कैबिनेट मंत्री रेखा कार्य ने की भगवान शिव की पूजा अर्चना

हरिद्वार 9 मार्च । आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा की भारी जीत तथा राष्ट्र की खुशहाली, विकास व सर्वांगीण उन्नति की कामना के साथ श्रीमंहत हरि गिरि महाराज के सानिध्य में जूना अखाड़ा हरिद्वार के आनंद भैरव घाट पर स्थित प्राचीन शिवालय में उत्तराखंड की महिला सशक्तिकरण, बाल विकास एवं खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने विशेष अनुष्ठान किया । महाशिवरात्रि  पर्व पर शुक्रवार रात्रि देर रात मुख्य पुरोहित देवेश बडोला के आचार्यत्व में श्रीमती रेखा आर्य एवं समाज सेवी गिरधारी लाल साहू ने विशिष्ट अनुष्ठान प्रारंभ किया। विशिष्ट अनुष्ठान आज सुबह 5 बजे भव्य आरती के साथ संपन्न हुआ। महाशिवरात्रि के  पावन पर्व पर श्री पंचदशनाम जूना अखाड़े में आशुतोष भगवान शिव के स्वरूप श्री आनंद भैरव की पूरी रात्रि चार प्रहर की विशेष पूजा अर्चना की गई। जिसका समापन शनिवार प्रात 5:00 बजे भव्य मंगल आरती के साथ संपन्न हुआ । अखाड़े के अंतरराष्ट्रीय संरक्षक श्री महंत हरी गिरी महाराज के सानिध्य व संयोजन में पौराणिक शिव तीर्थ जूनागढ़ स्थित भावनाथ मंदिर, प्रयागराज स्थित मोक्ष गिरी मंदिर, बनखंडी नाथ बरेली सहित सभी शाखों आश्रमों और  शिवालियों में विशेष विशिष्ट पूजा अर्चना तथा रात्रि जागरण किया गया । रात्रि में प्रथम प्रहर की विशेष अभिषेक के साथ शुरू हुआ अति विशिष्ट अनुष्ठान द्वितीय प्रहार तृतीय प्रहार तथा चतुर्थ प्रहर की पूजा अर्चना के साथ आज प्रातः 5:00 बजे संपन्न हुआ। इस अनुष्ठान में थानापति महंत मुन्ना गिरी, महंत महाकाल गिरी ,महंत भूपेंद्र गिरि, महंत हीरा भारती आदि विशेष रूप से उपस्थित रहे। अनुष्ठान के समापन के पश्चात कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि भाजपा उत्तराखंड की पांचो लोकसभा सीटों पर रिकार्ड मतों से जीत हासिल करेगी । साथ ही अबकी बार 400 पार के संकल्प को भी सिद्ध करके दिखाएगी। उन्होंने कहा कि पूरा देश ही नहीं समूचा विश्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की जीत के प्रति सत्य प्रतिशत आश्वस्त है । इससे पूर्व अनुष्ठान में बड़ी संख्या में साधु संतों के अलावा कई विशिष्ट नागरिक गण भी मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में प्रारंभ हुआ गंगा दशहरा गायत्री जयंती महापर्व

  अखण्ड जप के साथ दो दिवसीय गंगा दशहरा-गायत्री जयंती महापर्व का शुभारंभ ऊँचा उठे, फिर न गिरे ऐसा हो इंसान का कर्म :- डॉ चिन्मय पण्ड्या हरिद्...