मंगलवार को मनाई जाएगी गंगा सप्तमी



श्रद्धा व धूमधाम के साथ 14 मई 2024 को मनाई जाएगी माँ गंगा सप्तमी*


हरिद्वार 12 मई मां गंगा जन्मोत्सव 14 मई 2024 को बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है माँ गंगा जी की पालकी बैंड बाजे,ढोल नगाड़ों के साथ 14 मई 2024 सांय 5:00 बजे स्थान:- श्री गुरु सेवक उछाली आश्रम निकट हिमालय डिपो की गली ललतारापुल हरिद्वार से निकली जाएगी ।जिसमें हरिद्वार जिले के पूजनीय महंत संत नेतागण और सम्मानित व्यापारीगण सम्मलित रहेंगे।माँ गंगा जन्मोत्सव सेवा संघ के अध्यक्ष विशाल गोस्वामी ने बताया की हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी मां गंगा जन्मोत्सव शोभा यात्रा बड़े ही भव्य और दिव्य रूप से निकाली जाएगी। उन्होंने बताया कि विशेष रूप से मां गंगा जी की पूजा अर्चना के लिए गंगा सप्तमी का पर्व बहुत ही शुभ माना गया है। माँ गंगा जी की उत्पत्ति वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को हुई थी।इसलिए हर वर्ष इस दिन को उनके जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है।

संस्था के महामंत्री आशीष गौड़ व मीडिया प्रभारी नरेंद्र सिंह नेगी ने कहा कि पौराणिक कथाओं के अनुसार यह वही दिन है जब ब्रह्मा जी के कमंडल से मां गंगा का जन्म हुआ था। पतितपावनी, मोक्षदायिनी मां गंगा हिमालय से निकली केवल एक सामान्य जलधारा नहीं, बल्कि भारतीय सांस्कृतिक वैभव, श्रद्धा एवं आस्था की प्रतीक मानी जाती हैं। सदियों से भारतीय समाज के हर वर्ग और समुदाय ने इसे अपनी भावनात्मक आस्थाओं का प्रतीक मानकर वंदना की है। भारतवर्ष के विशाल जन-समुदाय ने ममतामयी मां के रूप में गंगा को एक विशिष्ट मान्यता दी है। भारत ही नहीं, पूरे संसार में किसी अन्य जलधारा को इतना महत्व और प्रतिष्ठा नहीं मिली है, जितनी गंगा को युगों-युगों से प्राप्त होती रही है।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में प्रारंभ हुआ गंगा दशहरा गायत्री जयंती महापर्व

  अखण्ड जप के साथ दो दिवसीय गंगा दशहरा-गायत्री जयंती महापर्व का शुभारंभ ऊँचा उठे, फिर न गिरे ऐसा हो इंसान का कर्म :- डॉ चिन्मय पण्ड्या हरिद्...