पेटल वुड अपार्टमेंट में चोरी से रहने वालों में भय व्याप्त

 चोरी की घटना में पेटल वुड अपार्टमेंट बिल्डर की भूमिका संदिग्ध होने से अपार्टमेंट में रहने वाले लोगों में रोष





पेटल वुड अपार्टमेंट में दो संदिग्ध व्यक्तियों द्वारा चोरी, परिजनों में भय का माहौल

हरिद्वार 27 जून (  संजय वर्मा  ) नगर में नेशनल हाईवे पर स्थित एक अपार्टमेंट में दो संदिग्ध व्यक्तियों ने चोरी की और चोरी करने के साथ-साथ जो कि हथियारबंद थे और सीसीटीवी कैमरे पर भी उनको स्पष्ट रूप से देखा गया उन्होंने फ्लैट नंबर 204 श्रीमती अंजलि चौहान के घर पर चोरी की जिस समय चौहान दंपत्ति घर पर नहीं थे और उनको  सीसीटीवी फुटेज पर स्पष्ट रूप से देखा गया आश्चर्य की बात यह है कि अपार्टमेंट के सब सीसीटीवी कैमरे केवल वारदात के दौरान बंद थे यहीं के निवासी रवि चौहान के फुटेज से यह देखा गया जिसके बाबत पुलिस को यह बताया भी गया और इसके साथ-साथ पुलिस को सीसीटीवी कैमरे के द्वारा यह अवगत भी कराया गया कि वह दो संदिग्ध व्यक्ति जो हथियारबंद थी वह रात को लगभग 1:30 बजे लगभग अपार्टमेंट में घुसे तथा सिक्योरिटी गार्ड ने उनका कोई भी रजिस्टर में एंट्री भी नहीं की जिन्होंने चोरी को अंजाम दिया और इसके साथ-साथ उस दौरान उस तल पर 2 घंटे मौजूद रहे 2 घंटे मौजूद होने के साथ-साथ उन्होंने इस चोरी को अंजाम दिया और उस चोरी में लगभग ₹70000 नगदी तथा बारह से पंद्रह तोले सोने के गहने चोर लेकर चंपत बने । इसके बाबत पुलिस ने अंजलि चौहान के एप्लीकेशन  के आधार पर f.i.r.  नही लिखी बल्कि उनसे अपने मुताबिक पुलिस ने एप्लीकेशन लिखाई फिर f.i.r. लिखी गई । स्पष्ट होता है कि अपार्टमेंट बिल्डर्स का प्रभाव पुलिस पर भी खासा गहरा है । जबकि सच्चाई यह है कि प्रबंधन व्यवस्था एवं सुरक्षा देने की जिम्मेदारी पेटलवुड डेवलपर्स व बिल्डर्स के की है।

ज्ञातव्य हो कि यह अपार्टमेंट अब तक  भी बिल्डर के हाथों में है, ना तो यहां पर कोई अभी किसी आरडब्ल्यूए एसोसिएशन का गठन हुआ है । अपार्टमेंट के बिल्डर के अधूरे कार्यों व लचर प्रबंधन व्यवस्था के मद्देनजर लगभग दो वर्षों से  कई बार जनपद के आला अधिकारियों को गुहार करते रहे है परंतु अभी तक यहां पर हरिद्वार विकास प्राधिकरण के बाबत मानक के आधार पर कोई भी मानक पूरे नहीं किए है जिसके कारण पेटलवुड वासियों में आक्रोश का माहोल है । पेटलवुड वासी पूर्व में भी इसके बाबत कई बार उच्च अधिकारियों से मिलेअब तक और कोई सुरक्षा व्यवस्था नहीं है, ना ही यहां के प्रबंधन की कोई व्यवस्था सुचारु रूप से चल रही है जिसके कारण पूर्व से ही भय का मामला बना हुआ है पुलिस को जिन संदिग्ध व्यक्तियों के बारे में बताया गया रसूकदार बिल्डर्स के कारण उन पर भी कोई कार्यवाही नहीं हुई और उनको पुलिस ने जाने दिया जबकि गार्ड ने उनके हुलिए की पहचान कर पुलिस को बता दिया था , दरअसल बिल्डर्स के आधीन यह अपार्टमेंट होने के कारण बिल्डर्स लीपापोती करने में लगे है , अपार्टमेंट वासियों का कहना है कि यदि कोई सुनवाई नहीं होती तो मजबूरन पेटलवुड वासियों को बिल्डर्स के विरुद्ध कठोर कदम उठाने होंगे ।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...