हरिद्वार प्रेस क्लब में मनाई गई देव ऋषि नारद जयंती




उत्तराखंड निर्माण में पत्रकारों ने दिया बड़ा योगदान :-ऋतु खण्डूडी

नारद जी की तरह लोकमंगल,लोककल्याण की भावना के साथ पक्षकार बने बिना करे कार्य-विशेष गुप्ता  

देवऋषि नारद जयंती पर विश्व संवाद केन्द्र द्वारा समारोह आयोजित

हरिद्वार। उत्तराखण्ड विधानसभा की अध्यक्षा श्रीमती ऋतु खण्डूडी ने कहा कि समाज और देश को बेहतर बनाने मे पत्रकारिता का बड़ा योगदान है। उन्होने कहा कि किसी भी क्षेत्र मे क्रांति लाने मे पत्रकारो और पत्रकारिता का बड़ा योगदान होता है,लेकिन क्रांति केवल लिखने से नही,बल्कि उस विषय को आत्मसात् करके भी आगे बढ़ा जा सकता है। उन्होने कहा कि उत्तराखण्ड निर्माण मे पत्रकारो का बड़ा योगदान है। आजादी के आंदोलन से लेकर देश मे विभिन्न मौको पर हुये आंदोलनो को सफल बनाने मे पत्रकारो और समाचार पत्रो का बड़ा योगदान रहा है। जरूरत है नयी पीढ़ी को भी समाचार पत्र पढ़ने के लिए प्रेरित करने की। श्रीमती खण्डूडी मंगलवार को प्रेस क्लब मे विश्व संवाद केन्द्र देहरादून के तत्वावधान मे आयोजित देवर्षि नारद जयन्ती समारोह को मुख्य अतिथि के रूप मे संबोधित कर रही थी। पत्रकारो की इस समय बड़ी जिम्मेदारी है,जिसे निरपेक्षता से वहन करने की जरूरत है। उन्होने कहा कि लेखन हमेशा सकारात्मक होना चाहिए। समारोह मे मुख्य वक्ता उत्तर प्रदेश बाल संरक्षण आयोग के निवर्तमान अध्यक्ष डाॅ0 विशेष गुप्ता ने कहा कि पत्रकारिता को व्यवसाय बनाना समाज के लिए बड़ा घातक है। क्योकि हमेशा से पत्रकार और पत्रकारिता त्याग और तपस्या की जिन्दगी का पर्याय रहे है। उन्होने देवर्षि नारद जिन्हे देवताओं का संवाददाता कहा जाता है,से प्रेरणा लेनी होगी कि किस तरह नारद ऋषि लोक कल्याण के लिए सभी लोको के बीच संवाद स्थापित करके धर्म की स्थापना का कार्य करते रहे। उन्होने कहा कि नारद ऋषि से सीखना चाहिए कि पत्रकार हमेशा गतिमान रहे, घटनाओं से साक्षात्कार करे और लोकमंगल,लोककल्याण की भावना के साथ अपने कर्तव्यो का निर्वहन करे। उन्होने कहा कि इस समय सारे समाचार पत्र जो कि व्यक्तिगत प्रतिष्ठान मे तब्दील हो चुके है,उससे जुड़े पत्रकार पक्षकार बन गये है। इस समय देश परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है। भारतीय संस्कृति और संस्कार के प्रति जो जागरण हो रहा है,के वर्तमान के ज्ञान से पत्रकार को अपडेट होने की जरूरत है। उन्होने कहा कि हमारी संस्कृति मे हमेशा से धर्म,अर्थ,काम और मोझ की अवधारणा रही है,जिसमे धर्म सबसे पहले है,जिसके लिए सभी जुड़े हुए है। भारतीय संस्कृति मे पहले गांव,समाज,परिवार का अहम योगदान था,लेकिन इस समय एकल समाज का निर्माण तेजी से हो रहा है। ऐसे मे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ द्वारा भारतीय संस्कृति की पुर्नस्थापना का प्रयास किया जा रहा है,जो राष्ट्र को बेहतर बनायेगा। इस स्थिति मे पत्रकार को पझकार नही बनना चाहिए। लोकमंगल की अवधारणा को आगे रखने मे चैथे स्तम्भ की बड़ी जिम्मेदारी है,जिसका सच्चाई से निवर्हन करना है। आज भी समाज का पत्रकारिता के प्रति बड़ा भरोसा है,जिसे बनाये रखना सभी पत्रकारो का परम कर्तव्य है। इस पहले आयोजन समिति के अध्यक्ष डाॅ0रजनी कांत शुक्ल ने समारोह के विषय को विस्तार से बताया। समारोह की अध्यक्षता केयर नर्सिंग काॅलेज की निदेशक डाॅ0प्रीत शिखा शर्मा ने की। समारोह मे मुख्य अतिथि ने प्रेस क्लब अध्यक्ष श्रवण कुमार झा,महासचिव अश्विनी अरोड़ा तथा कोषसचिव सुनीलपाल का पटका पहना सम्मानित किया। जबकि अतिथियो का परिचय जिला प्रचार प्रमुख अजय शर्मा ने कराया। कार्यक्रम का संचालन संघ के नगर प्रचार प्रमुख अमित शर्मा ने किया। कार्यक्रम के संयोजक ललितेन्द्रनाथ ने अतिथियों का माल्यापर्ण व देवेश वशिष्ठ ने आभार व्यक्त किया। समारोह मे संघ के क्षेत्र प्रचार प्रमुख पदम जी,तेलगांना प्रदेश के प्रांत प्रचार प्रमुख अमरनाथ,जिला संचालक रोहिताश कुंवर,विभाग प्रचारक चिरजीवी जी,जिला कार्यवाह अकिंत कुमार सैनी,राज्यमंत्री अकिंत आर्य, एसएमजेएन काॅलेज के प्राचार्य डाॅ0सुनील बत्तरा,के अलावा राजकुमार शर्मा,समाजसेवी जगदीशलाल पाहवा,विशाल गर्ग के साथ साथ प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष बृजेन्द्र हर्ष,राजेन्द्रनाथगोस्वामी,संजय रावल,पूर्व महासचिव प्रवीण झा,रामचन्द्र कन्नौजिया,राहुल वर्मा,रामेश्वर गौड़,त्रिलोकचन्द्र भटट,मुदित अग्रवाल,रविन्द्र सिंह,कुलभूषण शर्मा सहित बड़ी संख्या मे पत्रकारो के अलावा अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

डॉ विशाल गर्ग ने भागवत व्यास पीठ से लिया आशीर्वाद

  भागवत कथा के श्रवण से दूर होते हैं कष्ट-डा.विशाल गर्ग हरिद्वार, 18 जुलाई। राष्ट्रीय भागवत परिवार के राष्ट्रीय संरक्षक डा.विशाल गर्ग ने सुभ...