श्यामपुर कांगड़ी पहुंची जूना अखाड़ा की छड़ी यात्रा


 हरिद्वार 25 अक्टूबर  ( गोपाल रावत वरिष्ठ पत्रकार ) श्री पंचदशनाम जूना अखाड़े की पवित्र छड़ी बुधवार को नगर परिक्रमा करते हुए श्यामपुर कांगड़ी स्थित श्री महंत प्रेम गिरि सोहनगिरी धाम पहुंची, जहां सैकड़ों ग्रामीणों के साथ श्रद्धालुओं तथा स्थानीय नागरिकों ने पवित्र छड़ी के दर्शन किए तथा पुष्प बरसाकर पूजा अर्चना की। पवित्र छड़ी जूना अखाड़े के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष श्री महंत प्रेम गिरि महाराज के नेतृत्व में नागा संन्यासियों तथा श्रद्धालुओं के साथ माया देवी मंदिर में पूजा अर्चना के पश्चात नगर भ्रमण के लिए रवाना हुई । पवित्र छड़ी श्री गंगा मंदिर, श्री दुख हरण हनुमान मंदिर, बिरला घाट ,चंडी चौक गौरी शंकर महादेव होते हुए श्यामपुर कांगड़ी पहुंची, पवित्र छड़ी के क्षेत्र में पहुंचने पर श्रद्धालुओं द्वारा साधु संतों का ढोल नगाड़े तथा पुष्प बरसाकर स्वागत किया तथा पवित्र छड़ी का आशीर्वाद प्राप्त किया। श्री महंत प्रेम गिरि सोहनगिरी धाम पहुँचने पर पवित्र छड़ी का स्वागत करने वालों में महामंडलेश्वर रवि गिरी, महामंडलेश्वर संजय गिरी, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं निरंजनी अखाड़ा के सचिव श्री महंत रवींद्र पुरी तथा अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री व जूनाअखाड़ा के अंतरराष्ट्रीय संरक्षक श्री महंत हरि गिरि महाराज ने छड़ी की अगवानी की। इस मौके पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष ,निरंजनी अखाड़े के सचिव श्री महंत रवींद्र पुरी जी महाराज ने पवित्र छड़ी की पूजा अर्चना कर आरती की व छड़ी का आशीर्वाद लिया। उन्होंने पवित्र छड़ी यात्रा का उद्देश्य सनातन धर्म की अवधारणा को और मजबूत करने तथा उत्तराखंड में पलायन पर रोक तथा युवाओं को रोजगार का अवसर प्रदान करने का अवसर बताया। इस मौके पर श्री महंत प्रेम गिरि महाराज ने बताया कि इस पवित्र छड़ी में 33 करोड़ देवी देवताओं का निवास है तथा यह उत्तराखंड के चारों धाम सहित सभी पवित्र पौराणिक तीर्थ में गत 5 वर्षों से पूजा अर्चना के लिए जा रही है। जिस कारण इस पवित्र छड़ी में सभी तीर्थ का अंश समाया हुआ है ।इस पवित्र छड़ी के दर्शन मात्र से ही समस्त तीर्थो के दर्शन का फल प्राप्त हो जाता है। उन्होंने बताया यह पवित्र छड़ी गढ़वाल मंडल के केदार खंड तथा कुमायूं मंडल के मानस खंड के सभी पौराणिक तीर्थ की यात्रा करेगी तथा राष्ट्र की खुशहाली उन्नति व विकास की प्रार्थना करेगी। इस अवसर पर अखाड़े के सचिव श्री महंत महेश पुरी, श्री महंत शैलेंद्र गिरी, श्री महंत सुरेशानंद सरस्वती ,श्री महंत पूर्णागिरि, श्रीमंहत शिवदत्त गिरी, महंत धीरेंद्र पुरी, महंत महाकाल गिरी, महेंद्र राजेंद्र गिरि, महंत आदित्य गिरि, महंत दीपक गिरी, महंत रतन गिरी तथा महंत ग्वालापुरी सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के साथ-साथ स्थानीय नागरिक भी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में श्रद्धा व उत्साह के साथ मनाया गया गायत्री जयंती गंगा दशहरा महापर्व

  शांतिकुंज में गायत्री जयंती-गंगा दशहरा के महापर्व से लाखों को मिली संजीवनी विद्या भारत का जीवन दर्शन है गायत्री और गंगा ः डॉ पण्ड्या गायत्...