ब्रह्मलीन स्वामी सर्वेश्वर सिंह शास्त्री निर्मल जी महाराज की अस्थियां गंगा में की गई प्रवाहित





 ब्रह्मलीन स्वामी सर्वेश्वर सिंह शास्त्री महाराज की अस्थियां

 की गई गंगा में विसर्जित   


माता सच्चिदानंद निर्मल कुटिया के परमाध्यक्ष स्वामी सर्वेश्वर सिंह शास्त्री निर्मल जी महाराज 8 जनवरी को हो गए थे ब्राह्मलीन 

9 जनवरी को खड़खड़ी शमशान घाट पर किया गया था अंतिम संस्कार

हरिद्वार 12 जनवरी माता सच्चिदानंद निर्मल कुटिया के परमाध्यक्ष ब्रह्मलीन स्वामी सर्वेश्वर सिंह शास्त्री निर्मल जी महाराज की अस्थियां सतीघाट कनखल में विधि विधान के साथ विसर्जित की गई उनकी उत्तराधिकारी एवं आश्रम की संचालिका बहन विमला निर्मल जी ने बताया कि महाराज श्री 8 जनवरी को ब्रह्मलीन हो गए थे जिनका अग्नि संस्कार खड़खड़ी श्मशान घाट पर 9 जनवरी को किया गया सनातन परंपरा के अनुसार उनकी अस्थियां उनके शिष्य एवं भक्तजन कनखल सती घाट ले गए जहां पर उन्हें गंगा जी में प्रवाहित कर दिया गया । स्वामी सर्वेश्वर सिंह शास्त्री निर्मल जी महाराज सरल स्वभाव के तपस्वी संत थे जिनके निधन से संत समाज में शोक व्याप्त है उनके भक्तजन बड़ी संख्या में  आश्रम पहुंचकर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

श्री मानव कल्याण आश्रम में प्रारंभ हुआ ललिताम्बा वेद विद्यालय

 गोविंद गिरी देव ने किया ललिताम्बा वेद विद्यालय का शुभारंभ जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी राज राजेश्वराश्रम महाराज की अध्यक्षता एवं श्रीमहंत देवा...