भाजपाइयों ने मनाई अटल बिहारी वाजपेई की जयंती

 हरिद्वार 25 दिसंबर, ( वीरेंद्र शर्मा संवाददाता गोविंद कृपा हरिद्वार ) जिला भाजपा कार्यालय हरिद्वार पर भारत रत्न, पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धये अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती को सुशासन दिवस के रूप में मनाया गया।

जिले भर से आए हुए कार्यकर्ताओं ने श्रद्धये अटल जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर गोष्ठी का आयोजन किया। 

इस अवसर पर सभी पदाधिकारीयो ने अटल जी के दिखाएं मार्ग पर चलने का संकल्प लिया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिला अध्यक्ष संदीप गोयल ने बताया कि यह कार्यक्रम आज भारतीय जनता पार्टी सुशासन दिवस के रूप में मना रही है आज जिले के प्रत्येक मंडलों पर बड़े कार्यक्रम एवं प्रत्येक बूथ पर श्रद्धये अटल जी की जयंती मनाई जा रही है। उन्होंने बताया कि अटल जी एक प्रखर वक्ता, पत्रकार, आदर्श राजनेता एवं कवि थे।

अटल जी जनसंघ के संस्थापक सदस्य थे तथा सन 1968 से 1973 तक जनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रहे हम सभी को पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी से बड़ी सीख लेनी चाहिए उन्होंने विदेश मंत्री रहते हुए संयुक्त राष्ट्र सभा में अपना संबोधन हिंदी में दिया जबकि यह भाषण पहले अंग्रेजी में लिखा गया था किंतु अटल जी ने बड़े गर्व के साथ इसका हिंदी अनुवाद पढ़कर राष्ट्रभाषा को सम्मान दिलाने का काम किया एवं हम सबको अपनी राष्ट्रभाषा को अपनाकर प्रेरित करने का काम किया।

उत्तराखंड राज्य बनाने का काम भी श्रद्धये अटल जी की ही सरकार में संभव हुआ था हम सभी उत्तराखंडी सदैव अटल जी के आभारी रहेंगे।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी राजनीति के अज्ञात शत्रु माने जाते थे देश के विकास में उनके योगदान को कभी बुलाया नहीं जा सकता है हम सभी को उनके जीवन दर्शन से प्रेरणा मिलती है हम सब कार्यकर्ताओं को अटल जी के सपनों के अनुरूप सर्वव्यापी ,सर्वस्पर्शी एवं सर्वाग्रही बनाने का काम करना है आज देश में जिस तरह से विरोधी दलों द्वारा देश विरोधी वातावरण बनाया जा रहा है भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता मिलकर उसे समाप्त करेंगे और देश में शांति और सद्भभाव का माहौल बनाने का काम करेंगे।

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं हरिद्वार विधायक मदन कौशिक ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी जी पहले ऐसे प्रधानमंत्री थे जिन्होंने देश  के उत्तर पूर्वी क्षेत्र के महत्व को समझा और क्षेत्र की प्रगति के लिए कई पहल शुरू की इसके लिए एक अलग विभाग की स्थापना की गई अटल जी ने इसी दृष्टिकोण को आगे बढ़ते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सक्रिय रूप से एक्ट ईस्ट नीति को आगे बढ़ाया और उत्तर पूर्वी क्षेत्र के विकास और सुशासन को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं शुरू की अपनी सरकार में गरीबों के कल्याण को प्राथमिकता दी सेवा सुशासन और गरीबों के कल्याण को प्राथमिकता देते हुए मोदी सरकार ने श्रमेव जयते का नारा दिया असंगठित क्षेत्र से जुड़े लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री श्रम मानधन योजना ,प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना और गरीब कल्याण अन्न योजना जैसी प्रमुख योजनाएं शुरू की है।

 पूर्व मुख्यमंत्री एवं हरिद्वार लोकसभा सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी सुशासन की प्रतिमूर्ति थे उनकी सरकार ने अंतोदय की विचारधारा को मानते हुए सुशासन के नए प्रतिमान स्थापित किये आज मोदी सरकार अटल जी के दिखाए रास्तों पर चलकर सेवा ,सुशासन और गरीब कल्याण को सुनिश्चित करने का कार्य कर रही है किसानों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए अटल जी ने 1998 मे किसान क्रेडिट कार्ड योजना शुरू की थी इससे किसानों को उनकी फसल उत्पादन आवश्यकताओं के लिए बैंक ऋण देने में क्रांतिकारी बदलाव आया अटल जी की विरासत को आगे बढ़ते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि ,फसल बीमा योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड इत्यादि जैसी कई किसान समर्थक योजनाएं शुरू की हैं प्रधानमंत्री ने इस बात को बार-बार दोहराया है कि इस देश में सिर्फ प्रमुख समूह है गरीब, युवा ,महिला एवं किसान और इनका कल्याण सरकार का उद्देश्य है अटल जी भारतीय भाषाओं के प्रबल समर्थक थे भारतीय भाषाओं के प्रति उनके भाव को और बढ़ावा देते हुए नई शिक्षा नीति NEP लाई गई इससे एक नई युग की शुरुआत हुई है इस नीति के मूल में भारतीय भाषाओं के नियमित उपयोग के माध्यम से उनके विकास को बढ़ावा देने और प्रत्येक भाषाई विरासत के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण विकसित करने की एक रणनीति दृष्टि निहित हैl

इस अवसर पर जिला महामंत्री आशु चौधरी, जिला उपाध्यक्ष विकास तिवारी, लव शर्मा, आभा शर्मा, डॉ जयपाल सिंह चौहान ,नकली राम सैनी, मोहित वर्मा , अमरीश सैनी, रजनी वर्मा, सचिन शर्मा, डॉ प्रदीप कुमार अनामिका शर्मा, संजय कुमार, एजाज हसन, दीपिका राठौड़, प्रीति गुप्ता, गीता कुशवाहा, रंजीता झा, मनोज पारलिया, पंकज बागड़ी, अजय मलिक, पवनदीप, तिलक राम सैनी, राजकुमार अरोड़ा, राजीव भट्ट, सतीश कुमार, भूषण सिंह ,आदित्य गिरी, सूर्यकांत सैनी, विपिन चौधरी, आजाद वीर ,मिथुन चौधरी, राजेंद्र भवर, नसीम सलमानी, गनी कसाना, तौसीफ अंसारी, शादाब आलम आदि पदाधिकारी कार्यकर्ता उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Featured Post

मंगलौर विधानसभा बीजेपी जीतने जा रही है :- स्वामी यतिश्वानंद

  मंगलौर चुनाव में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को दी गई बूथो  की जिम्मेदारीयां भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री ने मंगलौर विधानसभा के भाजपा कार्यकर्त...