कर्णप्रयाग में संपन्न हुई विश्व हिंदू परिषद उत्तराखंड की प्रांत कार्यसमिति

 कर्णप्रयाग 12 जुलाई  ( सुभाष चमौली  विशेष संवाददाता गोविंद कृपा कर्ण प्रयाग ) – विश्व हिंदू परिषद उत्तराखंड प्रान्त की दो दिवसीय कार्य समिति बैठक का आयोजन श्री जय कृष्ण वेडिंग प्वाइंट पोखरी रोड कर्णप्रयाग में  किया गया। बैठक का शुभारंभ शिवानंद गिरी महाराज, स्वामी योगेश्वरनंद महाराज, स्वामी ऐश्वर्यनार्थ महाराज के साथ उत्तराखण्ड प्रान्त के शीर्ष पदाधिकारियों की उपस्थिति में दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। विश्व हिन्दू परिषद उत्तराखण्ड प्रान्त की कार्य समिति बैठक में संपूर्ण उत्तराखण्ड से बैठक में सम्मिलित हुए पदाधिकारी एवं दायित्ववान कार्यकर्ताओं के समक्ष प्रांत मंत्री डा.विपिन पांडे ने विश्व हिन्दू परिषद की केंद्रीय प्रबंध समिति की बैठक कांचीपुरम, तमिलनाडु में संपन्न हुई समस्त कार्यवाही, निर्णय, परिवर्तनों को विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की। विश्व हिंदू परिषद की स्थापना के ६०वें वर्ष के लिए कार्ययोजना पर उन्होंने कहा की विश्व हिन्दू परिषद हिन्दू समाज के 61 लाख व्यक्तियों से संपर्क स्थापित कर उन्हें अपना हितचिंतक बनाएगी। विश्व हिंदू परिषद के सभी आयामों की टोली, समितियों को पूर्ण करने, संगठन में पूर्णकालिक कार्यकर्ताओं को नियुक्त करने, समाज को समरसकरने हेतु अनुसूचित जाति एवं जनजाति क्षेत्र को मुख्य धारा से जोड़ने पर जोर देते हुए विषय प्रस्तुत किया। प्रांत संगठन मंत्री अजय कुमार ने गत वर्ष का वृत्त–प्रतिवेदन प्रस्तुत कर आगामी कार्यक्रमों की जानकारी के साथ समाज में सेवा के कार्यों की आवश्यकता और महत्व चर्चा करते हुए प्रत्येक जिले में सेवा




प्रकल्प प्रारंभ करने का आवाह्न कार्यकर्ताओं से किया। उन्होंने संगठन गतिविधि एवं कार्यों के प्रचार प्रसार हेतू हिंदू विश्व पत्रिका की सदस्यता पर जोर दिया। संगठन विस्तार , धर्मरक्षा निधि समर्पण कार्यक्रम, कार्यकर्त्ता प्रशिक्षण वर्ग, परिवार प्रबोधन, सेवा कार्य, सामाजिक समरसता, धर्म प्रसार, धर्मांतरण, परावर्तन, युवा जागरण, सामाजिक संस्कार, नैतिक जागरण, बाल संस्कार, संस्कारशाला के साथ आत्मनिर्भरता पर भी विचार प्रस्तुत किए।


क्षेत्र संगठन मंत्री सोहन सोलंकी ने प्रान्त कार्यसमिति उपस्थित कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन करते हुए कहा की विधर्मियो द्वारा उत्तराखंड के मुख्य द्वार हरिद्वार एवं हल्द्वानी में जनसंख्या की वृद्धि तेजी से हो रही है। हमारे पहाड़ संकट से घिर रहें है, अगर हिमालय को सुरक्षित करना है तो हम सब को मिलकर काम करना ही होगा। भारत हजार से अधिक सालों से विधर्मियों से युद्ध लड़ रहा है अब ऐसा समय आ गया है कि जब विधर्मी भी अपना परावर्तन करके हिंदू धर्म को अपनाना चाहते हैं। भारत की सभी चुनौतियों का समाधान विश्व हिंदू परिषद है। भारत की धरती में कभी राक्षस कभी जीत नहीं पाए पहले श्री राम ने युद्ध किया फिर श्री कृष्ण ने युद्ध किया अब हमें भी एक महाभारत युद्ध के लिए तैयार रहना है।


विश्व हिंदू परिषद क्षेत्र सेवा प्रमुख भारत गगन अग्रवाल ने मुसलमानों के द्वारा लगातार लक्षित हिंसा और लगातार हिंदुओं पर बढ़ते अत्याचार पर बजरंग दल नहीं रहेगा मौन "क्रिया की प्रतिक्रिया" देने की रहेगी तैयारी के विषय पर कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन किया। स्वामी योगेश्वरानंद महाराज, स्वामी ऐश्वर्यनार्थ महाराज स्वामी शिवानंद महाराज ने संयुक्त रुप से कार्यसमिति में सम्मिलित सभी कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन करते हुए कहा की विश्व हिंदु परिषद के स्वयंसेवक धर्म प्रहरी एवं धर्म रक्षक हैं। उदयपुर तथा अमरावती जैसी घटना इसलिए होती है की हिन्दू धर्म का अनुसरण नही कर रहे हैं। भारतभूमि पर जन्म लेना ही सौभाग्य की बात है। हमारे पूर्वजों के त्याग और बलिदान से आज हम हिंदुत्व के युग में गर्व से जी रहे हैं। आज सब का दायित्व है कि हम शास्त्रों–पुराणों के रक्षक बने तथा उसके प्रचार-प्रसार का दायित्व का निर्वहन करे। प्रांत सहमंत्री रंदीप पोखरिया ने स्वालंबन पर  विचार रखते हुए बताया की आत्मनिर्भर भारत के लिए हम कैसे आत्मनिर्भर बन सकते हैं। 125 करोड़ जनसंख्या में दो-तिहाई जनसंख्या युवाओं की हैं। सन 2030 तक 30 करोड़ युवकों के अंदर स्किल उत्पन्न करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने सरकार की विभिन्न जनउपयोगी योजनाओं को समाज तक पहुंचाने की भी रणनीति पर कार्यकर्ताओं से सकारात्मक चर्चा की। गाय पर आधारित खेती पर विषय रखते हुए उन्होंने बताया कि लोगों का खान-पान विषैला हो चुका है हम केमिकल युक्त फल–सब्जियों का सेवन कर रहे हैं। अब गौ–आधारित खेती कर हम रोग मुक्त हो सकते हैं। 


उत्तराखण्ड प्रान्त की कार्यसमिति बैठक में मुख्य रुप से विश्व हिंदू परिषद के प्रदेश अध्यक्ष रविदेव आनंद, उपाध्यक्ष चिंतामणि सेमवाल, बीना भंडारी, तेजवीर सिंह, मंगल सिंह बिष्ट, अर्जुन पवार, संजय थपलियाल, पुष्कर सिंह बिष्ट, प्रतिभा अग्रवाल, ललित,  मोहित पांडे, भावना, स्वाति वर्मा, चंद्रा कोहली, सुंदर सिंह बरोलिया, मोहन सिंह बोहरा, दशरथ सिंह बुटोला, वीरेंद्र यादव, विश्वेंद्र सिंह, रणजीत मंगल, बृजेश सैनी, अनिल वर्मा, हिमानी सैनी, आशीष बलूनी, आलोक सिन्हा, विपिन आदि उपस्थित रहें।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...