स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टीट्यूट जमालपुर ने किया एक साल का सफर पूरा

 सफलता भरा रहा स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टिट्ट का प्रथम वर्ष 

ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों की प्रतिभा को निखारने का कार्य कर रहा है स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टीट्यूट

हरिद्वार 31 मार्च उत्तराखंड बोर्ड, सीबीएससी बोर्ड सहित विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए तैयारी कराने वाला स्टेप बाय स्टेप कोचिंग  इंस्टिट्यूट का प्रथम वर्ष सफलता की कहानी कह रहा है, अप्रैल 22 में शुरू हुआ स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टिट्यूट अपना एक  वर्ष का सफर पूरा कर चुका है ,इस बीच उत्तराखंड बोर्ड ,सीबीएससी बोर्ड ,सहित हिंदी और इंग्लिश मीडियम के विभिन्न क्लासों के बच्चों ने यहां पर कोचिंग प्राप्त की कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक के बच्चों को जहां हिंदी,  इंग्लिश  फिजिक्स, केमेस्ट्री ,मैथमेटिक्स आदि विषयों में कोचिंग दी गई वही 12th के बच्चों को कॉमर्स सब्जेक्ट में भी मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टीट्यूट की  डायरेक्टर  आकांक्षा वर्मा, पलक वर्मा ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र से लगे हुए जमालपुर कला में छात्र छात्राओं को इंग्लिश मीडियम माध्यम से पढ़ाने के लिए स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टिट्यूट की स्थापना 1 अप्रैल 2022 में की गई थी जिसका शुभारंभ भारत माता मंदिर के श्री महंत एवं निरंजनी अखाड़ा के महामंडलेश्वर स्वामी ललिता नंद  गिरि जी महाराज के कर कमलों से हुआ था। एक  वर्ष के कार्यकाल में स्टेप बाय स्टेप कोचिंग इंस्टिट्यूट के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों ने जहां अपनी कक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन किया वही सीटेट,






यूटेट जैसी परीक्षाओं में भी सुखद परिणाम प्राप्त किए । उन्होंने कहा कि हमारे इंस्टिट्यूट में नए बैच 3 अप्रैल से शुरू होने जा रहे हैं जिसमें कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक के बच्चों को सभी प्रकार की विषयों में कोचिंग दी जाएगी साथ में सीटेट B.Ed जैसे प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कराई जाएगी साथ ही कंप्यूटर में भी विभिन्न लैंग्वेज की तैयारियां कराई जाएंगी ।

# Step By Step Institute Jamalpur kalan jwalapur Haridwar

Half day leave application || Half day leave application for school teachers


 

मायापुर सरस्वती शिशु मंदिर का वार्षिक परीक्षा परिणाम किया गया वितरित

 सरस्वती शिशु मंदिर मायापुर का वार्षिक परीक्षा परिणाम किया गया वितरित 

श्री पंचायती बड़ा अखाड़ा उदासीन के कोठारी महंत दामोदर दास महाराज ने छात्र-छात्राओं को दिया आशीर्वाद 

हरिद्वार 30 मार्च  ( संजय वर्मा)  मायापुर स्थित तुला राम गोपाल दास मित्तल सरस्वती शिशु मंदिर हरिद्वार का वार्षिक परीक्षा परिणाम उत्साहवर्धक रहा जहां छात्र छात्राओं ने अपना प्रयास सार्थक किया वहीं शिक्षक भी बच्चों के प्रदर्शन से संतुष्ट नजर आए,



पंचायती अखाड़ा बडा उदासीन के कोठारी महंत दामोदर दास महाराज ने बच्चों को आशीर्वाद दिया और पुरस्कार देकर उनका उत्साहवर्धन किया। विद्या भारती के प्रदेश निरीक्षक डा0 विजय पाल जी ने बच्चों को संबोधित करते हुए  उन्हें अपना मार्गदर्शन दिया। वार्षिक परीक्षा परिणाम समारोह का संचालन सरस्वती शिशु मंदिर मायापुर के  प्रधानाचार्य करनेश सैनी ने किया।समारोह में प्रबंधन समिति के पदाधिकारी ,शिक्षकगण, अभिभावक उपस्थित रहे।

स्वामी विवेकानंद एकेडमी का वार्षिक परीक्षा परिणाम रहा शत प्रतिशत

शत् प्रतिशत  रहा स्वामी विवेकानंद एकेडमी जूनियर हाई स्कूल का रिजल्ट।

हरिद्वार /श्यामपुर कांगड़ी 29 मार्च (संजय वर्मा ) प्रगत भारत संस्था द्वारा संचालित विद्यालय मे बच्चों की मेहनत रंग लाई सभी बच्चे अच्छे नंबर लाकर पास हुए।

विशाल 94.6%, तृषा 91.5 % अंक प्राप्त कर पूरे विद्यालय में प्रथम व द्वितीय स्थान पर रहे, बच्चों ने अपने माता-पिता, अध्यापकगण व संस्था का नाम रोशन किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में  श्रीमती नूपुर वर्मा  सिटी मजिस्ट्रेट हरिद्वार ने सहभागिता की। कार्यक्रम उत्तराखंड सरकार में पूर्व राज्य मंत्री रहे विमल कुमार  और डॉ0 कमलेश कांडपाल  के नेतृत्व में संपन्न हुआ।

विशिष्ट अतिथि के रूप में पूर्व नगर प्रचारक ख्याली चंद जोशी , डॉ अश्विनी चौहान , शोभा असवाल , भजन गायिका-पूनम नरुला , विजेंद्र गर्ग , अनिल चौहान , पवन गुप्ता ,सहित क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति सम्मिलित हुए।

स्वामी विवेकानंद एकेडमी के बच्चों ने सभी अतिथियों का स्वागत तिलक लगाकर व गुलाब का फूल भेंट करके किया।

सिटी मजिस्ट्रेट नूपुर वर्मा  ने बच्चों को उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हुए विद्यालय के अध्यापकों की भी हौसला अफजाई की।

उत्तराखंड सरकार में पूर्व राज्य मंत्री रहे विमल कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि  कड़ी-मेहनत को ही सफलता की कुंजी है।

भजन गायिका-पूनम नरूला  ने बच्चों के लिए एक गीत भी गाया ।

उपस्थित सभी अतिथियों ने आशीर्वाद के साथ अंकपत्र वितरण किया। 

मंच संचालन सुदीप बनर्जी व डॉ0 कमलेश कांडपाल ने किया ।

वार्षिक अंक पत्र वितरण कार्यक्रम में डॉ0 कमलेश कांडपाल (प्रधानाचार्य), श्रीमती कविता बनर्जी (उप प्रधानाचार्य), मीनाक्षी भट्ट, आरती सैनी, मीनू सैनी, पूनम सिंह, सभी अध्यापकगण,


व अंकित गर्ग, अंकित धीमान  उपस्थित रहे।

. भाजपा ओबीसी मोर्चा के पदाधिकारियों का हरिद्वार में हुआ स्वागत



 हरिद्वार में भाजपा ओबीसी मोर्चा के नवनियुक्त पदाधिकारियों एवं मण्डल अध्यक्षों का किया गया स्वागत

हरिद्वार 28 मार्च ( संजय वर्मा ) जगजीतपुर स्थित भारतीय जनता पार्टी कार्यालय पर ओबीसी मोर्चा हरिद्वार के पदाधिकारियों एवं मण्डल अध्यक्षों का स्वागत एवं परिचय कार्यक्रम एक विशाल जनसभा में किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री राकेश गिरी जी उपस्थित हुए। इस अवसर पर परम पूज्य स्वामी राम मुनि जी महाराज पीठाधीश्वर सन्त मण्डल आश्रम विशेष अतिथि श्री सन्दीप गोयल जी जिलाध्यक्ष भाजपा हरिद्वार रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ प्रदीप कुमार जिलाध्यक्ष ओबीसी मोर्चा ने एवं संचालन सन्दीप सिंहानिया ने किया। पूर्व विधायक संजय गुप्ता भरत लाल उत्तराखंड प्रभारी, आशुतोष शर्मा, आशु चौधरी, लव शर्मा, आदित्य राज सैनी, कविन्द्र चौधरी, संजय शर्मा, रजनी वर्मा, प्रदेश मंत्री, नकली सिंह सैनी, रीता चमोली, मुनेश पाल, शोभना कश्यप,मनीष पाल सहित अनेकों वरिष्ठ पदाधिकारियों का कार्यकर्ताओं ने फूल माला पहना कर गर्मजोशी के साथ स्वागत अभिनंदन किया। इस अवसर पर बोलते हुए ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री राकेश गिरी जी ने कहा आने वाला समय भारतीय जनता पार्टी का है। ओबीसी मोर्चा भारतीय जनता पार्टी को और अधिक शक्ति देने के साथ-साथ वर्चस्व बढ़ाने का कार्य करेगा एवं गांव-गांव चलो और घर-घर चलो अभियान को सफल बना कर आने वाले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का परचम लहराएगा। जिलाध्यक्ष सन्दीप गोयल ने कहा कि जिस प्रकार माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विषय मे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अभद्र टिप्पणी की है इससे पूरे देश के ओबीसी समाज मे भारी आक्रोश व्याप्त है। इस अवसर पर बोलते हुए जिला अध्यक्ष प्रदीप कुमार ने कहा आने वाले चुनाव में ओबीसी मोर्चा और अधिक प्रभावशाली ताकत बनकर भारतीय जनता पार्टी को भारी मतों से जिताने के लिए दिन-रात संघर्ष करेगा। इस अवसर पर बोलते हुए पूर्व विधायक श्री संजय गुप्ता ने कहा वर्तमान सरकार प्रदेश के विकास के लिए हर मोर्चे पर सफल रही है सभी जाति धर्म को एक साथ लेकर सभी का साथ सभी का विकास किया है। उत्तराखंड सरकार के यशस्वी मुख्यमंत्री माननीय श्री पुष्कर सिंह धामी जीने विकास का एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है आने वाले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और अधिक प्रभावी तथा एक तरफा मत उससे पूर्ण बहुमत के साथ केंद्र में आएगी इस अवसर पर स्वामी राम मुनि ने कहा भारतीय जनता पार्टी ने सभी वर्गों का विकास किया है आने वाला कल पुनः भारतीय जनता पार्टी को भारी मतों से विजय दिलाएगा।

