हरिद्वार प्रेस क्लब के तत्वाधान मनाया गया हिंदी पत्रकारिता दिवस

 हरिद्वार 31 मई ( संजय वर्मा )  हरिद्वार प्रेस क्लब के सभागार में क्लब की ओर से आयोजित हिंदी पत्रकारिता दिवस



समारोह  में मुख्य अतिथि शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल, रहे। मुख्य वक्ता के रूप में  देश के प्रख्यात पत्रकार विनोद अग्निहोत्री, विशिष्ट अतिथि महापौर श्रीमती अनिता शर्मा, अध्यक्षता पतंजलि विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति प्रोफेसर महावीर अग्रवाल ने की।  इस मौके पर  गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय, देव संस्कृति विश्वविद्यालय तथा उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय के पत्रकारिता पाठ्यक्रम के सर्वोच्च अंक पाने वाले मनोहर दत्त पंचोली को स्वर्गीय हरीश चंद्र भाटी, गौरव कलोनी को स्वर्गीय योगी शोभनाथ तथा जागृति माई दास को स्वर्गीय बाबा फरलिया स्मृति स्वर्ण पदक देकर सम्मानित किया गया। वहीं सक्रिय पत्रकारिता में सतत योगदान के लिए पत्रकार राहुल वर्मा, मुकेश वर्मा, महताब आलम, तनवीर अली तथा श्रवण झा को सम्मानित किया गया। अध्यक्ष रामचंद्र कनौजिया ने अतिथियों का स्वागत तथा महासचिव मनोज सिंह रावत ने आभार ज्ञापित किया। बड़ी संख्या में पत्रकार एवं अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

तीव्र गति से की जाए नालों की सफाई :- अनिरूद्ध भाटी

  नालों की सफाई के समय व्यपारी करे सहयोग  : अनिरूद्ध भाटी


क्षेत्रीय पार्षद ने किया नाला सफाई कार्य का निरीक्षण

हरिद्वार, 31 मई  उत्तरी हरिद्वार स्थित वार्ड नं. 3 में हो रहे नाला सफाई कार्य का क्षेत्रीय पार्षद अनिरूद्ध भाटी ने निरीक्षण कर नाला सफाई की टीम को निर्देशित करते हुए कहा कि नाला सफाई का कार्य तली झाड़ किया जाये। 

अनिरूद्ध भाटी ने निरीक्षण के दौरान सफाई निरीक्षक व सफाई नायक को निर्देशित करते हुए कहा कि सूखी नदी से लेकर दूधाधारी चौक तक व दुर्गानगर से लेकर लोकनाथ घाट तक जाने वाले नाले की सफाई का कार्य आगामी मानसून के दृष्टिगत तीव्र गति से किया जाये। उन्हांेने कहा कि नाले से निकलने वाला मलबा व कूड़ा को अगले ही दिन सड़क से उठवाने की जिम्मेदारी नगर निगम के अधिकारियों व ठेकेदार को सुनिश्चित करनी होगी। अनिरूद्ध भाटी ने स्थानीय दुकानदारों व आश्रम, धर्मशाला प्रबंधकों से अनुरोध करते हुए कहा कि नाला सफाई करने वाली टीम का सहयोग करे व नाले की स्लैब को खाली कर नाला सफाई में अपना सहयोग प्रदान करे। 

निरीक्षण के दौरान सफाई निरीक्षक मनोज कुमार, सफाई नायक कुलदीप, पार्षद प्रतिनिधि दिनेश शर्मा, उमेश पाण्डेय, अभिनव जमदग्नि, रूपेश शर्मा, सोनू पंडित, सुखेन्द्र तोमर, हंसराज आहूजा, मनोज पाल, आशू आहूजा, नाथीराम प्रजापति, गोपी सैनी, राघव ठाकुर, आदित्य यादव समेत अनेक क्षेत्रवासी उपस्थित रहे।

श्री मानव कल्याण आश्रम में निर्जला एकादशी पर किया गया शरबत और फलों का वितरण

 अन्न, जल और वायु से होती है प्राण रक्षा :- दुर्गेशानन्द सरस्वती

श्री मानव कल्याण आश्रम में निर्जला एकादशी के अवसर पर किया गया शीतल पेय व फलों का वितरण

हरिद्वार, 31 मई ( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) निर्जला एकादशी के पावन अवसर पर श्री ललिताम्बा देवी ट्रस्ट के संयोजन में कनखल स्थित श्री मानव कल्याण आश्रम में शीतल पेय व फलों का वितरण किया गया। 

इस अवसर पर श्री मानव कल्याण आश्रम के महंत स्वामी दुर्गेशानन्द सरस्वती ने कहा कि कलयुग में अन्न,   जल,वायु में प्राण बसते हैं और इनका दान करना पुण्य कारक है,

अन्न जल भगवान की करेंसी है। अन्न जल के वितरण से मनुष्य का परमार्थ सुधरता है। उन्हांेने कहा कि श्री ललिताम्बा देवी ट्रस्ट सदैव धार्मिक व सामाजिक कार्यों में अपनी भूमिका निभाता है। 


श्री ललिताम्बा देवी ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि पूज्य ललिताम्बा देवी माता व पूज्य कल्याणानन्द सरस्वती द्वारा स्थापित श्री मानव कल्याण आश्रम पूज्य गुरूदेव के पदचिन्हों पर चलते हुए सदैव मानव सेवा को तत्पर रहता है। 

इस अवसर पर संस्था की ट्रस्टी रेणुका बेन एल. ठक्कर, सुरेन्द्र मिश्रा, ब्रह्मजीत, महेन्द्र, गोपी सैनी समेत अनेक गणमान्यजन उपस्थित रहे।

सक्षम दिव्यांग सेवा केंद्र है दिव्यांग जनों को समर्पित

 दिव्यांगों की सहायता के लिए समर्पित है सक्षम दिव्यांग सेवा केंद्र :- अनीता वर्मा

 हरिद्वार 31 मई सक्षम उत्तराखंड के द्वारा जनपद हरिद्वार में दिव्यांग जनों के हितार्थ संचालित सक्षम दिव्यांग सेवा केंद्र दयाल एनक्लेव जमालपुर कला मे दिव्यांगों  की सहायता के लिए समर्पित है दिव्यांग  सेवा केंद्र की संचालक अनीता वर्मा ने जनपद हरिद्वार के समस्त दिव्यांग जनों से इस सेवा केंद्र का लाभ उठाने का आग्रह किया ।उन्होंने बताया किइस दिव्यांग सेवा केंद्र के माध्यम से दिव्यांग जनों को उनकी समस्याओं के निराकरण में सहायता प्रदान की जाती है साथ  ही


सहायक उपकरण जैसी मदद भी आने वाले समय में दी जाएगी। उन्होंने दिव्यांग जनों से निरंतर संपर्क करने का आह्वान किया ।

विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर ऋषि कुल में किया गया प्रतियोगिता का आयोजन

