23,24 जुलाई को ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज परिसर में होगी राष्ट्रीय सेमिनार




**आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अन्तर्गत उत्तराखण्ड आयुर्वेद


विश्वविद्यालय के ऋषिकुल परिसर एवं ऑल इंडिया आयुर्वेदिक स्पेशलिस्ट (पी. जी.) एसोसिएशन द्वारा आयुर्वेद चिकित्सा सिद्धांत अग्नि -व्यापार विषय पर  द्वि दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन **


हरिद्वार 22 जुलाई (संजय वर्मा) उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय, ऋषिकुल  परिसर के पं मदन मोहन मालवीय ऑडिटोरियम में दिनांक 23 जुलाई  से 24 जुलाई 2022 को आयुर्वेद चिकित्सा विज्ञान के  अग्नि-व्यापार विषय पर राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन कायचिकित्सा विभाग ऋषिकुल परिसर, हरिद्वार द्वारा किया जायेगा। इस सेमिनार में देश के विभिन्न प्रांतो के आयुर्वेद एक्सपर्ट अग्नि व्यापार विषय पर अपने विचार रखेंगे, साथ ही देश के विभिन्न प्रदेशों के आयुर्वेद संस्थाओं से आये हुए शोधार्थी अनेक शोध पत्र प्रस्तुत करेंगें। आयुर्वेद चिकित्सा विज्ञान में अग्नि सिद्धांत का विशेष महत्त्व है, शरीर में अधिकतर होने वाले रोगों का मूल कारण मंद अग्नि ही है इसलिए  अग्नि को हम कैसे  सम अवस्था में रखें आदि सम्बंधित विषयों पर चर्चा की जायेगी। इस द्वि दिवसीय सेमिनार के पहले दिन प्रथम सत्र में  शुभारम्भ प्रातः 10 बजे से 12 pm तक मुख्य अतिथि  आचार्य बालकृष्ण , माननीय कुलपति पतंजलि विश्वविद्यालय, हरिद्वार ; विशिष्ट अतिथि प्रो.एस. एन. सिंह निदेशक आयुर्वेद एवं यूनानी सेवाएं, उत्तरप्रदेश एवं प्रो. अरुण कुमार त्रिपाठी निदेशक आयुर्वेद एवं यूनानी सेवाएं, उत्तराखंड, साथ ही कार्यक्रम की अध्यक्षता कर  रहें  उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय, देहरादून के माननीय कुलपति प्रो. सुनील कुमार जोशी का स्वागत बोध कार्यक्रम के द्वारा एवं मुख्य अतिथि विशिष्ट अतिथि, कार्यक्रम अध्यक्ष, आयोजक सचिव आदि वक्ताओं के उदबोधन द्वारा किया जायेगा। द्वितीय सत्र में  12:30pm से 5:30 pm तक 9 वैज्ञानिक सेशन में प्रत्येक कीनोट्स स्पीकर के उदबोधन के बाद विभिन्न शोध पत्र प्रस्तुत किये जायेंगे, इसके बाद शाम 6बजे से ऋषिकुल के छात्र /छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर  प्रथम दिन के कार्यक्रम का समापन होगा। दूसरे दिन का सत्र 9 बजे से 10 बजे  तक स्टूडेंट्स क्वीज़ के कार्यक्रम से आरम्भ किया जायेगा, इसके बाद सुबह 10 बजे से  शाम 5:30pm कुल 12 वैज्ञानिक सत्र में प्रत्येक कीनोट्स स्पीकर के उदबोधन के बाद  शोधार्थियों विभिन्न शोध पत्र प्रस्तुत किये जायेंगे और  अंत में शाम 6 बजे  कार्यक्रम का समापन एवं संगठन का वार्षिक मिलन कार्यक्रम किया जायेगा।इस कार्यक्रम को समिति आयोजन सचिव (NCAV-2022)प्रो. ओ. पी. सिंह,विभागाध्यक्ष कायचिकित्सा ऋषिकुल परिसर, प्रो. डी. सी. सिंह निदेशक ऋषिकुल परिसर, हरिद्वार एवं NCAV2022 आयोजक समिति के निर्देशन में आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम की रुपरेखा के लिए आज प्रेस वार्ता आयोजित की गई जिसमें जिसमें सम्मानित मीडिया बंधुओं ने प्रतिभाग किया।इस प्रेस वार्ता में डॉ राजेंद्र प्रसाद जी, डॉ. ऋजु अग्रवाल,डॉ रमाकांत यादव डॉ संजय कुमार त्रिपाठी डॉ शोभित कुमार वार्ष्णेय,डॉ वेद भूषण शर्मा, डॉ राजीव कुरैले आदि उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

डॉ विशाल गर्ग ने भागवत व्यास पीठ से लिया आशीर्वाद

  भागवत कथा के श्रवण से दूर होते हैं कष्ट-डा.विशाल गर्ग हरिद्वार, 18 जुलाई। राष्ट्रीय भागवत परिवार के राष्ट्रीय संरक्षक डा.विशाल गर्ग ने सुभ...