इस अवसर पर पवनदीप कुमार, मोहित वर्मा, आदित्य गिरी, प्रमोद पाल, सन्दीप अरोड़ा, रवि कश्यप,नाथीराम सैनी, जितेंद्र चौरसिया,अरविंद शर्मा, अश्विनी कंबोज, विपिन काका, नरेन्द्र चन्देल, रवि चन्देला,सर्वेश कुमार प्रजापति, बबीता योगाचार्य, मनु रावत, राजकुमार, संजय सिंह,तेलु राम, राजेंद्र प्रसाद अरविंद, पंकज कुमार, रामजीलाल प्रजापति, धर्मेंद्र आर्य, ऋषि पाल सिंह, राजेश कुमार, राजेंद्र कुमार, मनोज कुमार, गौरव कुमार, अजीत सिंह, संजय कुमार, भावना पाल, विवेक कश्यप, आशीष चौधरी, कुलदीप सैनी, श्याम सिंह रोड, राकेश नायक, अंकित गुर्जर, दीपक कुमार, अभिषेक यादव, पवन सैनी, आकाश दत्त, मिथुन कुमार, प्रमोद चौधरी, प्रदीप उपाध्यक्ष, सुशील पंवार,डॉक्टर नीरज सैनी, नवीन चौधरी, शेखर मल्होत्रा, श्याम सिंह, रवि कुमार, विपिन राजपूत, संजय राजपूत, रवि केवल निखिल कुमार, प्रदीप सैनी, साधु राम, विनोद सैनी, मोहित सिंह, इंद्र सिंह, देशराज, जॉनी सैनी, संजीव सैनी, मंजू पाल, जितेंद्र चौरसिया, बसंत चौधरी, ऋषि पाल सिंह, दीपक कुमार, अजय मलिक, सतीश कुमार,मोहन भारद्वाज, महेश दक्ष, मनोज कुमार सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित रहें।

Step by Step Institute || Memories of session 2022-23

Activities Held in Step By Step Institute during the session 2022-23. (Video) 

 स्टेप बाय स्टेप इंस्टिट्यट आपके बच्चों के लिए एक ऐसा प्लेटफार्म है जहां पर सभी बच्चों को एक समान शिक्षा देने के साथ-साथ उनकी बेसिक कॉन्सप्ट पर अच्छे प्रकार से कमांड कराई जाती है चाहे वह कोई भी विषय हो सभी विषयों में उन्हें परफेक्ट बनाने का प्रयास किया जाता है।

Facilities provided by STEP BY STEP INSTITUTE :

Complete Mathematics notes

Command on English speaking

एक्स्ट्रा क्लासेस 

रेगुलर टेस्ट सीरीज 

क्वालिटी एजुकेशन 

गुड एटमॉस्फेयर 

कंप्लीट कैरियर गाइडेंस 

जैसी अनेकों फैसिलिटी स्टेप बाय स्टेप में आपके बच्चों के लिए उपलब्ध है।

Activities Held in Step By Step Institute during the session 2022-23. 

देखें वीडियो:-







Address:Dayal Enclave Colony Jamalpur kalan Jwalapur Haridwar

Contact us : 8954731969, 8171649042

1 april तक जल्द से जल्द स्टेप बाय स्टेप institute में एकदम बेसिक से स्टार्ट होने वाले बैच अप्रैल 3, 2023 में अपने बच्चों को एडमिशन कराये और फर्स्ट 20 स्टूडेंट के लिए फ्री रजिस्ट्रेशन का लाभ उठाएं।

आकाश मंथन का हुआ विमोचन

 आकाश मंथन साहित्यिक  संग्रह का हुआ विमोचन

हरिद्वार 28 मार्च प्रथम कुमाऊनी फिल्म " मेघा आ "  के निर्माता एवं निर्देशक  स्वर्गीय  जे.एस. बिष्ट की रचनाओं के संग्रह " आकाश-मंथन" का विमोचन समारोह आज तीर्थ नगरी हरिद्वार के होटल गेंगेज रिवेरा मे संपन्न हुआ।



 सिटी मजिस्ट्रेट हरिद्वार  नूपुर वर्मा ने इसे एक रचनात्मक कार्य बताया। विशिष्ट अतिथि  पतंजलि विश्वविद्यालय के उप कुलपति  महावीर अग्रवाल  ने कहा कि साहित्य का संरक्षण एक बहुत महत्वपूर्ण कार्य है, उन्होंने  आयोजकों को बधाई प्रेषित करी।

 विशिष्ट अतिथि आचार्य श्री रामचंद्र गोविंद वैजापुरकर  एवं  कुलदीप गौड जिज्ञासु  ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

 पुस्तक के संपादक कुमाऊँनी भाषा के वरिष्ठ कवि एवं साहित्यकार  देवकीनंदन कांडपाल  ने कहा कि स्वर्गीय जे एस बिष्ट प्रसिद्ध रचनाकार एवं कलाप्रिय व्यक्ति थे, उनकी कहानियों एवं कविताओं में उनका व्यक्तित्व झलकता है।  उनकी रचनाओं के एकत्रीकरण का कार्य अपने आप में बहुत महान कार्य है।

 स्वर्गीय  जे.एस. बिष्ट  की पत्नी  श्रीमती निर्मला बिष्ट  कार्यक्रम अध्यक्ष के रूप में उपस्थित रहीं। उनकी दोनों बेटियां भी इस अवसर पर उपस्थित रहीं।

 उल्लेखनीय है कि कुमाऊनी फिल्म "मेघा आ" के अलावा जे एस  बिष्ट  ने

 " स्वाति सिने प्रोडक्शन" के माध्यम से दूरदर्शन के लिए कई फिल्मों का निर्देशन एवं निर्माण किया, जिनमें इतिहास बनाते लोग, कसूर किसका, विजयपथ, इतिहास के छोर पर, आदि टेली फिल्म मुख्य हैं। उन्होंने मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस के लिए भी प्रोजेक्ट वर्क किया। यूपी टूरिज्म के लिए उन्होंने अल्मोड़ा एक सफर, प्रयत्न के नए आयाम पिथौरागढ़, स्वप्न नगरी नैनीताल, ज्योति पर्व एवं तांबे के फूल, आदि छोटी फिल्मों का निर्माण किया। प्रोजेक्ट फॉर रूरल डेवलपमेंट मिनिस्ट्री के लिए आपने अल्मोड़ा पिथौरागढ़ बागेश्वर चंपावत रुद्रप्रयाग नैनीताल आदि जिलों की डॉक्यूमेंट्री का निर्माण किया, कल्चरल प्रोजेक्ट के अंतर्गत आपने बग्वाल, स्याल्दे बिखौती, अमरकंटक, जय श्री राजवंशी गोलूदेव, फीचर फिल्मों का निर्माण किया। कार्यक्रम के संयोजक डॉ कमलेश कांडपाल ने सभी अतिथियों एवं आगंतुकों का स्वागत किया एवं आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन  हिमांशु जुयाल जी ने किया। कार्यक्रम में सुदीप बनर्जी, डॉ जितेंद्र सिंह, राजेंद्र भट्ट ,जितेंद्र ग्वाडी , दिनेश जोशी , रमेश  डॉक्टर अश्विनी चौहान ,  संजय कुमार ,  प्रदीप , सूरज बिष्ट , बेगराज सिंह , कृष्ण कुमार सैनी , निभा झा , प्रबोध झा , दिनेश तोमर , चेतन चौबे ,सुरेश भट्ट  मोहित लखेरा , देवेश मंगाई , तरुण नैयर , विमल त्यागी , नवीन शंकर शर्मा , द्विजेंद्र शर्मा , संजय संतोषी , दीपक ठाकुर , राम चंद्र पांडे , रोली कांडपाल, दिलीप , संजय वर्मा   आदि नगर के अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

ऋषिकेश में संघ ने किया पद संचलन

 ऋषिकेश 23 मार्च ( अमरेश दुबे संवाददाता गोविंद कृपा ऋषिकेश ) नव संवत्सर एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्थापना दिवस के अवसर पर योग नगरी ऋषिकेश में संघ के स्वयंसेवकों ने किया पद संचलन , राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्थापना दिवस पर संघ के पदाधिकारियों के नेतृत्व में संघ के स्वयंसेवकों ने पथ संचलन मैं प्रतिभाग किया योग नगरी ऋषिकेश के विभिन्न मार्गो से होता हुआ स्वयंसेवकों का अनुशासित जनसमूह जहां दर्शको में उत्साह भर रहा था वही बैंड की धुन पर  कदम ताल पर धुन बजाते हुए स्वयंसेवक भी लोगों के आकर्षण का केंद्र बन रहे थे। 