 ऋषिकुल परिसर में विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया गया 



हरिद्वार 31 मई ( संजय वर्मा ) विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2023 के उपलक्ष में नशा मुक्त उत्तराखंड अभियान एंटी ड्रग एवं डी-एडिक्शन सेल के द्वारा ऋषिकुल परिसर में अगद तंत्र विभाग के तत्वधान में स्लोगन एवं पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया l कार्यक्रम का शुभारंभ परिषद निदेशक प्रो. डी.सी सिंह द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया l  कार्यक्रम में अगद तंत्र विभाग के डॉ. मनीषा दीक्षित द्वारा विश्व तंबाकू निषेध दिवस के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई, एवं नशे से होने वाले दुष्प्रभाव एवं उनके समाधान हेतु विभिन्न उपायों के बारे में बताया गया l कार्यक्रम का स्वागत अभिभाषण विभागीय अध्यक्ष प्रो. रमेश चंद्र तिवारी द्वारा किया गया कार्यक्रम में प्रो. के. के शर्मा, प्रो. ओ .पी. सिंह एवं प्रो. अजय कुमार गुप्ता की संयुक्त टीम द्वारा प्रतिभागियों के स्लोगन एवं पोस्टर का अवलोकन कर प्रथम द्वितीय तृतीय स्थान का निर्धारण किया गयाl पोस्टर प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर मुस्कान  रांगड (अगद तन्त्र विभाग), द्वितीय स्थान मनीषा स्नेही( रोग निदान), तृतीय स्थान किरण चमोली (कायचिकित्सा) एवं जयप्रकाश रावत (द्रव्यगुण) व स्लोगन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान श्रुति शर्मा ( रसशास्त्र), द्वितीय स्थान निशा चौधरी (स्त्री एवं प्रसूति तंत्र), तृतीय स्थान मेधा पुरोहित (शास्त्र) ने पुरस्कार प्राप्त किएl  सभी विजेताओं को प्रमाण पत्र एवं ट्रॉफी प्रदान कर उत्साहवर्धन किया गया l कार्यक्रम के अंतिम चरण में एक तंबाकू निषेध से संबंधित क्विज कंपटीशन का आयोजन किया गया l जिसमें सभी छात्र छात्राओं ने प्रतिभाग किया l कार्यक्रम के अंत में डॉ. वेद भूषण शर्मा द्वारा सभी आगंतुक शिक्षकों, प्रतिभागियों, स्नातकोत्तर छात्र छात्राओं, व सभी कर्मचारियों का धन्यवाद ज्ञापन किया l और अपेक्षा की गई कि नशा मुक्ति अभियान को और मजबूती से समाज में आगे बढ़ाया जाए l  कार्यक्रम के संयोजक अगदतंत्र विभाग के स्नातकोत्तर छात्र छात्राओं को प्रमाण पत्र प्रदान कर प्रोत्साहित किया गयाl  कार्यक्रम में प्रो. एस.पी वशिष्ट, प्रो.सुमन मिश्रा , प्रो. सीमा जोशी, प्रो. संजय सिंह, प्रो. माधवी गोस्वामी, प्रो.रीना दीक्षित , डॉ.शोभित वार्ष्णेय, डॉ.याघवेंद्र यादव आदि उपस्थित थेl

भागीरथ जयंती हर्षोल्लास के साथ मनाई गई

रुड़की 30 मई ( संजय सैनी संवादाता गोविंद कृपा रुड़की ) ग्राम टोडा


कल्याणपुर में गंगा दशहरा के पावन पर्व पर महाराजा भगीरथ जी की जयंती बड़े हर्षोल्लास से मनाई गई महाराजा भगीरथ जयंती पर ग्राम वासियों द्वारा महाराजा भगीरथ जी को पुष्प अर्पित कर हवन किया गया और  प्रसाद स्वरूप सभी ग्राम वासियों को मीठा जल वितरित किया गया  कार्यक्रम में उपस्थित रहे बिजेंद्र सैनी, संजय सैनी, नरेश सैनी, सुनील सैनी, संजीव सैनी, अरुण सैनी, जोगिंदर सैनी,गोली सैनी, राजू सैनी, रवि सैनी, राजकुमार सैनी, राजपाल कश्यप, विनोद प्रजापति, दीपक गिरी, गौरव गिरी, अनुज सैनी, आनंद सैनी, गौतम सैनी, जॉनी सैनी आदि

शांतिकुंज में मनाया गया गायत्री जयंती और दशहरा पर्व



 शांतिकुंज में गायत्री जयंती-गंगा दशहरा का महापर्व उत्साहपूर्वक मना

गंगा जीवनदायिनी और गायत्री प्राणदायिनी है ः डॉ पण्ड्या

गायत्री के तीन चरण उपासना, साधना व आराधना ः शैलदीदी

योग वासिष्ठ (निर्वाण प्रकरण) सहित दस पुस्तकों व वीडियो एल्बम का हुआ विमोचन


हरिद्वार, 30 मई। अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि पतित पावनी मां गंगा जीवनदायिनी है और सद्बुद्धि की अधिष्ठात्री माता गायत्री प्राणदायिनी है। मां गंगा का गंगासागर तक पहुंचना और माता गायत्री का जन-जन तक पहुंचना हमारे ऋषियों की विशेष कृपा से संभव हुआ है। इनकी शरण में जो भी आता है, बिना किसी भेदभाव के अपनी गोद में स्वीकारती हैं। कहा कि गायत्री महामंत्र की मनोयोगपूर्वक की गयी साधना से साधक की रुद्र, विष्णु और ब्रह्म ग्रंथि खुलती है।

श्रद्धेय डॉ. पण्ड्या गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में आयोजित तीन दिवसीय गायत्री जयंती महोत्सव के मुख्य कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर गंगा दशहरा व गायत्री जयंती मनाने आये देश-विदेश के हजारों गायत्री परिवार के साधक मौजूद रहे।

वैज्ञानिक अध्यात्मवाद के मर्मज्ञ श्रद्धेय डॉ.पण्ड्या ने कहा कि गायत्री महामंत्र के मनोयोगपूर्वक जप से उसका तत्त्वदर्शन साधक में समाता है, जिससे साधक में वयं राष्ट्रे जागृयाम का भाव पैदा होता है। गायत्री साधना से विभिन्न समस्याओंं का दीर्घकालीन समाधान भी मिलता है। गायत्री जीवन विद्या का स्रोत है, जो भी साधक गायत्री की विधि विधान से साधना करता है, वह सामान्य से असामान्य स्तर तक पहुंचता है। गंगा के जलकणों और गायत्री के मंत्र अक्षरों में ज्ञान-विज्ञान के सभी तत्त्व समाए हैं। देवसंस्कृति विवि के कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. पण्ड्या ने गायत्री महामंत्र व पतित पावनी गंगा की महात्म्य पर विस्तृत प्रकाश डाला।

संस्था की अधिष्ठात्री शैलदीदी ने कहा कि गायत्री और गंगा भाव संवेदनाओं की देवियाँ हंै। इनकी प्रेरणाओं को जीवन में उतारने से जीवन महान बनता है। गायत्री की तीन चरण- उपासना, साधना व आराधना है। गायत्री मंत्र की जप, तप से यह संभव है। उन्होंने कहा कि गायत्री परिवार की संस्थापिका माता भगवती देवी शर्मा व अखण्ड दीप के जन्मशताब्दी वर्ष २०२६ की सफलता के लिए अभी से साधनात्मक पुरुषार्थ में जुट जाने का आवाहन किया।

इस अवसर पर गायत्री परिवार प्रमुखद्वय ने योग वासिष्ठ (निर्वाण प्रकरण-उत्तरार्द्ध), आओ गढ़े संस्कारवान पीढी भाग-एक (तेलुगू) सहित दस पुस्तकों, आओ संस्कारवान पीढ़ी, देवसंस्कृति विवि व शांतिकुंज की डाक्यूमेंट्री तथा प्रज्ञागीतों की वीडियो एल्बम आदि का विमोचन किया।

