भाजपा ने मनाया काला दिवस

हरिद्वार 25 जून भारतीय लोकतंत्र और राजनीतिक के सबसे दुखद और काले अध्याय के रूप में दर्ज आपातकाल 25 जून 1975 के दिन की बरसी के रूप में विरोध स्वरूप मनाया गया आज जिला भाजपा कार्यालय हरिद्वार पर आयोजित काला दिवस पर आयोजित गोष्ठी में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता के रूप में पहुंचे उत्तराखंड सरकार के दर्जाधारी मंत्री डॉ देवेंद्र भसीन ने कहा कि जो राजनीतिक दल आज लोकतंत्र की दुहाई देते है उन्हीं के द्वारा देश के राजनीतिक कार्यकर्ताओं और आम जनता का अंग्रेजों से भी ज्यादा बुरी तरह दमन किया गया वह यह भूल जाते हैं कि उन्हीं की सरकार के कार्यकाल में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने जब इमरजेंसी लागू की तो लोकतंत्र के चारों स्तंभों को ध्वस्त करते हुए देश में लाखों लोगों की जबरन नसबंदी कर दी गई वही मीडिया के चौथे स्तंभ अनेको अखबारों को बंद कर दिया गया कई हजार पत्रकारों को जेल भेज दिया गया देश के प्रत्येक प्रमुख विपक्षी राजनेता को या तो जेल भेज दिया गया अथवा नजरबंद कर उनका उत्पीड़न किया गया आज देश की युवा पीढ़ी को काले इतिहास को विस्तार से बताने की आवश्यकता है जिससे उन्हें मालूम पड़े कि जो लोग विश्व पटल पर जाकर लोकतांत्रिक भारत में लोकतांत्रिक हनन की बात करते हैं उनका स्वयं का इतिहास कितना बदनुमा और दागदार है।
आज फिर कांग्रेस के नेता देश की जनता में भरम फैलाने की बात कर देश में फिर से अराजकता का माहौल बनाने का प्रयास कर रहे हैं।
रानीपुर विधायक आदेश चौहान ने कहा कि हरिद्वार से वैसे तो सैकड़ों की संख्या में जनसंघ और आर एस एस कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न सरकारी मशीनरी द्वारा आपातकाल में तत्कालीन प्रधानमंत्री के इशारों पर किया गया था अनेकों कार्यकर्ताओं को जेल में यातनाएं सहनी पड़ी।
उन्होंने कार्यकर्ताओं से आव्हान किया कि हमें घर घर जाकर भारतीय लोकतंत्र के इस स्वर्णिम युग में पूर्व के काले इतिहास को भी बताना पड़ेगा जिससे कि हमारी आने वाली पीढ़ी यह तय कर सके कि इस देश का भविष्य किन हाथों में सुरक्षित रहेगा।
उन्होंने बताया कि तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने जब इमरजेंसी लागू की तो लोकतंत्र के चारों स्तंभों को ध्वस्त कर दिया गया।
जिला अध्यक्ष संदीप गोयल ने कहा कि आज से 49 वर्ष पूर्व आपातकाल का दंश संपूर्ण देश को झेलना पड़ा था भारतीय लोकतंत्र और राजनीति का यह सबसे दुखद दिन था आज इस अवसर पर आपातकाल के विरोध में उठी हर आवाज को मैं नमन करता हूं।
 तत्कालीन इंदिरा गांधी सरकार ने सत्ता की मनमानी करते हुए संविधान का मखोल उड़आतै हुए हुए लोकसभा तक का कार्यकाल 6 वर्ष कर दिया था। इस अवसर पर जिला महामंत्री आशुतोष शर्मा, आशु चौधरी,  जिला उपाध्यक्ष लव शर्मा,मोर्चा जिला अध्यक्ष डॉ प्रदीप कुमार ,विक्रम भुल्लर, मनीष कुमार, पूर्ण नगर पालिका अध्यक्ष अमरीश गर्ग, नकली राम सैनी मनोज शर्मा ,सचिन शर्मा, रितु ठाकुर, बागेश्वरी, चित्रा शर्मा, अभिनंदन गुप्ता, जय ध्वज सैनी, देवेंद्र चौधरी, डॉ राजकुमार सैनी, बृजेश शर्मा, हिमांशु राजपूत, अमित राज, नागेंद्र राणा, नाथी राम चौधरी, प्रिंस लोहाट, राजवीर कलानिया, विपिन शर्मा, विकास कुमार, विनीत चौहान ,निशिकांत शुक्ला ,संजीव चौधरी ,शुभम राठी ,मनीराम चौहान ,निर्मल प्रधान ,चमन चौहान, कमल प्रधान ,पवनदीप ,राजकुमार अरोड़ा ,सिद्धार्थ कौशिक, मनोज वर्मा ,धर्मेंद्र चौहान, सचिन सैनी आदि उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Featured Post

भारत विकास परिषद पंचपुरी शाखा ने फलदार पौधे किये रोपित

 * भारत विकास परिषद की पंचपुरी शाखा ने पर्यावरण संरक्षण का संकल्प लिया*    हरिद्वार 23 जुलाई भारत विकास परिषद की पंचपुरी शाखा ने हरेला पर्व ...