अखिल भारतीय साहित्य परिषद ने किया बैठक का आयोजन


हरिद्वार 22 मार्च ( संजय वर्मा)    नव संवत्सर के शुभ अवसर पर अ


खिल भारतीय साहित्य परिषद हरिद्वार उत्तराखंड के तत्वावधान में प्रेम नगर आश्रम हरिद्वार में नवनिर्मित कार्यकारिणी की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक का प्रारंभ भारत माता के समक्ष दीप प्रज्वलन तथा संगठन मंत्र (संगच्छध्वं संवदध्वं सं वो मनांसि जानताम् । देवा भागं यथा पूर्वे सजानाना उपासते ॥) का उच्चारण करके किया गया। बैठक में मार्गदर्शक संरक्षक के रूप में उपस्थित माननीय कुंवर रोहिताश चौहान जी तथा प्रोफेसर प्रेमचंद शास्त्री (पूर्व उपाध्यक्ष उत्तराखंड संस्कृत अकादमी)एवं अखिल भारतीय साहित्य परिषद उत्तराखंड के पूर्व प्रांत अध्यक्ष डॉ अनिल शर्मा , डॉ रितु ध्वज केंद्रीय दायित्व प्राप्त, जिलाध्यक्ष श्री सचिन प्रधान, जिला उपाध्यक्ष श्रीमती सरिता सिंह, जिला महामंत्री डॉ विजय कुमार त्यागी, सचिव श्री अभिनंदन गुप्ता, श्री रमेश जी, डॉ सुशील कुमार त्यागी 'अमित' सहित्यकार, श्री दिलीप कुमार, ठाकुर मोहित कुमार आदि ने नव संवत्सर एवं अखिल भारतीय साहित्य परिषद के उद्देश्य पर प्रकाश डाला। साथ ही संगठन की कार्यशैली परिषद की कार्य योजनाओं का विस्तृत प्रारूप तथा साहित्यिक परिचर्चा भी की गई। संगठन की भावनाओं को धारण करते हुए बैठक का समापन अखिल भारतीय साहित्य परिषद हरिद्वार के जिला अध्यक्ष श्री सचिन प्रधान जी के आभार ज्ञापन तथा कल्याण मंत्र के द्वारा किया गया।

जहां पर कवि एवं साहित्यकार श्री अभिनंदन गुप्ता ने अपनी कविताओं के माध्यम से नव संवत्सर का स्वागत करते हुए सभी के मन को मोह लिया वहीं पर डॉ सुशील कुमार त्यागी ने कविता के माध्यम से नए साल का स्वागत करते हुए स्वरचित सुभाष शतक के छंदों के माध्यम से क्रांतिकारी देशभक्त सुभाष चंद्र बोस का सुंदर वर्णन करते हुए देश भक्ति को प्रस्तुत किया। बैठक का संचालन करते हुए अखिल भारतीय साहित्य परिषद हरिद्वार के महामंत्री डॉ विजय कुमार त्यागी ने स्वरचित काव्य के माध्यम से समय के सदुपयोग की महत्ता को दर्शाया।

डॉ रितु ध्वज देव संस्कृति विश्वविद्यालय हरिद्वार ने संगठन के सिद्धांतों पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए अखिल भारतीय साहित्य परिषद के उद्देश्यों को स्पष्ट किया। डॉ. अनिल शर्मा परिषद के ऐतिहासिक चित्र को प्रस्तुत करते हुए परिषद द्वारा भावी कार्य योजनाओं पर प्रकाश डालते हुए संकल्पबद्ध होने का संकेत किया। प्रोफेसर प्रेम चंद्र शास्त्री जी ने अपने जीवन के विशिष्ट अनुभव समाज सेवा के प्रकरणों को प्रस्तुत करते हुए संगठन एवं परिषद के हित कारक संकल्पों को स्पष्ट करते हुए श्रोताओं का मार्गदर्शन करने का सफल प्रयास किया। जिला संघचालक माननीय कुंवर रोहिताश चौहान संगठन के सिद्धांतों के अनुसार समाज में समान भाव से सेवा करने का संदेश देते हुए अपने जीवन के कुछ अनुभवों को साझा किया। कार्यकारिणी के जिला अध्यक्ष तथा गोष्ठी के भी अध्यक्ष के रूप में श्री सचिन प्रधान ने उपस्थित विद्वानों का धन्यवाद ज्ञापन करते हुए अखिल भारतीय साहित्य परिषद के प्रति कर्तव्यनिष्ठ रहने का संकल्प लिया तथा सिद्ध सनातन वैदिक नव संवत्सर 2080 के शुभारंभ काल में परस्पर शुभकामनाएं एवं बधाई प्रेषित की।

कल्याण मंत्र सर्वे भवंतु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः। सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चिद् दुःखभाग्भवेत् ।। के सामूहिक उच्चारण एवं संगठन की भावनाओं सहित विचार गोष्ठी का समापन हुआ।

त्रिपुरा में भी कर रहा है उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय मर्म थेरेपी का प्रचार प्रसार :-डॉक्टर सुनील जोशी

हरिद्वार 22 मार्च ( संजय वर्मा ) उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के गुरुकुल परिसर में उत्तराखंड


आयुर्वेद विश्वविद्यालय एवं त्रिपुरा सरकार के मध्य हुए एमओयू के अंतर्गत 10 दिवसीय मर्म चिकित्सा प्रकृति परीक्षण एवं नाड़ी परीक्षण प्रशिक्षण प्रोग्राम का समापन समारोह आयोजित किया गया। यह प्रोग्राम उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के आयुर्वेद संकाय मुख्य परिसर द्वारा ऑर्गेनाइज किया गया जिसको त्रिपुरा सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा प्रायोजित किया गया। इस कार्यक्रम के तहत विश्वविद्यालय में त्रिपुरा सरकार के स्वास्थ्य विभाग के 6 चिकित्सा अधिकारियों को मर्म चिकित्सा एवं नाड़ी तथा प्रकृति परीक्षण की ट्रेनिंग विभिन्न विश्वविद्यालय के एक्सपर्ट फैकल्टी के द्वारा दिलवाई गई। इसमें 80 घंटे के प्रशिक्षण कार्यक्रम में 40 घंटे व्याख्यान में एवं 40 घंटे उक्त विषय के चिकित्सा प्रयोगात्मक कार्य में निपुण किया गया। आज के कार्यक्रम में प्रातः सभागार में विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सुनील जोशी, परिसर निदेशक प्रोफ़ेसर पंकज शर्मा , प्रोफेसर अनूप गक्खड़,कुलसचिव द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर धन्वंतरी वंदना के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस समापन कार्यक्रम के अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर सुनील जोशी ने कहा कि चिकित्सा के लिए  निदान एवं टेस्टिंग में बहुत ज्यादा आर्थिक व्यय लगता है जबकि प्रकृति परीक्षण एवं नाड़ी परीक्षण तथा  के प्रयोग से बिना किसी के हम रोग एवं रोगी के बारे में सब कुछ जान एवं समझ सकते हैं जिसके आधार पर आयुर्वेदिक सिद्धांतों द्वारा चिकित्सा की जा सकती है। साथ ही कहा कि मर्म दुनिया का सबसे प्राचीनतम विज्ञान है इसके द्वारा  दारुण एवं क्रॉनिक बीमारियों का सफलतापूर्वक इलाज किया जा सकता है, इमरजेंसी चिकित्सा में भी लाभदायक है। अपने पिछले 40 वर्षों के चिकित्सक की जीवन में इसके विभिन्न चमत्कारिक चिकित्सकीय अनुभव को उन्होंने प्रतिभागियों के मध्य शेयर किया। उन्होंने कहा उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय केंद्रीय आयुर्वेद अनुसंधान परिषद भारत सरकार के साथ विभिन्न प्रोजेक्ट के माध्यम से मर्म चिकित्सा के चिकित्सकीय आयामों को शोध करने के लिए निरंतर प्रयत्नशील है। इन प्रोजेक्ट के बहुत ही सकारात्मक परिणाम अब तक प्राप्त हुए हैं। तथा सारी दुनिया में उत्तराखंड को आयुर्वेद की जननी के रूप में जाना जाने लगा है।इस इस दौरान प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले चिकित्सा अधिकारियों ने अपने सकारात्मक प्रशिक्षण अनुभव को भी सबके समक्ष प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ नंदकिशोर दाधीचि  द्वारा किया गया। इस अवसर पर  प्रो0 प्रेमचंद शास्त्री, डॉ संजय गुप्ता उप कुलसचिव, प्रोफेसर जी पी गर्ग, डॉ राजीव कुरेले, प्रो०डीके गोयल,  प्रो०विपिनचंद्र पांडे, डा० विपिन अरोरा, डॉ० इला तन्ना, डॉ० रूपश्री, डा० बिपिनचंद्र आदि शिक्षक गण, हरीशचंद्र गुप्ता डॉ नेहा जोशी,. डा०गरिमा, डॉ. सौरभ सिंह,  डॉ आरती सेमवाल गुरुकुल के पीजी शोधार्थी, इंटर्न छात्र-छात्राएं आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे

Step by Step Institute ||Dayal Enclave Colony Jamalpur Kalan Jwalapur Haridwar


STEP BY STEP INSTITUTE OF MATHEMATICS, COMMERCE And Computers

     Enroll Now

 

ADDMISSION OPEN FROM MARCH 1,2023 -> REGISTER YOUR CHILD

GET SUCCESS STEP BY STEP

Faculty –

1.              Anita Verma (M.A. ENGLISH, SOCIOLOGY, N. T. T.)

2.              AKANKSHA VERMA PUNDIR (B.COM, L. L. B.)

3.              PALAK VERMA ( M.Sc. Mathematics, B. ED. CTET PAPER 1, PAPER 2 QUALIFIED)

FREE REGISTRATION FOR FIRST 20 STUDENTS

New batch will start from April 3, 2023

Address: Dayal Enclave Colony Jamalpur kalan Jwalapur Haridwar

Contact us : 8954731969, 8171649042

->We Provide-

*QUALITY EDUCATION  

*REGULAR TEST SERIES                                   *INSPIRING ATMOSPHERE 

मुख्यमंत्री धामी ने पेश किया है ऐतिहासिक बजट :-नरेश बंसल


हरिद्वार 19 मार्च ( संजय वर्मा )


