श्री देव सुमन विश्वविद्यालय की परीक्षाएं हुई प्रारंभ

 अनुशासन में रहकर कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन करे परीक्षार्थी : डाॅ. बत्रा

श्री देव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षाओं हेतु महाविद्यालय ने जारी किये दिशा-निर्देश

हरिद्वार 16 जून 2022 

श्री देव सुमन उत्तराखण्ड राज्य विश्व विधालय टिहरी


की स्नातक स्तर की परीक्षाएं आज से  प्रारम्भ हों गयी है एवं यह परीक्षाएं तीन पालियों में आयोजित होंगी. 

 यह जानकारी देते हुए एस.एम.जे.एन. काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने बताया कि विश्वविद्यालय ने कोविड-19 के प्रोटोकॉल के तहत्  परीक्षार्थियों हेतु दिशा-निर्देश जारी किये हैं. समस्त परीक्षार्थी अपने प्रवेश-पत्र को डाउनलोड करने के पश्चात उसमें दिये गये कोविड-19 के निर्देशों को भली-भांति पढ़कर अनुशासन में रहकर समस्त दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे। 

काॅलेज के मुख्य परीक्षा प्रभारी डाॅ. मन मोहन गुप्ता ने बताया कि सभी प्रवेशार्थी प्रवेश पत्र को काॅलेज परिचय पत्र की मूल प्रति के साथ सत्यापन के लिए प्रस्तुत करेंगे.  

कोविड-19 की.परीक्षा आरम्भ होने से 30 मिनट पहले अवश्य पहुंचे .

डाॅ. गुप्ता ने बताया कि सीटिंग प्लान के अनुरूप प्रवेशार्थी प्रवेश द्वार से अपने परीक्षा कक्ष में ही जायें तथा अनावश्यक इधर-उधर न घूमें। परिचय पत्र को सत्यापित करने के पश्चात ही परीक्षार्थियों को परीक्षा कक्ष में उपस्थित होने की अनुमति प्रदान की जायेगी। डाॅ. गुप्ता ने बताया कि परीक्षा प्रारम्भ होने के पश्चात किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष में प्रवेश करने की अनुमति प्रदान नहीं की जायेगी। परीक्षा के समापन पर ही परीक्षार्थियों को व्यवस्थित तरीके से कक्ष से बाहर जाने की अनुमति प्रदान की जायेगी। कक्ष निरीक्षक के निर्देश का इन्तजार करें तथा जब तक कहा न जाये अपनी सीट से न उठें। 

परीक्षा प्रभारी डाॅ. जगदीश चन्द्र आर्य ने बताया कि समस्त परीक्षार्थी परीक्षा केन्द्र में अपने साथ केवल प्रवेश-पत्र, काॅलेज परिचय पत्र,  पेन पेन्सिल, वैयक्तिक हैंड सैनीटाईजर, वैयक्तिक पारदर्शी (ट्राॅसपरेन्ट) पानी की बोतल ला सकते हैं। परीक्षा केन्द्र में परीक्षार्थियों केा अपने साथ इलैक्ट्रिाॅनिक डिवाइस, पुस्तकें, काॅपी, पेपर, बैग एवं पर्स आदि सहित वैयक्तिक सामान लाने की अनुमति नहीं है. परीक्षा में कार्यरत कर्मचारियों एवं काॅलेज की आपके वैयक्तिक सामान की कोई जिम्मेदारी नहीं है तथा परीक्षा केन्द्र में इस प्रकार के सामान को रखने की कोई सुविधा नहीं है। परीक्षार्थियों से सख्त अपेक्षा है कि परीक्षा अवधि के दौरान वे मास्क पहनें. परीक्षा अवधि के दौरान, परीक्षार्थियां के पास कोई प्रतिबन्धित सामान तो नहीं है, की तलाशी ली जा सकती है। यदि किसी परीक्षार्थी के पास निर्देशों के बाद भी कोई सामान पाया जाता है तो उसे परीक्षा से वंचित कर दिया जायेगा तथा  अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी. 

आज कालेज में बी काम एवं बी एस सी प्रथम वर्ष की परीक्षा समपन्न हुईं तथा तीन परिक्षार्थी अनुपस्थित रहे.

No comments:

Post a Comment

Featured Post

डॉ विशाल गर्ग ने भागवत व्यास पीठ से लिया आशीर्वाद

  भागवत कथा के श्रवण से दूर होते हैं कष्ट-डा.विशाल गर्ग हरिद्वार, 18 जुलाई। राष्ट्रीय भागवत परिवार के राष्ट्रीय संरक्षक डा.विशाल गर्ग ने सुभ...