इससे पूर्व पर्व पूजन का वैदिक कर्मकाण्ड संस्कार प्रकोष्ठ के आचार्यों ने सम्पन्न कराया, तो वहीं ब्राह्ममुहूर्त में गायत्री परिवार प्रमुखद्वय ने पूज्य आचार्यश्री के प्रतिनिधि के रूप में सैकड़ों श्रद्धालुओं को गायत्री महामंत्र की दीक्षा दी। पर्व के अवसर पर शांतिकुुंज के उच्चप्रशिक्षित आचार्यों  ने नामकरण, अन्नप्राशसन, विद्यारंभ, यज्ञोपवीत, विवाह सहित विभिन्न संस्कार बड़ी संख्या में निःशुल्क सम्पन्न कराये। सायंकालीन ब्रह्मवादिनी बहिनों ने विराट दीप महायज्ञ का संचालन किया। गायत्री परिवार ने अपने आराध्यदेव पं० श्रीराम शर्मा आचार्यजी की 33वीं पुण्यतिथि को संकल्प दिवस के रूप में मनाते हुए उनके बताये सूत्रों को स्वयं पालन करने एवं दूसरों को प्रेरित करने की शपथ ली। वहीं गायत्री विद्यापीठ शांतिकुंज की लक्ष्मी बाई कंपनी की गाइड्स ने अतिथियों का जलसेवा की।

ऋषि कुल में विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर होगा कार्यक्रम का आयोजन


हरिद्वार 29 मई (आकांक्षा वर्मा )


ऋषिकुल परिसर उत्तराखण्ड आर्युवेद विश्वविद्यालय के अगद तन्त्र विभाग द्वारा दिनांक 31मई 2023 को विश्व तम्बाकु निषेध दिवस के उपलक्ष्य मे पोस्टर व स्लोगन प्रतियोगता का आयोजन किया जा रहा है 

उक्त कार्यक्रम की जानकारी अगद तन्त्र विभाग के   विभागाध्यक्ष प्रो डॉ रमेश चंद्र तिवारी के द्वारा दी गई 

प्रो तिवारी  ने बताया कि विश्व तम्बाकु निषेध दिवस के उपल्क्ष में नशा मुक्त उत्तराखण्ड   अभियान के तहत एंटी ड्रग एवं डीएडिक्शन सेल के द्वारा विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं जिसमें पीजी अध्यताओ के द्वारा ज्ञानवर्धक जागरूकता हेतु विभिन्न उपायों की चर्चा की जाएगी, प्रो रमेश चंद तिवारी  ने सभी से अपील की है कि उक्त कार्यक्रम में अधिक से अधिक सहभागिता बढ़ा कर कार्यक्रम को सफल बनाये

अजर धाम आश्रम में मनाया गया गुरुजन स्मृति समारोह

 अजर धाम में मनाया गया गुरु जन स्मृति समारोह

हरिद्वार 29 मई (संजय वर्मा)  सप्त सरोवर क्षेत्र स्थित अजर धाम आश्रम में स्वामी अजरानंद महिला आश्रम ट्रस्ट के तत्वाधान में गुरुजन स्मृति समारोह मनाया गया । जिसमें महंत स्वयमानंद महाराज के संयोजन में तीन दिवसीय गुरुजन स्मृति समारोह आयोजित किया गया ।जिसमें स्वामी अजरानंद जी महाराज , देवी स्वरूपानंद जी,देवी शांतनंद जी एवं गुरुदेव ब्रह्मलीन महामंडलेश्वर स्वामी सच्चिदानंद महाराज को श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए । तीन दिवसीय श्रद्धांजलि समारोह के अंतर्गत समाधि स्थल पर हरियाणा , उ0प्र0 ,पंजाब आदि राज्यों से आए हुए श्रद्धालु भक्तों ने पुष्पांजलि अर्पित कर गुरुजनों को नमन किया ।रविवार को  संस्था के वर्तमान अध्यक्ष स्वामी स्वयमानंद जी महाराज की अध्यक्षता में श्रद्धांजलि समारोह आयोजित किया गया, जिसमें महामंडलेश्वर स्वामी प्रेमानंद जी महाराज ,महंत जमुना दास, महंत रवि देव शास्त्री ,स्वामी विचित्रानंद  संत श्री रामा देवी महंत योगेन्द्रानंद, ज्ञानानंद सहित संत भक्त जनों ने ब्रह्मलीन स्वामी अजरानंद  जी महाराज , देवी शांतानंद जी,  देवी स्वरूपानंद जी एवं सदगुरुदेव महामंडलेश्वर स्वामी सच्चिदानंद महाराज को श्रद्धा सुमन अर्पित किए वहीं संस्था की प्रगतिके प्रति वर्तमान  महंत



स्वामी स्वयमानंद जी की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए उनके प्रति मंगलकामनाएं प्रकट की इस अवसर पर संत जनों के लिए भोजन भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें श्रद्धालु भक्तों ने प्रसाद ग्रहण कियाआए हुए ।संत जनों का स्वागत स्वामी विचित्रानंद, रमेश कुमार एवं विद्यालय परिवार ने किया । श्रद्धांजलि सभा का संचालन महंत रवि देव शास्त्री ने किया ।

सर्वानंद घाट अंडरपास का कराया जाए जीर्णोद्धार :-अनिरूद्ध भाटी

 क्षतिग्रस्त सर्वानन्द घाट-दूधियाबंध मार्ग का शीघ्र किया जाये जीर्णोद्धार : अनिरूद्ध भाटी

क्षेत्रवासियों व भाजपा कार्यकर्त्ताओं ने नगर विधायक मदन कौशिक को ज्ञापन

सौंपकर की सर्वानन्द घाट अण्डर पास मार्ग की मरम्मत कराने की मांग

हरिद्वार, 29 मई ( विरेन्द्र


शर्मा संवादाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) उत्तरी हरिद्वार भूपतवाला में पावन धाम चौक से लेकर सप्तऋषि चुंगी तक फ्लाई ओवर निर्माण के चलते पावन धाम चौक को कार्यदायी संस्था ने बंद कर दिया है जिससे क्षेत्रवासियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस संदर्भ में क्षेत्रवासियों व भाजपा कार्यकर्त्ताओं ने भाजपा पार्षद दल केे नेता अनिरूद्ध भाटी के नेतृत्व में नगर विधायक मदन कौशिक को ज्ञापन देकर जनहित में ़क्षतिग्रस्त सर्वानन्द घाट-दूधियाबंध मार्ग के जीर्णोद्धार की मांग की है।

ज्ञापन सौंपते हुए भाजपा पार्षद दल के नेता अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि फ्लाई ओवर निर्माण के चलते पावन धाम चौक को कार्यदायी संस्था ने अवरूद्ध कर दिया है जिस कारण    भीमगोडा, खड़खड़ी, दुर्गानगर, भूपतवाला, मुखिया गली के क्षेत्रवासियों व तीर्थयात्रियों को सप्त सरोवर मार्ग पर जाने के लिए हरिपुर से घूमकर आना पड़ रहा है ऐसे में दोनों क्षेत्रों को जोड़ने वाला सर्वानन्द घाट-दूधियाबंध अण्डर पास मार्ग अत्यन्त क्षतिग्रस्त स्थिति में है जिसके चलते आवागमन में स्थानीय निवासियों, तीर्थयात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। सर्वानन्द घाट स्थित मोड़ पर बड़े-बड़े गड्ढे दुर्घटना को न्यौता दे रहे हैं। सर्वानन्द घाट-दूधियाबंध अण्डर पास मार्ग की मरम्मत व घाट पर रेलिंग की स्थापना स्थानीय निवासियों के साथ ही खड़खड़ी भूपतवाला के निवासियों, तीर्थयात्रियों के लिए बेहद लाभकारी सिद्ध होगा साथ ही चारधाम यात्रा के दौरान हाईवे की यातायात व्यवस्था बनाने में भी बेहद उपयोगी साबित होगी। 

