टीवी मुक्त भारत के लिए निकल गई रैली

 हरिद्वार 3 अक्टूबर भारत सरकार द्वारा अक्षय रोग को समाप्त करने हेतु


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा टीबी मुक्त भारत  मंगलवार से संकल्प सप्ताह, सबकी आकांक्षाएं ,सबका विकास अभियान सारे आकांक्षी विकास खंडों  में चला जा रहा है जनपद हरिद्वार में इस अभियान का शुभारंभ आकाशी विकासखंड बहादराबाद के विद्या मंदिर स्कूल से विद्यार्थी,टीचर्स व जिला अधिकारी धीराज सिंह  गरब्याल  एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मनीष दत्त ने संयुक्त रूप से टी.बी. चैंपियन रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। जिलाधिकारी धीराज सिंह  गरब्याल ने कहा कि इस अभियान के तहत जनपद हरिद्वार को वर्ष 2024 तक टीवी मुक्त किया जाना है देश में टीवी बीमारी अब लाइलाज नहीं है टीबी का इलाज संभव है और सरकारें इस बीमारी के लिए गंभीर हैं टीबी बीमारी का इलाज सरकारी अस्पतालों में निशुल्क किया जा रहा है टीबी से ग्रसित मरीजों को जांच से लेकर दवाइयां को उपलब्ध करा जा रहा है यदि टीबी के उपचार समय से करा जाए तो इस बीमारी पर विजय पाई जा सकती है रैली में 17 टीबी चैंपियन ने हिस्सा लिया जिनके द्वारा आम जनमानस से अपील की गई की टीबी का उपचार संभव है उन्होंने भी टीबी बीमारी को हराकर विजय पाई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि टीबी का उपचार दवाइयां स्क्रीनिंग जनपद के राजकीय चिकित्सालय में निशुल्क उपलब्ध है यदि किसी को टीबी की शिकायत महसूस होती हैं तो बेझिझक जिला अक्षय रोग चिकित्सालय पहुंच कर अपनी जांच कराये यदि जांच में टीवी मिलती है तो घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है जिसका उपचार संभव है और कुछ माह के भीतर उसकी दवाई खाने से टीबी बीमारी को समाप्त किया जा सकता है। रैली में बहादराबाद चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सुबोध जोशी जी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर शादाब सिद्दीकी ,एसटीएस प्रभारी चिकित्सा अधिकारी सलीम ,बीडिओ बहादराबाद मानस मित्तल जी अवनीश अनिल रिच एनजीओ से शाहनवाज चौधरी, बहुउदय लोक सेवा संस्थान से मनोज कुमार पाल का विशेष सहयोग रहा, टीवी चैंपियन मेनू सागर दीक्षा सुधीर अनिल नेगी जी आदि मौजूद रहे

जनपद हरिद्वार को वर्ष 2024 तक टीवी मुक्त बनाना है

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में प्रारंभ हुआ गंगा दशहरा गायत्री जयंती महापर्व

  अखण्ड जप के साथ दो दिवसीय गंगा दशहरा-गायत्री जयंती महापर्व का शुभारंभ ऊँचा उठे, फिर न गिरे ऐसा हो इंसान का कर्म :- डॉ चिन्मय पण्ड्या हरिद्...