प्रोफेसर अरुण कुमार त्रिपाठी को मिला बेस्ट टीचर अवार्ड


 उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अरुण कुमार त्रिपाठी  को मिला बेस्ट टीचर अवार्ड -2024

हरिद्वार 9 नवंबर उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के गुरुकुल परिसर निदेशक एवं प्रभारी कुलपति प्रोफेसर अरुण कुमार त्रिपाठी जी को दून इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, सभागार, देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में बेस्ट टीचर अवार्ड २०२४ प्रदान किया गया। यह पुरस्कार विगत कई वर्षों से शिक्षा एवं ज्ञान विज्ञान के क्षेत्र में कार्य कर रहे विशिष्ट  शख्सियत को दिया जाता है। यह यह सम्मान उत्तराखंड शासन के अपर मुख्य सचिव श्री आनंद वर्धन, पूर्व मुख्यसचिव वरिष्ठ आईएएस सी.रविशंकर, यूकास्ट के महानिदेशक प्रोफेसर दुर्गेश पंत, डी.आई.टी. विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर प्रो०जी०रघुराम, प्रो०नवीन सिंघल, डीन-डी.आई.टी.आदि की उपस्थिति में प्रदान किया गया। ज्ञातव्य है कि प्रोफेसर अरुण कुमार त्रिपाठी जी 33 वर्षों से अधिक समय से आयुर्वेद चिकित्सा, शिक्षा एवं अनुसंधान के क्षेत्र  में विशिष्ट योगदान दिया है। आप आयुर्वेद के एक सिद्धहस्त चिकित्सक के रूप में ख्याति प्राप्त हैं। 7 वर्ष से अधिक समय तक आयुर्वेद एवं यूनानी सेवाएं,उत्तराखंड शासन के निदेशक पद पर दायित्व का निर्वहन भी किया है। इस अवार्ड की सूचना पर सभी शिक्षकों  ने हर्ष एवं प्रसन्नता व्यक्त की। आज गुरुकुल परिसर बैठक में उपस्थित शिक्षकों में प्रोफेसर पंकज शर्मा, प्रोफेसर मीना रानी आहूजा, प्रोफेसर अबधेश मिश्रा,  प्रोफेसर उत्तम शर्मा, प्रोफेसर जीपी गर्ग, प्रोफेसर विपिन कुमार पांडे, प्रोफेसर बालकृष्ण पवांर, प्रोफेसर मोहन शर्मा, प्रोफेसर आर.के.गौतम, प्रोफेसर वीरेन्द्र तमटा,प्रो०देवेश शुक्ला,  डा० एस.पी. सिंह, डॉ ज्ञानेंद्र पांडे, राजीव कुरेले, डा०विपिन अरोड़ा आदि शिक्षक गण, हरीश गुप्ता वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, राहुल तिवारी वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, पंकज शर्मा लेखा अधिकारी, जगदीश कैंतुरा आदि कार्यालय कर्मचारी, सहकर्मियों ने हर्ष एवं प्रसन्नता व्यक्त की।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में प्रारंभ हुआ गंगा दशहरा गायत्री जयंती महापर्व

  अखण्ड जप के साथ दो दिवसीय गंगा दशहरा-गायत्री जयंती महापर्व का शुभारंभ ऊँचा उठे, फिर न गिरे ऐसा हो इंसान का कर्म :- डॉ चिन्मय पण्ड्या हरिद्...