डूबते कांवडियो को बचा रहे हैं बी0ई0जी तैराक

 डूबतो का सहारा बन रहे हैं बी0ई0जी आर्मी तैराक 


*कांवड़ मेले में विभिन्न घाटों पर तैनात बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दलों ने 38 कांवडियों/श्रद्धालुओं को गंगा में डूबने से बचाया।*

हरिद्वार 21 जुलाई (संजय वर्मा )जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय के निर्देशन, अपर जिलाधिकारी पी0एल0शाह के मुख्य संयोजन एवं नोडल अधिकारी डा0 नरेश चौधरी के संयोजन में कांवड़ मेले के दौरान बी0ई0जी0 आर्मी के तैराक दल अपनी मोटरबोटों एवं सभी संसाधनों के साथ कांवडियों की सुरक्षा के लिये गंगा के विभिन्न घाटों पर तैनात होकर मुस्तैदी से हर समय 24ग्7 कांवड़ियों को डूबने से बचा रहे हैं। बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल द्वारा कांवड़ मेले के दौरान 38 शिवभक्त कांवडियों को डूबने से बचाया गया। गत रात्रि भी रश्मि कश्यप धर्मपत्नी परमेन्द्र कश्यप गांव नूरपुर जिला बिजनौर जो कि गौ घाट के पुल से गिरकर गंगा में बह गयी थी को बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल ने विष्णु घाट से सुरक्षित बाहर निकाला और प्राथमिक उपचार के उपरान्त जिला चिकित्सालय भिजवाया जो कि अब सकुशल है तथा उक्त महिला के परिवार जनों ने बी0ई0जी0 आर्मी के जवानों को विशेष धन्यवाद देते हुए जिला प्रशासन की उत्कृष्ट व्यस्थाओं के लिये भी सराहना की। प्रायः देखने में आता है कि हरकी पैडी के आस पास के घाटों में शिवभक्त कांवडियें पुलों से गंगा में छलांग लगा देते हैं तथा गंगा पार करने की कोशिश करते हैं। गंगा के तेज प्रवाह और गंगा की गहराई में पहुंचने पर डूबने की संभावना रहती है। इस बार जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय की विशेष पहल पर बी0ई0जी0 आर्मी के तैराक दल के सदस्यों एवं रेडक्रास स्वयं सेवकों द्वारा पी0ए0एस0 (पब्लिक एड्रेस सिस्टम) से शिवभक्त कांवड़ियों को गंगा में निर्धारित सुरक्षित घाटों पर स्नान करने के लिये प्रेरित भी किया जा रहा है। ज्ञात हो कि इस वर्ष जल पुलिस के साथ बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल कमाण्डेण्ट राजेश कुमार के निर्देशन, डिप्टी कमांडेंट संजीव पठानिया, कर्नल एस0के0 मानव, लै0 कर्नल महिप सिंह, लै0 कर्नल प्रतीक गुप्ता, मेजर एस0 चक्रवर्ती के नेतृत्व में सूबेदार खेमसिंह, नायब सूबेदार लखबीर सिंह, हवलदार अमनदीप, हवलदार बिलावल एस0श्रेष्ठ, हवलदार हरप्रीत सिंह, हवलदार मन्दीप सिंह, हवलदार मनप्रीत सिंह, सैपर्स राहुल सिंह रावत, भास्कर सीना, संग्राम साहू, अमूल सिंह, दीपांशु, मेघराज सिंह, रामू कुमार, रोहित द्वारा कांवड मेला क्षेत्र के विभिन्न गंगा घाटों पर शिवभक्त कांवडियों/श्रद्धालुओं/यात्रियों को गंगा में डूबने से बचाने के लिये तत्परता से सराहनीय कार्य किया जा रहा है। जिसके लिये सभी कांवडियों/श्रद्धालुओं में विशेष खुशी देखने को मिलती है और जब किसी शिवभक्त कांवडियें/श्रद्धालु को सेना के जवान डूबने से बचाते है तो वो भी अपने आप को गौरवान्वित महसूस करते हैं कि हम कांवड मेले मे भी सेना का सम्मान बढ़ा रहे हैं जिसके लिये सेना जानी जाती है। बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल के नोडल अधिकारी डा0 नरेश चौधरी ने अवगत कराया कि इस वर्ष कांवडियों में विशेष उत्साह एवं उल्लास है क्योंकि विगत दो वर्षों में कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण कांवडियें गंगा जल लेने हरिद्वार नहीं आ पाये थे और हरकी पैडी के आसपास के घाटों में गंगा स्नान के साथ साथ गंगा को आर पार करने की भी उत्सुक्ता रहती है जिससे उनके गंगा में डूबने अथवा गंगा में तेज प्रवाह में बहने की संभावना रहती है इसलिये शिवभक्त कांवडियों की सुरक्षा हेतु बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल द्वारा जल पुलिस का सहयोग लगातार किया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में श्रद्धा व उत्साह के साथ मनाया गया गायत्री जयंती गंगा दशहरा महापर्व

  शांतिकुंज में गायत्री जयंती-गंगा दशहरा के महापर्व से लाखों को मिली संजीवनी विद्या भारत का जीवन दर्शन है गायत्री और गंगा ः डॉ पण्ड्या गायत्...