डॉ प्रणव पांडया एवं शैली दीदी के सानिध्य में मनाई गई दीपावली

 दीपोत्सव पवित्रता साथ लाता है ः डॉ पण्ड्या

शांतिकुंज ने उत्साहपूर्वक मनाई दीपावली


हरिद्वार 13 नवंबर ( अमर शदाणी  संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार )


 
गायत्री तीर्थ शांतिकुंज एवं देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में उत्साहपूर्वक दीपावली मनाई गयी। दीपोत्सव के अवसर पर शांतिकुंज की बहिनों ने गायत्री तीर्थ व देसंविवि परिसर को आकर्षक रंगोलियों से सजाया। पर्व के मुख्य कार्यक्रम में गायत्री परिवार के प्रमुखद्वय श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या एवं श्रद्धेया शैल दीदी ने वैदिक कर्मकाण्ड के साथ बही खाता का पूजन किया।

इस अवसर पर गायत्री परिवार प्रमुख श्रद्धेय डॉ पण्ड्या ने कहा कि दीपावली पर्व प्रकाश पर्व है। दीपोत्सव घरों, कार्यालयों, दुकानों, कारखानों आदि को प्रकाशित और पवित्र बनाये रखने का संदेश देता हैं। उन्होंने कहा कि हम अपने आप को इतना पवित्र व स्वच्छ बनायें, जिससे माँ लक्ष्मी हमें स्वीकार करें और अपनी कृपा से आच्छादित करें। संस्था की अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैलदीदी ने कहा कि दिवाली के अवसर पर प्रज्वलित होने वाला दीपक हम सभी को प्रकाशित होने का संदेश देता है। वे अपने भीतर के तेल (स्नेह) की एक-एक बंूद जलाकर जगत को प्रकाशित करते हैं। उन्होंने कहा कि उसी मनुष्य का जीवन धन्य है, जिनके जीवन में गतिशीलता है, मानसिक स्वच्छता है, ईर्ष्या, द्वेष से परे हैं। संस्था की अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैल दीदी ने कहा कि दूसरों के अंधेरा मिटाने में अपनी प्रतिभा व साधन का एक अंश लगाने के संकल्प के साथ दीपोत्सव मनाये।

इससे पूर्व संस्था की अधिष्ठात्री श्रद्धेया शैल दीदी व श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने पर्व पूजन किया तथा वेदमाता गायत्री ट्रस्ट के ट्रस्टी एवं लेखा विभाग प्रभारी श्री हरीश ठक्कर ने बही खातों का पूजन किया। दीपोत्सव का वैदिक कर्मकाण्ड संस्कार प्रकोष्ठ के आचार्यों ने सम्पन्न कराया।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

श्री मानव कल्याण आश्रम में प्रारंभ हुआ ललिताम्बा वेद विद्यालय

 गोविंद गिरी देव ने किया ललिताम्बा वेद विद्यालय का शुभारंभ जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी राज राजेश्वराश्रम महाराज की अध्यक्षता एवं श्रीमहंत देवा...