजारी महंत वशिष्ठ गिरी महाराज ने बताया भगवान काल भैरव के प्रकट उत्सव के कार्यक्रम आज शाम से प्रारंभ हो जाएंगे । जिसमें भगवान का सवा कुंटल दूध ,फलों का रस, केसर,केवड़ा, गुलाब जल से अभिषेक किया जाएगा। भगवान भैरव का फूलों फलों के व नए वस्त्रों से श्रृंगार  के साथ-साथ सोने का वर्क  उनकी पिंडी पर चढ़ाया जाएगा ।अर्धरात्रि में प्रगतोसव के समय छप्पन प्रकार के व्यंजनों का भोग लगाया जाएगा तथा महाआरती की जाएगी। रात्रि में विशाल जागरण का आयोजन किया गया है जिसमें कई विख्यात भजन गायक भगवान काल भैरव की महिमा का गुणगान करेंगे। बृहस्पतिवार को विशाल समष्टि भंडारे का आयोजन किया गया है जिसमें हजारों श्रद्धालु भक्त प्रसाद  ग्रहण करेंगे । तीन दिवसीय चलने वाली इस आयोजन को सफल बनाने में जूना अखाड़े के श्री महंत पशुपति गिरी, कोठारी महंत महा काल गिरी ,महंत राजेंद्र गिरी, महंत मोहननंद गिरि, महंत सहजानंद सरस्वती, महंत गौतम गिरी, महंत परमानंद गिरि, महंत मणि राज पुरी,महंत सत्यनारायण पुरी, महंत विक्रम गिरि, महंत भीषम गिरि, सहित सैकड़ों श्रद्धालु भक्त जुटे हुए हैं।

दीन दयालु जी महाराज को संत समाज ने दी श्रद्धांजलि

 पुराण मर्मज्ञ एवं तपस्वी युग महापुरुष थे स्वामी दीन दयालु महाराज : ज्ञानानन्द महाराज

अन्तर्राष्ट्रीय ख्यातिलब्ध भागवत भूषण स्वामी दीनदयालु जी महाराज को संत समाज व गणमान्यजनों ने दी भावभीनी श्रद्धाजंलि

हरिद्वार, 16 नवम्बर। स्वामी दीनदयालु



जी महाराज पुराण मर्मज्ञ एवं तपस्वी युग महापुरुष थे। उन्होंने ही देश दुनिया में समस्त कथाओं को जन-जन पहुंचाने का महान कार्य किया। यह विचार गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानन्द जी महाराज ने अन्तर्राष्ट्रीय ख्यातिलब्ध भागवत भूषण स्वामी दीनदयालु जी महाराज के श्रद्धाजंलि समारोह को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। स्वामी ज्ञानानन्द महाराज ने कहा कि निरन्तर 72 वर्षों तक श्रीमद् भागवत समेत सभी पुराणों व कथाओं का वाचन कर उन्हांेने राष्ट्र व समाज को सार्थक दिशा देने का कार्य किया है। 

पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि दीन दयालु महाराज स्वामी करपात्री महाराज के परम शिष्य रहे। दीन दयालु महाराज श्रीविद्या के परम उपासक थे। उन्होंने धर्म, प्रचार व संस्कृति शिक्षा के उन्नयन हेतु हरिद्वार, वृन्दावन, काशी, हांसी, ऊना, जबलपुर में आश्रमों व संस्कृत विद्यालय की स्थापना की। 20 वर्ष की आयु से उन्होंने कथा व्यास के रूप में देश-विदेश में श्रीमद् भागवत, शिव पुराण, रामकथा, देवी भागवत, अष्टावक्र गीता, गीता प्रवचन, गणेश पुराण, सूर्य पुराण की 250 हजार से अधिक कथाओं का प्रवचन किया। उन्होंने अपने जीवनकाल में निरन्तर 71 वर्षों तक कथाव्यास के रूप में कार्य किया। उनका समूचा जीवन भारतीय संस्कृति व हिन्दू धर्म के उन्नयन को समर्पित रहा। 