पार्षद अनिल वशिष्ठ व विनित जौली ने संयुक्त रूप से कहा कि इस अण्डर पास की मरम्मत से जहां हाईवे सर्विस लेन पर यातायात का दवाब कम होगा वहीं क्षेत्रवासियों को सप्त सरोवर क्षेत्र में जाने में सुगमता होगी। 

पार्षद प्रतिनिधि विदित शर्मा ने कहा कि उक्त अण्डर पास की मरम्मत से भूपतवाला व सप्त सरोवर क्षेत्र के निवासियों का आवागमन सुगम हो सकेगा तथा दुर्घटनाओं पर भी लगाम लगेगी। 

भाजपा मण्डल अध्यक्ष तरूण नैयर ने कहा कि उक्त मार्ग से आवागमन करने वाले लोग गड्ढों के चलते चोटिल हो रहे हैं ऐसे में उक्त मार्ग की प्राथमिकता के आधार पर मरम्मत होनी चाहिए।

विधायक मदन कौशिक ने कहा कि उक्त मार्ग की प्राथमिकता के आधार पर मरम्मत करवायी जायेगी। उन्होंने एनएचएआई व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को उक्त मार्ग की मरम्मत करने के निर्देश दिये। 

ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से व्यापारी नेता डॉ. विशाल गर्ग, पूर्व पार्षद राहुल शर्मा, विकास तांत्रिवाल, आकाश भाटी, दिनेश शर्मा, रूपेश शर्मा, नाथीराम प्रजापति, गोपी सैनी, राघव ठाकुर, अनुपम त्यागी, विशाल गुप्ता, वैद्य उमेश बेदी, अनिल प्रजापति, रामदयाल यादव समेत अनेक क्षेत्रवासी व भाजपा कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे।

विश्व हिंदू परिषद के तत्वावधान में सम्पन्न हुई युवा संतो की संगोष्ठी

 हरिद्वार (27 मई) – विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक के पश्चात देश के युवा संतो की संगोष्ठी श्री कृष्ण निवास आश्रम, सन्यास रोड़,



कनखल, हरिद्वार में आयोजित की गई. संगोष्ठी का शुभारंभ विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे के साथ देवीय संपत मंडल अमरकंटक के अध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी हरिहरानंद सरस्वती, गौसंवर्धन आयोग मध्यप्रदेश के अध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद, अखण्ड परमधाम के परमाध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी ज्योतिर्मयानंद गिरी महाराज, देवनाथ मठ अमरावती श्रीनाथ पीठाधीश्वर स्वामी जितेंद्रनाथ ने संयुक्त रुप से किया.


युवा संत संगोष्ठी की अध्यक्षता देवीय संपत मंडल अमरकंटक के अध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी हरिहरानंद सरस्वती ने की तथा संचालन विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय मंत्री अशोक तिवारी ने किया. संगोष्ठी की प्रस्तावना केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने युवा संतो के समक्ष प्रस्तुत करते हुए कहा कि आज देश और धर्म को युवाओं की आवश्यकता हैं. देश धर्म पर उपस्थित संकट के विभिन्न स्वरूपों को कालनेमी की संज्ञा देते हुए युवा संतो से राष्ट्र के लिए समर्पण का आवाह्न किया. संगोष्ठी में धर्मांतरण, वक्फ बोर्ड को असीमित अधिकार, लिव इन रिलेशनशिप, मंदिरों को सरकारी नियंत्रण से मुक्ति, समलैंगिकता जैसे विषयों पर चिंता व्यक्त करते हुए गहन चिंतन मनन किया गया.


संगोष्ठी में श्री पंचायती अखाड़ा अग्नि के सचिव श्रीमहंत डा संपूर्णानंद ब्रह्मचारी, श्री पंचायती अखाड़ा निर्मल के कोठारी महंत संत जसविंदर सिंह शास्त्री, श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन निर्वाण के कोठारी महंत गोविंद दास, श्री पंचरामानंदीय दिगंबर अग्नि प्रतिनिधि सचिव श्री महंत विष्णुदास महाराज, सखी हनुमान मंदिर झांसी के श्री महंत अर्पितदास महाराज, कामत गिरी पीठ चित्रगुप्त के श्री महंत मदनमोहन दास, महामंडलेश्वर स्वामी विश्वेश्वरानंद गिरी महाराज रोहतक, महामंडलेश्वर स्वामी प्रणवानंद सरस्वती मुंबई, महंत श्यामचेतनानंद ब्रह्मचारी लखनऊ, आचार्य पुष्पेंद्र पुरी, महामंडलेश्वर गिरधरगिरी, स्वामी अनंतानंद सरस्वती, महंत रविदेव शास्त्री, महंत कृष्णानंद गिरी, स्वामी दयानंद पुरी, महंत धीरजदास के साथ अनेक परमपूज्य युवा संतो ने अपने वक्तव्य प्रस्तुत कर सनातन धर्म संस्कृति को बचाने हेतु योजना रचना में अपना संकल्प दोहराया. युवा संतो की इस संगोष्ठी में देश भर के लगभग 93 युवा संतो ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई.


संगोष्ठी में उपस्थित संतो का माल्यार्पण कर स्वागत विश्व हिन्दू परिषद के संरक्षक दिनेश चंद्र ने किया. संगोष्ठी के आयोजन में प्रमुख रुप से विभाग अध्यक्ष बलराम कपूर, जिला अध्यक्ष नितिन गौतम, नवीन तेश्वर, अनिल भारती, भूपेंद्र सैनी, कुलदीप प्रधान, मयंक चौहान, विक्की, अंगद सक्सेना ने अपनी भूमिका का सफलतापूर्वक निर्वहन किया.

विश्व हिंदू परिषद के तत्वाधान में हुआ साध्वी संगोष्ठी का आयोजन

 हरिद्वार –27 मई ( संजय वर्मा ) विश्व हिन्दू परिषद के तत्वाधान में 


साध्वी संगोष्ठी का आयोजन श्री कृष्ण निवास आश्रम सन्यास रोड़ कनखल हरिद्वार में किया गया. विश्व हिन्दू परिषद द्वारा आयोजित इस संगोष्ठी में संपूर्ण भारत से महिला संत सम्मिलित हुई. संगोष्ठी का उद्घाटन विश्व हिन्दू परिषद के संरक्षक दिनेश चंद्र, केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे, महामंडलेश्वर स्वामी साध्वी मैत्रेय गिरी महाराज, साध्वी विभानंद गिरी महाराज, साध्वी दिव्यचेतना महाराज, श्रीमहंत साध्वी डा.प्रज्ञा भारती, साध्वी गार्गी चेतन्या, साध्वी गंगानाथ ने संयुक्त रुप से किया. संगोष्ठी में विषय प्रस्तावना रखते हुए विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने कहा कि वर्तमान समय में भारत तथा हिन्दू समाज पर अंतरराष्ट्रीय षडयंत्रों के आधार पर चौतरफा हमले हो रहें हैं. भारत ने अपनी सनातन संस्कृति, धर्म और समाज सदैव रक्षा की हैं. देश और धर्म की रक्षा के लिए हमारे महान पूर्वजों ने अध्यात्म, नैतिक, जीवन मूल्यों की रक्षा हेतु त्याग और संघर्ष किया हैं. आज जीवन मूल्यों को लेकर हम जीवित हैं, उन पर आघात हो रहें हैं. परिवार, कुटुंब और वैवाहिक व्यवस्थाओं को तोड़ने का प्रयास किया जा रहा है. विदेशी षडयंत्रों की टूल किट के माध्यम से समाज में समलैंगिकता, लिव इन रिलेशनशिप जैसे घृणित विषय स्थापित करने के प्रयास किए जा रहे हैं. देश के सीमावर्ती राज्य, वनवासी, आदिवासी, वंचित–पिछड़े क्षेत्रों में धर्मांतरण भीषण गति से चल रहा हैं. 

