अश्वमेध यज्ञ स्थल का डॉक्टर चिन्मय पांड्या ने मुंबई में किया निरीक्षण

 डॉ चिन्मय पण्ड्या ने अश्वमेध महायज्ञ स्थल का किया निरीक्षण


हरिद्वार / नवी मुंबई 15 फरवरी  मुंबई अश्वमेध महायज्ञ आयोजन के प्रमुख युवा आइकॉन आदरणीय डॉ चिन्मय पण्ड्या जी यज्ञ स्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने यज्ञशाला, प्रवचन, मंच, भोजनालय, प्रदर्शनी आदि का अवलोकन किया और आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

बुधवार 21 से रविवार 25 फरवरी को होने वाले अश्वमेध महायज्ञ का शुभारंभ होने में अब केवल छः दिन शेष है। अश्वमेध महायज्ञ मेें कई हजार स्वयंसेवक सेवा कार्य में प्राणपण से जुटे हैं। महायज्ञ की तैयारियों जोरों पर हैं। अधिकतर कार्य पूरा होने के कगार पर हैं। प्रदर्शनी विभाग द्वारा निर्मित देवात्मा हिमालय का मॉडल और इससे सटा हुआ झरना और पोखर आदि सभी को सहज ही अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। यज्ञशाला में अद्धचन्द्राकर, गोलाकार सहित 9 आकार प्रकार के 1008 कुण्ड बनकर तैयार हो रहे हैं। अश्वमेध महायज्ञ स्थल में पत्रकारों हेतु मीडिया सेंटर तैयार हो रहा है, जहां लोकतंत्र का चौथा स्तंभ अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर पायेंगे और अश्वमेध महायज्ञ के माहात्म्य और विशेषताओं को समझ पायेंगे। चिकित्सालय, निर्माण, आदि से संबंधित उच्च स्तरीय बैठक हुई जिसमें अश्वमेध महायज्ञ समिति की कोर टीम के सदस्यों ने भाग लिया।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में श्रद्धा व उत्साह के साथ मनाया गया गायत्री जयंती गंगा दशहरा महापर्व

  शांतिकुंज में गायत्री जयंती-गंगा दशहरा के महापर्व से लाखों को मिली संजीवनी विद्या भारत का जीवन दर्शन है गायत्री और गंगा ः डॉ पण्ड्या गायत्...