पतंजलि हॉस्पिटल में हुआ आधुनिक ऑपरेशन थिएटर का शुभारंभ



पतंजलि ने आयुर्वेद चिकित्सा के नए आयाम स्थापित किए: स्वामी रामदेव


पतंजलि आयुर्वेद हॉस्पिटल प्राचीनता व आधुनिकता का संगम: आचार्य बालकृष्ण


हरिद्वार 08 दिसम्बर। पतंजलि आयुर्वेद हॉस्पिटल स्थित शल्य विभाग के नवनिर्मित आधुनिक ऑपरेशन थियेटर का उद्घाटन पतंजलि योगपीठ के संस्थापक अध्यक्ष स्वामी रामदेव जी महाराज व महामंत्री आचार्य बालकृष्ण जी महाराज ने किया। इस अवसर पर स्वामी रामदेव जी महाराज ने कहा कि पतंजलि ने आयुर्वेद को विश्वव्यापी बनाकर आयुर्वेद चिकित्सा के नए आयाम स्थापित किए हैं।

उन्होंने कहा कि पतंजलि आयुर्वेद हॉस्पिटल आयुर्वेद को विश्वव्यापी बनाने व मॉर्डन मैडिकल साइंस के साथ एकीकृत रूप से कार्य करते हुए नई संभावनाओं पर कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति में शल्य क्रिया का वर्णन प्राचीनकाल से है जहाँ महर्षि सुश्रुत को शल्य चिकित्सा का जनक कहा गया है। वर्तमान परिप्रेक्ष्य में आयुर्वेद में शल्य क्रिया को आधुनिकता के साथ जोड़कर पतंजलि चिकित्सा जगत में एक नई क्रांति का सूत्रपात करने जा रहा है।

उद्घाटन अवसर पर आचार्य बालकृष्ण जी महाराज ने कहा कि शल्य क्रिया कोई पैथी नहीं अपितु एक कौशल है जिसे किसी भी पैथी के साथ जोड़कर आगे बढ़ाया जा सकता है। वर्तमान में पतंजलि योगपीठ के शल्य चिकित्सा व अनुसंधान केन्द्र में ‘आयुर्वेद’ को ‘शल्य’ (Surgery) के साथ जोड़कर, क्षारसूत्र की अति प्राचीन विधि को अत्याधुनिक लेजर तकनीक के साथ एकीकृत (Integrate) करके चिकित्सा का नया आयाम प्रारंभ किया गया है। उन्होंने बताया कि पतंजलि का अत्याधुनिक ऑपरेशन थियेटर (Operation Theater) आधुनिकता और प्राचीनता का संगम है। हमें गर्व है कि आयुर्वेद को विश्वव्यापी बनाने के लिए अत्याधुनिक संसाधनों को साथ जोड़कर कार्य करने वाला प्रथम संस्थान पतंजलि योगपीठ है।

आचार्य जी ने बताया कि पतंजलि में जहाँ एक ओर योग, आयुर्वेद, प्राकृतिक चिकित्सा, पंचकर्म, षट्कर्म आदि प्राचीन चिकित्सा पद्धतियों से रोगियों को आरोग्य प्रदान किया जाता है वहीं पतंजलि के पास एनएबीएच मान्यता प्राप्त विश्व का सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक हॉस्पिटल, एनएबीएल मान्यता प्राप्त विश्वस्तरीय पैथोलॉजी लैब, आधुनिक उपकरणों से सुसज्जित दंत चिकित्सा, नेत्र चिकित्सा व ई.एन.टी. चिकित्सा एवं अनुसंधान केन्द्र हैं। साथ ही रेडियोलॉजी में एक्स-रे तथा अल्ट्रासाउण्ड की सुविधा भी पतंजलि आयुर्वेद हॉस्पिटल में उपलब्ध है।

कार्यक्रम में क्रय विभाध्यक्षा बहन अंशुल, संप्रेषण विभाग प्रमुख बहन पारूल, मुख्य महाप्रबंधक टी.सी. मल्होत्रा, वी.पी. शिवा प्रसाद गौरू, शल्य विभाग प्रमुख डॉ. सचिन गुप्ता व उनकी टीम तथा डॉ. अरूण पाण्डेय व पतंजलि आयुर्वेद हॉस्पिटल के चिकित्सकगण उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में श्रद्धा व उत्साह के साथ मनाया गया गायत्री जयंती गंगा दशहरा महापर्व

  शांतिकुंज में गायत्री जयंती-गंगा दशहरा के महापर्व से लाखों को मिली संजीवनी विद्या भारत का जीवन दर्शन है गायत्री और गंगा ः डॉ पण्ड्या गायत्...