मिलिंद परांडे ने महिला संतो से निवेदन किया कि अपने कार्यक्षेत्रों में सघन संपर्क और प्रवास करें. हिंदुओं को धर्म आस्था से जोड़ने की आवश्यकता हैं. हिंदुओं में पलायन नहीं पराक्रम का भाव भरने की आवश्यकता हैं. वर्तमान समय में हिंदुओं में शोर्य पराक्रम का जागरण, परिवारों में संस्कार देना, परिवार प्रबोधन, कुटुंब प्रबोधन, समाज प्रबोधन करने में महिला संतो की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती हैं.


साध्वी प्रज्ञा भारती ने धर्मांतरण तथा लव जेहाद विषय पर कहा कि धर्म पर हो रहें आघात का प्रतिकार संत समाज को करना चाहिए क्योंकि हिन्दू समाज आज संस्कारों के अभाव में निरीह प्राणी के समान है. संत राष्ट्र धर्म और समाज की रक्षा को जीवन समर्पित करता है. कन्याओं को संस्कारित करने से पूर्व माताओं को संस्कृति और संस्कार की जानकारी देना आवश्यक हैं. संतो को आत्मीयता, सहयोग, संपर्क, प्रवास के माध्यम से समाज को धर्म के प्रति विश्वास और अडिगता सिखाने की आवश्यकता है. महामंडलेश्वर स्वामी साध्वी मैत्रेय गिरी महाराज ने संगोष्ठी में कहा कि सत्संग, कथा, जागरण के माध्यम से हमें समाज का प्रबोधन करना चाहिए. 


 विश्व हिन्दू परिषद की पूज्य साध्वी संगोष्ठी में प्रमुख रूप से साध्वी राजेश्वरी गुजरात, साध्वी राधिका जबलपुर, साध्वी शोभा रामपुर, साध्वी प्रियाशरण जोधपुर, साध्वी शिरोमणि हरिद्वार, साध्वी चंद्रकला छत्तीसगढ़, साध्वी कल्याणी बंगाल, साध्वी जागृति चेतना, साध्वी ज्योतिर्मय, साध्वी साधना महाराष्ट्र, साध्वी सत्यनिष्ठा राजस्थान, साध्वी निर्मला सतना के साथ अनेक महिला संत साध्वियों ने उक्त विषय पर अपना वक्तव्य प्रस्तुत किया. विश्व हिन्दू परिषद की पूज्य साध्वी संगोष्ठी के आयोजन में प्रमुख रूप से विश्व हिन्दू परिषद की केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी ताई, प्रज्ञा महाला राष्ट्रीय संयोजिका दुर्गावाहिनी, सरोज सोनी राष्ट्रीय सहसंयोजिका मातृशक्ति, विमला शुक्ला क्षेत्रीय संयोजिका मातृशक्ति, रीना शर्मा क्षेत्रीय संयोजिका दुर्गावाहिनी, संध्या कौशिक प्रांत उपाध्यक्षा विहिप उत्तराखण्ड, नीता कपूर प्रांत संयोजिका मातृशक्ति, नीलम त्रिपाठी प्रांत संयोजिका दुर्गावाहिनी सम्मिलित रही.



भाजपा हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा की कार्यसमिति हुई संपन्न


 प्रधानमंत्री की सौगात राजकीय मेडिकल कॉलेज, रिंग रोड का जनता को मिलेगा लाभ: स्वामी यतीश्वरानंद

भाजपा की हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा कार्यसमिति में केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए लोकसभा चुनाव में जुटने को किया आह्वान

हरिद्वार 26 मई  ( वीरेंद्र शर्मा संवादाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा कार्यसमिति में पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद ने केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि वंदे मातरम ट्रेन, आयुष्मान योजना, किसान सम्मान निधि, स्वामित्व का अधिकार, जल जीवन मिशन से शुद्ध जल आदि के साथ तमाम सुविधाएं जनता को दी, लेकिन विपक्षी दल के नेताओं को जनता का विकास बर्दास्त नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने हरिद्वार में राजकीय मेडिकल कॉलेज, रिंग रोड दी, जिसका लाभ जनता को मिलने जा रहा है। उन्होंने आगामी लोकसभा चुनाव में जुटने को आह्वान किया।

शुक्रवार को मिस्सरपुर स्थित वेलकम फार्म हाउस में भाजपा की हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा की कार्यसमिति बैठक हुई। जिसमें आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर जनता के बीच पहुंचने को आह्वान किया गया। जिलाध्यक्ष संदीप गोयल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नौ साल के कार्यकाल में देश का चहुंमुंखी विकास हुआ। जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाने को मामला रहा हो या राम मंदिर का निर्माण कराकर देश में सामंजस्य के साथ जनता का विकास करने के साथ देश का नाम विश्व में रोशन किया। कोरोना जैसी भयंकर महामारी से निपटकर देश को विकास की पटरी पर दौड़ाने का ऐतिहासिक काम किया। ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश गिरी ने कहा कि नई संसद बनाने का काम भी विपक्षी दलों को रास नहीं आ रहा। उद्घाटन को लेकर भी राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने द केरला स्टोरी फिल्म का उदाहरण देते हुए कहा कि देश किन राष्ट्रविरोधी ताकतों से जूझा है,  ऐसा अब नहीं होने देंगे।

इस मौके पर जिला महामंत्री आशु चौधरी, आशुतोष शर्मा, ओबीसी जिला अध्यक्ष डॉ प्रदीप चौधरी, जिला पंचयात उपाध्यक्ष अमित चौहान, मंडल अध्यक्ष प्रणव यादव, जितेंद्र सैनी, सीमा चौहान, जिला पंचायत सदस्य सोहनवीर पाल, संजय सरदार, अरविन्द कुमार, अंकित कश्यप, नाथीराम चौधरी, प्रमोद शर्मा, कुलदीप चौधरी, मोर्चो के अध्यक्ष, शक्ति केंद्र के संयोजक, बूथ अध्यक्ष, प्रदेश के पदाधिकारीगण, जिला के पदाधिकारीगण, बैठक में उपस्थित रहे।

