राजकमल कॉलेज में हुआ अंतरराष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन

 राजकमल कॉलेज में आयोजित हुई एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी

बहादराबाद 30 अक्टूबर ( निर्भय ) राजकमल साइंस एंड मैनेजमेंट कॉलेज बहादराबाद हरिद्वार में इंडियन फार्मेसी ग्रेजुएट्स एसोसिएशन उत्तराखंड के सहयोग से  एक दिवसीय अतीत से वर्तमान तक वैज्ञानिक अनुसंधान में प्रगति पर अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि आदेश चौहान विधायक रानीपुर, प्रोफेसर डॉ0 ईश्वर भारद्वाज, देव संस्कृति विश्वविद्यालय हरिद्वार, डॉ0 विनय सेठी, उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय, डॉ0 विपिन शर्मा  विभागाध्यक्ष फार्मेसी विभाग, गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय एवं प्राचार्य राजकमल कॉलेज डॉ0 राघवेंद्र चौहान अतिथि उपस्थित रहे कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि द्वारा पौधारोपण व दीप प्रज्वलित कर प्रारंभ किया गया कॉलेज के प्राचार्य द्वारा मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथियों को शाल व स्मृति चिह्न देकर कर सम्मानित किया गया 

सेमिनार में उत्तराखंड,हरियाणा पंजाब दिल्ली राजस्थान उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश के विभिन्न संस्थाओं से 300 से अधिक प्रतिभागियों ने ऑनलाइन एवं ऑफलाइन संगोष्ठी में प्रतिभाग किया तथा सेमिनार में शिक्षा व अनुसंधान के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को भी सम्मानित किया गया

मुख्य अतिथि आदेश चौहान ने कहा कि भारत को विकसित राष्ट्र बनाने का एकमात्र विकल्प विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी है। विज्ञान हमारे समाज एवं संस्कृति का हिस्सा है। विज्ञान के माध्यम से कठिन से कठिन कार्य को सरल बनाया जा सकता है। आज देश की तरक्की के पैमाने का निर्धारण विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी पर निर्भर करता है। जो देश विज्ञान के क्षेत्र में जितनी उन्नति करेगा उसकी अर्थव्यवस्था उतनी ही मजबूत होगी। 

ऑनलाइन माध्यम से जुड़े मुख्य वक्ता  डॉ0 हिमांशु कथूरिया सिंगापुर ने कहा कि ऐसी कार्यशाला छात्र-छात्राओं की प्रतिभा में चमक लाती है और उन्हें भावी चुनौतियों के लिए तैयार करती है विज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान की अपार संभावनाएं हैं छात्र-छात्राओं के लिए कार्यशालाओं के लाभों को ध्यान में रखते हुए सेमिनार और कार्यशालाएं आधुनिक शिक्षा की दिशा में एक अभिनव और स्वागत योग्य कदम है इसलिए ऐसे सेमिनार और वर्कशॉप समय-समय पर कराई जाने चाहिए

डॉ0 विपिन शर्मा विभागाध्यक्ष फार्मेसी विभाग, गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय ने आयोजित कार्यशाला के संपूर्ण आयोजन को ऐतिहासिक और अद्भुत बताया। और कार्यशाला की सफलता पर आयोजन समिति को ढेरों शुभकामनाएं दी तथा उन्होंने ने कहा है कि प्राचार्य डॉ राघवेंद्र चौहान के दिशा-निर्देशन में राजकमल कॉलेज निरंतर प्रगति के पथ पर है राजकमल कॉलेज कुछ ही समय में जनपद में अपनी एक अलग पहचान बन चुका है तथा कॉलेज द्वारा छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए नित नए कार्यक्रम लगातार आयोजित करता रहता हैं।  

अंतरराष्ट्रीय कार्यशाला को सफल बनाने में इंडियन फार्मेसी ग्रेजुएट्स एसोसिएशन के  अध्यक्ष डॉ.पंकज शर्मा, उपाध्यक्ष डॉ.संतोष कुमार वर्मा, सचिव हिमांशु कुमार,संयुक्त सचिव डॉ. अश्वनी कुमार,कोषाध्यक्ष ज्योति सक्सेना आदि द्वारा भरपूर सहयोग दिया

इस अवसर पर श्रीमती राजेश देवी सचिव राजकमल कॉलेज, तथा महाविद्यालय के प्रबंध समिति सदस्य दुष्यंत प्रताप, नितिन चौहान, व डॉ पवन जालवाल डीन एवं विभागाध्यक्ष बाबा मस्तनाथ विश्वविद्यालय, डॉ छवि सिंगला निदेशक जेपी कॉलेज ऑफ फार्मेसी लखनऊ, डॉ सोनिया धीमान चितकारा यूनिवर्सिटी, डॉ. सोनिया यादव एसजीटी यूनिवर्सिटी गुरुग्राम, डॉ. विकास जोगपाल जी डी गोयनका यूनिवर्सिटी गुरुग्राम, डॉ.दविंदर कुमार बीडी शर्मा यूनिवर्सिटी रोहतक, डॉ. सलोनी कक्कड़ महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी हरियाणा, डॉ. प्रभात कुमार धनौरी कॉलेज,डॉ. ब्रिजेश शर्मा, पलवल, डॉ. जितेंद्र सिंह आईईटी भद्दल टेक्निकल कैंपस रोपड़,अनुराग चौरसिया डॉ अमित शर्मा, डॉ सुनील कुमार, शैली त्यागी, अंजलि दीक्षित, डॉ दीपा, प्रतिभा गिरी, अजय कुमार, प्रतिभा गिरी, प्रेरणा राजपूत, अजय कुमार, विनीत कुमार, आस्था यादव, नैंसी चौहान, सुजाता, अंजलि, ध्रुविका सिंह, प्रभा सिंह, स्टाफ सदस्यों एवं छात्र-छात्राओं सहित कई लोग उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Featured Post

श्री मानव कल्याण आश्रम में प्रारंभ हुआ ललिताम्बा वेद विद्यालय

 गोविंद गिरी देव ने किया ललिताम्बा वेद विद्यालय का शुभारंभ जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी राज राजेश्वराश्रम महाराज की अध्यक्षता एवं श्रीमहंत देवा...