षड्यंत्र के तहत आश्रम और संत को बदनाम करने का किया गया प्रयास

 बिना अनुमति के नाम छापने पर भड़के महामंडलेश्वर, पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग


हरिद्वार 3 जून( संजय वर्मा )बिना अनुमति के निमंत्रण पत्र पर नाम छापने को लेकर हरिद्वार के एक महामंडलेश्वर संत ने विरोध जताया है। उन्होंने पुलिस को तहरीर देकर आयोजकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।


बताते चलें कि  श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के महामंडलेश्वर एवं श्री प्राचीन अवधूत मंडल आश्रम के पीठाधीश्वर महंत रूपेंद्र प्रकाश महाराज ने उनसे बिना अनुमति लिए कार्ड पर नाम छापने को लेकर विरोध जताया है। उन्होंने पुलिस को तहरीर देकर आयोजन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

गौरतलब है कि थाना झबरेड़ा के लाठ्ठरदेवा निवासी कारी शमीम के निवास पर आगामी 5 जून को मानवता का संदेश नामक कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें विशिष्ट अतिथि के तौर पर महंत रूपेंद्र प्रकाश महाराज का नाम छाप दिया। लेकिन महाराज की अनुमति नहीं ली गयी। इसकी जानकारी मिलते ही महाराज जी ने खासी नाराजगी जाहिर करते हुए झबरेड़ा  थाने में तहरीर देकर आयोजन पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने आयोजकों के खिलाफ  कार्यवाही की मांग की है। महामंडलेश्वर स्वामी रूपेंद्र प्रकाश महाराज ने कहा कि उन्होंने डीजीपी और एसएसपी से भी बात की है। उन्होंने भी आयोजन की जानकारी से इंकार किया है।‌ ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि आखिर आयोजक बिना अनुमति लिए नाम छापकर कौन सा मानवता का संदेश देना चाहते हैं। ऐसे लोग मानवता को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं इनके खिलाफ तत्काल प्रभाव से कार्रवाई की जानी आवश्यक है।


No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में प्रारंभ हुआ गंगा दशहरा गायत्री जयंती महापर्व

  अखण्ड जप के साथ दो दिवसीय गंगा दशहरा-गायत्री जयंती महापर्व का शुभारंभ ऊँचा उठे, फिर न गिरे ऐसा हो इंसान का कर्म :- डॉ चिन्मय पण्ड्या हरिद्...