महारुद्रा एजुकेशन इंस्टीट्यूट के सफल संचालन के 8 वर्ष हुए पूरे

मातृ शक्ति को आत्मनिर्भर करने हेतु कृतसंकल्पित है, महारूद्रा एजुकेशन इंस्टीट्यूट: मीनू चौधरी 



*** महारुद्रा एजुकेशन इंस्टिट्यूट का 8वां  स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया


हरिद्वार 21 म ई  ( आकांक्षा वर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार) फैशन डिजाइनिंग एवं कौशल शिक्षा क्षेत्र में अपनी अलग पहचान रखने वाले महारुद्रा एजुकेशन इंस्टीट्यूट का स्थापना दिवस  नन्दपुरी, आर्यनगर, हरिद्वार में स्थित इंस्टीट्यूट में मनाया गया। संस्था की निदेशक मीनू चौधरी ने बताया कि  21मई, 2014 को महारूद्रा एजुकेशन इंस्टीट्यूट की स्थापना की गई थी। तब से निरंन्तर संस्थान में नारी सशक्तिकरण हेतु कौशल शिक्षा के क्षेत्र में प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि *महारुद्रा एजुकेशन इंस्टीट्यूट* को 8 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं। स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में इंस्टिट्यूट की मैनेजिंग डायरेक्टर  मीनू चौधरी ने कहा कि 21 मई 2014 से एक स्वप्न को साकार करने का प्रयास किया। जिसमें तमाम बाधाओं को पार करते हुए मुकाम हासिल किया है। मीनू चौधरी ने कहा कि महारूद्रा एजुकेशन इंस्टीट्यूट लगातार कीर्तिमान गढ़ते हुए आज भी मजबूती दृढ़ निश्चय से मंजिल की ओर अग्रसर  है। उन्होंने कहा कि यह कहते हुए अत्यंत हर्ष एवं गर्व है कि महारुद्रा एजुकेशन इंस्टीट्यूट से प्रशिक्षित बालिकाएं युवतियां आत्मनिर्भरता प्राप्त कर परिवार और समाज की आर्थिक रीढ़ बन सहयोग कर रही हैं। उन्होंने आगे कहा कि मेरा मानना है कि यदि स्वयं पर विश्वास हो और कुछ करने की चाह हो तो कठिन से कठिन चुनोतियाँ आपका रास्ता नही रोक सकती।‌ मीनू चौधरी ने कहा कि प्रतिष्ठा, स्वाभिमान, आत्मनिर्भरता, पुरस्कार में नही मिलते, इन्हें प्राप्त करने के लिए सबसे पहले स्वयं से द्वंद कर फिर समाज, परिवार की जिम्मेदारियों, बहुत सी दुर्बलताओ, जटिल तंत्र, बेरहम व्यवसायिक प्रतियोगितायों, से जूझना पड़ता है। परन्तु एक नारी ठान ले तो यह सब आसान हो जाता है और मुझे गर्व है कि महारुद्रा एजुकेशन इंस्टीट्यूट ऐसी जुझारू नारी शक्तियों को आत्मनिर्भर करने हेतु कृतसंकल्पित है। मीनू चौधरी ने प्रबन्धन और छात्राओं का उत्साहवर्धन करते हुए  पंक्तियां पढ़ी 

_अभी तो चंद कदम चले हैं रास्ता बाकी है, मंजिल दूर ही सही हौंसला काफी है।_

_ख्वाब एक बादल का टुकड़ा नही, अभी सारा आसमां हासिल करना बाकी है।_



इस अवसर पर अंजलि पंवार, लक्ष्मी त्यागी, अन्नू, मनदीप, ऋतु, नैना, शालू, ऋतुजा, शिवा, प्रियंका,पूजा,पायल, दिव्या,आदि मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

डॉ विशाल गर्ग ने भागवत व्यास पीठ से लिया आशीर्वाद

  भागवत कथा के श्रवण से दूर होते हैं कष्ट-डा.विशाल गर्ग हरिद्वार, 18 जुलाई। राष्ट्रीय भागवत परिवार के राष्ट्रीय संरक्षक डा.विशाल गर्ग ने सुभ...