म.मं. स्वामी हरिचेतनानन्द जी महाराज व म.मं. स्वामी ललितानन्द गिरि ने कहा कि दीन दयालु महाराज ने कथा प्रचवन के साथ-साथ भागवत रहस्य, अष्टावक्र गीता, गीता रहस्य, राम गीता, दुख की जड़ काम और सुख की जड़ राम जैसी पुस्तकों की रचना कर सनातन संस्कृति को आम जनमानस तक पहुंचाने का कार्य किया।

अखाड़ा परिषद के प्रवक्ता बाबा हठयोगी महाराज ने कहा है कि ब्रह्मलीन भागवत भूषण दीन दयालु महाराज भारतवर्ष की एक महान विभूति थे। जिनका आदर्शपूर्ण जीवन सभी के लिए प्रेरणादायी रहेगा। संत समाज ऐसे महापुरुषों को नमन करते हुए उन्हें अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करता है। 

श्रद्धाजंलि समारोह की अध्यक्षता करते हुए म.मं. स्वामी भगवत स्वरूप महाराज ने कहा कि महापुरुषों का जीवन राष्ट्र को प्रकाशमय करता है, जिनके दर्शन मात्र से पापों से निवृत्ति और पुण्य की प्राप्ति होती है। ब्रह्मलीन स्वामी दीन दयालु महाराज एक महान एवं तपस्वी संत थे। जिन्होंने जीवन पर्यंत धर्म एवं संस्कृति के उत्थान के लिए कार्य किया।

इस अवसर पर सतपाल ब्रह्मचारी, स्वामी ऋषिश्वरानंद महाराज ने कहा कि ललिता आश्रम ट्रस्ट समाज सेवा, चिकित्सा, शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाकर समाज को एक नई दिशा प्रदान कर रहा है।

श्रद्धाजंलि समारोह का संचालन डॉ. चन्द्रभूषण शुक्ला ने किया। इस अवसर पर कार्यक्रम में पधारे सभी संत महापुरुषों का शिव कुमार पांडे एवं हरिहर पांडे ने माल्यर्पण कर सम्मान किया। 

इस अवसर पर संस्था के ट्रस्टी सतपाल सिंघला, योगेश बंसल, मनोहर लाल अरोड़ा, क्षेत्रीय पार्षद अनिरूद्ध भाटी, श्रीमहंत दुर्गादास, स्वामी हरिहरानंद, महंत सूरज दास, स्वामी राम मुनि, धर्म संघ काशी से जगजीतन पाण्डेय, स्वामी ऋषि रामकृष्ण, महंत अरुण दास, स्वामी ज्ञानानंद शास्त्री, महंत प्रेमदास, श्रीमहंत विष्णुदास, महंत प्रहलाद दास, महंत गोविंद दास, महंत रघुवीर दास, राजमाता आशा भारती, महंत प्रमोद दास, महंत शुभम गिरी, महंत बाल गिरी, महंत पूर्णानंद गिरी, भक्त दुर्गादास, महंत नारायण दास पटवारी, दिनेश शर्मा, रूपेश शर्मा सहित बड़ी संख्या में संत महंत उपस्थित रहे।

विश्व मधुमेह दिवस पर ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज में हुआ सेमिनार


 *उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय ऋषिकुल  परिसर, हरिद्वार में विश्व मधुमेह दिवस पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन संपन्न*


हरिद्वार 16 नवंबर (संजय वर्मा ) स्नातकोत्तर  काय चिकित्सा विभाग,  उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय हरिद्वार  के द्वारा विश्व मधुमेह दिवस के अवसर पर एक-दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया जिसमें उत्तराखंड के 6 आयुर्वेदिक कॉलेजों के 154 बच्चों ने प्रतिभाग किया कार्यक्रम में पेपर प्रस्तुति प्रतियोगिता, प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता और पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

