ऋषिकुल में पंचकर्म प्रशिक्षण शिविर का हुआ समापन

 राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारियों के पांच दिवसीय पंचकर्म प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन -

हरिद्वार 22 मार्च उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय एवं आयुष एवं आयुष शिक्षा विभाग, उत्तराखंड शासन द्वारा उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के ऋषिकुल परिसर, हरिद्वार में पंचकर्म विभाग द्वारा उत्तराखंड राज्य सरकार के 20 चिकित्सा अधिकारियों के पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आज समापन हो गया।

 उक्त कार्यक्रम में मुख्य अतिथि ऋषिकुल परिसर के परिसर निदेशक प्रोफेसर डॉक्टर डीसी सिंह एवं मुख्य कुलानुशासक प्रोफेसर खेमचंद शर्मा, ऋषिकुल आयुर्वेद चिकित्सालय के चिकित्सा अधीक्षक प्रोफेसर अजय गुप्ता, पंचकर्म विभागाध्यक्ष प्रोफेसर के के शर्मा एवं विशेष अतिथि प्रोफेसर विनीत कुमार अग्निहोत्री ने समापन समारोह का उद्घाटन किया। 



समापन समारोह में बोलते हुए परिसर निदेशक प्रोफेसर डीसी सिंह ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि प्राप्त किए गए प्रयोगात्मक ज्ञान के द्वारा प्रशिक्षणार्थी सुदूरवर्ती चिकित्सालय में पंचकर्म को बढ़ावा देते हुए जनमानस को लाभ पहुंचाएंगे।

मुख्य कुलानुशासक प्रोफेसर खेमचंद शर्मा ने सभी प्रतिभागियों को अपने कार्यस्थल पर पंचकर्म एवं उसके सिद्धांतों का प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया। 

ऋषिकुल चिकित्सालय के चिकित्सा अधीक्षक प्रोफेसर अजय गुप्ता ने सभी प्रतिभागियों को बहुत शुभकामनाएं देते हुए उनके आगामी लक्ष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

मुख्य अतिथि प्रोफेसर विनीत कुमार अग्निहोत्री ने भी पंचकर्म चिकित्सा की प्रायोगिकता पर जोर देते हुए सभी को शुभकामनाएं प्रेषित की।

डॉ अनिल वर्मा द्वारा स्वास्थ्य संरक्षण हेतु स्वस्थ व्यक्तियों को भी पंचकर्म एवं आयुर्वेद चिकित्सा से जुड़ने के लिए प्रोत्साहन देने की आवश्यकता पर जोर दिया।

पंचकर्म विभागाध्यक्ष प्रोफेसर के के शर्मा ने सभी प्रतिभागियों और सभी वक्ताओं का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कार्यक्रम की सफलता के लिए सभी को साधुवाद किया।

कार्यक्रम में शामिल चिकित्सा अधिकारियों ने अपने अनुभव साझा किये, एवं भविष्य में भी ऐसी अन्य प्रशिक्षण कार्यक्रमों के आयोजन के लिए आशा की।   

कार्यक्रम के प्रथम सत्र में ग्रुप फोटो किया गया जिसमें उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलसचिव प्रोफेसर अनूप कुमार गक्खर, परीक्षा नियंत्रक प्रोफेसर ओ पी सिंह विशेष रूप से उपस्थित रहे।


प्रशिक्षार्थियों को कार्यक्रम में स्मृति चिन्ह, एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया।

 सभी वक्ताओं को स्मृति चिन्ह एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित सभी अतिथि चिकित्सा अधिकारियों ने पंचकर्म विभाग के स्नातकोत्तर छात्राओं की भूरि भूरि प्रशंसा की एवं धन्यवाद देते हुए कहा कि उनके भी सहयोग एवं प्रयासों से यह कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हुआ।

कार्यक्रम का संचालन डॉ पारूल शर्मा द्वारा किया गया जिसमें कार्यक्रम के पिछले पांच दिवस की समीक्षात्मक अध्ययन प्रस्तुत किया गया।

कार्यक्रम में सभी ने विभिन्न विभागों द्वारा सहयोग प्रदान किए जाने को विशेष रूप से रेखांकित किया।

 कार्यक्रम में प्रोफेसर रूबी रानी अग्रवाल, प्रोफेसर माधवी गोस्वामी, प्रोफेसर कीर्ति वर्मा , प्रोफेसर संजय सिंह , प्रोफेसर सीमा जोशी, प्रोफेसर संजय त्रिपाठी, डॉ प्रवेश तोमर, डॉ शोभित वाष्र्णेय, डॉ प्रियंका रानी, डॉ प्रवेश कुमार,  डॉ अंजली वर्मा, डॉ वेद भूषण शर्मा, डॉक्टर पंकज चौहान , डॉ हेम प्रकाश विशेष रूप से उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...