गुरुकुल महाविद्यालय को प्राप्त हुआ दुर्लभ ब्रह्म कमल का पौधा

 *गुरुकुल आयुर्वेद महाविद्यालय को ब्रह्म कमल का दुर्लभ पौधा भेंट।*     


हरिद्वार 29 दिसंबर उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के गुरुकुल आयुर्वेद परिसर में सुप्रसिद्ध वनौषधि विशेषज्ञ डा. विनोद उपाध्याय जी द्वारा आज ब्रह्म कमल (मैदानी) का दुर्लभ पौधा भेंट किया गया। डा. उपाध्याय जी ने बताया की उक्त पौधा को साहित्य में सर्वरोग हर कहा गया है। इसके साथ-साथ जहां भी यह पौधा आरोपित होता है वहां दिव्यता का वातावरण बनता है। इसके उत्पन्न पुष्पों पर भविष्य में छात्रों द्वारा शोध आदि का कार्य किया जाएगा। परिसर के निदेशक डॉ विपिन कुमार पांडेय द्वारा इस कार्य हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया गया। उक्त कार्यक्रम में प्रो. पंकज कुमार शर्मा, प्रो. प्रेमचंद शास्त्री, प्रो. उत्तम कुमार शर्मा, डा. मयंक भटकोटी, डा. विपिन कुमार अरोड़ा, डा. शिखा पाण्डेय आदि शिक्षक, छात्र एवं कर्मचारी उपस्थित रहें। डॉ राजीव करेले ने डा० विनोद प्रकाश जी उपाध्याय द्वारा किए जा रहे हैं आयुर्वेदिक चिकित्सा के क्षेत्र में विभिन्न,  वैज्ञानिक, सामाजिक कार्यों की सराहना की। डॉ उपाध्याय ने देश विदेश-अमेरिका, जर्मनी,  फ्रांस कनाडा, ब्रिटेन, सेंटपीटरवर्क आदि में भारत की प्राचीन ज्ञान परंपरा आयुर्वेद के प्रचार प्रसार में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। आपको अमेरिका में प्रतिष्ठित हीलिंग टच अवार्ड से भी सम्मानित किया गया है। आपको दुर्लभ वन औषधीय की विशिष्ट पहचान एवं गुणधर्मों का संपूर्ण ज्ञान है। हर्बल कॉस्मेटिक की विशेषज्ञता आपकी बहुत बड़ी उपलब्धि रही है। डॉ उपाध्याय जी ने हजारों विद्यार्थियों को कॉस्मेटिक निर्माण करना सिखाया है।आपको लाइव एनसाइक्लोपीडिया आफ आयुर्वैदिक हर्ब भी कहा जाता है।


No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में प्रारंभ हुआ गंगा दशहरा गायत्री जयंती महापर्व

  अखण्ड जप के साथ दो दिवसीय गंगा दशहरा-गायत्री जयंती महापर्व का शुभारंभ ऊँचा उठे, फिर न गिरे ऐसा हो इंसान का कर्म :- डॉ चिन्मय पण्ड्या हरिद्...