 कार्यक्रम का प्रारंभ भगवान धनवंतरी के पूजन और दीप प्रज्वलन के साथ किया गया कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलपति डॉक्टर सुनील जोशी ने कहा कि विश्व में मधुमेह का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। हमें अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। कायचिकित्सा विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर ओपी सिंह ने कहा कि खान-पान के साथ-साथ हमारी दिनचर्या,रात्रिचर्या,ऋतुचर्या सब कुछ परिवर्तित हो गई है और इस परिवर्तन के कारण हमारे शरीर की क्रियात्मक व्यवस्था भी  परिवर्तित हो गई है जो व्याधियों को बढ़ा रही है अधिकांश लोगों को मधुमेह के प्रारंभिक लक्षणों के बारे में जानकारी नहीं है जिसके कारण रोगी को मधुमेह की चिकित्सा प्रारंभ करने में देर हो जा रही है। अधिकांश रोगी मधुमेह की दवा शुरू हो जाएगी और लगातार चलने लगेगी इसके डर से जांच नहीं कराते हैं जिसके खराब परिणाम उनको बाद में मिलते हैं और उनके शरीर में विभिन्न अंगों का समय से पूर्व क्षरण प्रारंभ हो जाता है। उन्होंने कहा कि दिनचर्या रात्रिचर्या और ऋतुचर्या को नियमित रख कर के हम शरीर में बढ़ रही व्याधियों को नियंत्रित कर सकते हैं। मधुमेह दिवस की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए परिसर निदेशक प्रोफेसर दिनेश चंद्र सिंह  ने कहा कि मधुमेह जिस तेजी के साथ बढ़ रहा है हमें मधुमेह नियंत्रण हेतु जनजागरण पर विशेष ध्यान देना होगा। जिसके लिए विश्वविद्यालय के सहयोग से समय-समय पर मधुमेह जांच शिविर लगाये जाने की योजना है।

 पेपर प्रस्तुति प्रतियोगिता में रोग निदान विभाग की डॉ श्रद्धा ने तृतीय स्थान, द्रव्यगुण विभाग के डॉ मनीषा ने द्वितीय स्थान एवं रस शास्त्र विभाग की डॉ श्रुति शर्मा ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। पोस्टर प्रतियोगिता में उत्तरांचल आयुर्वेदिक कॉलेज देहरादून के आदिल सोहेल प्रेरणा सिमरन और प्रिंसी के ग्रुप ने तृतीय स्थान,ओम आयुर्वेदिक कॉलेज के आयुषी और अनु प्रीति के ग्रुप ने दूसरा स्थान और  ऋषिकुल परिसर की प्रियांशी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया।प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में नीलम रावत ने तृतीय स्थान, श्यामला सुथर ने द्वितीय स्थान और सृष्टि ध्यानी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। ॠषिकुल परिसर निदेशक प्रोफ़ेसर दिनेश चंद्र सिंह ने सभी प्रतिभागियों और विजयी छात्र छात्राओं  को स्मृति चिन्ह एवं प्रमाण पत्र प्रदान किए और बधाइयां दी। कार्यक्रम  में ऋषिकुल परिसर निदेशक डॉक्टर दिनेश चंद्र सिंह, गुरुकुल आयुर्वेदिक कॉलेज के परिसर निदेशक डॉक्टर पंकज शर्मा, डॉ खेमचंद शर्मा, डॉ अवधेश मिश्रा, डॉक्टर गिर्राज गर्ग डॉ संजय कुमार त्रिपाठी, डॉ श्वेता शुक्ला, डॉ कीर्ति वर्मा, डॉ वेद भूषण शर्मा, डॉ रमेश चंद्र तिवारी, डॉ सुरेश चौबे, डॉ संजय सिंह, डॉ मनीषा दीक्षित आदि आयुर्वेद शिक्षक एवं चिकित्सक उपस्थित रहे।