उत्तराखण्ड की धामी सरकार द्वारा प्रस्तुत प्रथम विकासोन्मुखी बजट के सम्बंध में आज उत्तराखंड के राज्यसभा सांसद नरेश बंसल ने डैम कोठी हरिद्वार पर पत्रकार वार्ता कर पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश का यह बजट ऐतिहासिक बजट है मुख्यमंत्री धामी के नेतृत्व में सरकार 2025 तक श्रेष्ठ राज्य बनने के मार्ग पर निर्णायक रूप में आगे बढ़ रही है |इस बजट को प्रधानमंत्री मोदी के मूल मंत्र सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास और सबका प्रयास की अवधारणा पर आधारित बताया | उन्होने कहा, भाजपा सरकार का यह बजट सामाजिक जनआकांशाओं के अनुरूप राज्य में विकास की रफ्तार बढ़ाने वाला है और सशक्त उत्तराखंड @2025 के संकल्प को पूरा करने वाला है। उन्होने प्रसन्नता जताते हुए कहा, बजट का आकार में 18.05 फीसदी की वृद्धि के साथ रिकॉर्ड 77407 करोड़ रुपए का होना, साथ ही 4309 करोड़ का सरप्लस बजट और स्वयं के संसाधनों से कुल इन्कम का भी शुद्ध 18.44 फीसदी बढ़ोत्तरी के साथ 24744 करोड़ होना दर्शाता है कि कुशल वित्तीय प्रबंधन के साथ उत्तराखंड तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बन गया है | उन्होने बजट की बारीकियों पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा, यह बजट संतुलित, समावेशी और सभी वर्गों तक पहुंचने वाला है जिसमे एक और युवाओं को बेहतर शिक्षा और बेहतर शिक्षा से रोजगार देने पर विशेष ध्यान दिया गया है, वहीं कृषि, उधान, ग्रामीण विकास, स्वास्थ्य, पर्यटन और इन्फ्रास्ट्रक्चर को भी महत्व दिया गया है सर्वाधिक महत्वपूर्ण हमारे भविष्य के लिए सबसे अधिक 10,459 करोड़ का प्रावधान शिक्षा, खेल और युवा कल्याण के लिए किया गया है | चाहे समग्र शिक्षा योजना कें लिए 813 करोड़ की बात हो, चाहे निजी स्कूलों में निर्धन बच्चों की शिक्षा के लिए 169 करोड़ की बात हो, चाहे उत्कृष्ट क्लस्टर विधयालय स्थापित करने के लिए 51 करोड़ की बात हो |इसी तरह स्वास्थ्य के लिए 4217.87 करोड़, जिसके अंतर्गत प्रदेशवासियों की सेहत में सुधार के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के अलावा अटल आयुष्मान हेतु 400 करोड़, मेडिकल कॉलज तथा नर्सिंग कॉलेज के निर्माण हेतु 400 करोड़ एवं  राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन योजना के लिए 772 करोड़ रुपए प्रमुख तौर पर शामिल है। बजट में गांवों की तस्वीर बदलने के लिए ग्रांभ्य विभाग के लिए 3272 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है | साथ ही पेयजल, आवास, नगर विकास के लिए 2525 करोड़ रुपए, जिसमे स्मार्ट सिटी से जुड़ी आधारभूत व सामाजिक योजनाओं के लिए लगभग 351 करोड़ रुपए, पीएम आवास योजना के लिए 319 करोड़ रुपए, स्वच्छ भारत अभियानों के तहत होने वाली योजनाओं के लिए 227 करोड़ रुपए, मलिन बस्तियों के पुनर्वास के लिए 25 करोड़ समेत अनेक योजनाएँ शामिल हैं | लोक निर्माण विभाग के लिए 2791 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है, जिसमें विशेष तौर पर सड़कों के विकास के लिए 97 फीसदी बढ़ोत्तरी के साथ 850 करोड़ रुपए दिये गए हैं | इसके अतिरिक्त सिंचाई के लिए 1443 करोड़ रुपए, देहरादून में पेयजल सप्लाई हेतु सोंग नदी बांध हेतु 100 करोड़, कृषि क्षेत्र के लिए 1294 करोड़ रुपए जिसमें 50 हज़ार पॉली हाउस बनाने, कीवी ड्रेगन फ्रूट को बढ़ावा देना, स्टेट मिलट योजना से मोटे अनाज को प्रोत्साहन देना, 6 एरोमा वैली बनाना, मिशन एपल योजना, नाबार्ड सहायतित योजना के लिए 200 करोड़ रुपए सहित अनेकों योजनाएँ शामिल हैं | प्रदेश की ऊर्जा जरूरतों को प्राथमिकता देते हुए 1251 करोड़ रुपए की व्यवस्थता की गयी है, जिसमें लखवाड़ जल विद्धुत परियोजना के लिए 500 करोड़ रुपए प्रमुखतया शामिल हैं। आपदा पीड़ितों की विशेष चिंता करते हुए एक हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है | जिससे जोशीमठ सहित अन्य प्राकृतिक आपदाओं में लोगों को त्वरित राहत पहुंचाई जाएगी । वहीं बजट में आपदा प्रभावितों को छह माह तक किराये के भवनों में रहने के लिए चार हजार की जगह पांच हजार प्रतिमाह देने और सहकारी बैंकों की ऋण वसूली पर एक साल तक रोक लगाने की बात कही गयी है। इसी तरह उधोग विभाग के लिए रूo 461.31 करोड़ का प्रावधान जिसमे वर्क फोर्स डेवलेपमेंट हेतु 100 करोड़, प्रमोशन ऑफ इंवेस्टमेंट स्टार्ट अप और इंटेरप्रीनियरशिप योजना हेतु रूo 30 करोड़ का प्रावधान किया गया है जो प्रदेश में रोजगार बढ़ाने में निर्णायक साबित होगा । वहीं पर्यटन क्षेत्र में विकास के लिए  302.04 करोड़, समाज कल्याण, महिला एवं बाल कल्याण विभाग कें लिए कुल  2850.24 करोड जिसमे निराश्रित विधवा पेंशन हेतु 250 करोड़, नंदा गौरा योजना हेतु  282.50 करोड़, मुख्यमंत्री बाल पोषण अभियान योजना हेतु लगभग 26.72 करोड़, मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना हेतु 23 करोड़, मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना हेतु 19.95 करोड़ का प्रावधान किया गया है। इस बजट में शहरों से लेकर गांवों तक के लिए विशेष प्रवाधान किया गया प्रावधान | जिसके तहत ऋषिकेश हरिद्वार, रुड़की, हल्द्वानी, भगवानपुर, अल्मोड़ा के लिए मास्टर ड्रेनेज प्लान, इसके साथ ही 12 नगर निकायों को 10-10 करोड़ रुपए, एवं बद्रीनाथ केदारनाथ गंगोत्री अनिर्वाचित निकायों के लिए दो-दो करोड़ रुपए साथ ही जिला पंचायतों को 245, क्षेत्र पंचायतों को 114,  ग्राम पंचायतों को 294 करोड़ रुपए की बजट में व्यवस्थता की गयी है |इसके अतिरिक्त जलवायु परिवर्तन को लेकर भी पहली बार बजट में अलग से व्यवस्था की गई है जिसके तहत पूंजीगत व्यय का 0.5% धनराशि खर्च की जाएगी | 

महिला सशक्तीकरण के लिए सरकार ने जेंडर बजट के तहत 13920.12 करोड़ का प्रावधान किया गया है जो महिलाओं के सशक्तिकरण और विकास के लिए स्वास्थ्य, शिक्षा, श्रम, रोजगार क्षेत्र की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए खर्च किया किया जाता है। उन्होने विश्वास जताते हुए कहा, एक स्पष्ट सोच और गम्भीर चिन्तन वाले इस बजट के आधार पर छात्र, खिलाड़ी, युवा, किसान, काश्तकार, असंगठित व संगठित क्षेत्र में कार्यरत व्यक्ति, स्टार्टअप, उद्धोगपति, कारोबारी और हम सब साथ मिलकर उत्तराखण्ड का चहुमुखी विकास करेंगे । आज की प्रेस वार्ता में श्री नरेश बंसल के साथ संदीप गोयल जिलाध्यक्ष,  महामंत्री आशुतोष शर्मा, आशु चौधरी, जिला उपाध्यक्ष लव शर्मा, जिला मंत्री मोहित वर्मा, नेत्रपाल चौहान, रोहित साहू आदि मौजूद रहे।

भाजपा पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ के संयोजक बृजेश त्यागी के नेतृत्व में पूर्व सैनिक सम्मेलन में शामिल हुए पूर्व सैनिक

रुड़की 18 मार्च (अनिल लोहानी वरिष्ठ संवाददाता गोविंद कृपा रुड़की ) बी ईजी ग्रुप सेंटर रुड़की में पूर्व सैनिक सम्मेलन हुआ जिसमें भाजपा पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ के संयोजक बृजेश त्यागी के नेतृत्व में सेवानिवृत्त सैनिकों ने प्रतिभाग किया सभी अधिकारी जेसीओ जवान सम्मिलित हुए और सर्विस करने वाले पदाधिकारी सम्मिलित हुए बीजी सेंटर के कमांडेंट साहब 




 और मिलिट्री हॉस्पिटल के कमांडेंट ब्रिगेडियर साहब और  ब्रिगेड के कमांडेंट ब्रिगेडियर साहब  सभी अधिकारी मौजूद रहे इस पूर्व सैनिक सम्मेलन में जहां बृजेश त्यागी ने केंद्र सरकार द्वारा पूर्व सैनिकों के लिए किए गए कल्याण कार्य की जानकारी दी वही वन नेशन वन पेंशन योजना के लिए मोदी सरकार की जमकर तारीफ की उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के नेतृत्व में देश की सीमाएं सुरक्षित है वही सैनिकों की जान भी सुरक्षित है उन्होंने रक्षा मंत्री प्रधानमंत्री के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि जब से मोदी सरकार आई है तब से सैनिकों को बुलेट प्रूफ जैकेट  जैसी आवश्यक आवश्यकता  की पूर्ति निरंतर हो रहीहै। जिससे सैनिकों की जान को खतरा कम हो गया है इस अवसर पर रुड़की के आसपास के रहने वाले पूर्व सैनिक बड़ी संख्या में शामिल हुए

