उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलपति के विरुद्ध रचे जा रहे षडयंत्रो को सफल नहीं होने देगी पहाड़ी महासभा

हरिद्वार 11 जुलाई (संजय वर्मा ) पहाड़ी महासभा की एक बैठक शारदा वेडिंग


पॉइंट हरिपुर में श्री सुभाष पुरोहित की अध्यक्षता में हुई जिसका संचालन संयुक्त रूप से इंदर सिहं रावत एवं दिनेश लखेडा ने किया । सर्वप्रथम उत्तरी हरिद्वार में पहाड़ी महासभा की एक उपशाखा का गठन किया गया, जिसमें  सर्वसम्मति से  संरक्षक मंडल में  जय नारायण पांडेय, मनोज जखमोला प्रेम किशोर जुगरान, घनश्याम पांडेय, अध्यक्ष  सुनील जुगरान ,महामन्त्री   सुरेश धमानंदा     कोषाध्यक्ष मुकेश गोनियल ऑडिटर अजय घनसेला उपाध्यक्ष मुकेश मनोड़ी, भुवनेश्वर कोटनाला  मीडिया प्रभारी भारत लखेडा संगठन मंत्री रवि रावत इत्यादि निर्विरोध निर्वाचित हुए।

     सांस्कृतिक सचिव त्रिलोक चंद भट्ट एवं उपाध्यक्ष मनोज गहतोड़ी,राकेश नोडियाल ने कहा कि आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ सुनील जोशी जी के विरुद्ध रचाये जा रहे षडयंत्र का पहाड़ी महासभा पुरजोर विरोध करती है,अगर सड़को पर भी उतरना पड़ा तो पहाड़ी महासभा इससे भी परहेज नहीं करेगी।

     अध्यक्ष सुभाष पुरोहित महामन्त्री इंदर सिंह रावत, कार्यकारणी सदस्य एवं पूर्व अध्यक्ष दिनेश चंद जोशी वरिष्ठ उपाध्यक्ष दीपक नोटियाल ने कहा कि पहाड़ी महासभा माननीय मुख्यमंत्री जी को डॉ सुनील जोशी जी के विरुद्ध रचे गए षड्यंत्र की पूर्ण जानकारी देगी और उनका पक्ष रखेगी किसी भी पर्वतीय का गलत तरह से उत्पीड़न कतई बर्दास्त नही किया जाएगा। उत्तराखंड प्रदेश में पनप रहे इस प्रकार के सिंडीकेट ग्रुपो की मनसा को किसी भी तरह से पूर्ण नही होने दिया जाएगा। उत्तराखंड प्रदेश एक शांतिपूर्ण प्रदेश है इसलिये इस प्रकार की गतिविधियों पर पूर्ण रोक लगाए जाने हेतु पृथक से भी अवगत कराया जाएगा।

       नवनिर्वाचित अध्यक्ष सुनील जुगरान महामन्त्री सुरेश धमानंदा ने कहा कि पहाड़ी महासभा का विस्तार कर सभी को जोड़कर एकजुट किया जाएगा ।

   बैठक में सर्व श्री दिनेश चंद जोशी ,दीपक नोटियाल, इंदर रावत, दिनेश लखेडा,सुभाष पुरोहित, ललितेन्द्र नाथ जोशी, भगवती प्रसाद पंत, ओ पी गोनियल जय नारायण पांडेय, प्रवीण डोबरियाल, रवि बाबू, डॉ  संतोषम चमोला, दिनेश थपलियाल,भुवनेश्वर कोटनाला, अजय घनसेला, राकेश नोडियाल, एस. पी. चमोली, दीप तिवारी,मनोज गहतोड़ी, त्रिलोक चंद भट्ट, धीरेंद्र सिंह, हिमालय पांडेय, वीरेंद्र नेगी, भारत लखेडा, मनोज शर्मा, धर्मेद्र गवादि, सुरेश धामन्दा, मुकेश गोनियल, राजेन्द्र रावत, रविन्द्र रावत, मधुकर बर्तवाल, नंदन सिंह रावत कमल बडोला, सुनील जुगरान, राजेश पंत, मुकेश मनोडी, ललित पाठक, उमेश चंद्र भट्ट इत्यदि शामिल रहे।

               

              

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में श्रद्धा व उत्साह के साथ मनाया गया गायत्री जयंती गंगा दशहरा महापर्व

  शांतिकुंज में गायत्री जयंती-गंगा दशहरा के महापर्व से लाखों को मिली संजीवनी विद्या भारत का जीवन दर्शन है गायत्री और गंगा ः डॉ पण्ड्या गायत्...