जूना अखाड़ा में मनाई गई बटुक भैरव जयंती

 हरिद्वार 15 नवंबर ( गोपाल रावत वरिष्ठ पत्रकार ) भगवान शिव के अवतार काल भैरव के जन्मोत्सव के पावन अवसर पर श्री पंच दशनाम जूना अखाड़े में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है । कार्यक्रमों की इसी श्रृंखला में मंगलवार को जूना अखाड़े द्वारा भव्य शोभायात्रा निकाली गई । जूना अखाड़े के



अंतरराष्ट्रीय संरक्षक तथा अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्री महंत हरि गिरी महाराज व अखाड़े के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष श्री महंत प्रेम गिरी महाराज के निर्देशन में नागा सन्यासियों साधु-संतों व श्रद्धालु भक्तों ने नगर के प्रमुख बाजारों में भगवान आनंद भैरव अर्थात बटुक भैरव की शोभायात्रा निकाली । जूना अखाड़े स्थित भगवान आनंद भैरव के पौराणिक मंदिर से आनंद भैरव की पूजा अर्चना के पश्चात रथ में सवार शोभायात्रा प्रारंभ की गई । बैंड बाजे ढोल नगाड़ों के साथ-साथ श्री परशुराम अखाड़े के वीरों द्वारा तलवारबाजी, गदा, फरसा तथा अन्य अस्त्र शस्त्रों के प्रदर्शन के साथ बाल्मीकि चौक,दत्तात्रय चौक, हर की पैड़ी ,मोती बाजार ,बड़ा बाजार होते हुए माया देवी मंदिर पहुंची शोभायात्रा का स्थानीय नागरिकों व्यापारियों तथा श्रद्धालु भक्तों द्वारा जगह-जगह पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया तथा भगवान आनंद भैरव की पूजा अर्चना की । पौराणिक श्री आनंद भैरव मंदिर के मुख्य पुजारी वशिष्ठ गिरी महाराज ने बताया कल बुधवार को भगवान भैरव का जन्मोत्सव है। इस अवसर पर भगवान आनंद भैरव का विशिष्ट श्रृंगार किया जाएगा। पौराणिक परंपराओं और मान्यताओं के अनुसार मध्य रात्रि में भैरव भगवान का उत्सव मनाया जाएगा तथा विशेष महाआरती की जाएगी।  इस मौके पर नागा सन्यासियों के अतिरिक्त हजारों श्रद्धालु भक्त उपस्थित रहेंगे। बृहस्पतिवार को प्रसाद वितरण किया जाएगा । श्री महंत हरि गिरि महाराज ने काल भैरव भगवान को शिव का ही अवतार बताते हुए कहा कि 16 नवंबर बुधवार को काल भैरव अष्टमी को उनका जन्म उत्सव जूना अखाड़े में धूमधाम से मनाया जाएगा । उन्होंने बताया काल भैरव भगवान शिव का रूद्र रूप है। मान्यता है कि इस दिन इनका व्रत पूजा करने से भगवान शिव जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं और सभी मनोरथ पूरी कर देते हैं। वर्तमान में भैरव की उपासना बटुक भैरव तथा काल भैरव के रूप में प्रचलित है ।काल भैरव रौद्र रूप के लिए जाने जाते हैं जो नकारात्मक शक्तियों को दंड देते हैं तथा सभी प्रकार के तंत्र मंत्र प्रेत बाधाओं से अपने भक्तों की रक्षा करते हैं । इन्हें भीषण भैरव, चंद्र भैरव, क्रोध भैरव, रूद्र भैरव ,असितांग भैरव,संहार भैरव, कपाली भैरव तथ उन्मुक्त भैरव के रूप में भी जाना जाता है । इसके विपरीत बटुक भैरव अथवा आनंद भैरव इनका सौम्य रूप है । यह अपने भक्तों को सौम्य रूप में अभय प्रदान करते हैं तथा उनकी रक्षा करते हैं । श्री महंत हरी गिरी महाराज ने बताया काल भैरव को खिचड़ी, गुड़, तेल, चावल आदि का भोग लगाया जाता है। इनकी पूजा अर्चना के पश्चात भगवान शिव पार्वती गणेश तथा कार्तिकेय जी की पूजा अवश्य करनी चाहिए । साथ ही इनके वाहन कुत्ते को मीठी रोटी या गुड़ के पुए अवश्य खिलाने चाहिए । मंगलवार को निकाली गई शोभायात्रा में अखाड़े के राष्ट्रीय सचिव श्री महंत महेश पुरी, श्री महंत पशुपति गिरी, थानापति कोठारी महंत महाकाल गिरी, महंत हीरा भारती, श्री महंत सुरेशनंद सरस्वती, थानापति राजेंद्र गिरी ,महंत रतन गिरी, महंत राज गिरी ,महंत अमृत पुरी, महंत भीषम गिरी, महंत ग्वाला पुरी सहित बड़ी संख्या में साधु संतों के अलावा आम श्रद्धालु भी शामिल हुए।