गैंडीखाता मे हुआ कुटुंब प्रबोधन संगोष्ठी का आयोजन

 सरस्वती शिशु मंदिर गैड़ीखाता मे हुआ कुटुंब प्रबोधन संगोष्ठी का आयोजन

 हरिद्वार / गैड़ी खाता  26 मई ( सुदीप बनर्जी संवाददाता गोविंद कृपा  ) सरस्वती शिशु मंदिर गैंडीखाता हरिद्वार में कुटुम्ब प्रबोधन संगोष्ठी आयोजित हुई।इस संगोष्ठी कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री प्रदीप चौधरी जी, विशिष्ट अतिथि श्री सुशील कुमार सैनी सेवानिवृत्त तहसीलदार, कार्यक्रम के मुख्य वक्ता श्री रोहिताश्व कुंवर सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य माननीय जिला संघचालक हरिद्वार जी का कार्यक्रम में आए हुए अभिभावकों को कुटुम्ब प्रबोधन पर पाथ्ये प्राप्त हुआ। अपने उद्बोधन में रोहिताश कुँवर ने कहा कि  परिवार समाज की प्रथम इकाई है जिसमें  बालक बालिकाओं में  बचपन से ही  संस्कार रोपित किए जाते हैं  बच्चे देश का भविष्य है और स्वस्थ समाज का आधार है इस कारण  परिवार की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी बनती है कि वह समाज में समरसता स्थापित करते हुए बालक बालिकाओं को  संस्कारी बनाए। विद्यालय के प्रधानाचार्य मंत्री प्रसाद उनियाल  ने बताया कि इस कार्यक्रम में 300अभिभावकों ने प्रतिभाग किया।  इस कार्यक्रम में श्री सुनील वर्मा जी खंड संघचालक जी श्री योगेश्वर चौहान, राजपाल बगियाल, व्यवस्थापक श्री जब्बरसिंह बिष्ट जी सहित समाज के गणमान्य लोग उपस्थित रहे कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री आलोक कुमार गुप्ता विद्यालय प्रबंध समिति जी ने की विद्यालय के सभी आचार्य, आचार्या बहिने उपस्थित रहे। कुटुंब प्रबोधन संगोष्ठी का संचालन विद्यालय के प्रधानाचार्य  मंत्री प्रसाद उनियालय  ने किया  एवं प्रबंधक आलोक कुमार गुप्ता ने  आए हुए अतिथियों का स्वागत और आभार प्रकट किया ।



विश्व हिंदू परिषद की केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल की बैठक हुई संपन्न




मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विश्व हिंदू परिषद के उपवेशन में शामिल होकर लिया संतों का आशीर्वाद

हरिद्वार 26 मई - (संजय वर्मा )  विश्व हिन्दू परिषद की केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल (उपवेशन) की दो दिवसीय बैठक श्री कृष्ण निवास आश्रम, सन्यास रोड़, हरिद्वार, उत्तराखण्ड में सफलतापूर्वक संपन्न हुई। उपवेशन के प्रथम दिवस के दो सत्रों में भारतीय संस्कृति और संस्कारों पर कुठराघात, समलैंगिकता और लिव इन रिलेशनशिप, देश के सभी मठ मंदिर को सरकारी नियंत्रण से मुक्त करना चाहिए जैसे ज्वलंत विषयों पर संतो ने अपने विचार प्रकट कर गहन चिंतन मनन किया। संतो ने देश में निर्बाध गति से चल रहे अवैध धर्मान्तरण, वक्फ बोर्ड को असीमित अधिकार पर चिंता व्यक्त करते हुए अपने विचार प्रकट किए।


विश्व हिन्दू परिषद की केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल (उपवेशन) की दो दिवसीय बैठक के अंतिम दिवस का समापन सत्र श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के न्यासी युगपुरुष महामंडलेश्वर परमानंद महाराज की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। उपवेशन में अचानक उपस्थित हुए उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने संतो का माल्यार्पण कर आशीर्वाद प्राप्त किया। बैठक में उपस्थित धर्माचार्यों तथा संतो ने मुख्यमंत्री का यशस्वी, धर्मरक्षक, कर्मयोगी कहकर सम्मान किया। मुख्यमंत्री ने कहा संतो ने धर्मध्वजा मुझे सौंपी है, में देवभूमि को उसके मूल स्वरूप में वापस लाऊंगा, आपके आशीर्वाद से मुझे ऊर्जा प्राप्त हुई हैं।

समापन सत्र का विषय देश के समस्त धर्माचार्य तथा संतो से विश्व हिन्दू परिषद का आदिवासी, वनवासी, वंचित क्षेत्रों वर्ष में एक पखवाड़ा प्रवास करने का निवेदन रहा जिसका संतो ने स्वागत कर सहयोग करने का संकल्प लिया। साध्वी ऋतंबरा ने अपने गुरु महामंडलेश्वर युगपुरुष परमानंद महाराज के माध्यम से श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महामंत्री तथा विश्व हिन्दू परिषद के उपाध्यक्ष चंपत राय, विश्व हिन्दू परिषद के संरक्षक दिनेश चंद्र को एक करोड़ का चैक भगवान श्री राम जन्मभूमि पर बन रहे मंदिर के लिए भेंट किया।


उपवेशन में विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने संतो से निवेदन किया कि वर्तमान समय की आवश्यकता हैं कि संतो धर्माचार्यों को गांव गांव जाकर धर्मसम्मत प्रचार करना चाहिए। आज भारतीय संस्कृति और संस्कारों पर चौतरफा प्रहार हो रहें हैं। समाज में नकारात्मक विचारों का प्रभाव बढ़ रहा हैं, नैतिक और जीवन मूल्यों का ह्रास हो रहा हैं, यह संस्कारों का शरण हैं। समाज में विदेशी षडयंत्रों पर आधारित सोशल मीडिया के माध्यम से गलत विमर्श स्थापित किए जा रहें हैं, उनको समझ कर तत्काल प्रतिकार करने की आवश्यकता हैं। मिलिंद परांडे ने कहा कि पंजाब से लेकर पूर्वोत्तर तक धर्मांतरण का कुचक्र चल रहा हैं। समाज और परिवार का प्रबोधन वर्तमान समय की महती आवश्यकता हैं।


उपवेशन में निर्वाणी पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर विशोकानंद महाराज, साध्वी ऋतंबरा, स्वामी अजनेशानंद सरस्वती बिहार, घीसापंथाचार्य महामंडलेश्वर स्वामी कृष्णानंद महाराज, गरीबदासाचार्य महामंडलेश्वर स्वामी ब्रह्मस्वरूप महाराज छोडानी धाम, बंजारा समाज के सर्वोच्च धर्मगुरु बाबूसिंह महाराज के साथ अनेक पूज्य संतो ने अपने वक्तव्य को बैठक में प्रमुख रुप से रखा। विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल बैठक (उपवेशन) में देश भर से 350 शीर्ष संतों एवं 70 साध्वी धर्माचार्यो ने प्रतिभाग किया।


केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक (उपवेशन) का संचालन विहिप के केन्द्रीय मंत्री अशोक तिवारी ने किया। उपवेशन में पधारे संतजनों का स्वागत विश्व हिन्दू परिषद के संरक्षक दिनेश चन्द्र, केन्द्रीय उपाध्यक्ष एवं राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र के महामंत्री चंपत राय, केन्द्रीय संगठन महामंत्री विनायकराव देशपांडे, केन्द्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे, केंद्रीय संयुक्त महामंत्री कोटेश्वर राव ने किया। इस अवसर पर प्रमुख रुप से क्षेत्र संगठन मंत्री सोहन सिंह सोलंकी, प्रांत संगठन मंत्री उत्तराखंड अजय कुमार, प्रांत उपाध्यक्ष प्रदीप मिश्र, प्रांत उपाध्यक्षा संध्या कौशिक, प्रांत संयोजिका दुर्गा वाहिनी नीलम त्रिपाठी, नीता कपूर, विभाग अध्यक्ष बलराम कपूर, जिला अध्यक्ष नितिन गौतम, राजेंद्र सैनी, पंकज विश्नोई, कमल उलियान, अनिल भारती, जिला उपाध्यक्ष प्रभाकर कश्यप, मयंक चौहान, अमित मुल्तानिया आदि उपस्थित रहे।


