संत समाज ने मनाई जगतगुरू आद्य शंकराचार्य भगवान की जयंती




 आद्य  शंकराचार्य भगवान ने भारत को धार्मिक, सांस्कृतिक एकता के सूत्र में पिरोया:- मदन कौशिक 

आद्य शंकराचार्य स्मारक समिति के तत्वाधान में मनाई गई जगतगुरू आद्य शंकराचार्य भगवान की 1234 वीं जयंती

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक एवं उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष रितु खंडूरी ने संत जनों से लिया आशीर्वाद।

हरिद्वार 6 मई (संजय वर्मा  (आद्य शंकराचार्य स्मारक समिति के तत्वाधान में जगतगुरु भगवान आद्य शंकराचार्य की 1234 वी जयंती शंकराचार्य चौक पर श्री विग्रह पूजन एवं सूरत गिरी बंगला कनखल में श्रद्धांजलि सभा के साथ मनाई गई ।आद्य शंकराचार्य स्मारक समिति के अध्यक्ष आचार्य महामंडलेश्वर विश्वेश्वरानंद गिरि जी महाराज की अध्यक्षता में प्रातः काल शंकराचार्य चौक पर भगवान आद्य जगतगुरु शंकराचार्य  के श्रीविग्रह का पूजन षड् दर्शन साधु समाज के संत जनों महामंडलेश्वरो, महंत जनों ने किया । इसके पश्चात सूरत गिरी बंगला आश्रम कनखल में महामंडलेश्वर स्वामी विश्वेश्वर नंद गिरी महाराज की अध्यक्षता में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया । जिसमें भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने भगवान शंकराचार्य को नमन करते हुए कहा कि  शंकराचार्य भगवान ने भारत को धार्मिक सांस्कृतिक एकता के सूत्र में पिरोने का काम किया।  राष्ट्र  मे सदियों पहले  सनातन हिंदू धर्म  की रक्षा  कर  वैदिक धर्म के उन्नयन का कार्य किया । देश  की  चारों दिशाओं  मैं  शंकराचार्य पीठ स्थापित कर देश की अखंडता को    विधर्मीयो  के हाथों  खंडित होने से बचाया । इस अवसर पर उत्तराखंड विधानसभा  की अध्यक्ष  ऋतु  खंडूरी ने कहा कि भगवान आद्य शंकराचार्य  ने अल्प आयु में ही सनातन हिंदू धर्म का पुनरुद्धार कर हिंदू धर्म की रक्षा की जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता । उत्तर से दक्षिण पूरब से पश्चिम में चार पीठ स्थापित कर उन पीठो पर   विपरीत दिशाओं के पुजारी बिठाकर भारत को धार्मिक एकता के सूत्र में बांधा । आद्य  शंकराचार्य स्मारक समिति के अध्यक्ष आचार्य महामंडलेश्वर विश्वेश्वर नंद गिरी जी महाराज ने इस अवसर पर कहा  कि आद्य शंकराचार्य स्मारक समिति और सूरत गिरी बंगला भगवान शंकराचार्य के आदर्शों पर चलकर तीर्थ नगरी हरिद्वार में आद्य शंकराचार्य  भगवान की स्मृतियों को संजोए रखने का कार्य कर रहा है। यह आयोजन प्रतिवर्ष किया जाता है जिसका उद्देश्य भाष्यकार  जगद्गुरु भगवान आद्य शंकराचार्य कि शिक्षा को प्रचारित, प्रसारित और संरक्षित करना है आदि शंकराचार्य स्मारक समिति के महामंत्री श्री महंत देवानंद सरस्वती के संयोजन में आयोजित जन्म जयंती समारोह में आए हुए संत जनों का स्वागत किया गया इस अवसर पर महामंडलेश्वर गिरधर गिरी महामंडलेश्वर स्वामी ललितानंद गिरी ,महामंडलेश्वर स्वामी यतींद्रानंद गिरि  ,महामंडलेश्वर स्वामी प्रेमानंद ,महामंडलेश्वर स्वामी उमाकांतानंद सरस्वती, बड़ा अखाड़ा उदासीन के कोठारी महंत दामोदर दास  स्वामी हरि बल्लभ दास शास्त्री, महंत बाबा कमल दास ,महंत विष्णु दास, स्वामी कमलानंद, महंत गंगा दास उदासीन ,स्वामी विवेकानंद सरस्वती ,भारत माता मंदिर के प्रबंध न्यासी आई डी शर्मा शास्त्री साध्वी भूमा भारती, साध्वी माधवानंद , बहन लक्ष्मी सिह  म। हंत शिव शंकर गिरी , विश्व हिंदू परिषद के अशोक तिवारी, मयंक चौहान, भाजपा के  जिला महामंत्री विकास तिवारी  ,पार्षद अनिल मिश्रा ,शिवदास दुबे सहित  श्रद्धालु भक्तों ने  शंकराचार्य चौक  एवं सूरत गिरी बंगले में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में जगद्गुरु भगवान  आद्य शंकराचार्य को श्रद्धा सुमन अर्पित किए

No comments:

Post a Comment

Featured Post

डॉ विशाल गर्ग ने भागवत व्यास पीठ से लिया आशीर्वाद

  भागवत कथा के श्रवण से दूर होते हैं कष्ट-डा.विशाल गर्ग हरिद्वार, 18 जुलाई। राष्ट्रीय भागवत परिवार के राष्ट्रीय संरक्षक डा.विशाल गर्ग ने सुभ...