प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रूपेंद्र प्रकाश जी महाराज की अध्यक्षता में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में संत समाज ने दी ब्रह्मलीन स्वामी अनंत प्रकाश जी महाराज को श्रद्धांजलि

 वृंदावन में संत समाज ने दी ब्रह्मलीन स्वामी अनंत प्रकाश जी महाराज को श्रद्धांजलि 


प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम के परमाध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी रुपेन्द्र प्रकाश जी महाराज की अध्यक्षता  मे आयोजित हुई श्रद्धांजलि सभा 


वृंदावन  14 नवंबर   हरिद्वार स्थित प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम गुरु परंपरा में ब्रह्मलीन स्वामी अनंत प्रकाश जी महाराज की 19वीं पुण्यतिथि वृंदावन  स्थित ब्रह्म आश्रम में श्रद्धा पूर्वक मनाई गई । प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम पीठाधीश्वर महामंडलेश्वर स्वामी रुपेन्द्र  प्रकाश जी महाराज की अध्यक्षता  एवं स्वामी रामेश्वरानंद जी महाराज के संचालन में संत समाज ने ब्रह्मलीन स्वामी अनंत प्रकाश जी महाराज को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की इस अवसर पर  स्वामी अद्वैत मुनि, स्वामी प्रकाशानंद महाराज ने स्वामी अनंत प्रकाश जी महाराज को स्मरण करते हुए कहा कि स्वामी जी त्याग तपस्या की प्रतिमूर्ति थे उन्होंने अपने जीवन काल में संस्था को जहां गतिशील रखा वहीं प्रगति के पथ पर अग्रसर भी किया उसी परंपरा में वर्तमान में महामंडलेश्वर स्वामी रूपेन्द्र प्रकाश जी महाराज संस्था को संरक्षित रखते हुए आगे बढ़ाने का काम कर रहे हैं । उन्होंने महामंडलेश्वर स्वामी रुपेन्द्र प्रकाश जी महाराज के प्रति मंगलकामनाएं प्रकट करते हुए कहा कि  प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम से जुड़ी हुई समस्त संस्थाएं महामंडलेश्वर स्वामी रूपेंद्र प्रकाश जी महाराज के संचालन में सेवा,साधना के पथ पर अग्रसर है । इस अवसर पर स्वामी परमानंद, स्वामी नवल गिरी ,स्वामी राघवेंद्र दास सहित वृंदावन धाम के संत जन श्रद्धांजलि सभा में उपस्थित रहे। श्रद्धांजलि सभा मैं आए हुए संत जनों का स्वागत गुरमुख सिंह ,हरजीत कौर, चंद्रशेखर सेंगर ,ओपी नागपाल सहित ब्रह्म निवास आश्रम के सेवको एवं गुरु गद्दी के भक्तों ने किया।



