समाजसेवी सतीश त्यागी ने किया खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन

 *भारत की खेल प्रतिभाओं का डंका आज विदेश में भी बज रहा, एशियाड चैंपियनशिप में आ रहे परिणाम इसका साक्षात प्रमाण: सतीश त्यागी*

हरिद्वार 7 अक्टूबर सातवीं उत्तराखंड सीनियर स्टेट बास्केटबॉल चैंपियनशिप के दूसरे दिन का उद्घाटन समाजसेवी 


सतीश त्यागी जी द्वारा किया गया और खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया गया

सातवीं उत्तराखंड स्टेट सीनियर बास्केटबॉल चैंपियनशिप में आज कई रोचक मुकाबले खेले गए जिला बास्केटबॉल एसोसिएशन के सचिव संजय चौहान ने बताया कि महिला वर्ग में पहला मैच रुद्रप्रयाग और टिहरी के बीच खेला गया रुद्रप्रयाग ने(33/27) से जीत दर्ज की दूसरा मुकाबला बागेश्वर और पिथौरागढ़ के बीच खेला गया जिसमें बागेश्वर ने जीत दर्ज की स्कोर रहा (42/32) तीसरा मुकाबला हरिद्वार और पिथौरागढ़ के बीच खेला गया जिसमें हरिद्वार ने जीत दर्ज की स्कोर रहा 42/35 चौथा मुकाबला देहरादून और उत्तरकाशी के बीच खेला गया जिसमें देहरादून ने जीत दर्ज की  (43/20)  पुरुष वर्ग में पहला मुकाबला टिहरी और पिथौरागढ़ के बीच खेला गया जिसमें,(42/40) पिथौरागढ़ ने जीत दर्ज  की दूसरा मुकाबला गुरुकुल और उत्तरकाशी के बीच खेला गया जिसे(38/16) गुरुकुल यूनिवर्सिटी ने जीत दर्ज की पुरुष वर्ग का तीसरा मुकाबला देहरादून और पिथौरागढ़ के बीच खेला गया जिसमें देहरादून ने अपनी जीत दर्ज की (42/10) पुरुष वर्ग का चौथा मुकाबला बागेश्वर और टिहरी के बीच खेला गया जिसमें बागेश्वर ने अपनी जीत दर्ज की इस्कोर  रहा(48/39)

इस अवसर पर प्रदेश भर से आए खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए समाजसेवी सतीश त्यागी ने कहा कि निश्चित रूप से खेलों का हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण स्थान है खेल एक और जहां हमें सामाजिक सरोकारों  से ओत प्रोत करते हैं वहीं आज के इस युग में हमें फिट भी रखते हैं उन्होंने कहा कि आज भारत के खिलाड़ियों ने अपना परचम एशियाड खेलों में भी फहराया है

उत्तराखंड बास्केटबॉल एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष विकास तिवारी ने बताया कि इस स्टेट चैंपियनशिप का फाइनल कल खेला जाएगा और कल ही इस प्रतियोगिता का समापन होगा

आज के मैच में शिवम आहूजा विकास गर्ग धर्मेंद्र बिश्नोई आलोक चौधरी सुखबीर सिंह मनोरम शर्मा शालू तोमर अनुज यादव आदि का महत्वपूर्ण सहयोग रहा

No comments:

Post a Comment

Featured Post

शांतिकुंज में प्रारंभ हुआ गंगा दशहरा गायत्री जयंती महापर्व

  अखण्ड जप के साथ दो दिवसीय गंगा दशहरा-गायत्री जयंती महापर्व का शुभारंभ ऊँचा उठे, फिर न गिरे ऐसा हो इंसान का कर्म :- डॉ चिन्मय पण्ड्या हरिद्...