जया मैक्स वेल हॉस्पिटल ने लगाया स्वास्थ्य जांच शिविर

 जया  मैक्सवेल हॉस्पिटल ने सरस्वती शिशु मंदिर में लगाया निशुल्क चिकित्सा कैंप 

हरिद्वार 26 मई ( संजय वर्मा)   बहादराबाद के जया मैक्सवेल हॉस्पिटल ने तुला राम गोपाल दास सरस्वती शिशु विद्या मंदिर हरिद्वार में  स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया । विद्यालय के प्रधानाचार्य करणेश सैनी ने बताया कि इस निशुल्क स्वास्थ्य शिविर में विद्यालय के छात्र छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें दवाई वितरित की गई । सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज मायापुर के प्रधानाचार्य अजय सिंह ने



जया मैक्सवेल हॉस्पिटल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस प्रकार के सामाजिक कार्यों से  जया मेक्सवेल हॉस्पिटल समाज के प्रति अपने उत्तरदायित्व का निर्वाह कर रहा है । कैंप में विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं ने भी सहयोग प्रदान किया । चिकित्सा कैंप में नो 9 चिकित्सकों  की  टीम ने बच्चों के स्वास्थ्य की जांच एवं उपचार किया।

वंदे भारत एक्सप्रेस का हुआ शुभारंभ

 वंदे भारत एक्सप्रेस के हरिद्वार पहुंचने पर किया भव्य स्वागत

हरिद्वार, 25 मई ( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )  देहरादून से दिल्ली के लिए संचालित हुई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का हरिद्वार पहुंचने पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने पुष्पवर्षा कर स्वागत



किया। इस दौरान भाजपा विधायक मदन कौशिक, विधायक आदेश चैहान, पूर्व विधायक संजय गुप्ता, मेयर अनिता शर्मा, पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद, योगगुरू बाबा रामदेव, परमार्थ निकेतन आश्रम ऋषिकेश के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद मुनि, अखाड़ा परिषद अध्यक्ष एवं महानिर्वाणी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविंद्रपुरी महाराज, भाजपा नेता डा.विशाल गर्ग, विकास तिवारी, संजय चोपड़ा, पार्षद अनिरूद्ध भाटी, व्यापार मंडल अध्यक्ष धर्मेन्द्र विश्नोई, जगदीश लाल पाहवा आदि सभी ने वंदे भारत ट्रेन को उत्तराखंड के लिए बड़ी उपब्धि बताते हुए ट्रेन के साथ आए रेल मंत्री अश्विन वैष्णव का स्वागत किया। इस दौरान ट्रेन के स्वागत में रेलवे स्टेशन पर कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। ट्रेन में भाजपा महिला मोर्चा की 20 कार्यकर्ताओं हरिद्वार से रूड़की तक ट्रेन में सफर किया। विधायक मदन कौशिक, आदेश चैहान, पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद, पूर्व विधायक संजय गुप्ता ने कहा कि वंदे भारत एक्सप्रेस के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड को एक बड़ी सौगात दी है। वंदे भारत एक्सप्रेस का संचालन होने से उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। योगगुरू बाबा रामदेव, अखाड़ा परिषद श्रीमहंत रविंद्रपुरी, स्वामी चिदानंद मुनि ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार सतत, सुरिक्षत और सब के विकास के लिये प्रतिबद्ध है। सरकार भारत के प्रत्येक गांव को मुख्य धारा से जोड़ने हेतु अद्भुत कार्य कर रही है। वंदे भारत एक्सप्रेस का संचालन होने से उत्तराखंड में तीर्थाटन और पर्यटन बढ़ेगा। डा.विशाल गर्ग ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड को वंदे भारत एक्सप्रेस की सौगात दी है। उत्तराखंड के पर्यटन के बढ़ावे के साथ साथ यात्रीयों का सफर भी दिल्ली तक सुखद हो सकेगा। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रेलवे को मजबूती प्रदान करने में निर्णायक भूमिका निभा रहे हैं। इस दौरान एडीआरएम मुरादाबाद निर्भय नारायण सिंह सहित रेलवे के तमाम अधिकारी मौजूद रहे।

विश्व हिंदू परिषद का प्रारंभ हुआ उपवेशन

 श्री कृष्ण निवास आश्रम में प्रारंभ हुआ विश्व हिन्दू परिषद, केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल का उपवेशन

हरिद्वार 25 मई ( संजय वर्मा )


विश्व हिन्दू परिषद की केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल (उपवेशन) की दो दिवसीय बैठक श्री कृष्ण निवास आश्रम, सन्यास रोड़, हरिद्वार, उत्तराखण्ड में आयोजित की गयी। उपवेशन का उद्घाटन जगदगुरू शंकराचार्य वासुदेवानंद सरस्वती महाराज, जूना पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरि जी महाराज, निर्वाणी पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी विशोकानंद भारती महाराज, गीता मनीषी महामंडलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद महाराज, रामानंदाचार्य स्वामी रामराजेश्वराचार्य, श्रीनाथ संप्रदायचार्य स्वामी जितेंद्रनाथ महाराज, महानिर्वाणी महामंडलेश्वर स्वामी विश्वेश्वरानंद महाराज श्रीमहंत दुर्गादास बड़ा अखाड़ा, श्रीमहंत रविंद्रपुरी के साथ विश्व हिन्दू परिषद के संरक्षक दिनेश चंद्र, केंद्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार, केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे, श्री राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र अयोध्या के महामंत्री तथा केंद्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने संयुक्त रुप से किया। 


उपवेशन के प्रथम सत्र की अध्यक्षता जूना पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरि जी महाराज ने की। विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार उपवेशन की प्रस्तावना को संतो के समक्ष प्रस्तुत किया। विश्व हिन्दू परिषद की वर्ष भर की गतिविधियों और उपलब्धियो को केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने उपस्थित धर्माचार्यो के समक्ष रखा। 