नेहरू युवा केंद्र ने मनु मंदिर हाई सेकेंडरी स्कूल में मनाया अपना 50 वा स्थापना दिवस एवं बाल दिवस

 नेहरू युवा केंद्र ने अपने 50 वे स्थापना दिवस के साथ मनु मंदिर हाई सेकेंडरी स्कूल मे मनाया बाल दिवस 


बच्चों ने बाल दिवस पर चित्रकला के माध्यम से दिया 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का संदेश"


 हरिद्वार 14 नवंबर ( संजय वर्मा ) भारत सरकार के युवा कार्यक्रम खेल मंत्रालय की स्वायत्तशासी संस्था नेहरू युवा केंद्र हरिद्वार के तत्वाधान में मनु मंदिर हायर सेकेंडरी स्कूल में बाल दिवस के साथ-साथ नेहरू युवा केंद्र का 50 वा स्थापना दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गय।  विद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ अशोक कुमार मानवी के संयोजन में आयोजित कार्यक्रम में बच्चों ने गीत संगीत नृत्य का रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया वही भाषण और चित्रकला प्रतियोगिता के माध्यम से नेहरू जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए भारत के स्वतंत्रता आंदोलन और प्रधानमंत्री के रूप में किए गए उनके कार्यो पर प्रकाश डाला बच्चों ने चित्रकला प्रतियोगिता में कैनवस पर "बेटी बचाओ बेटी बचाओ " का संदेश देते हुए समाज से कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराध को समाप्त करने की अपील की कार्यक्रम में विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले विजेताओं को नेहरू युवा केंद्र की ओर से प्रथम द्वितीय तृतीय एवं सांत्वना पुरस्कार प्रदान किए गए विद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ अशोक कुमार मानवी का शॉल उड़ाकर सम्मान किया गया । इस अवसर पर प्रधानाचार्य डॉ अशोक कुमार मानवी ने कहा कि बाल दिवस जहां बच्चों के भविष्य संवारने और उनके अधिकारों को उन तक पहुंचाने का संदेश देता है वही देश पर बलिदान हुए वीर बालको देशभक्तों कोई स्मरण करने का भी दिन है उन्होंने गुरू गोविंद सिंह जी के चार साहबजादो को इस अवसर पर स्मरण करते हुए बच्चों को गुरु गोविंद सिंह के चार पुत्रों से प्रेरणा लेते हुए देशभक्त बनने का आह्वान किया । कार्यक्रम का संचालन स्कूल की अध्यापिका अनीता वर्मा ने किया एवं विद्यालय की वरिष्ठ अध्यापिका बहोती मैडम, रेखा पायल , वंदना, सुगंधा, शालिन,  बबीता आदि ने बच्चों के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करवाकर कार्यक्रम में सहयोग प्रदान किया, कार्यक्रम के आयोजन में विद्यालय के वरिष्ठ अध्यापक पदम सिंह, संजय पयाल ,कमल कुमार आदि ने सहयोग प्रदान किया। इस अवसर पर विद्यालय के ट्रस्टी मुकेश कुमार समाजसेवी संजय वर्मा आदि उपस्थित रहे।





इमैक ने निर्धन बच्चों के साथ मनाया बाल दिवस



इमैक समिति ने निर्धन बच्चों के साथ मनाया बाल दिवस*

हरिद्वार 13 नवंबर ( आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )



