उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के भ्रामक समाचारो को लेकर कुलपति ने की पत्रकार वार्ता


 उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय को  षड्यंत्र  के तहत किया जा रहा है बदनाम :- प्रोफेसर सुनील जोशी

 देहरादून  2 जून (जे के रस्तौगी संवादाता गोविंद कृपा देहरादून) उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सुनील जोशी ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय को लेकर की जा रही भ्रामक,  असत्य पूर्ण बातों के सापेक्ष अपना पक्ष रखते हुए कहा कि उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय को षड्यंत्र के तहत बदनाम किया जा रहा है समाचार पत्रों में भ्रामक और असत्य एवं एक पक्षीय  है  समाचार छप रहे हैं  । जो सत्यता से बहुत दूर हैं ।उन्होंने पत्रकारों,मीडिया एवं समाचार पत्रों से आग्रह करते हुए कहा कि उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय समस्त कार्य पारदर्शिता के साथ किए जा रहे हैं । एक पक्षीय समाचार छपने से जहां उत्तराखंड आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय की छवि हुए विश्व और देश में धूमिल हो रही है वही विश्वविद्यालय के शोधपूर्ण एवं रचनात्मक कार्यों को एक तरफा रखकर सिर्फ भ्रामक असत्य और द्वेष पूर्ण समाचार छापे जा रहे हैं ।जबकि यह सिद्ध हो चुका है कि मेरे  कार्यकाल में उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय मे समस्त प्रशासनिक कार्य शिक्षण कार्य इत्यादि में उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय सर्वांगीण रूप से गुणवत्तापूर्ण एवं पारदर्शिता के साथ कार्य कर रहा है।उन्होंने पत्रकारों ,मीडिया से विश्वविद्यालय के परिसरों में होने वाले राष्ट्रीय ,अंतरराष्ट्रीय सेमिनार ओं , रचनात्मक कार्यों सेवा,कार्यो को साझा करते हुए बताया कि करोना काल में उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के द्वारा ओजस काढे का निर्माण किया गया  ।  कोविड-19 मे यह काढा रोग की प्रतिरोधकता में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे चुका है।उन्होंने ऋषि कुल आयुर्वेद विश्वविद्यालय में वहां के चिकित्सकों के सहयोग से आयोजित किए गए नेत्र कुम्भ का भी उल्लेख करते हुए कहा कि सक्षम ने ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज चिकित्सकों के सहयोग से ऋषि कुल परिसर में ही विशाल नेत्र कुंभ का आयोजन कियाजिसमें 1 लाख के लगभग लोगों के नेत्रों की जांच की गई और चश्मे वितरित किए गए साथ ही करोनाकाल में और उसके पश्चात वैक्सीनेशन का जम्बो वैक्सीन सेंटर ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज  हरिद्वार में ही सफलतापूर्वक आयोजित किया गया, जिसने नए कीर्तिमान स्थापित किया ।  प्रोफ़ेसर सुनील जोशी ने पत्रकारों को बताते हुए कहा कि उनके कार्यकाल में  ऋषि कुल आयुर्वेदिक कॉलेज का तो कायाकल्प हो चुका है ।इसके अतिरिक्त प्रो0  सुनील जोशी ने उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के परिसर गुरुकुल कांगड़ी परिसर इत्यादि में हो रहे कार्यों का भी जिक्र पत्रकार वार्ता में किया।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

श्री मानव कल्याण आश्रम में प्रारंभ हुआ ललिताम्बा वेद विद्यालय

 गोविंद गिरी देव ने किया ललिताम्बा वेद विद्यालय का शुभारंभ जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी राज राजेश्वराश्रम महाराज की अध्यक्षता एवं श्रीमहंत देवा...