ऋषि कुल मे हो रही है संगोष्ठी



देहरादून  18 मार्च ( संजय वर्मा )उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के ऋषि कुल परिसर स्थित आयुर्वेदिक कॉलेज में दीनदयाल कामधेनु गौशाला समिति एवं उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान में विशाल पशु चिकित्सा एवं आयुर्वेद  संगोष्ठी २०२३(अंतरराष्ट्रीय आयुरवेट २०२३) कॉन्क्लेव 2023 के द्वितीय दिवस पर प्रथम सत्र में देश के केंद्रीय आयुष राज्य मंत्री डॉ० महेंद्र भाई मुंजपारा, श्री अभिजीत महापात्र जी(अखिल भारतीय  गौ सेवा प्रमुख, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ), प्रोफेसर सुनील जोशी कुलपति उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय, प्रो०सोमदेव शतांशु कुलपति गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय हरिद्वार, प्रोफेसर दिनेश शास्त्री कुलपति उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय द्वारा सर्वप्रथम धन्वंतरी पूजन एवं गो वंदना के साथ दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। समारोह के मुख्य अतिथि डॉ महेंद्र मुंजपारा जी ने कहा केंद्रीय आयुष राज्य मंत्री ने कहा कि इंसान का डॉक्टर बनना आसान है लेकिन पशु का डॉक्टर बनना बहुत कठिन है। क्योंकि इन्सान अपने कष्ट को बता सकता है लेकिन पशु नहीं। हमारे प्राचीन भारतीय परंपरा में पहली रोटी गौ माता के लिए बनाने की परंपरा रही है । गौ पालन  और पंचगव्य द्वारा स्वास्थ्य रक्षण एवं विभिन्न प्रकार के रोगों के निवारण में महत्वपूर्ण योगदान रहा है।   मंत्री जी ने कहा के माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के प्रयास से  हम लोग पशु चिकित्सा मे भी आयुष पद्धति को समाहित करने की दिशा में कार्य कर रहे है। हमारे द्वारा आयुष को अलग इंडिपेंडेंट मिनिस्ट्री बनाया गया। आयुष के बजट को भी बढ़ाया जा रहा है। भारत सरकार द्वारा वेटनरी मेडिसिन के लिए अलग से आयुर्वेदिक फॉर्मुलरी आफ इंडिया का निर्माण किया गया है।  अजीत महापात्र ने गौ एवं पंचगव्य की विस्तार से चर्चा करते हुए कहा मानव संसार की अमूल्य कृति है और पशुधन और गौ सेवा हमारी परंपरा रही है पहले के समय में एक गांव में १७ व्यक्तियों पर एक गाय होती थी परंतु आज के समय में१७०० लोगों पर भी एक गाय बड़ी मुश्किल से देखने में मिलती है। तथा जलवायु, मिट्टी, हमारा समग्र पर्यावरण दूषित हो गया है उसका कारण अत्यधिक रसायनिक खाद एवं कीटनाशकों का अंधाधुंध प्रयोग है।  उन्होंने का केंचुआ बहुत छोटा होते हुए भी वह हमारे पर्यावरण के लिए मित्र  की   तरह कार्य करता है वह हमारी प्रकृति एवं मृर्दा संरक्षण, भूमि की उत्पादकता के लिए महत्वपूर्ण  हैं अत: हमें  ऑर्गेनिक खाद, गोमूत्र इत्यादि का प्रयोग करना चाहिए। पंच गव्य  के समुचित वैज्ञानिक प्रयोग से हम अपने पर्यावरण को एवं अपने शरीर को संपूर्ण रूप से सही एवं स्वस्थ कर सकते। उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर सुनील जोशी ने कहा के आयुर्वेद में पंचगव्य  और मर्म चिकित्सा को समाहित करना आयुर्वेद की विश्वव्यापी स्वीकारता में एक क्रांतिकारी कदम होगा।  उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय इस दिशा में शोध के लिए महत्वपूर्ण योजना तैयार कर रहा है । सफल संचालन प्रोफेसर प्रेमचंद शास्त्री ने किया। कार्यक्रम के संयोजक एवं दीनदयाल कामधेनु गौशाला समिति के उप मंत्री डॉ हेमेंद्र यादव ने  बताया कि आज चार अलग-अलग हाल में २-२ सत्र मैं वैज्ञानिक शोध पत्र विभिन्न 19 कॉलेज से आए बीएएमएस एवं पीजी के छात्र छात्राओं एवं  आईआरबी वैज्ञानिकों द्वारा 200 से अधिक शोध पत्र प्रस्तुत किए गए। प्रथम वैज्ञानिक सत्र में डॉ बी डी जोशी अध्यक्ष रहे। इस सत्र के उपाध्यक्ष डॉक्टर राजीव कुरेले ने विश्वव्यापी वेटरनरी फुड सप्लीमेंट की वर्तमान स्थिति एवं इसके कमर्शियल बिजनेस प्रोस्पेक्ट को सामने रखकर रिसर्च के माध्यम से नए-नए उत्पाद के विकसित करने के बारे में विद्यार्थियों को जागरुक किया। तथा आयुर्वेद के पंच महाभूत, त्रिदोष, त्रिगुण्, सप्त द्रव्य आदि विभिन्न सैद्धांतिक पक्ष का मानव एवं पशुओं में साधर्म में स्थापित करते हुए आयुर्वेद के विद्यार्थियों  को पशु चिकित्सा में भी कार्य करने की अभिरुचि बढ़ाने के लिए प्रेरित किया। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के विद्वान डॉ नवनीत पवार ने गौ विषय पशु चिकित्सा में शोध पत्र प्रस्तुत किया।   दीनदयाल गौशाला के मंत्री श्री हरि शंकर , अनुराग शर्मा, संजय शर्मा , डॉ मधुसूदन शर्मा, राकेश शर्मा जी, डॉ शशिकांत  कोषाध्यक्ष,  गोपाल राठी, प्रोफेसर अनूप गक्खड़ कुलसचिव उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय, डॉ राजेश अधाना, प्रोफ़ेसर पंकज शर्मा कैंपस डायरेक्टर,  डॉक्टर संजय गुप्ता, डॉ० शैलेंद्र प्रधान , मीडिया प्रभारी डॉ राजीव कुरेले, डॉ विक्रांत यादव,  प्रो०ओपी सिंह, प्रो० माधवी गोस्वामी, प्रॉ सुमनमिश्रा, प्रो०अजय गुप्ता, सुनील चौहान संस्कार भारती मंत्री, डॉ अनुराग वत्स, डॉक्टर शाशिकान्त तिवारी,   मंगलम ट्रस्ट के अध्यक्ष  डा० जितेंद्र सिंह, श्री पवन कुमार, हेमंत जी विभाग सेवा प्रमुख, देशराज शर्मा   डॉ अवनीश उपाध्याय ,  डॉ विपिन अरोरा,  डा०शिखा, डॉ ज्ञान प्रकाश, डॉ ज्ञानेन्द्र शुक्ला, डा० नितिन,  डॉ वेद भूषण शर्मा, डॉक्टर अरुण, डॉक्टर किरण, डॉ अरुण,  आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे हैं।

देव संस्कृति विश्वविद्यालय मे उत्सव 23 हुआ संपन्न




 देसंविवि में आयोजित उत्सव-23 सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ संपन्न

प्रतियोगिता का सम्मिश्रण ने युवाओं में जगाया उत्साह ः डा पण्ड्या

तीन दिवसीय उत्सव-23 में कुल 50 प्रकार की आयोजित हुई प्रतियोगिताएँ

हरिद्वार 16 मार्च।

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय उत्सव-23 का भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ समापन हो गया। इस अवसर पर विद्यार्थियों को दिये संदेश में कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि शारीरिक व बौद्धिक प्रतियोगिता का सम्मिश्रण ने युवाओं में उत्साह जगाया है। इस भावना को बनाये रखने से मनोवांछित सफलता निश्चित है। वहीं कुलपति श्री शरद पारधी एवं प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या ने प्रतिभागियों की खेल भावना को सराहा।

खेल अधिकारी ने बताया कि खेलकूद के अंतर्गत छात्र-छात्राओं ने भी अपना दमखम दिखाया। उत्सव में सांस्कृतिक एवं खेलों के संबंधित कुल 50 प्रकार प्रतियोगिताएँ आयोजित की गयीं। दौड़, बालीबाल, बैडमिंटन, कबड्डी, खो-खो, चेस,टेबल टेनिस आदि प्रतियोगिताओं में युवाओं में जबरदस्त का उत्साह देखने को मिला। छात्रों ने अपने सहपाठियों को जिताने में अपनी खुशी जाहिर की। अपनी अपनी प्रतियोगिताओं में  में माधव, अभिनव, आलोक, दिव्यांशु, गौरव, हर्षिता, वीणा, नीति, प्रेरणा, ज्योतिका, जया, शिप्रा, ज्योति, अंश, साहिल, गबंल आदि विजयी रहे। 