उपवेशन के प्रथम सत्र में भारतीय संस्कृति और संस्कारों पर कुठराघात, समलैंगिकता और लिव इन रिलेशनशिप विषय पर संतो ने अपने विचार प्रकट कर गहन चिंतन मनन किया। अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती, गौसंवर्धन आयोग मध्यप्रदेश के अध्यक्ष महामंडलेश्वर श्री स्वामी अखिलेश्वरानंद गिरि, महामंडलेश्वर यतींद्रानंद गिरी महाराज, श्रीमहंत कमलनयन दास महाराज अयोध्या, साध्वी शक्ति परिषद की केंद्रीय महामंत्री महामंडलेश्वर स्वामी विभानंद गिरी महाराज, जगदगुरू दादूपंथचार्य स्वामी अर्जुनदास महाराज, पंचायती अखाड़ा महानिर्वाणी के महामंडलेश्वर अभयानंद सरस्वती, अखिल भारतीय संत समिति दिल्ली प्रांत अध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी नवल किशोर दास महाराज, महामंडलेश्वर स्वामी सर्वेश्वरदास महाराज, स्वामी निजानंद सरस्वती सौराष्ट्र, डा. जनार्दन मेटे महाराज, स्वामी परशुराम गिरी महाराज गुजरात, श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन महामंडलेश्वर स्वामी हरिचेतनानंद जी महाराज, भारत माता मंदिर के प्रबंधक स्वामी ललितानंद, म.म.रूपेन्द्रप्रकाश महाराज, दक्षिण कर्नाटक से मदार चेनय्या स्वामी, परमार्थ निकेतन परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती (मुनि) महाराज, म.म.स्वामी हरिचेतनानंद, पटना साहिब के जत्थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह, बौद्ध संत राहुल बौद्ध महाराष्ट्र सहित उपस्थित समस्त धर्माचार्यो ने कहा कि देश में भारतीय संस्कृति और संस्कारों को विदेशी षडयंत्रों पर आधारित नैरेटिव अर्थात विमर्श के माध्यम से समाज और देश को तोड़ने का षडयंत्र चल रहा है, इसे भलीभांति समझ कर इसका विरोध करने की आवश्यकता है। संतो ने देश में निर्बाध चल रहे अवैध धर्मान्तरण के विरोध में कठोर कानून बनाने की मांग की। उपवेशन में उपस्थित समस्त संतजनों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार के द्वारा मंदिरों का अधिग्रहण नहीं होना चाहिए, अधिग्रहित मंदिरों का सरकारी नियंत्रण समाप्त होना चाहिए। इसके लिये जनजागरण का अभियान चलाने का संकल्प भी लिया गया। जूनापीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी महाराज ने समाज के प्रबोधन विषय पर विचार प्रकट किए। विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल बैठक (उपवेशन) में देश भर से 350 शीर्ष संतों एवं 70 साध्वी धर्माचार्यो ने प्रतिभाग किया।


केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक (उपवेशन) का संचालन विहिप के केन्द्रीय मंत्री अशोक तिवारी ने किया। उपवेशन में पधारे संतजनों का स्वागत विश्व हिन्दू परिषद के संरक्षक दिनेश चन्द्र, केन्द्रीय उपाध्यक्ष एवं राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र के महामंत्री चंपत राय, केन्द्रीय संगठन महामंत्री विनायकराव देशपांडे, केन्द्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे, केंद्रीय संयुक्त महामंत्री कोटेश्वर राव, केंद्रीय उपाध्यक्ष जीवेश्वर मिश्र, केंद्रीय मंत्री राजेंद्र सिंह पंकज, प्रांत अध्यक्ष उत्तराखंड रविदेव आनंद ने किया। इस अवसर पर प्रमुख रुप से क्षेत्र संगठन मंत्री सोहन सिंह सोलंकी, प्रांत संगठन मंत्री उत्तराखंड अजय कुमार, प्रांत उपाध्यक्ष प्रदीप मिश्र, प्रांत उपाध्यक्षा संध्या कौशिक, प्रांत संयोजिका दुर्गा वाहिनी नीलम त्रिपाठी, नीता कपूर, प्रांत संयोजक बजरंग दल अनुज वालिया, विभाग अध्यक्ष बलराम कपूर, गंगा सभा हरिद्वार के अध्यक्ष एवं जिला अध्यक्ष नितिन गौतम, कमल उलियान, अनिल भारती, नवीन तेश्वर, भूपेंद्र सैनी, जिला उपाध्यक्ष प्रभाकर कश्यप, मयंक चौहान, अमित मुल्तानिया आदि उपस्थित रहे।



CTET 2023 exam pattern in hindi

 #CTET paper 1 और पेपर 2 2023


किसी भी कॉन्पिटिटिव एग्जाम के लिए सबसे महत्वपूर्ण है टाइम मैनेजमेंट तो इस आर्टिकल की का आरंभ करते हैं समय के साथ। 

समय:

परीक्षा के पेपर 1 और पेपर 2 दोनों के लिए कुल 150-150 मिनट दिए जाते हैं मतलब 2:30 hours।



#ctet पेपर मे नेगेटिव मर्किंग? 

परीक्षा में निगेटिव मार्किंग नहीं होती है।

कुल 150 अंकों के लिए प्रत्येक पेपर में 150 प्रश्न होते हैं।

CTET exam paper 1

Classes 1-5


SubjectsTotal Number of QuestionsTotal Number of MarksDuration
Child Development and Pedagogy30302.5 hours
Language I (compulsory) 3030
Language II (compulsory) 3030
Mathematics3030
Environmental Studies3030
Total150150

Or


अनुभागप्रश्नों की कुल संख्याअंकों की कुल संख्याअवधि
बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (अनिवार्य)30302.5 घंटे
भाषा I (अनिवार्य)3030
भाषा II (अनिवार्य)3030
अंक शास्त्र3030
पर्यावरण अध्ययन3030
कुल150150 


#Language 1 और language 2 क्या है? 

20 भाषाओं में से, उम्मीदवारों को भाषा I और भाषा II प्रश्नपत्रों का प्रयास करने के लिए अपनी वरीयता के अनुसार किन्हीं दो भाषाओं का विकल्प चुनने की अनुमति है।

नॉर्मलि भाषा 1 और भाषा 2 को हिंदी और इंग्लिश चुना जाता है। 

CTET exam paper 2:


Classes 6-8


  • प्रारंभिक चरण के लिए CTET परीक्षा, कक्षा 6 से 8 के लिए आवेदन करने वाले शिक्षकों के लिए आयोजित की जाएगी, इसमें पांच विषय बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I, भाषा II, गणित और विज्ञान (गणित और विज्ञान के शिक्षकों के लिए), या सामाजिक अध्ययन / सामाजिक विज्ञान,सामाजिक अध्ययन / सामाजिक विज्ञान शिक्षक के लिए)  शामिल हैं।
  • यह ढाई घंटे के लिए आयोजित किया जाएगा और इसमें एक अंक के 150 प्रश्न होंगे।
  • यह पेपर विषय-विशिष्ट है और उम्मीदवारों को अन्य वर्गों के साथ चयनित विषयों में से केवल एक का प्रयास करना है।
    सीटेट पेपर 2 के लिए विस्तृत CTET एग्जाम पैटर्न और प्रश्नों की प्रकृति को नीचे समझाया गया है:

SubjectsTotal Number of QuestionsTotal Number of MarksDuration
Child Development and Pedagogy30302.5 hours
Language I (compulsory) 3030
Language II (compulsory) 3030
A. Mathematics & Science30 + 3060
B. Social Studies & Social Science6060
Total150150

Or

अनुभागप्रश्नों की कुल संख्याअंकों की कुल संख्याअवधि
बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (अनिवार्य)30302.5 घंटे
भाषा I (अनिवार्य)3030
भाषा II (अनिवार्य)3030
गणित और विज्ञान (गणित और विज्ञान शिक्षक के लिए)

या

सामाजिक अध्ययन/सामाजिक विज्ञान (सामाजिक अध्ययन/सामाजिक विज्ञान शिक्षक के लिए)

6060
कुल150150

                        

धन्यवाद

 इस प्रकार की अन्य जाकरियो के लिए फॉलो करें-

https://www.blogger.com/follow.g?view=FOLLOW&blogID=3448022246902790220

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...