मां सरस्वती का आशीर्वाद पाने का पर्व है बसंत पंचमी


 बच्चों को संस्कारित शिक्षा देने का पर्व है सरस्वती पूजा: संतोषानंद देव महाराज


***मनुष्य के पास सर्वश्रेष्ठ धन है विद्या  धन


हरिद्वार 4 फरवरी( रजत अरोरा संवाददाता गोविंद कृपा ज्वालापुर)


श्री अवधूत मंडल आश्रम बाबा हीरा दास हनुमान मंदिर के पीठाधीश्वर महंत संतोष आनंद देव जी महाराज ने कहा कि सभी धनों में सर्वश्रेष्ठ धन विद्या धन है, जिसे मां सरस्वती कृपा और आशीर्वाद से प्राप्त किया जा सकता है।

विद्या धन प्राप्त करने का सर्वश्रेष्ठ उपाय मां सरस्वती की आराधना है और मां सरस्वती की आराधना का सर्वश्रेष्ठ दिन बसंत पंचमी का दिन है। पुरातन काल से ही ऋषि- मुनि, राजा- महाराजा व आमजन विद्या की प्राप्ति के लिए मां सरस्वती की आराधना करते चले आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि शास्त्रीय मान्यता के अनुसार बसंत पंचमी को मां सरस्वती का प्राकट्य दिवस माना जाता है। इस दिन मां सरस्वती की विधि विधान से पूजा अर्चना करने से मनुष्य के समस्त मनोकामनाएं पूरी होती है। अज्ञानता का अंधकार मिटाकर होकर ज्ञान का प्रकाश जागृत होता है। मनुष्य को अच्छे बुरे का ज्ञान होता है। मां सरस्वती को विद्या और ज्ञान की ज्ञान की देवी कहा जाता है। इसलिए विद्या और ज्ञान की चाह रखने वाले लोगों को मां सरस्वती की आराधना करनी चाहिए क्योंकि ज्ञान के अभाव में व्यक्ति पशु समान है। बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की आराधना करने से बच्चों का बौद्धिक और मानसिक विकास होता है और वें जीवन में आने वाली सभी कठिनाइयों से लड़ने की शक्ति प्राप्त करते हैं। उन्होंने कहा विद्या एक ऐसा धन है जिसे ना राजा छीन सकता है, भाई बांट सकता है और ना चोर चुरा सकता है। इसलिए यत्न से मनुष्य को विद्या धन की रक्षा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जीवनभर मनुष्य से विद्या धन उपार्जन कर अपना एवं परिवार का भरण पोषण कर सकता है और यह खर्च करने से निरंतर बढ़ता है। ‌ विद्या धन प्राप्त करने वाला मनुष्य आसानी से बैठ कर अपना जीवन यापन कर सकता है उसे दर दर की ठोकरें नहीं खानी पड़ती है। स्वामी संतोष आनंद देव जी महाराज ने कहा कि श्री अवधूत मंडल आश्रम बाबा हीरा दास हनुमान मंदिर सिंहद्वार ज्वालापुर में दिनांक 5 फरवरी दिन शनिवार को मां सरस्वती पूजन समारोह का आयोजन किया जा रहा है जिसमें सभी भक्तजन सादर आमंत्रित हैं। उन्होंने बताया कि प्रातः 10  बजे से सरस्वती पूजा अर्चना विद्वान पंडितों पं विनय मिश्रा, पं भोगेंद्र झा वह अन्य के द्वारा किया जायेगा। इसके बाद 12:00 बजे से प्रसाद वितरण किया जाएगा। उन्होंने कहा सरस्वती पूजा आयोजन में सीए आशुतोष पांडे, बीएन राय, विकास झा वरुण शुक्ला, डॉ नारायण पंडित, विनोद शाह, दिलीप कुमार झा, रामसागर जायसवाल, रामसागर यादव, अबधेश झा अन्य सदस्य गण दिन रात कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

डॉ विशाल गर्ग ने भागवत व्यास पीठ से लिया आशीर्वाद

  भागवत कथा के श्रवण से दूर होते हैं कष्ट-डा.विशाल गर्ग हरिद्वार, 18 जुलाई। राष्ट्रीय भागवत परिवार के राष्ट्रीय संरक्षक डा.विशाल गर्ग ने सुभ...