बाल दिवस के उपलक्ष्य में पूर्व दिवस पर हरिद्वार की सामाजिक संस्था इमैक ने नमामि गंगे चंडी घाट पर बच्चों के साथ बाल दिवस मनाया। आज से ठीक एक वर्ष पूर्व 14 नवंबर 2021 को समिति के सदस्यों ने इस घाट पर आसपास की बस्तियों में रहने वाले निर्धन बच्चों के साथ प्रत्येक रविवार खेल-खेल में ज्ञान की बातें करते हुए मस्ती की पाठशाला का शुभारंभ किया था। जिसको आज के दिन पूरे एक वर्ष हो गए हैं। आज इस अवसर पर कक्षा में पढ़ने वाले बच्चों ने सांस्कृतिक प्रस्तुति के साथ हिंदी और इंग्लिश में बाल दिवस में बारे में भी बताया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में पधारे शिवालिक नगर, नगर पालिका के चेयरमैन श्री राजीव शर्मा जी ने बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम को देखा और सराहा। समिति की प्रशंसा करते हुए चेयरमैन राजीव शर्मा जी ने कहा कि समाज मे कुछ ही लोग ऐसे होते हैं जो समाज की चिंता करते हुए समाज के विकास के लिए पहल करते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी जी के नेतृत्व में आज सम्पूर्ण भारतवर्ष में बहुत तेज़ी से विकास की गंगा बह रही है। समाज के अंतिम छोर तक रहने वाले व्यक्ति को सहायता और लाभ पहुंचे ऐसा करना देश प्रेम कहलाता है। समिति की तारीफ करते हुए उन्होंने समिति को साधुवाद और शुभकामनाएं दी। समिति के अध्यक्ष आशीष कुमार झा ने समिति के बारे में संक्षिप विवरण दिया और बताया कि किस प्रकार पिछले एक वर्ष से इस घाट पर निरंतर इमैक समिति की युवा टीम आसपास के निर्धन बच्चों को पढ़ाने के लिए आते हैं, जिसमें वह उनको पढ़ाने के साथ-साथ संगीत कला आदि का ज्ञान देते हैं और बच्चों को कक्षा में योग और खेलकूद की शिक्षा भी दी जाती है। समिति की सचिव डॉ मौसमी गोयल जी ने कहा कि समाज के एक वर्ग के बच्चों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए समिति का यह प्रयास है कि बच्चों को उनके भविष्य के लिए जागरूक बनाया जाए। ताकि वह बड़े होकर देश के विकास में अपना योगदान दे सके। इस समिति का उद्देश्य है बच्चों का शारीरिक, मानसिक और व्यक्तित्व विकास हो। उनका व्यक्तित्व इस प्रकार बने कि आने वाले समय में भारत देश को वे उत्कृष्ट सेवाओं से देश को आगे बढ़ाने में अपना सहयोग दे सकें। इस अवसर पर बच्चों को समिति की तरफ से ड्राइंग कॉपी, कलर किट, कॉपी पेंसिल के साथ खाद्य सामग्री भी बांटी गई। समिति का उद्देश्य रहता है कि वर्ष भर में आने वाले उत्सव और त्यौहार इन बच्चों के साथ भी मनाए जायें जिससे उन पर्वों की महत्ता बच्चों को समझ आए। कार्यक्रम में खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाने वाले उद्योगपति अमर सिंह जी अपने परिवार के साथ उपस्थित रहे। साथ ही ज्योतिषाचार्य राजगुरु सिंधु जी, विजय गुप्ता जी तथा पार्षद सुनील पांडे जी भी उपस्थित रहे। इस बाल उत्सव में बच्चों के साथ समिति के कोषाध्यक्ष विभव भटनागर, मनोज शुक्ला, आशा चौधरी, श्वेता भटनागर, श्रीमती जयालता झा और सरिता शुक्ला आदि भी उपस्थित रहे। समिति की युवा टीम से अनन्या भटनागर ने कार्यक्रम का संचालन किया और स्वागत गीत के माध्यम से अतिथियों का स्वागत किया। उनके साथ स्वाति उपाध्याय, आस्था गोयल, वैष्णवी झा, आयुष डंगवाल, स्नेहा खुराना, हिमांशी खुराना, कुशहाल आहूजा, राघव बत्रा, दीपिका राजपूत, आरती राजपूत, सोनम शर्मा, मयंक बत्रा आदि भी उपस्थित रहे। युवा टीम ने कार्यक्रम का संयोजन बहुत ही सुनियोजित रूप से किया।

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...