सांस्कृतिक प्रतियोगिता प्रभारी डॉ. शिवनारायण प्रसाद ने बताया कि सांस्कृतिक कार्यक्रम के अंतर्गत  स्वरचित कविता पाठ में श्री राजकुमार वैष्णव की कविता को काफी सराहना मिली। समूह नृत्य में गुजराती टीम ने प्रथम तथा नाटी टीम ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। सोलो डांस क्लासिकल में अन्नै को प्रथम तथा केतकी को द्वितीय मिला। सेमी क्लासिकल सोलो डांस में देवकन्या को पहला तथा ग्रैसी को दूसरा स्थान मिला। एकल शास्त्रीय संगीत में रजत पाल को पहला स्थान मिला। एकल गायन में सचिन माथुुर को प्रथम स्थान मिला। प्रज्ञा गीत प्रतियोगिता में रुचि सिंह को पहला स्थान मिला। प्रज्ञागीत अंत्याक्षरी में भैरव ग्रुप ने जीत दर्ज की। उन्होंने बताया कि इस वर्ष शास्त्रीय संगीत, डॉस, क्वीज प्रतियोगिताओं में प्रतिभागियों ने अपनी कला, कौशल का जबरदस्त प्रदर्शन किया। उत्सव-23 में अधिकतर छात्र-छात्राओं ने अपने साथियों के हार को जीत में बदल दिया। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने खेल भावना को बहुत ही सुंदर उदाहरण पेश किया। समापन अवसर पर भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम में छात्राओं ने सभी का मन मोह लिया। इस अवसर पर कुलपति श्री शरद पारधी, प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्या, कुलसचिव श्री बलदाऊ देवांगन, सभी विभागाध्यक्ष सहित विश्वविद्यालय व शांतिकुंज परिवार एवं ब्रह्मवर्चस शोध संस्थान के कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

----------------------------------------

देसंविवि में आयोजित संगोष्ठी में 25 शोध पत्र पढ़े गये

हरिद्वार 16 मार्च।

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में आयोजित पुस्तकालय प्रणाली पर सूचना संचार तकनीकी का प्रभाव विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आज समापन हो गया। दो दिन चले इस संगोष्ठी में उत्तराखण्ड, उप्र, दिल्ली, पंजाब, आदि राज्यों से आये 25 शोधार्थी ने अपने शोध पत्र पढ़े। सभी ने पुस्तकालय की महत्व एवं आवश्यकता पर बल देते हुए ई पुस्तकालय के प्रति बढ़ते युवाओं की रुझान की सराहना की।  साहित्य मनुष्य की सबसे अच्छी दोस्त होता हैं। जैसे व्यक्ति अपने  दोस्त का हर पल, हर घड़ी, हर मुश्किल में साथ देते हैं, वैसे ही साहित्य भी हर विषम परिस्थिति में मनुष्य की सहायक होती है। साहित्यों में समस्त समस्याओं का समाधान छुपा हुआ होता है। इस अवसर पर दिल्ली के डॉ. एचजी होसामणि, हरियाणा के डॉ. राजीव वशिष्ठ, जमशेदपुर के डॉ एसपी गुप्ता, उत्तरांचल विवि के डॉ रामवीर तनवर आदि ने अपने कई दशकों के पुस्तकालय चलाने के अनुभवों को साझा किया।

अंतर राष्ट्रीय पशु चिकित्सा एवं आयुर्वेद संगोष्ठी के लिए पत्रकारों से की वार्ता


हरिद्वार 16 मार्च ( संजय वर्मा ) आयुर्वेद शिक्षा के लिए देश के जाने-माने उत्तराखंड आयुर्वेद विश्विद्यालय एवं दीनदयाल कामधेनु गौशाला समिति मथुरा के संयुक्त तत्वाधान  में दिनांक 17 से 19 मार्च 2023 तक को आयोजित होने वाले अंतर राष्ट्रीय पशु चिकित्सा एवं आयुर्वेद संगोष्ठी 2023 (International Ayurvet Conclave 2023) के व्यापक मीडिया में प्रचार प्रसार हेतु एक प्रेस वार्ता प्रेस क्लब में आयोजित की गई। जिसमें उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रोफ़ेसर सुनील जोशी जी एवं दीनदयाल कामधेनु गौशाला के उप मंत्री डॉ हेमेंद्र यादव, उप कुलसचिव डॉ संजय गुप्ता, मीडिया प्रभारी डॉ राजीव कुरेले वार्ता हेतु उपस्थित रहे। प्रेस वार्ता में प्रेस क्लब से जुड़े सभी सम्मानित समाचार पत्र इलेक्ट्रॉनिक मीडिया प्रिंट मीडिया ब्यूरो हेड संवाददाता प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। प्रोफेसर सुनील जोशी जी ने कहा विश्वविद्यालय द्वारा यह प्रथम प्रयास  है जिसमें पशु चिकित्सा में आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति की क्या भूमिका हो सकती है इसका साइंटिफिक विवेचन करने के लिए देश विदेश से 200 से अधिक साइंटिस्ट, आईआरवी के  देश के 19 केंद्रों से विशेषज्ञ, वेटरनरी शिक्षा के क्षेत्र के जाने-माने बरेली के संस्थान, वेटरनरी डॉक्टर, पशु पालन के लिए एक्सपर्ट, उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय से जुड़े 20 से अधिक आयुर्वेदिक कॉलेजों के छात्र, पीजी एवं पीएचडी शोधार्थी रिसर्च स्कॉलर्स,  पशु आधारित आर्थिक समृद्धि हेतु आयुर्वेदिक पशु औषधियां से जुड़े लगभग 2000 से अधिक व्यक्ति समाजसेवी साइंटिस्ट छात्र-छात्राएं भाग ले रहे हैं। डॉ जोशी ने कहा परंपरागत रूप से जो औषधियां मानव के लिए उपयोगी हैं वही पशुओं में भी प्रयोग की जा सकती हैं बस उसमें मात्रा का अंतर होगा । इस कार्यक्रम के माध्यम से भविष्य में बहुत बड़ी संभावनाएं रहेंगी कि किस प्रकार आयुर्वेद के द्वारा पशु



चिकित्सा के क्षेत्र में भी रोजगार सृजन एवं स्वास्थ्य संवर्धन के लिए पशु चिकित्सा में भी आयुर्वेद का योगदान परिभाषित किया जा सकता है इस पहल के माध्यम से भविष्य में उसके लिए पाठ्यक्रम भी यूनिवर्सिटी एवं सरकार के प्रयास से चलाए जा सकते हैं इस हेतु एक अनूठा कार्य उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय एवं दीनदयाल कामधेनु गौशाला समिति की तरफ से किया जा रहा है। डॉक्टर हेमेंद्र यादव ने बताया कि इस कार्यक्रम में संस्थान एवं संघ से जुड़े विशिष्ट व्यक्ति पधार रहे हैं। प्रथम दिवस राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व सर-कारवाह  व एवं वर्तमान अखिल कार्यकारिणी सदस्य श्रीमान भैयाजी जोशी,  पशु एवं पशुधन  राज्य मंत्री डॉक्टर संजीव बालियान जी, अखिल भारतीय गौ सेवा प्रमुख श्री शंकर लाल जी, केंद्रीय आयुष राज्य मंत्री डॉक्टर महेंद्र मांजू पारा जी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय ग्राम विकास प्रमुख  डा०दिनेश जी, डॉ अभिजीत पात्रा जी केंद्रीय कमिश्नर पशुधन मंत्रालय, पशु कल्याण विभाग के निदेशक, समापन के अवसर पर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी जी पर्यटन मंत्री श्री सतपाल महाराज जी, सौरभ बहुगुणा जी भी प्रतिभाग करेंगे। इसके अतिरिक्त कार्यक्रम में डॉ अभिजीत पात्रा कमिश्नर पशु कल्याण मंत्रालय भारत सरकार, पद्मश्री वेद्य श्री राजेश कोटेचा, केंद्रीय सचिव आयुष, डॉ पंकज पांडे सचिव आयुष उत्तराखंड, एवं विभिन्न विभागों से जुड़े प्रमुख अधिकारी इस कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगे। इस कार्यक्रम में चार विभिन्न पंडालों के माध्यम से क्षेत्र 4 सत्रों में  आयोजित किए जाएंगे। कार्यक्रम के मीडिया प्रभारी प्रचार प्रसार प्रमुख डॉ राजीव कुरेले ने बताया कि पशु कल्याण एवं पशु आधारित वैज्ञानिक उत्पादों पर एक विशाल प्रदर्शनी भी उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय एवं विभिन्न प्रतिभागी संस्थाओं द्वारा लगाई जाएगी। प्रेस वार्ता के अंत में डॉ राजीव कुरेले जी ने उपस्थित सम्मानित प्रिंट मीडिया इलेक्ट्रॉनिक मीडिया एवं समस्त प्रेस क्लब से जुड़े पदाधिकारियों एवं सदस्यों का हृदय से आभार व्यक्त किया तथा कार्यक्रम की अत्यधिक सफलता एवं व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए सभी सदस्यों को आमंत्रित किया।

🙏

आयोजन समिति, अंतरराष्ट्रीय पशु चिकित्सा एवं आयुर्वेद संगोष्ठी 2023 , उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय, हर्रावाला,  देहरादून


एसएम जै एन पीजी कॉलेज में मनाया गया फूलदेई पर्व

 प्रकृति के श्रृंगार का लोकपर्व है फूलदेई :  रविन्द्र पुरी


फूलदेई पर महाविद्यालय में किया गया कार्यक्रम आयोजित

काॅलेज के छात्र-छात्राओ ने प्राचार्य  एवं समीक्षा अधिकारी को  फूल देकर मनाया फूल देई पर्व

हरिद्वार 14 मार्च, 2023  एस.एम.जे.एन. पी.जी. काॅलेज में आज फूलदेई पर्व बहुत ही धूमधाम से मनाया गया. 

