जूना अखाड़े में पूजा अर्चना के साथ मनाया गया नरेंद्र मोदी का जन्मदिन


जूना अखाड़ा में संतों ने महामृत्युंजय यज्ञ कर की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दीर्घ  एवं स्वस्थ जीवन की कामना जीवन की कामना

 हरिद्वार . 17 सितंबर ( गोपाल रावत वरिष्ठ पत्रकार )भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री युगदृष्टा श्री नरेन्द्र मोदी के 72वें जन्मोत्सव पर श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़े में महामृत्यंजय यज्ञ का आयोजन किया गया। यज्ञ में सैकड़ो साधु-संतो ने मोदी जी की दीघार्यु की कामना करते हुए पवित्र हवनकुण्ड में मंत्रोच्चार के साथ आहूतियॉ डाली। इसके साथ ही आज विश्वकर्मा जयंन्ती के पावन पर्व पर देवशिल्पी विश्वकर्मा महाराज की भी विशेष पूजा अर्चना की गयी। जूना अखाड़ा के अर्न्तराष्ट्रीय संरक्षक एवं अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरि महाराज के संयोजन में जूना अखाड़े की पूरे देश में स्थित प्रमुख मठों,मन्दिरों तथा आश्रमों में भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की दीघार्यु,देश के सार्वभौमिक विकास के लिए विभिन्न धार्मिक समारोह,हवन,विशेष पूजा अर्चना तथा अध्यात्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

अर्न्तराष्ट्रीय संरक्षक श्रीमहंत हरिगिरि महाराज ने बताया जूना अखाड़े की सिद्वपीठ,हरिद्वार की अधिष्ठात्री देवी मॉ मायादेवी मन्दिर प्रांगण के हवनकुण्ड में महामृत्युजंय यज्ञ के अतिरिक्त पौराणिक तीर्थ भावनाथ मन्दिर जूनागढ़ गुजरात आनंदेश्वर शिव मन्दिर कानपुर,मौजगिरि मन्दिर प्रयागराज,मनकामेश्वर मठ लखनऊ,दातार अखाड़ा नीलगंगा उज्जैन,त्रयम्बकेश्वर महादेव नासिक,वनखण्डी महादेव बरेली,खेड़ामढी,पीलीभीत,बागनाथ महादेव मन्दिर बागेश्वर,श्रीदुखहरण हनुमान मन्दिर,श्रीमहंत प्रेमगिरि धाम श्यामपुर,श्रीकाली मन्दिर पटियाला सहित अखाड़े के समस्त शाखाओं में मोदी जी की दीघार्यु के लिए विशेष पूजा अर्चना तथा अनुष्ठान किए गए। उन्होने कहा यह दुलर्भ संयोग है कि आज ही विश्व के सृजनकर्त्ता देवशिल्पी विश्वकर्मा जी के अवतरण दिवस तथा मोदी जी का जन्मोत्सव साथ साथ मनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी,देवशिल्पी विश्वकर्मा जी की भॉति भारत के नव निर्माण में जुटे हुए है। सनातन धर्म की रक्षा हिन्दुत्व की स्थापना तथा भारत को विश्वगुरू के रूप में स्थापित करने का जो भागीरथ प्रयास उनके द्वारा किया जा रहा है। इसके लिए सभी साधु-संत व समस्त अखाड़े व करोड़ो देशवासी उनके साथ है। भावनाथ जूना गढ़ में श्रीमहंत हरिगिरि महाराज के नेतृत्व में स्वच्छता अभियान चलाया गया तथा रैली निकालकर इसके प्रति जागरूकता का संदेश भी दिया गया। मायोदवी मन्दिर तथा श्री आनंद भैरव मन्दिर हरिद्वार में महामृत्युजंय पूजा अर्चना के साथ साथ साधु-संतो के लिए भण्डारे का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में अखाड़े के राष्ट्रीय सचिव श्रीमहंत शैलेन्द्र गिरि,श्रीमहंत मनोज गिरि,थानापति महंत धीरेन्द्रपुरी,थानापति कोठारी महाकाल गिरि,थानापति राजेनद्र गिरि,श्रीमहंत सुरेशानंद,महंत रतन गिरि,महंत महेन्द्र भारती,महंत कुम्भ भारती,महंत भीष्म गिरि,महंत विक्रम गिरि सहित सैकड़ों साधु संतो व श्रद्वालुओं ने भाग लिया।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में प्रारंभ हुआ गंगा दशहरा गायत्री जयंती महापर्व

  अखण्ड जप के साथ दो दिवसीय गंगा दशहरा-गायत्री जयंती महापर्व का शुभारंभ ऊँचा उठे, फिर न गिरे ऐसा हो इंसान का कर्म :- डॉ चिन्मय पण्ड्या हरिद्...