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष, माँ मंशा देवी मन्दिर ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्री महन्त रविन्द्र पुरी जी महाराज ने  काॅलेज के समस्त छात्र-छात्राओं व शिक्षिकाओं एवं शिक्षणेतर को फूलदेई पर्व की शुभकामना प्रेषित की

 श्रीमहन्त रविन्द्र पुरी जी महाराज ने कहा कि फूलदेई प्रकृति के श्रृंगार का लोकपर्व है। उन्होंने कहा कि यह त्यौहार उत्तराखण्ड की संस्कृति एवं परम्पराओं से जुड़ा प्रमुख पर्व है। हमें अपने लोक पर्वों एवं लोक परम्पराओं को आगे बढ़ाने की दिशा में लगातार प्रयास करने होंगे।

इस अवसर पर काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने फूलदेई पर्व की बधाई देते हुए कहा कि उत्तराखण्ड में  फूलदेई पर्व मनाने की परम्परा है। यह त्यौहार पूरे उत्तरखण्ड राज्य में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है, किसी भी समाज के विकास के लिए वहां के रीति-रिवाज और लोकपर्वों का विशेष योगदान होता है। डाॅ. बत्रा ने कहा कि इस शुभ पर्व पर हम सबको अपने नौनिहालों से घर की देहरी पर पुष्प वर्षा कराकर उन्हें शगुन तथा उपहार देकर इस त्यौहार को जीवन्त बनाये रखने के प्रयास करने चाहिए। हमारी लोक संस्कृति और परम्परायें हमें अपनी जड़ो से जुड़े रहने की प्रेरणा देती है। उन्होनें कहा कि जिस प्रकार फूल उच्चतम रचनाशीलता का परिचायक है उसी प्रकार यह त्यौहार भी हमारे छात्र-छात्राओं को रचनात्मक प्रेरणा दे 

 इस अवसर पर काॅलेज की छात्राओं नेहा राठौर, कुमकुम राजभर, मोनिशा चौधरी, मोहिनी, आयुषी त्यागी, ममता भटट्, आरती ठाकुर, प्रिया सेमवाल, खुशी आदि ने प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा  एवं समीक्षा अधिकारी नसीम खान को फूलों की टोकरी भेट कर इस पर्व को जीवंत किया.

मुख्य अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी ने शुभकामना देते हुए कहा कि लोकसंस्कृति तथा धार्मिक दृष्टि से अत्यन्त महत्व है। उन्होंने इसके धार्मिक तथा सांस्कृतिक महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि भगवान शिव जब तपस्या में लीन थे तो उस समय उनके गणों द्वारा फूलों के द्वारा उनकी तपस्या से जागृत किया गया जोकि प्रतीकात्मक रुप से प्रकृति के पुनः बसन्त ऋतु कोे अंगीकृत करने की ओर संकेत करती है। उन्होंने कहा कि यह त्यौहार प्रकृति की उर्वरता को उत्सव के रुप में मनाने के रुप में देखा जाना चाहिए। इस अवसर पर मुख्य रूप से समीक्षा अधिकारी नसीम खान , उत्तराखंड सचिवालय , विनय थपलियाल, डाॅ. प्रज्ञा जोशी, डाॅ. विजय शर्मा, डाॅ. पुनीता शर्मा, सुरभि,डाॅ मोना अग्रवाल  , एम सी पान्डेय,आदि सहित काॅलेज के अनेक छात्र-छात्राऐं उपस्थित रहें।

भाजपा के वरिष्ठ नेता राजपाल नेगी ने की पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से भेंट

रायवाला 13 मार्च (अमरेश दुबे संवाददाता गोविंद कृपा ऋषिकेश क्षेत्र ) ऋषिकेश विधानसभा के अंतर्गत हरिपुर कला के फ्लाईओवर से कनेक्टिविटी दिए जाने के संबंध में भाजपा के वरिष्ठ नेता राजपाल नेगी ने सूबे के पूर्व  मुख्यमंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता त्रिवेंद्र सिंह रावत से उनके निजी निवास पर जाकर कनेक्टिविटी की समस्या से ग्राम वासियों को हो रही परेशानी से विस्तार पूर्वक अवगत कराया  पूर्व मुख्यमंत्री  त्रिवेंद्र सिंह रावत से भाजपा के वरिष्ठ नेता राजपाल नेगी ने एनएचएआई के रीजनल ऑफिसर उत्तराखंड सी. के. सिन्हा से दूरभाष पर वार्ता कराकर विस्तार पूर्वक संज्ञान लिया  व  सी के सिन्हा  द्वारा बताए गए विकल्प पर तत्काल राजाजी नेशनल पार्क के डिप्टी डायरेक्टर  कहकशा नसीम  से भी NOC प्रदान करने की बात दूरभाष पर कहीं तत्पश्चात  नेशनल पार्क के डिप्टी डायरेक्टर कार्यालय पर जाकर कहकशा नसीम  से भेंट कर समस्या से अवगत कराया एवं एनएचएआई के परियोजना निदेशक  पंकज मौर्य  से दूरभाष पर वार्ता कर शीघ्र सर्वे करने की बात कही  डिप्टी डायरेक्टर के द्वारा पूर्व में एनएचएआई के द्वारा सर्वे व विकल्प की प्रतिलिपि उपलब्ध कराने को कहा उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने




पूर्ण रूप से हरिपुर कला ग्राम वासियों की समस्या का समाधान निकालने हेतु पूर्ण सहयोग करने की बात कही मुलाकात करने वालों में भाजपा के वरिष्ठ नेता किशन सिंह नेगी जी एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता हरीश उप्रेति उपस्थित रहे 

भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन ने मनाई सावित्रीबाई फुले की पुण्यतिथि

रुड़की 12 मार्च ( संजय सैनी संवाददाता गोविंद कृपा रुड़की ) सामाजिक संगठन भारतीय राष्ट्रवादी सैनी समाज संगठन उत्तराखंड की ओर से जिला हरिद्वार की खानपुर विधानसभा के ग्राम टोडा कल्याणपुर में माता सावित्रीबाई फुले की पुण्यतिथि का कार्यक्रम बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।कार्यक्रम में संगठन के संस्थापक एवं प्रदेश अध्यक्ष श्री अरुण सैनी जी मुख्य अतिथि एवं प्रदेश


महासचिव रजनीश सैनी ,जिलाध्यक्ष हरिद्वार राजीव सैनी डॉक्टर संजय सैनी प्रदेश उपाध्यक्ष ,आशीष सैनी जिला उपाध्यक्ष हरिद्वार िशिष्ट अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए। कार्यक्रम की अध्यक्षता और बहुत सुंदर संचालन जिला मीडिया प्रभारी संजय सैनी के द्वारा किया गया।  टोडा कल्याणपुर के ग्राम वासियों ने संगठन के पदाधिकारियों का फूल मालाओं के द्वारा स्वागत करते हुए आभार एवं धन्यवाद व्यक्त किया। सर्वप्रथम माता सावित्रीबाई फुले की चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए संगठन के प्रदेश अध्यक्ष अरुण सैनी ने बताया कि संगठन समाज में जागरूकता एवं महापुरुषों के साथ-साथ भारत की महिला शिक्षिका माता सावित्रीबाई फुले के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कठिन परिस्थितियों में रहते हुए भी माता सावित्रीबाई फुले ने मातृशक्ति के साथ-साथ बालिकाओं को शिक्षित करने का महत्वपूर्ण कार्य किया है।प्रदेश महासचिव रजनीश सैनी बताया की संगठन लंबे वर्षों से समाज के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं के साथ-साथ समाज में उत्कर्ष प्रदर्शन के लिए समाज के बुजुर्ग साथियों को सम्मानित करने का कार्य भी कर रहा है। संगठन के सभी पदाधिकारी ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा के साथ संगठन को मजबूत करने का महत्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं। ग्राम वासियों में हुकम सैनी पूर्व प्रधान, राजकुमार सैनी, संजीव सैनी,नरेंद्र सैनी ,अशोक सैनी, सुनील सैनी ,नरेंद्र सैनी, सुरेंद्र सैनी, नरेश सैनी,अंकुश सैनी,देवेंद्र पाल ,अंकित सैनी, रघुवीर सैनी,नकल सैनी, बबलू सैनी ,सुकलाल सैनी ,समय सैनी, अक्षय सैनी, अर्जुन सैनी, चंद्रपाल सैनी ,आशीष सैनी ,संजय सैनी आदि ग्रामवासी उपस्थित हुए।

सरस्वती शिशु मंदिर मायापुर में हुआ पुरस्कार वितरण समारोह

 सरस्वती शिशु मंदिर गंगा निलियम में हुआ पुरस्कार वितरण समारोह 

हरिद्वार 10 मार्च ( आकांक्षा वर्मा संवादाता गोविंद कृपा हरिद्वार )  मायापुर स्थित तुलाराम गोपाल दास मित्तल सरस्वती शिशु मंदिर गंगा निलियम हरिद्वार में स्वामी रवि पुरी महाराज के सानिध्य में विभिन्न प्रतियोगिताओं के पश्चात वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया गया , जिसमें विद्या भारती के प्रदेश निरीक्षक आदरणीय डा0  विजय पाल जी, हनुमान मंदिर के महंत स्वामी रवि पुरी ,नीरज मित्तल , प्रभु दयाल डॉ रमेश भाटिया सहित प्रबंध समिति के सदस्य उपस्थित रहे। इस अवसर पर विद्या भारती के प्रदेश निरीक्षक आदरणीय विजयपाल जी भाई साहब ने कहा कि बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए उन्हें विभिन्न प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करने के लिए प्रेरित करना चाहिए, कार्यक्रम के मुख्य अतिथि स्वामी रविं पुरी महाराज  ने कहा कि सरस्वती शिशु विद्या मंदिर जैसी संस्थाएं बच्चों में शिक्षा के साथ-साथ संस्कार और राष्ट्रप्रेम के बीज भी रोपित करती है उन्होंने कहा कि देश भर में फैली विद्या भारती की हजारों संस्थाएं समाज के लिए सृजन का कार्य कर रही हैं इन संस्थाओं से





शिक्षा लेने वाले छात्र-छात्राएं जहां अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं वही विद्या भारती के समर्पित शिक्षक शिक्षिकाएं भी बधाई के पात्र हैं। इस अवसर पर विभिन्न कक्षाओं के बच्चों को पुरस्कार प्रदान कर उनका उत्साहवर्धन किया गया। पुरस्कार वितरण समारोह का संचालन सरस्वती शिशु मंदिर मायापुर के प्रधानाचार्य करनेश सैनी ने किया एवं शिक्षक शिक्षिकाओं ने आए हुए अतिथियों का स्वागत एवं आभार प्रकट किया कार्यक्रम में बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए।

सक्षम ने दिव्यांग जनों के साथ मनाया होली का पर्व


 *सक्षम उत्तराखंड सविता प्रकोष्ठ द्वारा दिव्यांगों संग कुष्ठ आश्रम मोतीनगर में मनाया गया होलिकोत्सव*   

     नैनीताल 9 मार्च  सविता प्रकोष्ठ उत्तराखंड द्वारा  कुष्ठ आश्रम मोतीनगर (जिला नैनीताल) में दिव्यांगजनों के संग होली गायन एवम् अल्पाहार के साथ होली मिलन कार्यक्रम सक्षम के प्रान्त अध्यक्ष श्री ललित पन्त जी के सानिध्य में संपन्न हुआ।कार्यक्रम में एक दूसरे को अबीर ,गुलाल लगाते हुए दिव्यांगजनों व सक्षम कार्यकताओं ने ढोलक की थाप के साथ होली गायन का शुभारंभ किया।कुष्ठ प्रभावित धन बहादुर ने जहाँ एक ओर होली के विभिन्न गीतों को सामूहिकता देते हुए गायन किया वहीं दूसरी ओर सक्षम की जिला सचिव लता पन्त जोशी जी ,बबीता चन्दोला जी, जया भण्डारी, दयाकिशन बलूटिया जी,विपिन बहुगुणा जी,आदि ने होली गायन एवम् नृत्य का भी प्रदर्शन किया।होली गायन के साथ ही कार्यकर्ताओं का एक समूह श्रीमती तारा पाण्डेय जी, दिनेश पन्तोला जी , कंचन सक्सेना जी, गीता चन्दोला जी, कमल पन्त जी आदि अल्पाहार बना रहे थे सभी कार्यक्रमों की अध्यक्षता श्रीमती जयश्री भण्डारी एवम् संचालन नैनीताल जिले के अध्यक्ष 100% दिव्यांग अरूण कुमार गुप्ता जी के द्वारा किया गया।कार्यक्रम में हर्षित पन्त जी, कुष्ठ आश्रम के प्रधान मोहन सिंह जी,मोहन नाथ जी, कुंवर राम  जी,देवकी देवी जी ,मोहनी देवी जी,गुड्डी देवी जी, गोविंदी देवी जी आदि की उपस्थिति सराहनीय रही।सक्षम के प्रान्त अध्यक्ष ललित पन्त जी ने उत्तराखंड सविता प्रकोष्ठ के द्वारा किये जा रहे कार्यों की सराहना करते हुए एवम् बड़ी संख्या में नैनीताल जिले के कार्यकर्ताओं की भागीदारी हेतु धन्यवाद दिया। दिव्यांगजनों को भरोसा दिलाते हुए उन्होंनें उनके दुख- सुख में पूरे प्रान्त के सक्षम कार्यकर्ता के साथ का भरोसा दिलाया।उन्होंने बताया देहरादून में भी आज दिव्यांगों संग होली मिलन का कार्यक्रम हो रहा है।अन्य जिलों के सक्षम कार्यकर्ताओं को भी इस तरह के कार्यक्रम करने चाहिए , जिससे दिव्यांगजनों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के प्रयासों में तेजी आये।

 

प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम में भक्तों ने हनुमान बजरंगबली महाराज की पूजा अर्चना कर मनाई होली की खुशियां

 प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम में शुरू हो गई है होली की धूम भक्तों ने मंगलवार को हनुमान बजरंगबली महाराज को प्रणाम कर मनाई खुशियां

 हरिद्वार 7 मार्च (संजय वर्मा )


तीर्थ नगरी हरिद्वार में उमंग उत्साह और रंगों का पर्व होली का शुभारंभ हो चुका है पूरे शहर में जगह-जगह होली मिलन समारोह आयोजित किए जा रहे हैं वही प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम में मंगलवार को भक्तों ने हनुमान बजरंगबली महाराज की पूजा अर्चना कर होली की खुशियां मनाई

Pov full form|| pov videos || Definition


- > What is POV

Full form- Point of view

Pov is used especially in describing a way of shooting a scene or film that expresses the attitude of the director or writer toward the material or of a character in  movie/short/ video scenes.

OR

 The POV trend is a video that speaks directly to the viewer and inserts them into whatever scenario the creator has constructed.

 Often the creator will address the viewer directly or show the viewer a niche scenario from a first-person perspective.

Follow us For More#


होली के उल्लास के बीच संपन्न हुए भारत विकास परिषद के चुनाव



 *भारत हर क्षेत्र में आगे  बढ़ रहा है* *चिदानंद मुनि*

 हरिद्वार 5मार्च ( संजय वर्मा ) होली महोत्सव की पावन बेला में भारत विश्व को एक नई दिशा देने को तैयार हैं। भारत को भारत की दृष्टि से देखना होगा। परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद मुनि आज सिडकुल स्थित होटल गार्डेनिया में भारत विकास परिषद द्वारा आयोजित चुनाव कार्यक्रम व रंग पर्व महोत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। स्वामी चिदानंद मुनि ने कहा कि वर्तमान में जीवन में स्ंसकारो को जीवित रखने की आवश्यकता है। आज मोबाइल के चलते मां बाप कही खो गए हैं। अपनी संस्कृति और सेवा भाव के लिए बाबला बनने की जरूरत है। अपने लिए नही देश और दुनिया के लिए जिए । होली आई रे, होली आई है पर आज नये संकल्प लेने की आवश्यकता है। भारत विकास परिषद  इस कार्य को सुगमता से आगे बढ़ा रहा है। भारत को एक सिद्ध पुरुष नरेंद्र मोदी  रूप में मिला हुआ है। जिसके नेतृत्व में भारत की आज एक अलग पहचान विश्व में बनी है। भारत अब कमजोर नहीं है, वह शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में विकसित हो रहा है। स्वामी चिदानंद मुनि ने कहा कि होली हमे अपनी संस्कृति एवम् जड़ों से जुड़े रहने का संदेश देती हैं। अति विशिष्ट अतिथि के रूप में उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ दिनेश शास्त्री ने कहा कि होली हमारे लिए एक पर्व मात्र ही नहीं है यह हमारी संस्कृति और सभ्यता का प्रतीक है। रंगों की जीवन में अपनी महत्ती भूमिका है। वही उन्होंने कहा कि भारत कृषि प्रधान देश है इसलिए सभी उत्सव कृषि से जुड़े हुए हैं।भारत विकास परिषद का जन्म ही पांच सूत्रीय संपर्क, सहयोग संस्कार, सेवा और समर्पण को लेकर हुआ है और यही जीवन का सार भी है। इस से पूर्व प्रथम चरण में भारत विकास परिषद के प्रांतीय पदाधिकारियों का चुनाव पर्वेक्षक व परिषद के राष्ट्रीय मंत्री प्रवीण गर्ग की देखरेख में सर्वसम्मति से संपन्न हुए। जिसमें परिषद का अध्यक्ष लगातार तीसरी बार ब्रज प्रकाश गुप्ता (हरिद्वार) को तथा दूसरी बार महासचिव श्रीमती मनीषा सिंहल (रुड़की) व वित्त सचिव रोहित कोचग्वे(देहरादून) को चुना गया। जबकि प्रांतीय महिला संयोजिका सुगंधा जैन (रुड़की) को भी पुनः नामित किया गया। कार्यक्रम में मानवता के लिए पदम श्री डॉ जितेंद्र सिंह शंटी, कैंसर के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए मेरठ के कैंसर      हांस्पिटल वेलंटिस के डॉ अमित जैन  वही मैक्स अस्पताल दिल्ली की डायरेक्टर डॉ मीनू वालिया, श्रमजीवी पुरुष्कार राजीव दीक्षित गुरुकुल, पाली महेंद्रगढ़ संस्थान को और पर्यावरण संरक्षण जागरूकता अभियान के लिए जगदीश बाबला  देहरादून को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर प्रांतीय अध्यक्ष ब्रज प्रकाश गुप्ता ने अपने आगे के वार्षिक कार्यक्रमों को विस्तार से बताया और पुनःअध्यक्ष बनाये जाने पर उपस्थित सभी शाखा के पदाधिकारियों का आभार प्रकट किया। कार्यक्रम का संचालन प्रांतीय महामंत्री श्रीमती मनीषा सिंहल ने किया। उन्होंने परिषद द्वारा साल भर आयोजित किए कार्यों को विस्तार से बताया और कहा कि वर्तमान में परिषद महिलाओं के उत्थान के लिए चल रहे कामों को और अधिक गति से आगे बढ़ाएगी। इस अवसर पर क्षेत्रीय सचिव सेवा नरेश गोयल, विनीत संगल, संगीता सिंह, , फिल्म अभिनेत्री व उड़ान सीरियल की नायिका कविता चौधरी,अर्जुन दास भारद्वाज,प्रांतीय मीडिया प्रभारी अमित कुमार गुप्ता, रविंद्र कपूर,भेल शाखा के अध्यक्ष वैध एम आर शर्मा, पंचपुरी शाखा  अध्यक्ष एडवोकेट कुशल पाल सिंह चौहान, संजीव लांभा,नरेश जेनर, रुड़की जिला प्रभारी बीना सिंह, आदर्श पाल तोमर, अनीता गुप्ता, अरुणा चावला, मधु मारवाह, श्रीमती सावित्री मंगला, देवभूमि शाखा से श्रीमती रत्नेश गौतम, श्रीमती सुधा तिवारी श्रीमती शिवानी आदि उपस्थित रहे। अंत में होली पर कई रंगा रंग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए और उसके बाद सभी ने जमकर फूलों की होली खेली।

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...